Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए

गाज़ियाबाद के इन्द्रापुरम के एटीएस अपार्टमेंट में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या

गाज़ियाबाद: गाज़ियाबाद के इन्द्रापुरम के एटीएस अपार्टमेंट में बीती रात अर्शी मलिक नाम के एक शख्स की गोली मार कर हत्या कर दी गई है। मृतक अपने परिवार के साथ एटीएस सोसाइटी में रहता था।

पुलिस जांच में यह बात सामने आई है कि 13 जनवरी 2015 को भी अर्शी मलिक पर हमला किया गया था। जिसमें अर्शी 11 गोली लगने के बाद भी बच गया था। लेकिन उस हमले में अर्शी के भाई अमज़द की मौत हो गई थी। मृतक अमज़द इस हमले का अकेला गवाह भी था।

परिवार ने बताया कि, इस हमले के बाद से अर्शी को 2 पुलिस सिक्यूरिटी भी मिली हुई थी। लेकिन तीन चार महीने पहले ही अर्शी से सिक्यूरिटी हटा ली गई थी।

पीड़ित परिवार का कहना है की इस हमले के पीछे काले का हाथ है क्योंकि इससे पहले भी वह हमला कर चूका है। काले इस परिवार से 12 लाख रुपये भी फिरौती ले चूका है और अर्शी पर समझौते के लिए काफी समय से दवाब दे रहा था।

चार्जिंग में लगे फोन से गाना सुन रहे छात्र की करंट लगने से मौत

गाजियाबाद : अगर आप मोबाइल को चार्जिंग पर लगाने के दौरान ईयरफोन कान में लगाकर गाना सुनते हैं तो ये खबर जरूर पढ़े। गाजियाबाद के मुरादनगर में 11वीं के छात्र को मोबाइल पर गाना सुनने का शौक पूरा करने के चक्कर में अपनी जान गंवानी पड़ गई।

दरअसल छात्र मोबाइल फोन को चार्जिंग पर लगाकर ईयरफोन कान में लगाकर गाने सुन रहा था। इस दौरान अचानक करंट लगने से छात्र बुरी तरह से झुलस गया। छात्र की चीख सुनकर परिजन मौके पर पहुंचे तो वह बुरी तरह झुलसा हुआ था और उसके हाथ में मौजूद मोबाइल के दो टुकड़े हो गए थे। इसके बाद छात्र को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

माना जा रहा है कि मोबाइल में करंट आने से यह हादसा हुआ है। इस घटना के बाद से छात्र के घर में मातम छा गया है। अपने बच्चे की मौत से पूरा परिजन सदमे में हैं।

बच्चे को खो देने के दर्द से करहा रहे परिवार ने पुलिस के डर से  जल्दबाजी में विशाल का अंतिम संस्कार भी कर दिया।

दीप्ति किडनैंपिंग में साइको आशिक ने एकतरफा में प्यार में रची फिल्मी कहानी, देखें वीडियो

गाजियाबाद: गाजियाबाद के कविनगर की रहने वाली दीप्ति सरना के अपहरण कांड की गुत्थी सुलझती गई है। पुलिस ने दीप्ति सरना के अपहरण कांड में पांच लोगों को हरियाणा से गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि दीप्ति का अपहरण एक तरफा प्यार में पड़े युवक की सोची समझी साजिश थी और इस साजिश का मास्टर माइंड देवेंद्र है, जो कुरुक्षेत्र जेल से भाग हुआ है। इसके ऊपर 15 हजार का इनाम भी है।

पुलिस को पूछताछ में पता चला कि, देवेंद्र मानसिक रोगी है। उसने दीप्ति को पहले कहीं देखा था और उसे लगा कि दीप्ति ही वह लड़की है, जो उसके लिए बनी है। इसी प्यार के चलते देवेंद्र ने दीप्ति को अगवा करने के बाद किसी को हाथ तक लगाने नहीं दिया। देवेंद्र एक कल्पना में जीता था। लेकिन जब दीप्ति के अपहरण का प्रेशर बढ़ा तो उसने उसे छोड़ दिया।

पुलिस ने बताया कि, देवेंद्र बीए पास है। उसे हिटलर की आत्मकथा का याद है और वह खुद को चंगेज खान का शिष्य बताता है। देवेंद्र को लगता था कि, वह लड़की का अपहरण कर उसे अपने दिल की बात बताएगा और लड़की मान जाएगी और वह दोनों नेपाल शिफ्ट हो जाएंगे।

24 वर्षीय दीप्ति सरना गुड़गांव में शॉपिंग वेबसाइट स्नैपडील की कंपनी में इंजीनियर हैं। वह रोजान की तरह बुधवार यानि 10 फरवरी को गाजियाबाद से अपने आॅफिस जाने के लिए घर से निकली थी। जिसके बाद शाम को आठ बजे दीप्ति घर जाने के लिए वैशाली मेट्रो स्टेशन पर उतरी थी और वहां से उसने ऑटो पकड़ा था। जिसके बाद मोहन नगर से उसने फोन किया। घरवालों से बात करते करते ही फोन कट गया और फिर बात नहीं हुई। इसी बीच कुछ आवाज़े भी परिवार को आई। वैशाली इलाका थाना इंदिरापुरम में आता है जबकि मोहन नगर इलाका साहिबाबाद थाना के अंतर्गत आता है।

गाज़ियाबाद में पैसों के लेन-देन को लेकर हुए विवाद में 2 लोगों की गोली मारकर हत्या

गाज़ियाबाद: गाज़ियाबाद के मुरादनगर थाना इलाके में पैसों के लेन-देन को लेकर हुए विवाद में दरे रात 2 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं। बताया जा रहा है कि मुरादनगर के मोहल्ला व्यापारियान में रहने वाले वसीम ने भिक्कनपुर में डेयरी संचालक विजय को कर्ज दिया था, जिसे वो चुका नहीं रहा  था।

मंगलवार रात विजय ने फ़ोन करके वसीम को पैसा लेने बुलाया , जब वसीम अपने दोस्त नईम के साथ डेयरी पर पंहुच गया। लेकिन वहां दोनों पक्षों में विवाद हो गया जिसके बाद विजय और उसके कुछ दोस्तों ने मिलकर वसीम और नईम की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के बाद से मुरादनगर इलाके में तनाव है। वहां भारी तादात में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है।

बीजेपी महानगर अध्यक्ष अशोक मोंगा पर लगे गंभीर आरोप, मीडिया प्रभारी के बेटे पर चढ़ाई गाड़ी

गाजियाबद: गाजियाबाद में मेयर चुनाव के बीच बीजेपी महानगर अध्यक्ष अशोक मोंगा पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं।  अशोक मोंगा पर बीजेपी नेता के बेटे पर जान-बूझक गाड़ी चढ़ाने का आरोप लगे हैं। मीडिया प्रभारी राजीव अग्रवाल के बेटे पर गाड़ी चढ़ाने गई हैं।

मीडिया प्रभारी राजीव अग्रवाल का बेटा के.के मित्तल अस्पताल में भर्ती है। इस हादसे में राजीव अग्रवाल के बेटे का हाथ टूट गया है।

मीडिया प्रभारी राजीव अग्रवाल ने बताया कि, भारतीय जनता पार्टी की रैली निकल रही थी। स्वागत करने के लिए हम जीप पर चढ़े, उस समय मेरा बेटा भी मेरे साथ था। उसी दौरान मेरा बेटा गाड़ी से गिर गया और उसे काफी चोटें आईं।

बता दें कि, जिस वक्त ये हादसा हुआ उस दौरान गाड़ी अशोक मोंगा चला रहे थे।

दूसरी तरफ मेयर चुनाव को देखते हुए बीजेपी नेता इस मामले को सुलह-समझौते से निपटाने की कोशिशों में लगे हुए हैं।

वहीं, इस घटना के बाद व्यापारियों ने अशोक मोंगा का विरोध किया है। व्यापारियों की मांग की इस मामले में कार्रवाई हो, वरना वह 15 फरवरी को बाजार बंद कर अपना विरोध जताएंगे।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: