Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए

गाजियाबाद में टिम्बर गोदाम में लगी आग, लाखों का माल खाक

गाजियाबाद- घंटाघर कोतवाली से कुछ दूर पर स्थित एक लकड़ी गोदाम में सुबह भीषण आग लगने से अफरा तफरी मच गयी। दमकल की लगभग 15  गाड़ियाँ मौके पर पहुंचीं। और कई घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। इस अग्निकांड में लाखों के माल का नुकसान का अनुमान है।

घंटाघर स्थित विनोद कुमार सुशील कुमार टिम्बर प्लाई वुड सेंटर में अचानक गुरुवार सुबह आग लग गयी। सूचना मिलते ही दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुँची। कोतवाली अग्निशमन स्टेशन प्रभारी ऐके सिंह ने बताया कि आग ने काफी विकराल रूप धारण लिया था। आग लगने के कारणों की जाँच की जा रही है।

2006 के संकटमोचन मंदिर ब्लास्ट मामले में गाजियाबाद कोर्ट आज सुना सकता है फैसला

गाजियाबाद: वाराणसी के संकट मोचन मंदिर, रेलवे कैंट व दशास्वमेध घाट पर 7 मार्च 2006 को हुए ब्लास्ट मामले में मंगलवार को सीबीआई की विशेष अदालत फैसला सुनाएगी। संकटमोचन मंदिर धमाके मामले में गाजियाबाद कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

इस घटना का मुख्य आरोपी वलीउल्लाह पर आज कोर्ट अहम फैसला सुना सकती है। मुख्य आरोपी वलीउल्लाह को पुलिस ने 5 अप्रैल 2006 को इलाहाबाद के फूलपुर  गांव से गिरफ्तार किया था। उसके पास से एके-47 और आरडीएक्स पुलिस ने  बरामद किए थे। वलीउल्लाह को 26 अगस्त 2008 में लखनऊ की सेशन कोर्ट 10 साल की सजा सुना चुकी है।

पुलिस ने कोर्ट में संकट मोचन मंदिर ब्लास्ट मामले में 52, दशाश्वमेध घाट केस में 42 और रेलवे कैंट केस में 53 गवाहों को पेश किया था।

2006 में हुए सीरियल बम धमाकों में 11 लोगों की मौत हो गई थी और 35 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

गोमांस की अफवाह पर गांववालों ने की शख्स की पीट-पीटकर हत्या

गाजियाबाद: यूपी के दादरी बिलाहदा गांव में एक अफवाह की वजह से 50 वर्षीय व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। अफवाह थी कि उस व्यक्ति और उसके परिवार ने गौमांस खाया और घर में रखा था।

गांववालों ने उस व्यक्ति को बीच बाजार ईंटों से जमकर पीटा और उसके घर में तोड़फोड़ भी की। इतना ही नहीं लोगों ने मृतक के बेटे को भी खूब पीटा, जिसकी हालत गंभीर है।

घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया। मृतक अखलाक के परिवारवालों का कहना है कि, उन्होंने सिर्फ घर में मटन रखा हुआ था।

पुलिस ने मीट को फोरेंसिक जांच के लिए लैब भेज दिया है। पुलिस ने बताया कि, यह परिवार पिछले 35 सालों से इसी गांव में रह रहा था। फिलहाल पुलिस पता लगा रही है कि किसने अखलाक के घर में गौमांस होने की अफवाह फैलाई थी।

दादरी मामला: अखलाक के घर में गोमांस नहीं बल्कि मटन रखा था!

दादरी: उत्तर प्रेदश के दादरी में गोमांस खाने और रखने की अफवाह में भीड़ ने 50 वर्षीय अखलाक की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी, अब इस मामले में खुलासा हुआ है।

सूत्रों के मुताबिक, फोरेंसिक रिपोर्ट से पता चला है कि अखलाक के घर में गाय का मांस नहीं बल्कि मटन रखा था। गौतमबुद्धनगर प्रशासन ने अखलाक के घर में रखे मांस की पहले पशु डाॅक्टर से जांच कराई, इसके बाद मथुरा लैंब में मांस को जांच के लिए भेजा। लैब से आई रिपोर्ट में पाया गया कि, अखलाक के घर पर गोमांस नहीं बल्कि मटन रखा हुआ था।

बता दें कि, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के दादरी में 9 दिन पहले अखलाक के घर में घुसकर भीड़ ने उसको और उसके बेटे दानिश को जानवरों की तरह घसीटकर इतना मारा कि, अखलाक की तो मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके बेटे दानिश को मार-मार कर अधमरा कर दिया था। दानिश का नोएडा के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। इस हिंसक घटना के बाद देशभर में आक्रोश है। पुलिस ने बताया कि, अखलाक का परिवार पिछले 35 सालों से इस गांव में रह रहा है।

तिरंगे का 'अपमान' करने के लिए अमिताभ, अभिषेक बच्चन के खिलाफ केस दायर

गाजियाबाद: हिंदी सिनेमा जगत के महानायक अमिताभ बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन पर तिरंगा के अपमान करने का आरोप लगाया है। बिग बी और अभिषेक के खिलाफ गाजियाबाद के एक एनजीओ ‘मित्र’ से जुड़े चेतन धीमान ने गाजियाबाद की ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की कोर्ट में केस दर्ज कराया है।

चेतन धीमान का कहना है कि, अमिताभ बच्चन और अभिषेक ने 15 फरवरी 2015 को हुए विश्वकप के मैच में भारत की पाकिस्तान के खिलाफ जीत के बाद जश्न मनाते हुए शरीर पर राष्ट्रीय ध्वज को लपेट लिया था।

चेतन की शिकायत के बाद अब इस मामले में 13 जुलाई को सुनवाई होगी।

बता दें कि, सार्वजनिक जगहों पर राष्ट्रीय ध्वज को लपेटना या उसका इस्तेमाल करना गैरकानूनी है। इसी के तहत अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन पर तिरंगा के अपमान करने का आरोप लगाया है।

वहीं, बाॅलीवुड एक्टर अभिषेक बच्चन ने 2 अप्रैल 2011 को भारत के विश्व कप जीतने के बाद सार्वजनिक रूप से भारतीय तिरंगा को शरीर पर लपेटकर जश्न मनाया था। उनका जश्न मनाने का ये तरीका भारतीय झंडा संहिता 2002 के नियमों के खिलाफ है और ये अपमान की श्रेणी में भी आता है।







फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: