Headline • खराब अंपायरिंग पर बोले धोनी, टिप्पणी कर जुर्माना नहीं भरना चाहता हूं• सपा के पूर्व विधायक और लेखपाल के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज, हेराफेरी कर सरकारी जमीनों पर किया कब्जा• आजमगढ़ में आज से फिल्म फेस्टिवल, ओमपुरी की फिल्मों की होगी स्क्रीनिंग, शहर की छवि को सुधारने की कवायद• हाथरस में प्राथमिक स्कूल की छत गिरी, तीन दर्जन बच्चे घायल, तीन की हालत गंभीर• मथुरा में सड़क पर बदमाशों का तांडव, स्कूली बस में चढ़कर छात्र को लाठी डंडों से पीटा• इंसान को जानवरों की तरह घसीटते रहे रेलवे पुलिसकर्मी, वीडियो बनाया तो दी बंद करने की धमकी• बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल और पी कश्यप दिसंबर में बंधेगे शादी के बंधन में• सपना चौधरी ने ऐसे सेलिब्रेट किया अपना बर्थडे, तस्वीरें और वीडियो वायरल• बकाया पैसा देने के बहाने युवती को घर बुलाया फिर 3 महीने तक करता रहा यौन शोषण, पुलिस नहीं कर रही मदद• पति पर दर्ज हुई सरकारी जमीन कब्जाने की रिपोर्ट तो सभासद ने दी आत्महत्या की धमकी • ‘बाजार’ का ट्रेलर रिलीज, दमदार लुक में नजर आएं सैफ अली खान • भारतीय मूल की मॉडल का खुलासा, 16 वर्ष की थी तो उसके दोस्त ने रेप की कोशिश की थी• सऊदी अरब में मालिक के अत्याचार से हरदोई के युवक की मौत, लाश लाने के लिए पत्नी ने लगाई गुहार• अखिलेश के साथ मंच क्या शेयर किया, शिवपाल  समर्थक हो गए मुलायम से नाराज, पोस्टरों से हटाई तस्वीर• शमशेर सिंह बिष्ट ने कभी भी सत्ता के साथ कोई समझौता नहीं किया, श्रद्धांजलि सभा में बोले लोग• कॉमेडी क्वीन भारती सिंह की सेहत में हुआ सुधार, अस्पताल से शेयर किया ये वीडियो• फिर विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, कहा-भारत में रहने वाले सारे मुसलमान परिवर्तित हिन्दू हैं• बरेली: विधायक पप्पू भरतौल ने सीएम से की एसएसपी की शिकायत, सच्चाई जानने बरेली पहुंच रहे हैं सुनील बंसल• औलख का करारा जवाब, कहा-एसआईटी रिपोर्ट आने की आहट से ही बौखला गए हैं आजम • आज हो सकती है पूर्व विधायक योगेश वर्मा की रिहाई, रासुका हटने के बाद रिहाई का रास्ता साफ• SC के फैसले का बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया स्वागत,जानें क्या कहा...• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला : बैंक अकाउंट और मोबाइल से आधार लिंक करना जरूरी नहीं• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला,SC/ST को प्रमोशन में आरक्षण नहीं • मेरठ में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़,10 हजार का इनामी बदमाश घायल• नोएडा पुलिस की गाजियाबाद में रेड,कुख्यात बदमाश अमित भूरा चला रहा था अवैध शराब की फैक्ट्री

ग्रेटर नोएडा: मुस्लिम स्कूल में कट्टरपंथियों ने झंडा फहराने से रोका

दनकौर- गणतंत्र दिवस के मौके पर ध्वजारोहण को लेकर ग्रेटर नोएडा के दनकौर इलाके में मौजूद मुस्लिम गर्ल्स हाई स्कूल में तनाव का माहौल है। जानकारी के मुताबिक कुछ कट्टरपंथी लोगो ने स्कूल में झंडा फहराने और आधुनिक शिक्षा जैसे हिंदी और अंग्रेजी पढ़ाने का विरोध करते हुए स्कूल प्रशासन को कड़ी चेतावनी दी है।

दरअसल मुस्लिम गर्ल्स हाई स्कूल साल 2011 से यूपी सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अंतर्गत आता है। सोमवार को कुछ लोग गणतंत्र दिवस के मौके पर स्कूल में झंडा फहराने की तैयारी के लिए रॉड और दूसरे जरूरी सामान के साथ स्कूल पहुंचे थे कि तभी कुछ कट्टरपंथी लोगों ने उन्हें झंडा फहराने से मना कर दिया और गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी। मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद हो गया है।

धमकी देने वाले कुछ लोगों को जब पुलिस ने थाने में बुलाया तो उन्होंने पुलिस के सामने ही स्कूल में हिंदी और अंग्रेजी पढ़ाए जाने का विरोध शुरू कर दिया। जिसके बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने विरोध करने वाले सभी लोगों को चेतावनी दी कि अगर आज उन्होंने स्कूल में झंडा फहराने का विरोध किया तो उन्हें इसका गंभीर परिणाम भुगतना होगा।

दनकौर पुलिस स्टेशन के इंस्पेकटर चक्रपाणी शर्मा ने कहा कि किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कुछ अनपढ़ लोगों ने स्कूल में ध्वजारोहण कार्यक्रम का विरोध किया है जिसकी जानकारी आला अधिकारियों को दे दी गई है। इसके अलावा ध्वजारोहण के दौरान किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोकने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया।

सैयद भुरेशाह मुस्लिम गर्ल्स स्कूल के सचिव आदिल खान जायसवाल ने बताया कि साल 2011 से वक्फ बोर्ड की जमीन पर स्कूल चलाया जा रहा है जहां पांचवी तक की शिक्षा दी जाती है। उनके मुताबिक पिछले कुछ दिनों से हिंदी और अंग्रेजी पढ़ाए जाने को लेकर स्कूल में तनाव का माहौल है। कुछ स्थानीय लोग लगातार स्कूल प्रशासन पर हिंदी और अंग्रेजी ना पढ़ाए जाने को लेकर दवाब बना रहे है।

आदिल खान के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। अध्यापकों ने इन कट्टरपंथियों के डर से स्कूल में आना छोड़ दिया है। इसकी शिकायत उन्होंने मुख्यमंत्री, राज्यपाल से लेकर डिस्टिक जज तक को की है लेकिन फिर भी ये लोग लगातार स्कूल आकर अध्यापकों को लगातार धमका रहे हैं।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: