Headline • पीएम मोदी ने किया दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत का शुभारंभ• सपा की साइकिल यात्रा के समापन पर एक साथ दिखे अखिलेश और मुलायम सिंह यादव • गोरखपुर : सीएम योगी ने किया 'आयुष्मान भारत योजना' का शुभारंभ • महंत नृत्य गोपालदास बोले- 'राम मंदिर का निर्माण नहीं कराया तो भाजपा और मोदी के लिए घातक होगा'• गोरखपुर : बाइक को टक्कर मारने के बाद जीप पलटी, 3 की दर्दनाक मौत, 5 घायल• बीजेपी के कार्यक्रम में बार-बालाओं ने किया डांस,सांसद बाबू लाल के स्वागत में लगे ठुमके• आज से शुरू होगी आयुष्मान भारत योजना,पीएम मोदी झारखंड से करेंगे शुभारंभ• आगरा में दर्दनाक सड़क हादसा, चार लोगों की मौत• बलिया: बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह की दादागिरी, डीएम के सामने डीआईओएस से की हाथापाई• आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया


जोधपुर. राजस्थान के जोधपुर के उम्मेद अस्पताल का एक हैरान करने वाला वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में दो डॉक्टर मरीज को ऑपरेशन टेबल पर छोड़कर लड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं। लड़ते-लड़ते ये डॉक्टर ये भी भूल गए कि मरीज दर्द से तड़प रहा है। यह वीडियो वायरल होते ही अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया है और किसी तरह मामले को दबाने की कोशिश की जा रही है। 

-बताया जा रहा है कि जिस समय इन डॉक्टरों की लड़ाई हो रही थी उस समय अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर की टेबल पर लेटी गृभवती महिला के बच्चे की पेट में ही मौत हो गई थी।

-ऐसे में महिला ऑपरेशन टेबल पर बेसुध लेटी हुई थी और उसका पेट खुला पड़ा था। 

-बताया ये भी जा रहा है कि ऑपरेशन थिएटर में झगड़ते चिकित्सकों का वीडियो वहां मौजूद एक नर्सिंगकर्मी ने ही बनाया और उसे सोशल मीडिया पर उसे वायरल कर दिया।

-वहीं वीडियो को आधार मानकर प्रशासन ने डॉ अशोक नैनीवाल को रातोंरात एपीओ कर दिया। जबकि डॉ टाक को जयपुर तलब किया जा रहा है। 

-माना जा रहा है कि उन पर भी सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

 

नई दिल्ली.राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के एनकाउंटर की लेकर राजस्थान के लोग भड़के हुए हैं। ऐसे में लोग जमकर बवाल कर रहे हैं। गुस्साए लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। इसमें कई लोग घायल हो गए वहीं एक की मौत हो गई। आपको बता दें कि लोगों का आरोप है कि पुलिस ने आनंदपाल का इनकाउंट फर्जी किया है। ऐसे में CBI जांच होनी चाहिए।


50 हजार राजपुतों ने किया पुलिस पर हमला
मीडियो रिपोर्टस के अनुसार, नागौर में आनंदपाल एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग लेकर करीब 50 हजार राजपूत जमा हुए थे।
-ऐसे में बुधवार की शाम अचानक भीड़ का गुस्सा पुलिस पर भड़क गया। ऐसे में कई पुलिस वाले घायल हो गए।
-पुलिस ने भीड़ को खदेड़ने के लिए कई राउंड फायरिंग भी की
-मगर लोग पीछे नहीं हटे
- इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है।
-खबर है कि CM वसुंधरा राजे ने मंत्रियों की आपात बैठक भी बुलाई है।



सरकार ने करा दी इंटरनेट और बिजली सप्लाई बंद
-जैसे ही हिंसा भड़कने की खबर सरकार को लगी तो तुरंत नागौर में इंटनेट और बिजली सप्लाई बंद करा दी गई ।
-दरअसल, आनंदपाल की मौत के बाद से ही उसके गांव सांवराद में हजारों की संख्या में राजपूत समाज के लोग जुटे हैं।
-उन्होंने रेल की पटरी पर भी कब्जा किया हुआ है।
-हिंसा के दौरान घायल हुए पुलिसवालों और अन्य लोगों का अस्पताल में ईलाज चल रहा है।
- इलाके में तनाव देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

VIDEO: BF के साथ जाने पर पिता बना हैवान, बेटी को न्यूड कर इंटरनल पार्ट्स पर बरसाए डंडे

जयपुर. एक लड़की का हीरो उसका पिता होता है। जिसकी छांव में रहकर वह दुनिया को समझती है। पिता अपनी बेटी की इज्जत के लिए कुछ भी करने को तैयार रहता है। लेकिन राजस्थान के बांसवाडा जिले में हुई एक वारदात ने पिता जैसे पवित्र रिश्ते पर प्रश्न उठाने के साथ ही मानवता को भी शर्मसार कर दिया है। इस वारदात में एक पिता ने ही अपनी बेटी को निर्वस्त्र कर पूरे गांव में घुमाया है। बेटी का गुनाह सिर्फ इतना था उसने किसी लड़के से प्यार कर लिया था।


कलिंजरा थाना क्षेत्र की है घटना

-वारदात जिले के कलिंजरा थाना क्षेत्र के शम्बुपुरा गांव की है।
-जहां एक प्रेमी जोड़े को गांव वालों के साथ मिलकर लड़की के पिता ने ढोल नागाड़ों के साथ निर्वस्त्र कर घुमाया।
-इतना ही नहीं प्रेमी जोड़े को रस्सी की बेल्ट बनाकर उन्हें पीटा गया।
-इसके साथ ही उन्हें गर्म पानी पिलाया गया। 
-इस वारदात में हैवानियत की हद तब हो गई जब लड़की के जननांग पर डंडे बरसाए गए।

वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर किया वायरल

-इतना ही नहीं पिटाई करने वाले युवकों ने सारी हदें पार करते हुए दोनों का वीडियो भी बनाया।
-जिसे आरोपियों ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।
-इस बीच बताया जाता है कि युवक-युवती रिश्ते में चचेरे भाई बहन है।
-इसके चलते इनके परिजन दोनों के प्यार के खिलाफ थे।

क्या कहते हैं कलेक्टर?

-बांसवाड़ा के जिला कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट भगवती प्रसाद ने बताया कि प्रेम संबंधों के चलते प्रेमी-प्रेमिका को कथित रूप से निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया गया।
-उन्होंने कहा कि एक वायरल वीडियो सामने आया है। शिकायत के बाद इस संबंध में लड़की के पिता समेत चार आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया।

गुजरात चले गए थे प्रेमी युगल

-पुलिस उप अधीक्षक भरत लाल मीना ने बताया कि एक युवक और एक युवती पिछले दिनों घर से भागकर गुजरात चले गए थे।
-जब युवती के परिजनों को दोनों के गुजरात में होने की जानकारी मिली, तो घरवाले गुजरात पहुंच गए।
-इस बीच युवती के परिवार वाले दोनों को पकड़कर गांव ले आए।
-इसके बाद गांववालों और युवती के पिता ने युवक और युवती को निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया।

गिरफ्तार हुआ आरोपी पिता

-पुलिस उप अधीक्षक ने बताया कि युवक ने युवती के पिता समेत 20 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।
-पुलिस ने युवक और युवती का मेडिकल करवाया और बयान दर्ज किए।
-जिसके बाद कार्रवाई करते हुए लड़की के पिता समेत चार आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया।
-वहीं युवक का अस्पताल में इलाज चल रहा है।
-उन्होंने बताया, 'वायरल विडियो में करीब 50 लोग दिखाई दे रहे है, पुलिस उनपर भी कार्रवाई करेगी।'
-बताया जाता है कि यह वीडियो घटनास्थल पर मौजूद किसी शख्स ने बनाया था।

JEE Main-2017: कंपाउंडर के बेटे ने बनाया 'अकल्पनीय' रिकॉर्ड, 100 प्रतिशत मार्क्स लाकर रचा इतिहास

उदयपुर. जेईई मेन्स-2017 का परिणाम गुरुवार को घोषित कर दिया गया। जिले के छात्र कल्पित वीरवाल ने इस परीक्षा में टॉप कर इतिहास रच दिया है। उसने इस परीक्षा में 360 में से 360 अंक प्राप्त कर अन्य परीक्षार्थियों के लिए मील का पत्थर स्थापित कर दिया है। रिजल्ट आने के बाद और कल्पित के टॉप करने पर उदयपुर में खुशी की लहर दौड़ गई। कल्पित के घर बधाई देने वालों का तांता लग गया है।

 

शिक्षक भी हैं खुश

 

-कल्पित वीरवाल एम.डी.एस स्कूल का छात्र है। 

-गुरूवार को जेईई मेन्स-2017 का रिजल्ट घोषित हुआ।

-जिसमें कल्पित ने इतिहास रचते हुए जेईई मेन्स की परीक्षा में 360 में से 360 अंक प्राप्त किए। 

-कल्पित की इस कामयाबी से उसके परिजनों और शिक्षकों की खुशी परवान पर चढ़ गई। 

 

घर पर लगा बधाई देने वालों का तांता

 

-इस खुशी के बाद कल्पित के घर बधाई देने वालों का तांता लग गया। 

-मिठाई खिला कर और फूलों के हार से कल्पित को बधाई दी गई। 

-ऑल इंडिया टॉप करने पर कल्पित ने बताया कि उसने कभी भी पढ़ाई को लेकर स्ट्रेस नहीं लिया। 

-कल्पित ने बताया कि निरंतन पढ़ाई और मेहनत कर उसने यह मुकाम हासिल किया है। 

-कल्पित ने इस उपलिब्ध का श्रेय अपने माता-पिता और शिक्षकों को दिया।

 

पहले भी कई परीक्षाओं में कर चुका है टॉप

 

-इससे पहले विज्ञान संकाय के स्टूडेंट कल्पित ने एन.टी.एस.ई के प्रथम चरण में भी राज्य में पहला स्थान प्राप्त किया था। 

-साथ ही कल्पित के.वी.पी.वाय में भी प्रथम रैंक प्राप्त कर चुका है। अब कल्पित के लिए एडवांस परीक्षा बड़ा लक्ष्य है। 

-जिसके लिए वह पूरी तरह आत्मविश्वास से भरा हुआ है। 

-कल्पित के माता पिता भी इस खुशी मे इतने भाव विभोर हो गए कि उनकी आंखे छलछला आई। 

-कल्पित के पिता पुष्कर वीरवाल एमबी हॉस्पिटल में नर्सिंग कर्मी (कंपाउंडर), जबकि मां पुष्पा वीरवाल सरकारी स्कूल में शिक्षिका हैं।

 

रचा दिया इतिहास

 

-गौरतलब हो कि जेईई मेन्स के आधार पर जेईई एडवांस के लिए एंट्री मिलती है। 

-एडवांस की परीक्षा 21 मई को होनी है। जिसकी तैयारी को लेकर कल्पित और रेजोनेंस के टीचर्स पूरी तरह से तैयारी कर चुके हैं। 

-कल्पित के स्कूल डायरेक्टर इस कामयाबी को कल्पित और उसके परिवार की लगन बता रहे हैं। 

-स्कूल स्टाफ ने साफ कहा कि हर स्टूडेंट के साथ एक सी मेहनत होती है।

-लेकिन कल्पित ने एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी तरीके से इतिहास रच दिया है।

 

बड़ा भाई MBBS फाइनल ईयर में है

 

-कल्पित का बड़ा भाई हार्दिक वीरवाल एम्स में एमबीबीएस फाइनल ईयर में है। 

-दोनों भाई एक दूसरे को सपोर्ट करते हुए पढ़ाई करते हैं।

-इस कामयाबी ने उदयपुर का नाम पूरे देश मे रोशन कर दिया है।

साहब ! इतिहास को छोड़िए, भविष्य की सोचिए, यहां कुत्ते छीन रहे हैं बच्चों का निवाला

सवाई माधोपुर. प्रेदश के सरकारी स्कूलों की हालत कितनी बदतर हो चुकी है। इसका ताजा उदाहरण जिले के खाट कलां के सरकारी स्कूल में देखने को मिला। जहां मिड मिल का भोजन बच्चों की थाली से छीनकर आंवारा कुत्ते खा रहे हैं। सरकारी व्यवस्था की पोल खोलने वाला यह मामला प्रदेश के शिक्षा विभाग और स्कूल प्रशासन की संवेदनशीलता पर कई सवाल खड़ा कर रहा है।

इतिहास में उलझी है सरकार

-गौरतलब हो कि राजस्थान सरकार इतिहास को लेकर छिड़ी बहस में उलझी हुई है।
-जिसको लेकर शिक्षामंत्री 'पाठ्यक्रम' में बदलाव करवा रहे हैं।
-इसके इतर सरकारी स्कूलों में जो हो रहा है उस पर उनका ध्यान नहीं है।
-नौनिहालों के भविष्य और उनकी सेहत की देख-रेख पर सरकार गंभीर नहीं दिख रही है।
-सामने आई घटना प्रदेश में मिड डे मील की व्यवस्था का सच उजागर करने वाला है।


बाउन्ड्री नहीं होने के कारण आ जाते हैं कुत्ते

-बता दें कि यह मामला सवाई माधोपुर के खाट कलां सरकारी स्कूल का है।
-जहां स्कूल में चारो तरफ नाम मात्र की बाउन्ड्री है।
-जिसके कारण आवारा कुत्ते स्कूल में घुस जाते हैं।

बच्चों का निवाला छीन ले जाते हैं कुत्ते

-कुत्ते स्कूल में पढ़ाई के समय तो ये किसी तरह की समस्या नही करते हैं।
-लेकिन जब दोपहर में बच्चों को मिड डे मील का भोजन दिया जाता है।
-उस समय ये आंवारा कुत्ते इन बच्चों का निवाला छीन ले जाते हैं।

काटने तक को दौड़ते हैं कुत्ते

-इस स्कूल में पढ़ने वाले छोटे-छोटे बच्चे आंवारा कुत्तों से अपना खाना बचा पाने में सक्षम नही हैं।
-यही नहीं बच्चे अगर भोजन बचाने का प्रयास भी करते हैं तो ये खतरनाक कुत्ते काटने को दौड़ते हैं।
-जिसके कारण बिना खाना खाए ही बच्चे पढ़ने को मजबूर हैं।

क्या कहते हैं हेडमास्टर

-स्कूल के हेडमास्टर मन्नू लाल के अनुसार, इस स्कूल में बाउन्ड्री बनाने के लिए 10 लाख की जरूरत होगी।
-जिसके लिए शिक्षा विभाग को पत्र लिखा गया है, लेकिन अब तक इस बात की कोई सुनवाई नहीं हुर्इ है।
-उन्होंने कहा कि गांव वालों से इस स्कूल के लिए दान देने के लिए कहा है, जिसके लिए गांव वालों ने अपनी सहमति दे दी हैं।
-लेकिन अब तक काम शुरू नही हो सका है।

दावों की जगह प्रयास की जरूरत है

-हेडमास्टर ने बताया कि बच्चों को जिन बर्तनों में खाना दिया जाता है, वो भी कुत्ते जूठा कर देते हैं।
-जिसके कारण संक्रमण फैलने का डर रहता है।
-ये बच्चे ही बर्तन धोकर दूसरे दिन इसका इस्तेमाल करते हैं।
-इस स्कूल में बच्चों की हालत देखकर साफ पता चलता है कि प्रदेश में शिक्षा विभाग में दावों की जगह प्रयासों की जरूरत हैं।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: