Headline • मैच के बाद पाक कप्तान ने कहा, हम भुवनेश्वर की गेंदों को समझ नहीं पाए• 13 वर्षीय लड़की की जघन्य हत्या के बाद बनारस के एक इलाके में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त रोष• बिग बॉसः जसलिन ने सिंगल बेड लिया तो बगल वाला बेड लेने पहुंच गए अनूप जलोटा• प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार• 'सड़क-2' का ट्रेलर रिलीज,फिर एक साथ दिखेंगे संजय दत्त और पूजा भट्ट• मौसा ने बनाया नाबालिग को अपनी हवस का शिकार, मौसी से मिलने आई थीं लड़की• पाकिस्तान पर भारत की शानदार जीत के बाद जश्न का माहौल, भुवी के घर पर जमकर हुआ नृत्य• कफन का तिरंगा ओढ़कर न्याय के लिए कलक्ट्रेट में धरने पर बैठीं शहीद की विधवा  • पुलिस ने निर्दोष युवक को किया गिरफ्तार,फिर जेल भेजने के लिए खुद तैयार की जहरीली शराब,वीडियो वायरल !• अलीगढ़ : पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराए 25-25 हजार के इनामी बदमाश,थानाध्यक्ष घायल• अब बरेली में सवर्णों ने लगाए पोस्टर, लिखा- 'नोटा ही हमारा हथियार है,वोट मांग कर शर्मिंदा न करें'• पाक के पीएम इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा खत, फिर से शांति वार्ता शुरू करवाने की अपील• मुंबई से जयपुर जा रही फ्लाइट में यात्रियों के नाक-कान से निकलने लगा खून• 'समाचार प्लस' के सवाल पर बोले RSS प्रमुख मोहन भागवत-आरक्षण समस्या नहीं,आरक्षण पर राजनीति समस्या है• गोंडा में दर्दनाक सड़क हादसा, 4 की मौत, 8 घायल• लखनऊ : मूर्ति विसर्जन के दौरान गोमती नदी में डूबे 6 युवक, एक मौत, दो लापता• उन्नाव में बुखार का कहर, 24 घंटे में सात की मौत, 200 से ज्यादा बीमार

गाजियाबाद में टिम्बर गोदाम में लगी आग, लाखों का माल खाक

गाजियाबाद- घंटाघर कोतवाली से कुछ दूर पर स्थित एक लकड़ी गोदाम में सुबह भीषण आग लगने से अफरा तफरी मच गयी। दमकल की लगभग 15  गाड़ियाँ मौके पर पहुंचीं। और कई घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। इस अग्निकांड में लाखों के माल का नुकसान का अनुमान है।

घंटाघर स्थित विनोद कुमार सुशील कुमार टिम्बर प्लाई वुड सेंटर में अचानक गुरुवार सुबह आग लग गयी। सूचना मिलते ही दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुँची। कोतवाली अग्निशमन स्टेशन प्रभारी ऐके सिंह ने बताया कि आग ने काफी विकराल रूप धारण लिया था। आग लगने के कारणों की जाँच की जा रही है।

2006 के संकटमोचन मंदिर ब्लास्ट मामले में गाजियाबाद कोर्ट आज सुना सकता है फैसला

गाजियाबाद: वाराणसी के संकट मोचन मंदिर, रेलवे कैंट व दशास्वमेध घाट पर 7 मार्च 2006 को हुए ब्लास्ट मामले में मंगलवार को सीबीआई की विशेष अदालत फैसला सुनाएगी। संकटमोचन मंदिर धमाके मामले में गाजियाबाद कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

इस घटना का मुख्य आरोपी वलीउल्लाह पर आज कोर्ट अहम फैसला सुना सकती है। मुख्य आरोपी वलीउल्लाह को पुलिस ने 5 अप्रैल 2006 को इलाहाबाद के फूलपुर  गांव से गिरफ्तार किया था। उसके पास से एके-47 और आरडीएक्स पुलिस ने  बरामद किए थे। वलीउल्लाह को 26 अगस्त 2008 में लखनऊ की सेशन कोर्ट 10 साल की सजा सुना चुकी है।

पुलिस ने कोर्ट में संकट मोचन मंदिर ब्लास्ट मामले में 52, दशाश्वमेध घाट केस में 42 और रेलवे कैंट केस में 53 गवाहों को पेश किया था।

2006 में हुए सीरियल बम धमाकों में 11 लोगों की मौत हो गई थी और 35 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

गोमांस की अफवाह पर गांववालों ने की शख्स की पीट-पीटकर हत्या

गाजियाबाद: यूपी के दादरी बिलाहदा गांव में एक अफवाह की वजह से 50 वर्षीय व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। अफवाह थी कि उस व्यक्ति और उसके परिवार ने गौमांस खाया और घर में रखा था।

गांववालों ने उस व्यक्ति को बीच बाजार ईंटों से जमकर पीटा और उसके घर में तोड़फोड़ भी की। इतना ही नहीं लोगों ने मृतक के बेटे को भी खूब पीटा, जिसकी हालत गंभीर है।

घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया। मृतक अखलाक के परिवारवालों का कहना है कि, उन्होंने सिर्फ घर में मटन रखा हुआ था।

पुलिस ने मीट को फोरेंसिक जांच के लिए लैब भेज दिया है। पुलिस ने बताया कि, यह परिवार पिछले 35 सालों से इसी गांव में रह रहा था। फिलहाल पुलिस पता लगा रही है कि किसने अखलाक के घर में गौमांस होने की अफवाह फैलाई थी।

दादरी मामला: अखलाक के घर में गोमांस नहीं बल्कि मटन रखा था!

दादरी: उत्तर प्रेदश के दादरी में गोमांस खाने और रखने की अफवाह में भीड़ ने 50 वर्षीय अखलाक की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी, अब इस मामले में खुलासा हुआ है।

सूत्रों के मुताबिक, फोरेंसिक रिपोर्ट से पता चला है कि अखलाक के घर में गाय का मांस नहीं बल्कि मटन रखा था। गौतमबुद्धनगर प्रशासन ने अखलाक के घर में रखे मांस की पहले पशु डाॅक्टर से जांच कराई, इसके बाद मथुरा लैंब में मांस को जांच के लिए भेजा। लैब से आई रिपोर्ट में पाया गया कि, अखलाक के घर पर गोमांस नहीं बल्कि मटन रखा हुआ था।

बता दें कि, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के दादरी में 9 दिन पहले अखलाक के घर में घुसकर भीड़ ने उसको और उसके बेटे दानिश को जानवरों की तरह घसीटकर इतना मारा कि, अखलाक की तो मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके बेटे दानिश को मार-मार कर अधमरा कर दिया था। दानिश का नोएडा के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। इस हिंसक घटना के बाद देशभर में आक्रोश है। पुलिस ने बताया कि, अखलाक का परिवार पिछले 35 सालों से इस गांव में रह रहा है।

तिरंगे का 'अपमान' करने के लिए अमिताभ, अभिषेक बच्चन के खिलाफ केस दायर

गाजियाबाद: हिंदी सिनेमा जगत के महानायक अमिताभ बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन पर तिरंगा के अपमान करने का आरोप लगाया है। बिग बी और अभिषेक के खिलाफ गाजियाबाद के एक एनजीओ ‘मित्र’ से जुड़े चेतन धीमान ने गाजियाबाद की ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की कोर्ट में केस दर्ज कराया है।

चेतन धीमान का कहना है कि, अमिताभ बच्चन और अभिषेक ने 15 फरवरी 2015 को हुए विश्वकप के मैच में भारत की पाकिस्तान के खिलाफ जीत के बाद जश्न मनाते हुए शरीर पर राष्ट्रीय ध्वज को लपेट लिया था।

चेतन की शिकायत के बाद अब इस मामले में 13 जुलाई को सुनवाई होगी।

बता दें कि, सार्वजनिक जगहों पर राष्ट्रीय ध्वज को लपेटना या उसका इस्तेमाल करना गैरकानूनी है। इसी के तहत अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन पर तिरंगा के अपमान करने का आरोप लगाया है।

वहीं, बाॅलीवुड एक्टर अभिषेक बच्चन ने 2 अप्रैल 2011 को भारत के विश्व कप जीतने के बाद सार्वजनिक रूप से भारतीय तिरंगा को शरीर पर लपेटकर जश्न मनाया था। उनका जश्न मनाने का ये तरीका भारतीय झंडा संहिता 2002 के नियमों के खिलाफ है और ये अपमान की श्रेणी में भी आता है।







फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: