Headline • आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया• विवादों के बाद सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी रिलीज को तैयार, फर्स्ट लुक जारी• कातिल सौतन! पूर्व पति की शादी को नहीं कर पाई बर्दाश्त, कराया जानलेवा हमला, महिला की मौत• अपनी ही सरकार के खिलाफ बोलीं पूर्व मेयर, कहा-समय पर लिया होता फैसला तो नहीं देखने पड़ते ये दिन• तारीख से लौट रहे दामाद को अगवा कर ससुरालियों ने की जमकर पिटाई, पुलिस ने बचाई जान• 80 मौत के बाद जागीं मंत्री अनुपमा, अस्पताल का लिया जायजा, कैमरों के साथ पहुंचीं मृतकों के घर• भारत ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला, चोटिल पांड्या की जगह रविंद्र जाडेजा को मौका• बीच बचाव करने गए बुजुर्ग पर ही टूट पड़े, चौकी इंचार्ज ने जान पर खेलकर बचाई जान• कर्बला की ओर बढ़ते हर कदम के साथ हुसैन की कुर्बानी का दर्द और यजीद के खिलाफ गुस्सा दिखा • करीना कपूर ने फैमिली के साथ सेलिब्रेट किया अपना जन्मदिन, तस्वीरें आई सामने


इलाहाबाद : मेरठ की हस्तिनापुर सीट से बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बुधवार को बड़ी राहत मिली है। हाईकोर्ट ने डीएम द्वारा पूर्व विधायक योगेश वर्मा को रासुका में निरुद्ध करने का आदेश रद्द कर दिया है। कोर्ट ने जेल में बंद पूर्व बसपा विधायक को रिहा करने का भी आदेश दिया है।

-कोर्ट ने कहा है कि पूर्व विधायक यदि किसी दूसरे प्रकरण में वांछित नहीं है तो उन्हें तत्काल रिहा किया जाये।

-गौरतलब है कि एससी-एसटी अत्याचार निवारण अधिनियम को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ दो अप्रैल को एससी-एसटी संगठनों ने उग्र विरोध प्रदर्शन किया था। जिसमें मेरठ और आस-पास के इलाकों में कई दुकानों में तोड़फोड़ और हिंसा भी हुई थी। जिसको लेकर पूर्व विधायक के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज हुआ था।

-इस मामले में जिलाधिकारी मेरठ ने आठ मई को पूर्व विधायक को रासुका के तहत निरुद्ध करने का आदेश दिया था। डीएम द्वारा रासुका में निरुद्ध किए जाने के आदेश को याची पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने हाईकोर्ट में चुनौती दी थी।

-कोर्ट ने सभी पक्षों को सुनने के बाद रासुका के आदेश को रद्द कर दिया है। जस्टिस बी के नारायण और जस्टिस आर.एन.कक्कड़ की खंडपीठ ने ये आदेश दिया है।

 

 

 

 

 

 

 

बरेली. सावन में हुए कावड़ विवाद अभी पुलिस निपटा भी नहीं पाई थी की अब मोहर्रम के ताजियों ने पुलिस-प्रशासन की टेंशन फिर से बढ़ा दी है। बरेली जिले में जगह-जगह ताजिये निकलने को लेकर तनाव है जिस वजह से पुलिस-प्रशासन ढाई हजार से अधिक लोगों को रेड कार्ड जारी किए है। इसके आलावा 4 हजार लोगों को 2 सौ करोड़ में मुचलका पाबंद किया है साथी ही गुंडा एक्ट की भी कार्यवाही की गई है। ताजियों को सकुशल निकलवाने के लिए पुलिस-प्रशासन ने पूरी ताकत झोक दी है। 

-मोहर्रम में ताजिये निकलने को लेकर शहर के किला और प्रेमनगर इलाके सबसे ज्यादा संवेदनशील है तो बिथरी के खजुरिया ब्रम्हनान , उमरिया, कलारी, चांदपुर बिचपुरी, कंथरिया, सिमरा और भगवानपुर धीमरी गांव में तनाव है।

-इन आधा दर्जन गांव में पुलिस-प्रशासन ने पूरी ताकत झोक दी है।

-पीस कमेटी की बैठक के साथ साथ गांव वालो के साथ पंचायतें भी की लेकिन समस्या हल नहीं हो सकी है।

-माहौल ख़राब न हो इसके लिए बाहरी जिलों की पुलिस को भी बरेली में लगाया गया है। इसके आलावा पीएसी और आरएएफ को भी लगाया गया है। कई जगहों पर फ्लैग मार्च भी करवाया गया है।

-एसपी सिटी अभिनन्दन सिंह ने बताया की हम ड्रोन कैमरे का भी इस्तेमाल करेंगे। कुछ असामाजिक लोग है जो खुराफात कर सकते है उनके खिलाफ सख्ती से पेश आया जा रहा है। जो भी परंमपरागत रुट है उन्ही स्थानों से ताजिये निकलेंगे। अगर कोई नई परंपरा डालता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी मोहर्रम के जुलूस को लेकर 4 हजार लोगों को 5-5 लाख के मुचलकों में पाबंद किया गया है। इसके साथ ही ढाई हजार लोगों को रेड कार्ड भी दिया गया है।

-वहीं एडीएम सिटी ओपी वर्मा का कहना है कि 21 सितंबर को मोहर्रम के जुलुस को लेकर प्रशासन ने पूरी तयारी कर ली है। जिले के सभी एसडीएम और सीओ ने शांति समितियों की मीटिंग की है। जितने भी संवेदनशील गांव है वहां पर अधिकारियों ने जाकर लोगों से वार्ता कर ली है। उनका दावा है कि जिले में कोई भी जगह ऐसी नहीं है जिसका हल न निकाला जा चुका हो। 

रामपुरः शिक्षक को भगवान का दर्जा दिया जाता है। लेकिन रामपुर में एक स्कूल का प्रिंसिपल भगवान की जगह जल्लाद बन बैठा। अनुशासन के नाम पर प्रिंसिपल ने कक्षा नौ के छात्र को बुरी तरह डंडे से पीटा।

प्रिंसिपल तब तक छात्र को पीटता रहा जब तक डंडा टूट नहीं गया। पीड़ित छात्र ने जब अपने परिजनों को बात बताई तो छात्र की मां प्रिंसिपल से शिकायत करने गईं तो आरोपी प्रिंसिपल ने परिजनों से भी अभद्र व्यवहार किया। 

परिजनों ने प्रिंसिपल के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी दी है। पुलिस ने एनसीआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी, पीड़ित छात्र ने डर के कारण स्कूल छोड़ दिया है।

मामला रामपुर के कोतवाली मिलक के सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज का है, जहां कक्षा नौ में पड़ने वाले छात्र को कॉलेज के प्रिंसिपल ने जमकर डंडे से पीट डाला। पीड़ित छात्र ने बताया कि उसका पीरियड खाली था, एक बच्चा गाना गा रहा था, जिससे उसे हंसी आ गई।

क्लास के मॉनिटर ने उसका नाम लिखकर प्रिंसिपल से शिकायत कर दी। प्रिंसिपल ने उसे बुलाया और डंडे से पिटाई शुरू कर दी और तब पीटते रहे जबतक डंडा टूट नही गया।

पीड़ित बच्चे ने कहा कि जब उसकी मां शिकायत करने प्रिंसिपल साहब के पास गई तो उन्होंने उनसे भी अभद्र व्यवहार किया। परिजनों ने आरोपी प्रिंसिपल के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी दी है। 

पुलिस के मुताबिक आरोपी प्रिंसिपल के खिलाफ धारा 323 में एनसीआर दर्ज कर ली गयी है। आगे कार्रवाई की जाएगी। 

आजमगढ़ः यहां के देवगांव कोतवाली के लहुआ गायत्री मोड़ के पास बुधवार सुबह पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। इस दौरान बदमाशों ने भागने की कोशिश में पुलिस टीम पर फायर कर दिया।

पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक 25 हज़ार के इनामी बदमाश कलीम के दोनों पैरों में गोली लगी जबकि लालगंज पुलिस चौकी प्रभारी अनिरुद्ध कुमार सिंह भी बांह में गोली लगने से घायल हो गए। एक अन्य बदमाश राहुल यादव भी गिरफ्त में आया। घायल बदमाशों पर संगीन मुकदमे दर्ज हैं।

आजमगढ़ के अलावा वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर समेत पूर्वांचल के अन्य जिलों में कई वारदातों को अंजाम दिए हैं। मुठभेड़ एक अन्य 25 हज़ार का इनामी अख्तर समेत 4 बदमाश भाग निकलने में कामयाब रहे। 

गिरफ्तार घायल बदमाश को जिला अस्पताल लाया गया जबकि जख्मी पुलिस कर्मी को जिला अस्पताल से रेफर किया गया। आजमगढ़ रेंज के डीआईजी विजय भूषण ने बताया कि ये गिरफ्तार बदमाशों का गिरोह चार पहिया वाहन को लेकर हाईवे पर लूटपाट करता था। महिलाओं को वाहन से उठा कर उनका आभूषण छीन कर उतार दिया जाता था।

वहीं वाहनों से रात में डकैती, लूटपाट के साथ ही पशुओं तक को भी उठा ले जाते थे। इसके अलावा भाड़े पर हत्या भी करते थे। पुलिस के अनुसार कुछ माह पूर्व देवगांव क्षेत्र में बाइक सवार डॉक्टर की गोली मारकर भाड़े पर हत्या में इनका हाथ है।

घायल बदमाश कलीम आजमगढ़ के फूलपुर के मुड़ियार का जबकि दूसरा राहुल ( 20 वर्ष ) ईसापुर फूलपुर जनपद आजमगढ़ का निवासी है। डीआईजी ने दावा किया कि 2 से 3 दिन के भीतर मुठभेड़ में फरार बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा। 

देवरियाः जिले में महिलाओ ने सरेराह ग्राम प्रधान को  चप्पलों और लाठियों से पीट दिया। महिलाओं ने एक दो नहीं गिन गिन के पूरे तीस चप्पल और कई लाठी प्रधान को मारी।

महिलाओं के बीच कोई बोलने वाला नहीं था।  राहगीर तामाशबीन बन प्रधान की पिटाई देख रहे थे। कुछ लोगों ने अपने मोबाइल में घटना को कैद भी किया। बीच बाजार प्रधान की चपलों से पिटाई कोई छेड़खानी के मामले को लेकर नहीं हुई बल्कि पति पत्नी के बीच सुलह के लिए पहुंचे इस प्रधान पर महिलाए टूट पड़ीं। मां-बेटी ने अपना पूरा गुस्सा प्रधान पर उतार दिया।

मामला देवरिया जिले के भाटपार रानी थाने के चनुकी गांव के प्रधान ने पति पत्नी के विवाद को सुलह कराने की पहल की जिसके कारण बीच बाजार महिलाओं ने प्रधान की जमकर पिटाई कर दी। 

देवरिया के पुलिस अधीक्षक येन कोलांची ने कहा कि ग्राम प्रधान सुलह करने गए थे। इस बीच महिला और उसकी बेटी सुलह से नाराज हो गईं और चप्पलों से प्रधान की पिटाई कर दी। 

उन्होंने कहा कि तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: