Headline • '67 साल में 65 एयरपोर्ट बने, हमने चार साल में 35 बनाए'• अमेठी : दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी, की शिव की पूजा, देखें वीडियो • 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तान' से सामने आया आमिर खान का लुक • पीएम मोदी ने किया सिक्किम के पहले हवाई अड्डे का उद्घाटन• अमेठी : दौरे से पहले लगे राहुल गांधी के 'शिव भक्त' वाले पोस्टर• मुरादाबाद में महिला की गोली मारकर हत्या, 4 पर मुकदमा दर्ज• गाजियाबाद : दबंगों ने किया दलित परिवार पर हमला, आरोप- झाड़ू-पोछा और गाड़ी साफ करने का दबाव बनाते हैं सोसाइटी के कुछ लोग• बुलंदशहर : खड़े ट्रक में घुसी रोडवेज बस, दो की दर्दनाक मौत, 2 दर्जन यात्री घायल• गोरखपुर : शोहदों और गुंडों का आतंक, स्कूल पर लगा ताला• अाज से दो दिवसीय अमेठी दौरे पर रहेंगे राहुल गांधी, जानिए मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम • अस्पतालों में बच्चों की मौत पर योगी के मंत्री का शर्मनाक बयान, कहा- मां-बाप है जिम्मेदार• पत्रकार सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे 'समाचार प्लस' के CEO उमेश कुमार• पीएम मोदी ने किया दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत का शुभारंभ• सपा की साइकिल यात्रा के समापन पर एक साथ दिखे अखिलेश और मुलायम सिंह यादव • गोरखपुर : सीएम योगी ने किया 'आयुष्मान भारत योजना' का शुभारंभ • महंत नृत्य गोपालदास बोले- 'राम मंदिर का निर्माण नहीं कराया तो भाजपा और मोदी के लिए घातक होगा'• गोरखपुर : बाइक को टक्कर मारने के बाद जीप पलटी, 3 की दर्दनाक मौत, 5 घायल• बीजेपी के कार्यक्रम में बार-बालाओं ने किया डांस,सांसद बाबू लाल के स्वागत में लगे ठुमके• आज से शुरू होगी आयुष्मान भारत योजना,पीएम मोदी झारखंड से करेंगे शुभारंभ• आगरा में दर्दनाक सड़क हादसा, चार लोगों की मौत• बलिया: बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह की दादागिरी, डीएम के सामने डीआईओएस से की हाथापाई• आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी

ताजमहल पर जल्द ही पर्यटकों की संख्या होगी सीमित, एएसआई के फैसले का इंतजार

आगरा: आगरा में अब ताजमहल पर जल्द ही पर्यटकों की संख्या सीमित कर दी जाएगी । जी हाँ यह फैसला एएसआई की तरफ से लिया जा सकता है । एएसआई के मुताबिक़ लगातार ताज महल पर बढ़ने वाली पर्यटकों की संख्या से ताजमहल को नुक्सान पहुँच रहा है जिससे अब इस भीड़ को सीमित आंकड़ों में तय किया जा सकता है ।

आगरा में बीते दिनों ताजमहल पर भारी भीड़ का सैलाब देखने को मिला है जिसे व्यवस्थित करने के लिए पुरातत्व विभाग के हाथ पैर फूले । हाल ही में नीरी के साइंटिस्टों के द्वारा एक रिपोर्ट एएसआई को भेजी गयी है जिसमें ताज महल पर ओवर क्राउड यानी सीमा से अधिक पर्यटक से ताज को खतरे की बात कही है । रिपोर्ट में ताजमहल पर आने वाली असीमित भीड़ से ताज की पच्चीकारी और उसकी नींव को नुकसान की बात रखी गयी है । इस विषय पर एएसआई ने नीरी से ताज महल पर आने वाले पर्यटकों की आकांशीत पर्यटकों की संख्या का आंकड़ा पूछा है जिस पर विचार कर अमलीजामा पहनाया जा सकेगा ।

इस खबर से आगरा में पर्यटन और ट्रैवल से जुड़े लोगों ने चिंता जाहिर जरूर की है । लेकिन ताज महल पर लगातार बढ़ रही भीड़ पर नियंत्रण भी ताज के संरक्षण के लिए आवश्यक है ।

वहीँ नीरी की रिपोर्ट पर एएसआई जो फैसला लेने जा रही है उस फैसले से आगरा में पर्यटन जगत से जुड़े लोग खुश नहीं नजर आ रहे । पर्यटन व्यापारियों का मानना है कि हमारा ताजमहल हमारे देश की शान है अगर यहाँ लोग ताज की दीवानगी में खींचे चले आए है तो इससे देश का ही मान ऊंचा होता है लेकिन अगर ताज पर आने वाले पर्यटकों को आंकड़ो में बांधा जाएगा तो कहीं न कहीं देश के पर्यटन के लिए अच्छा नहीं है बाकी ताज के संरक्षण की बात रही तो एएसआई इसके लिए रास्ते निकाले जो सभी के लिए बेहतर और सुरक्षित हो ।

पिछले दिनों में नीरी की इस रिपोर्ट और बीते दिनों ताजमहल पर उमड़ी लाखों की भीड़ के चलते एएसआई के सामने ताज के संरक्षण को लेकर चुनौती खड़ी होती नजर आ रही है ।

आगरा में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 11 संस्थानों के साथ एमओयू करेंगे साइन

आगरा: सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज ताजनगरी आगरा दौरे पर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव प्रदेश के लाखों बेरोगारों युवाओं को रोजगार देने के मकसद से चलायी जा रही योजना कौशल विकास मिशन के अंतर्गत प्रशिक्षित होने वाले युवाओं को नियुक्ति पत्र प्रदान करने ताजनगरी आ रहे हैं। मुख्यमंत्री करीब 22 युवकों को जाॅब आफर लेटर सौपेंगे। इसके साथ ही 11 संस्थानों के साथ एमओयू भी ताजनगरी में साइन होगा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव दयालबाग एजूकेशनल इंस्टीट्यूट, एफडीडीआई, पीपीडीसी, सेंट्रल फुटवियर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट और सेंट्रल ग्लास ट्रेनिंग एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट से एमओयू साइन करेंगे। ट्रेनिंग प्रोवाइडर, प्लेसमेंट कंपनियों के साथ एसेसमेंट बॉडी से भी एमओयू साइन होंगे।

मुख्यमंत्री 100 छात्राओं को कन्या विद्याधन के चेक विरतिर करेंगे। साथ ही इस मौके पर मुख्यमंत्री अखिलेश बिजली की बचत के लिए शुरू की गई एलईडी वितरण योजना का सांकेतिक शुभारंभ भी करेंगे।

इस मिशन के तहत अगले वर्ष करीब छ लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य रखा है। ताज नेचर वाॅक में होने वाले इस कार्यक्रम में पुलिस प्रशासन जोर शोर से तैयारियों में जुटा है और लगभग तैयारियां पूरी भी कर ली गयी हैं।

ताजनगरी आगरा अलकायदा के निशाने पर, आईबी ने जारी किया अलर्ट

विश्व का नंबर वन अजूबा ताजमहल खतरे में है। आईबी का कहना है कि, ताजनगरी आगरा अलकायदा के निशाने पर है इस बार आतंकियों ने ताजमहल सहित प्रदेश भर के प्रमुख धार्मिक स्थलों को निशाना बनाने की धमकी दी है। इस धमकी के बाद आईबी ने प्रदेशभर में अलर्ट जारी कर दिया है।

ताज की सुरक्षा के लिए भारी संख्या में सीआईएसएफ को तैनात किया गया है। ताज का चप्पा-चप्पा विशेष सुरक्षा घेरे में लिया गया है। साथ ही किसी भी पर्यटक को बिना छानबीन और जांच के ताज में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है । ताज में आने-जाने वालों पर सीसीटीवी कैमरों की मदद से नजर रखी जा रही है। ताज की गुम्बद के अलावा ताज के तीनों प्रवेश द्वार पर हथियार बंद जवान तैनात किए गए हैं जो हर गतिविधि पर नजर रख रहे हैं।

ताजमहल पर प्रतिदिन 25 से 30 हजार सैलानी आते हैं जिसमें एक समय में लगभग 3 हजार के आसपास पर्यटक ताजमहल के अंदर होते हैं । लेकिन जब से अलर्ट जारी किया गया है ताज के बाहरी इलाका यानी यलो जॉन ( 500 मीटर के अंदर) प्रवेश पर भी हर आने जाने वाली की चैकिंग की जा रही है।


आईबी के इस अलर्ट का असर शहर में भी दिखाई दे रहा है। प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार, शहर में खुफिया विभाग नजर बनाये हुए हैं। शहर के प्रमुख धार्मिक स्थलों पर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किये गए हैं, इसके अलावा शहर के मॉल, रेलवे स्टेशन,बस स्टेण्ड , घने बाजारों में भी सघन चैकिंग करायी जा रही है। 

आगरा बर्ड फेस्टिवल में सीएम अखिलेश ने ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने पर दिया जोर

आगरा:  देश के पहले इंटरनेशनल बर्ड फेस्टिवल का तीन दिवसीय आयोजन आगरा के चंबल सफारी में किया जा रहा है। फेस्टिवल के दूसरे दिन शनिवार को सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव यहां पहुंचे और फेस्टिवल में लगाए गए देश-विदेश की बर्ड्स की फोटोज को देखा और उनकी तारीफ की। इस मौके पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम अखिलेश ने कहा,'पर्यावरण से जुड़े कार्यक्रम के आयोजन को आने वाले समय में ज्‍यादा से ज्‍यादा करवाने की कोशिश की जाएगी। इस समय देश में ईको टूरिज्‍म को बढ़ावा देने की आवश्यकता है।'

सीएम अखिलेश ने कहा, 'जहां बड़े-बड़े फेस्टिवल मनाए जा रहे हैं, वहां समाजवादी बर्ड फेस्टिवल मना रहे हैं। युवा तो बर्ड्स का महत्‍व अच्‍छी तरह से जानते होंगे, अगर उन्‍होंने फिल्‍म मैंने प्‍यार किया देखी होगी।' उन्‍होंने आगे कहा, 'जो जितना पर्यावरण के करीब रहेगा, वह उतना ही खुश होगा। मैं मानता हूं कि घर में बैठकर टीवी देखने वालों से ज्‍यादा खुश बर्ड्स को देखने वाले होंगे।'

सीएम ने इस दौरान विपक्ष पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 'बर्ड फेस्टिवल जैसे कार्यक्रम के आयोजन से विपक्ष नाराज हो सकते हें।' सीएम ने कहा, 'विपक्ष को बर्ड्स के महत्‍व को समझना चाहिए की अगर बर्ड्स खत्‍म हो रही हैं तो कुछ गड़बड़ हो रहा है।'

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की छोटी बहन कमला दीक्षित का आगरा में निधन

आगरा: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की छोटी बहन कमला दीक्षित का बीती रात आगरा में निधन हो गया। 87 वर्षीय कमला दीक्षित आगरा के जयपुर हाउस स्थित आलोक नगर में रहती थीं। वह पिछले छह माह से बीमार थीं। कमला दीक्षित ब्लड प्रेशर हाई होने से पैरालाइसिस से पीडि़त थीं, वह ना बोल पा रही थीं और ना ही चल पर रही थीं। वह करीब पांच-छह माह तक बिस्तर पर रहीं और कल रात उन्होंने अंतिम सांस ली।

कमला दीक्षित का अंतिम संस्कार शुक्रवार को रिश्तेदारों के बीच आगरा के ताजगंज स्थित मोक्षधाम पर किया जाएगा।

बताया जा रहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अपनी बहन से आखिरी बार नवंबर 2005 में मिले थे, जब वह अपने छोटे भांजे के निधन पर आगरा आए थे। अटल बिहारी वाजपेयी अपने खराब स्वास्थ्य के कारण इतने लंबे से अपनी बहन से नहीं मिल सके।

बता दें कि, कमला दीक्षित ने चर्चित राम जन्मभूमि आंदोलन में अहम भूमिका निभाई थी। यही नहीं वह कई बार बीजेपी के कार्यक्रमों में भी शामिल होती रही हैं। साथ ही उन्होंने कई बार चुनावों में उम्मीदवारों के साथ प्रचार प्रसार में भी हिस्सा लिया।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: