Headline • कॉमेडी क्वीन भारती सिंह की सेहत में हुआ सुधार, अस्पताल से शेयर किया ये वीडियो• फिर विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, कहा-भारत में रहने वाले सारे मुसलमान परिवर्तित हिन्दू हैं• बरेली: विधायक पप्पू भरतौल ने सीएम से की एसएसपी की शिकायत, सच्चाई जानने बरेली पहुंच रहे हैं सुनील बंसल• औलख का करारा जवाब, कहा-एसआईटी रिपोर्ट आने की आहट से ही बौखला गए हैं आजम • आज हो सकती है पूर्व विधायक योगेश वर्मा की रिहाई, रासुका हटने के बाद रिहाई का रास्ता साफ• SC के फैसले का बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया स्वागत,जानें क्या कहा...• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला : बैंक अकाउंट और मोबाइल से आधार लिंक करना जरूरी नहीं• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला,SC/ST को प्रमोशन में आरक्षण नहीं • मेरठ में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़,10 हजार का इनामी बदमाश घायल• नोएडा पुलिस की गाजियाबाद में रेड,कुख्यात बदमाश अमित भूरा चला रहा था अवैध शराब की फैक्ट्री• गाजियाबाद : युवती की हत्या कर शव को तेजाब से जलाया• पूर्व कांग्रेसी सांसद दिव्या ने पीएम मोदी पर किया आपत्तिजनक ट्वीट, FIR दर्ज • नोएडा : पीएनबी में दो गार्डों की हत्या कर लूट का प्रयास करने वाले बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़, तीन गिरफ्तार• हमीरपुर : कंस वध जुलूस के दौरान दो समुदाय आपस में भिड़े, छावनी में तब्दील हुआ इलाका, 300 से ज्यादा पर FIR दर्ज• दलित किशोरी को अगवा कर गैंगरेप की कोशिश, हैवानों से लड़कर थाने पहुंचीं और रिपोर्ट दर्ज कराई• लुटेरी फैमिली गिरफ्तार, महिलाएं करती हैं गैंग का नेतृत्व, ज्वेलरी शॉप से उड़ाए थे 50 लाख के गहने• सांसद बालियान के प्रतिनिधि की आंख में मिर्च झोंककर लूट करने वाले बदमाश गिरफ्तार • विहिप नेता सुरेंद्र जैन बोले, योगी और मोदी पर पूरा भरोसा, 5 अक्टूबर को होगी आंदोलन की रूपरेखा तय• मेरठ पुलिस को शर्मिंदा करने वाला वीडियो वायरल, मेडिकल स्टूडेंट के साथ गाली गलौच और मारपीट• सपा नेता ने कहा, कांवड़ यात्रा का विरोध करता हूं, भोले और राम से लड़ना होगा, बीजेपी की जान इनमें है• सुप्रीम कोर्ट ने लगाई मनोज तिवारी को फटकार, कहा-जगह बताइए हम आपको सिलिंग ऑफिसर बना देंगे• सड़क दुर्घटना में नामचीन गायक और पत्नी घायल, 2 साल की बेटी की मौत• चार माह तक बंद रहेंगी चमड़ा फैक्ट्रियां, शासनादेश जारी, होंगे 11 लाख मजदूर बेरोजगार • बंगलूरु के नशा मुक्ति केंद्र में इलाज करा रहे हैं कपिल शर्मा, जल्द स्वस्थ्य होकर लौटेंगे टीवी पर• अफगानिस्तान ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का निर्णय, धोनी कर रहे है भारतीय टीम की कप्तानी

SC ने राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले पर स्टे लगाते हुए संथारा प्रथा को जारी रखने की दी अनुमति

सुप्रीम कोर्ट ने जैनों के धार्मिक रिवाज ‘संथारा’ प्रथा मृत्यु तक उपवास को अवैध बताने वाले राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश पर स्टे लगा दिया है।

राजस्थान हाईकोर्ट ने इस प्रथा को आत्महत्या जैसा क्राइम बताते हुए भारतीय दंड संहिता 306 और 309 के तहत बैन कर दिया था। अब सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार को नोटिस कर जवाब मांगा है। बता दें कि, इस मामले में जैन कम्युनिटी के संगठनों ने हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पिटीशंस लगाई थी।

राजस्थान हाईकोर्ट ने कहा था कि, संथारा या मृत्यु पर्यंत उपवास जैन धर्म का आवश्यक अंग नहीं है। इसे मानवीय नहीं कहा जा सकताए क्योंकि यह मूल मानवाधिकारों का उल्लंघन करता है।

दरअसल, निखिल सोनी ने साल 2006 में ‘संथारा’ की वैधता को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई थी।

बता दें कि, ‘संथरा’ जैन समाज की हजारों सालों पुरानी प्रथा है। इसमें जब व्यक्ति को लगता है कि, उसकी मृत्यु नजदीक है, तो वह व्यक्ति खुद को एक कमरे में बंद कर अन्न, जल त्याग देता है। वह किसी से बातचीत भी नहीं करता। एक तरह का मौन व्रत धारण कर लेता है। इसके बाद धीरे-धीरे व्यक्ति किसी दिन अपनी देह त्याग देता है।

जयपुर मेट्रो स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले गिरफ्तार

जयपुर: जयपुर मेट्रो स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी देने के आरोप में प्रदेश पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया। शुक्रवार को पुलिस कंट्रोल रूम में फोन करके एक अज्ञात व्यक्ति ने जयपुर मेट्रो को बम से उड़ाने की धमकी दी, जिसको सुनकर पुलिस के होश उड़ गए। जिसके बाद पुलिस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जयपुर आगमन से पहले एहतियातन सभी मेट्रो स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ा दी।

हालांकि, पुलिस ने दो घंटे के अंदर छानबीर कर धमकी देने वाले दो लोगों को विश्वकर्मा क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपी राजेन्द्र सिंह ने कबूल किया कि उसने ही अपने दूसरे साथी के फोन से मेट्रो को उड़ाने की छुठी धमकी दी थी। उसने बताया कि वो 25 मई 2015 को भी मेट्रो स्टेशन उड़ाने की धमकी देने के आरोप में गिरफ्तार हुआ था। इस बार खुद को बचाने के लिए दूसरे व्यक्ति के मोबाइल से फोन किया था।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार उत्तर प्रदेश के रामगंज निवासी राजेन्द्र सिंह ;35द्ध और बिहार के छपरा जिला निवासी कामेश्वर प्रसाद है। राजेन्द्र वीकेआई के रोड नम्बर एक स्थित ट्रांसपोर्ट कम्पनी पर पल्लेदारी करता है।

राजस्थान निकाय चुनाव: बीजेपी ने कांग्रेस को पछाड़ा

जयपुर: राजस्थान में नगर निगम और नगरपालिका चुनावों में बीजेपी को भारी सफलता मिली है। बीजेपी ने कांग्रेस को पछाड़ते हुए 113 निकायों में से अब तक घोषित हुए 110 निकाय में से 59 निकायों पर अपना कब्जा कर लिया है, वहीं कांग्रेस की झोली में 25 निकायों की जीत आई। जबकि 19 निकायों पर निर्दलीय और अन्य पार्टियों ने कब्जा कर लिया। कांग्रेस भले ही बीजेपी से हार गई, लेकिन उसने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के विधानसभा क्षेत्र झालावाड़ और उनके बेटे दुष्यंत के झालरापाटन में क्षेत्र में सेंध लगा दी। ये दोनों सीटें बीजेपी के हाथों से फिसलकर कांग्रेस के दामन में आ गई हैं। कांग्रेस कोझालावाड़ में 35 में से 22 सीटें मिली हैं, जबकि झालरापाटन में 25 में 15 सीटें मिली हैं। वहीं 20 स्थानीय निकाय न कांग्रेस को मिल सके हैं और न ही बीजेपी को।

हालांकि, अजमेर नगर निगम पर बीजेपी ने अपना कब्जा जमा लिया है। सोमवार को 129 निकाय पर हुए चुनाव में 76.05 फीसदी मतदान हुआ था। 3351 वार्डों के लिए हुए चुनाव में पार्षदों की संख्या के आधार पर शुक्रवार और शनिवार को सभापति और मेयर के चुनाव होंगे।

वोटों की गिनती आज सुबह 8 बजे से शुरू हुई हो गई थी। निकाय चुनाव में 10,582 प्रत्‍याशी की किस्मत दांव पर लगी थी। 37,58,574 मतदाता थे, जिनमें 18 लाख महिला वोटर थीं।

निकाय चुनाव में बीजेपी ने नजरे जमाएं रखी थीं, क्योंकि बीजेपी लोकसभा और विधानसभा चुनावों में मिली बढ़त को निकाय चुनाव में भी कायम रखना चाहती थी। वहीं कांग्रेस इन चुनावों के जरिए अपनी राजनीतिक सियासी चमक को चमकाना चाहती है।

प्रदेश में निकाय चुनाव के लिए इस बार उम्मीदवारों को शपथ पत्र देना पड़ा, जिसमें उन्होंने अपने घर का ब्योरा दिया, साथ में घर में शौचालय है या नहीं सब जानकारी पत्र में दी गई। निकाय चुनाव लड़ने के लिए एक ओर जरूरी शर्त रखी गई थी किए उम्मीदवार का 10वीं पास होना जरूरी है।

बता दें कि, राजस्थान में जनवरी में हुए पंचायत चुनाव में भी प्रदेश सरकार ने शर्त रखी थी कि चुनाव लड़ने के लिए शैक्षणिक योग्यता जरूरी होगी।

जयपुर में आज FIPIC समिट में शिरकत करेंगे  PM नरेंद्र मोदी

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में शुक्रवार को 14 देशों के राष्ट्राध्यक्ष एक सम्मेलन के दौरान शिरकत करने आ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में फोरम फॉर इंडिया पैसेफिक आइलैंड्स कॉर्पोरेशन के बैनर तले 14 देशों के राष्ट्राध्यक्षों का सम्मेलन आज जयपुर के होटल रामबाग पैलेस में आयोजित किया जाएगा। पीएम मोदी इसका उद्घाटन करेंगे।

सम्मेलन में तीन देशों के राष्ट्रपति, पांच देशों के प्रधानमंत्री और उनके प्रतिनिधिमंडल के 100 से ज्यादा लोग शामिल हो रहे हैं। सम्मेलन में  शिक्षा, कृषि, सौर ऊर्जा, खाद्य प्रसंस्करण और स्पेस साइंस जैसे मुद्दों पर कई अहम समझौते हो सकते हैं।

प्रदेश के मुख्य सचिव के साथ विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने गुरुवार को जयपुर में आयोतिज सम्मेलन की तैयारियों का जायजा लिया। सभी देशों के प्रतिनिधि शुक्रवार सुबह 10:15 बजे जयपुर पहुंचेंगे। जबकि प्रधानमंत्री मोदी शाम 4:25 बजे पहुंचेंगे।

शिखर सम्मेलन को संबोधित करने के बाद उपस्थित अतिथियों के लिए भोज का आयोजन किया गया है, जिसमें वे शामिल होंगे और रात को ही वापस दिल्ली चले जाएंगे।

फोरम फॉर इंडिया-पेसिफिक आइलैंड्स कंट्रीज (फिपिक ) में भारत और प्रशांत महासागर के 14 देश शामिल हैंA जिनमें फिजी, किरिबाती, कुक द्वीप समूह, माइक्रोनेशिया,, मार्शल द्वीप समूह,  नियू, नौरू, पलाऊ,  सामोआ, पापुआ न्यू गिनी, सोलोमन द्वीप समूह,, तुआलू. टोंगा और वानुआतु। ये देश तेल व गैस समृद्ध हैं।

राजस्थान: आज खुलेगा नब्बे प्रत्याशियों के भाग्य का पिटारा

जयपुर- नगरपालिका चुनाव के लिए मतगणना गुरुवार सुबह आठ बजे से राजकीय महाविद्यालय में शुरू की जाएगी। जिन-जिन वार्डों की मतगणना पूरी होती जाएगी, नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे। मतगणना पर्यवेक्षक जितेन्द्र उपाध्याय एवं रिटर्निंग अधिकारी रामचंद्र गर्वा की मौजूदगी में होगी। प्रशासनिक स्तर पर मतगणना संबंधी तमाम तैयारियां पूरी कर ली गई है।

सुरक्षा के लिहाज से मतगणना स्थल के बाहर पुलिस की चाक-चौबंद व्यवस्था रहेगी। उम्मीद की जा रही है कि सुबह साढ़े नौ से दस बजे तक सारे नतीजे आ घोषित हो जाएंगे।

आज नब्बे प्रत्याशियों के भाग्य का पिटारा खुलने वाला है, इनमें कांग्रेस के सत्ताईस, भाजपा के उनतीस व चौतीस निर्दलीय प्रत्याशी शामिल है। जिन मौजूदा पार्षदों के भाग्य का फैसला होना है उनमें  गणेश आचार्य, मगनदान चारण, निशा बंसल, आबेदा बेगम, कांतिलाल परिहार, दामोदर धानका, नरगीस कायमखानी, शिवशंकर, अर्जुनसिंह, नवीन सांखला, कमलेश सैनी शामिल है।

महाविद्यालय के हॉल में मतगणना के लिए पांच टेबल लगाए गए हैं। एक-एक टेबल चक्रवार पर एक-एक वार्ड की मतगणना की जाएगी। प्रत्येक टेबल पर एक-एक सुपरवाइजर व एक-एक सहायक मतगणना के कार्य को अंजाम देंगे। वहीं इन टेबलों से सटकर ही जाली लगाई गई है, जिससे प्रत्याशी व उनके एजेन्ट मतगणना की कार्रवाई देख सकेंगे। प्रथम चक्र में वार्ड-एक से पांच तक की मतगणना निपटने के बाद प्रत्याशी व उनके एजेन्ट हॉल से बाहर निकल आएंगे।

दूसरे चक्र में वार्ड-छह से दस तक के प्रत्याशी व एजेन्ट जाएंगे। इस तरह बारी-बारी से छह चक्रों में मतगणना का कार्य पूरा किया जाएगा।

चुनावी नतीजे जानने की समर्थकों, कार्यकर्ताओं व आम लोगों की उत्सुकता के मद्देनजर प्रशासनिक स्तर पर माइक की व्यवस्था की गई है। माइक पर नतीजे एनाउन्स किए जाएंगे, ताकि कॉलेज परिसर से बाहर जमा होने वाली भीड़ को भी नतीजों की जानकारी मिल सकें।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: