Headline • आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया• विवादों के बाद सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी रिलीज को तैयार, फर्स्ट लुक जारी• कातिल सौतन! पूर्व पति की शादी को नहीं कर पाई बर्दाश्त, कराया जानलेवा हमला, महिला की मौत• अपनी ही सरकार के खिलाफ बोलीं पूर्व मेयर, कहा-समय पर लिया होता फैसला तो नहीं देखने पड़ते ये दिन• तारीख से लौट रहे दामाद को अगवा कर ससुरालियों ने की जमकर पिटाई, पुलिस ने बचाई जान• 80 मौत के बाद जागीं मंत्री अनुपमा, अस्पताल का लिया जायजा, कैमरों के साथ पहुंचीं मृतकों के घर• भारत ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला, चोटिल पांड्या की जगह रविंद्र जाडेजा को मौका• बीच बचाव करने गए बुजुर्ग पर ही टूट पड़े, चौकी इंचार्ज ने जान पर खेलकर बचाई जान• कर्बला की ओर बढ़ते हर कदम के साथ हुसैन की कुर्बानी का दर्द और यजीद के खिलाफ गुस्सा दिखा • करीना कपूर ने फैमिली के साथ सेलिब्रेट किया अपना जन्मदिन, तस्वीरें आई सामने

'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार सम्मानित,  FWJ के बने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

जयपुर: राजस्थान की राजधानी जयपुर में आयोजित इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट के दो दिवसीय सम्मेलन और 128वीं राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक का मंगलवार को समापन हुआ। समापन समारोह से पूर्व चले सत्र में आईएफडब्ल्यूजे के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय उपाध्यक्ष 'समाचार प्लस' के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। सम्मेलन में मंच पर राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, भाजपा सांसद ओम बिड़ला के साथ ही समाचार प्लस ग्रुप ऑफ चैनल्स के एडिटर इन चीफ उमेश कुमार भी मौजूद थे। देशभर के विभिन्न राज्यों से आये श्रमजीवी पत्रकार संघों ने 'समाचार प्लस' के एडिटर-इन-चीफ उमेश कुमार को साफा, मालाएं, शॉल, श्रीफल और मोमेंटो भेंट कर पत्रकारिता के क्षेत्र में किए गए उनके अविस्मरणीय योगदान और राजनीति मे शुचिता, पारदर्शिता और स्वच्छता के लिए किए गए स्टिंग को लेकर भी अभिनन्दन किया।

आईएफडब्ल्यूजे के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ की उत्कृष्ट पत्रकारिता की मिसाल दी और पत्रकार हितों के लिए उनके योगदान पर प्रकाश डाला तो इंद्रलोक सभागार देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों की तालियों की गड़गड़ाहट के साथ गूंज उठा।

हेमंत तिवारी ने कहा उमेश कुमार जी के पास एक्सटर्नल एफेयर्स का भी कार्यभार रहेगा। दुनियाभर के देशों में पत्रकार संगठनों, श्रमजीवी पत्रकारों के साथ बैठकें कर विचारों और पत्रकारिता के हित में नीतियों का आदान-प्रदान करने पर ख़ासा ज़ोर रहेगा। उमेश कुमार ने उत्तरप्रदेश सहित देशभर में पत्रकारों पर हो रहे हमले, हत्याओं के मामलों पर बेहद चिन्ता जताई, साथ ही मीडिया से रूबरू होकर कहा कि पत्रकार सुरक्षा एक्ट, लघु और मध्यम श्रेणी के समाचार पत्रों को जीवंत रखना, उनके हितों का ध्यान रखने के लिए वे संघर्ष करेंगे। अगले सप्ताह केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा जाएगा और उस पर कार्यवाही को अमलीजामा पहनाने के हरसंभव प्रयास होंगे। उन्होंने कहा- जिस भरोसे के साथ उन्हें चुना गया है, यह भरोसा बना रहे, यही मेरी कोशिश रहेगी।

सम्मेलन में भाजपा सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा में पत्रकार हितों और उनकी सुरक्षा के लिए आवाज़ बुलंद करने की बात कही, साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून के लिए मसौदे पर उच्च स्तर पर खुद मामला उठाने का आश्वासन दिया। तो वहीं, राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने भी मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ बताते हुए कहा- पत्रकारों की सुरक्षा और पत्रकारों के हितों का ध्यान रखना सरकारों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। यह सरकार की ज़िम्मेदारी है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बनी रहे इसके लिए कड़ाई से प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा प्रतिपक्ष का नेता होने के नाते राजस्थान विधानसभा में भी वे पुरज़ोर तरीके से पत्रकारों के हितों को हर संभव तरीके से उठाएंगे।

सम्मेलन में ख़ास बात यह भी रही कि देशभर के श्रमजीवी पत्रकारों और मीडिया स्टूडेंट्स ने उमेश कुमार के साथ सेल्फी खिंचवाई और उनके ऑटोग्राफ भी लिए। जिससे यह मुलाकात सदा के लिए यादगार बन गई।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: