Headline • मोहर्रम को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट,पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता को किया नजरबंद,छावनी में तब्दील हुआ कुंडा• जब अचानक बच्चों को स्कूल में पढ़ाने पहुंच गई डीएम, गंदगी देखकर टीचर्स को लगाई फटकार• पं. दीनदयाल उपाध्याय की हत्या के मामले में हो सकती है CBI जांच• ज्वैलरी शोरूम से 50 लाख के गहने लेकर फरार हुई महिलाएं, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात• गाजियाबाद की वसुंधरा कॉलोनी में नहीं रुक रही हैं चोरी की घटनाएं, लॉकर तोड़कर नगदी और लैपटॉप ले उडे़• स्वामी अग्निवेश ने दी आरएसएस प्रमुख को मॉब लिंचिंग पर खुली बहस की चुनौती• SC-ST एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 12 छात्रों के खिलाफ बीजेपी सांसद ने दर्ज कराई रिपोर्ट• लव, सेक्स एंड धोखा! दूसरे धर्म के युवक ने खुद को मराठी बताकर की शादी, न्याय के लड़की मुंबई से पहुंची मुरादाबाद• महिला के नहाते समय फोटो खींचने पर बवाल, दो पक्षों के बीच जमकर चले लाठी-डंडे, कई घायल• रानीखेत में भारत और अमेरिकी सैनिकों ने किया आतंकवादियों के खात्मे का संयुक्त अभ्यास• मायावती ने की घोषणा, छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी बसपा• मैच के बाद पाक कप्तान ने कहा, हम भुवनेश्वर की गेंदों को समझ नहीं पाए• 13 वर्षीय लड़की की जघन्य हत्या के बाद बनारस के एक इलाके में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त रोष• बिग बॉसः जसलिन ने सिंगल बेड लिया तो बगल वाला बेड लेने पहुंच गए अनूप जलोटा• प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार• 'सड़क-2' का ट्रेलर रिलीज,फिर एक साथ दिखेंगे संजय दत्त और पूजा भट्ट• मौसा ने बनाया नाबालिग को अपनी हवस का शिकार, मौसी से मिलने आई थीं लड़की


नई दिल्ली.  देश भर में आज गणेश चतुर्थी  धूमधाम से मनाई जा रही है। घरों और पांडालों में गणपति बप्पा को विराजमान किया जा रहा है। उत्साह और उमंग का यह त्यौहार 11 दिन तक चलेगा। बता दें कि भाद्रपद मास की चतुर्थी से चतुर्दर्शी तक यह उत्सव मनाया जाता है। मान्यता है कि इन 10 दिनों में बप्पा अपने भक्तों के घर आते हैं और उनके दुख हरकर ले जाते हैं। पीएम मोदी, सीएम योगी ने देश वासियों को इस त्यौहार की बधाई दी है। 

 

पीएम मोदी ने देश वासियों को दी बधाई 

-पीएम मोदी ने ट्वीट कर देश वासियों को गणेश चतुर्थी की बधाई दी है। 

सीएम योगी ने दी बधाई

-सीएम योगी ने ट्वीट कर गणेश चतुर्थी की बधाई दी है। सीएम योगी ने कहा -'गणेश चतुर्थी का पर्व पूरे देश में हर्षोल्लास से मनाया जाता है। महाराष्ट्र में इस त्यौहार की छटा देखते ही बनती है। हमारी संस्कृति में भगवान श्री गणेश के पूजन का विशेष महत्त्व है। प्रत्येक मांगलिक और धार्मिक अनुष्ठान भगवान श्री गणेश जी की वंदना से प्रारम्भ किया जाता है। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक ने गणेशोत्सव को सार्वजनिक स्वरूप प्रदान करके, इसके माध्यम से देशवासियों में राष्ट्रभक्ति की भावना को प्रबल बनाने का ऐतिहासिक कार्य किया था।'

 

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ आज जौनपुर और चंदौली दौरे पर रहेंगे। सीएम वाराणसी से राजकीय हेलिकॉप्टर से चलकर जौनपुर पुलिस लाईन सुबह 10 बजे पहुचेंगे। वहां से पास के टीडी कालेज परिसर मे आयोजित स्व उमानाथ सिंह के पुष्य तिथि समारोह मे हिस्सा लेंगे। एक घंटा कार्यक्रम मे हिस्सा लेने के बाद सीएम योगी हेलिकॉप्टर से चंदौली के लिए रवाना हो जाएंगे। 

-सीएम योगी 11 बजकर 35 मिनट पर चंदौली पहुंचेंगे। यहां सीएम नरसिंहपुर गांव जाएंगे। प्राथमिक विद्यालय के साथ गांव का भ्रमण भी करेंगे। 

दोपहर 12.35 बजे सीएम कलेक्ट्रेट सभागार पहुंचेंगे। यहां सीएम इंडिकेटर्स की समीक्षा करेंगे। वहीं दोपहर 1.35 बजे जिले के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। 

-सीएम के आगमन को देखते हुए जिला प्रशासन तैयारी को लेकर अलर्ट है। कहीं से भी कोई चूक ना होने पाये इसके लिए प्रशासन कई दिन पहले से ही कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण कर सुरक्षा ब्यवस्था का जायजा ले चुका है। माना जा रहा है कि सीएम बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर सकते हैं, विकास कार्यो का जायजा भी ले सकते हैं, लेकिन इस बारे में कोई संबंधित प्रोटोकाल जिला प्रशासन को प्राप्त नहीं हुआ है।

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश विधान परिषद नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन ने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में यूपी में मोदी और अखिलेश की टक्कर होगी। 

महागठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में असली टक्कर नरेंद्र मोदी के चेहरे और अखिलेश यादव की छवि के बीच है। समाचार प्लस से बात करते हुए अहमद हसन ने योगी आदित्यनाथ या मायावती का नाम तक नहीं लिया। 

उन्होंने कहा कि फूलपुर, गोरखपुर, कैराना, नूरपुर हर उपचुनाव में बीजेपी को हार का मुंह देखना पड़ा। हालत यह है कि बीजेपी के छात्र संगठन एबीवीपी भी अब छात्र संघ चुनाव से मुंह चुराना चाहती है। तभी गोरखपुर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की कोशिश है कि छात्र संघ चुनाव टल जाए।

जब अहमद हसन से यह पूछा गया कि परिवारिक कलह की वजह से सपा कांग्रेस के साथ गठबंधन के बावजूद 2017 का समर हार चुकी है और अब शिवपाल ने अपना मोर्चा बना लिया है तो हसन का कहना था कि शिवपाल के मोर्चे से फर्क नहीं पड़ता और आम चुनाव में समाजवादी पार्टी मजबूत स्थिति में है। मुझे नहीं पता कि शिवपाल ने अलग मोर्चा क्यों बनाया।

योगी सरकार पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि गन्ना किसान परेशान है, कानून व्यवस्था चौपट है, महिलाओं की सुरक्षा राज्य सरकार नहीं कर पा रही है, जेल में कैदियों को सुरक्षित नहीं रख पा रही है, जेल ही नहीं पूरा प्रशासन मौजूदा राज्य सरकार के दबाव में काम कर रहा है, प्रशासन व्यवस्था फेल हो चुकी है।

मऊ. कोपागंज थाना क्षेत्र के बापू इंटर कालेज में पढ़ रहे 12वीं के छात्र ने छात्राओं की फोटो खींच रहे थे, तभी स्कूल के दो कर्मचारियों ने ऐसा करने से मना किया। बात बढ़ी और दोनों पक्षों के बीच बहस हो गई।

दोनों छात्र घर गए लेकिन अगले ही दिन स्कूल के कर्मचारियों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया गया। इसको लेकर शिक्षा महकमे में गहमागहमी बनी हुई हैं।

इसके बाद कालेज प्रशासन ने भी थाने में पहुंचकर छात्राओं की फोटो खींचने और मारपीट का आरोप लगा कर मुकदमा दर्ज कराया हैं।

पूरा मामला मऊ जनपद के थाना कोपागंज क्षेत्र के बापू इंटर कॉलेज का है। जहां पर स्कूल के छात्र द्वारा वहां पढ़ने वाली छात्राओं की मोबाइल से फोटो खींचते समय स्कूल के स्टाफ द्वारा मना किया गया।

जिसके बाद उनके बीच तू-तू मैं- मैं हो गई हालांकि विद्यालय के स्टाफ द्वारा छात्रों को समझा कर मामले को खत्म कर दिया गया था लेकिन घर पहुंचने के बाद छात्र और छात्र के परिजनों ने कोपागंज थाने में विद्यालय के दो चपरासियों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करवा दिया।

जैसे इस बात की जानकारी विद्यालय प्रबंधन को हुई उन्होंने भी विद्यालय परिसर में छात्राओं की फोटो खींचने और मना करने पर विद्यालय के स्टाफ के साथ मारपीट  और गाली गलौज से संबंधित प्रार्थना पत्र दिया। 

घटना के समय मौके पर मौजूद विद्यालय के कर्मचारी ने बताया कि लंच का समय था उसके बाद लड़का बच्चों के कमरे में चला गया। बच्चियों ने इसकी सूचना दी। उसके बाद प्रिंसिपल साहब ने हमको और हमारे सहयोगी को बुलाया और प्रकरण की जानकारी करने के लिए हमें वहां भेजा।

वहां जाकर जब हम लोगों ने लड़के से  पूछताछ की तो वह हम लोगों के साथ बदतमीजी करने लगा। हम लोगों के पकड़ने पर वह मारपीट करने लगा बाद में यहां आकर माफी मांगा। उसके बाद प्रिंसिपल साहब ने उसको छोड़ दिया लेकिन दूसरे दिन थाने में जाकर हम लोगों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट में रिपोर्ट दर्ज करा दी। 

स्कूल प्रशासन की ओर से प्राचार्य ने भी 5 लड़कों के विरुद्ध मारपीट करने का मुकदमा किया है। दोनों मुकदमों की विवेचना क्षेत्राधिकारी स्तर के अधिकारी अनिल कुमार सिंह द्वारा किया जा रहा है। 

लखनऊ. समाजवादी सेकुलर मोर्चा बनाने वाले शिवपाल यादव ने अपने 9 प्रवक्ताओं की आज लिस्ट जारी की है। मजे की बात है कि शिवपाल ने अखिलेश सरकार के मंत्रिमंडल में रहे दो बड़े चेहरों को प्रवक्ता बनाया है। ये है शादाब फातिमा और शारदा प्रताप शुक्ल। 

शिवपाल यादव के सेकुलर मोर्चा के प्रवक्ताओं में दो पूर्व मंत्रियों के अलावा दीपक मिश्रा, नवाब अली अकबर, सुधीर सिंह, प्रो. दिलीप यादव, अभिषेक सिंह आशू, मोहम्मद फरहत रईस खान, और अरविंद यादव के नाम शामिल हैं।

समाजवादी सेकुलर मोर्चा की ओर से शिवपाल ने इन 9 लोगों को अधिकारिक रूप से पार्टी के पक्ष को रखने के लिए नियुक्त किया है।

इससे पहले शिवपाल यादव ने समाजवादी सेकुलर मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी और प्रदेश कार्यकारिणी के गठन करने की बात कही थी। उन्होंने कहा कि  सूबे के सभी 75 जिलों के अध्यक्ष की नियुक्ति भी जल्द की जाएगी।

उन्होंने कहा कि वे अब कदम पीछे नहीं खीचेंगे। प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ा जाएगा।  

शिवपाल ने अखिलेश यादव का नाम लिए बिना तंज कसते हुए महाभारत और रामायण का जिक्र किया था। उन्होंने इशारों ही इशारों में अखिलेश यादव की तुलना कौरवों से कर दी और कहा कि पांडवों ने कौरवों से पांच गांव मांगा था। मैंने तो सिर्फ सम्मान मांगा था।

सत्ता पाकर कभी अभिमान नहीं आना चाहिए। मैंने तो कभी कोई पद नहीं मांगा था। पार्टी में नेताजी के लिए सम्मान मांगा था। 

 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: