Headline • गाजियाबाद की वसुंधरा कॉलोनी में नहीं रुक रही हैं चोरी की घटनाएं, लॉकर तोड़कर नगदी और लैपटॉप ले उडे़• स्वामी अग्निवेश ने दी आरएसएस प्रमुख को मॉब लिंचिंग पर खुली बहस की चुनौती• SC-ST एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 12 छात्रों के खिलाफ बीजेपी सांसद ने दर्ज कराई रिपोर्ट• लव, सेक्स एंड धोखा! दूसरे धर्म के युवक ने खुद को मराठी बताकर की शादी, न्याय के लड़की मुंबई से पहुंची मुरादाबाद• महिला के नहाते समय फोटो खींचने पर बवाल, दो पक्षों के बीच जमकर चले लाठी-डंडे, कई घायल• रानीखेत में भारत और अमेरिकी सैनिकों ने किया आतंकवादियों के खात्मे का संयुक्त अभ्यास• मायावती ने की घोषणा, छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी बसपा• मैच के बाद पाक कप्तान ने कहा, हम भुवनेश्वर की गेंदों को समझ नहीं पाए• 13 वर्षीय लड़की की जघन्य हत्या के बाद बनारस के एक इलाके में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त रोष• बिग बॉसः जसलिन ने सिंगल बेड लिया तो बगल वाला बेड लेने पहुंच गए अनूप जलोटा• प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार• 'सड़क-2' का ट्रेलर रिलीज,फिर एक साथ दिखेंगे संजय दत्त और पूजा भट्ट• मौसा ने बनाया नाबालिग को अपनी हवस का शिकार, मौसी से मिलने आई थीं लड़की• पाकिस्तान पर भारत की शानदार जीत के बाद जश्न का माहौल, भुवी के घर पर जमकर हुआ नृत्य• कफन का तिरंगा ओढ़कर न्याय के लिए कलक्ट्रेट में धरने पर बैठीं शहीद की विधवा  • पुलिस ने निर्दोष युवक को किया गिरफ्तार,फिर जेल भेजने के लिए खुद तैयार की जहरीली शराब,वीडियो वायरल !• अलीगढ़ : पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराए 25-25 हजार के इनामी बदमाश,थानाध्यक्ष घायल

जेएनयू का नाम बदल कर सुभाष चंद्र बोस यूनिवर्सिटी हो : सुब्रमण्यम स्वामी

कानपुर- भाजपा नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (जेएनयू) का नाम बदलकर सुभाष चन्द्र बोस यूनिवर्सिटी रखे जाने की मांग रखी है। जेएनयू मामले पर बोलते हुए सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने जेएनयू को देश के खिलाफ साजिश करने वालों का अड्डा बताया है।

स्‍वामी ने कहा कि जेएनयू में जो कुछ हुआ उससे दुख है। जएनयू को चार महीने के लिए बंद कर देना चाहिए और वहां तलाशी अभियान चलाना चाहिए। उन्‍होंने कहा, जेएनयू देशद्रोह का केंद्र बन गया है। देश के कई हिस्‍सों में देशद्रोह की बातें होती हैं, लेकिन सबसे ज्यादा जेएनयू में है।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार, बीजेपी नेता स्‍वामी ने कानुपर के वीएसएसडी कॉलेज में "वैश्विक आतंकवाद" विषय पर चर्चा के दौरान कहा, जेएनयू का नाम बदल कर सुभाष चंद्र बोस के नाम पर रखा जाना चाहिए।  क्योंकि जवाहरलाल नेहरू इतने पढ़े लिखे नहीं थे कि उनके नाम से किसी विश्वविधालय का नाम रखा जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि कश्मीर में धारा 370 नेहरू के चलते ही लगी जबकि डॉ बाबा साहेब अंबेडकर ने इसका विरोध किया था।

कश्मीर मुददे पर उन्होंने कहा कि यह भारत का अभिन्न अंग है, कश्मीर का जो हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे में है उसे वापस लेने की कोशिश की जानी चाहिये और कश्मीरी पंडितो की घर वापसी होनी चाहिये। इसके लिए एक फॉर्मूला सुझाते हुए स्वामी ने कहा कि कश्मीरी पंडितों के घरों में पूर्व सैनिकों को हथियारों के साथ कुछ समय के लिये रहने देना चाहिये और कुछ साल बाद वहां कश्मीरी पंडितो को बसा देना चाहिए। 

कानपुर में सुब्रमण्यम स्वामी के काफिले पर फेंके गए अंडे, टमाटर और कूड़ा

कानपुर में बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सुब्रमण्यम स्वामी की कार पर टमाटर और अंडे फेंके और उन्हें रोकने का प्रयास किया। यही नहीं स्वामी को काले झंडे भी दिखाए गए। सुब्रमण्य स्वामी एक कार्यक्रम में शिरकत करने कानपुर पहुंचे थे।

हालांकि, पुलिस ने विरोध कर रहे कार्यकर्ताओं पर हल्का लाठी चार्ज किया, जिसके बाद सभी कार्यकर्ता वहां से भाग खड़े हुए। पुलिस की इस कार्रवाई में कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं को मामूली चोटें आई।

बीजेपी जिलाध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी ने बताया कि शनिवार सुबह करीब 11 बजे सुब्रमण्यम स्वामी का काफिला सर्किट हाउस से एसडी कॉलेज की ओर जा रहा था जहां स्वामी को वैश्विक आंतकवाद पर एक संगोष्ठी को संबोधित करना था।

उन्होंने बताया कि, स्वामी का काफिले जैसे ही नरवना चौक पहुंचा, वहां मौजूद कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने उस पर कूड़ा, अंडे, टमाटर और कालिख फेंकना शुरू कर दिया।

मैथानी ने आरोप लगाया कि, सुब्रमण्यम स्वामी के कानपुर कार्यक्रम के बारे में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन को पहले से सूचना दे दी गई थी, इसके बावजूद भी पुलिस ने उनकी सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं किया।

मुख्यमंत्री अखिलेश 'आशा यात्रा' में होंगे शामिल, ग्रीन पार्क में होगा कार्यक्रम

कानपुर:सुबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंगलवार को कानपुर जाएंगे। सीएम अखिलेश यादव शहर के फूलबाग मैदान से ग्रीनपार्क तक आज होने वाले ‘आशा यात्रा’ में भाग लेंगे। सीएम की शहर यात्रा को लेकर पूरा प्रोटोकाॅल आ चुका है।

सीएम अखिलेश के आगमन को लेकर सपा नेताओं-कार्यकर्ताओं ने फूलबाग से ग्रीनपार्क तक होर्डिंग और बैनर लगाए हैं। ग्रीनपार्क में कार्यक्रम से जुड़ी सभी तैयारियों को पूरा कर लिया गया है।

सीएम अखिलेश के लिए ग्रीनपार्क में भव्य मंच तैयार किया गया है। इतना ही नहीं आशा यात्रा के लिए फूलबाग से ग्रीनपार्क तक 12 प्लेटफाॅर्म बनाए गए हैं। जिस रास्ते से सीएम और उनका काफिला निकलेगा वहां रोड की मरम्मत और रंग रोगन किया जा रहा है।

आपको बात दें कि, कानपुर में शांति एव सद्भाव की आशा यात्रा के एक वर्ष पूरे होने पर कानपुर के ग्रीन पार्क मौदान में वर्ष गांठ का आयोजन किया जा रहा है कन्याकुमारी से चली यह यात्रा कानपुर पहंची जिसमें मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शामिल होंगे। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कानपुर के हेलिपेट से नाना रान पार्क पहुंचेंगे। सीएम आशा यात्रा में 3 किमी की पद यात्रा तय करते हुए ग्रीन पार्क पहुंचेंगे।

2017 में उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी अकेले लड़ेगी विधानसभा चुनाव : अखिलेश यादव

कानपुर- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को यहां साफ कर दिया कि समाजवादी पार्टी 2017 के आगामी विधानसभा चुनाव में अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। उन्होने कहा कि सपा ने तीन साल के भीतर सूबे में जितना काम किया है, उतना काम कहीं नहीं हुआ है और इसीलिए अपने काम के दम पर पार्टी विधानसभा चुनाव में उतरेगी।

यहां ग्रीनपार्क में आयोजित आशा यात्रा में शामिल होने के दौरान जब पत्रकार वार्ता में अखिलेश से सवाल किया गया कि प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी किस दल के साथ सहयोग कर सरकार बनाएगी, इस पर उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी प्रदेश में अगला चुनाव अपने दम पर अकेले लड़ेगी।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री किसी पार्टी का नहीं होता है, वह तरक्की करने के लिए समझौता करता है तथा आगे बढ़ने के लिए बलिदान करता है। अखिलेश ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि जो लोग इस तरह के पदों पर बैठे हैं, उन्हें इस बात का ध्यान रखना चाहिए। हम प्रदेश में विकास, बेराजेगारी और तरक्की पर काम कर रहे है।

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता द्वारा राम मंदिर बनाए जाने के सवाल के पर अखिलेश ने बीजेपी का नाम लिए बिना कहा कि जो लोग माहौल बिगाड़ने का काम कर रहे है और माहौल खराब कर रहे है, उन्हें पकड़ो और उनसे सवाल पूछो। उन्होंने कहा कि आप जिस दल का नाम ले रहे हो वह भी तो प्रदूषण ही फैला रहा है।

सीएम अखिलेश ने कहा, 'कोई भी चीज अगर सीमा के बाहर है तो उसे प्रदूषण माना जायेगा। हर चीज सीमा के अंदर ही हो तो अच्छी लगती है, अगर सीमा के बाहर चली गई तो फिर वह गलत है। अब कौन सा दल प्रदेश या देश में प्रदूषण फैला रहा है यह बात आप हमसे बेहतर जानते है।'

कानपुर में कांग्रेस का केंद्र और सपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ हल्ला बोला

कानपुर: कांग्रेस पार्टी अब केंद्र और प्रदेश सरकार को घेरने का पूरा मन बना चुकी है आज इसी कड़ी में कांग्रेस पार्टी ने पद यात्रा का आयोजन कर देश वा प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया । कानपुर में आज कांग्रेस पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं ने पद यात्रा निकाली इस यात्रा में कानपुर के अलावा दूसरे ज़िलों के पदाअधिकारी वा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया ।

प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आज कानपुर में कांग्रेस पार्टी ने पदयात्रा का आयोजन किया । उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष निर्मल खत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मेरठ से सदभाव बढ़ाओ अभाव मिटाओ पद यात्रा का शुभआरंभ किया गया है । कांग्रेस पार्टी को सड़कों पर इसलिए निकलना पड़ रहा है क्योंकि देश में मोदी सरकार और प्रदेश में अखिलेश सरकार दोनों नाकारा साबित हुई हैं । दोनों पार्टिया अमन चैन को बर्बाद करने के लिए साजिश कर रही है इनके नेता साजिस में शामिल दिखाई देते है । महंगाई बढ़ रही है कानून व्यवस्था चौपट हो चुकी है । कहा जाता था कि जीएसटी वा एफडीआई में रीटेल कांग्रेस कर रही है वो गलत है जबकि मोदी ने सत्ता में आने के बाद उन्ही कामों को शुरू किया । किसानों को समस्या हैए नौजवानों के भविष्य पर संकट है क्योंकि अखिलेश सरकार के राज में भर्ती घोटाले हो रहे हैं ।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर



वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: