Headline • सोशल मिडिया पर नुसरत जहां की हुई बड़ी तारीफ• 2019 के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी ऑस्ट्रेलिया• चंद्रबाबू नायडू का आलीशान बंगला बना खँडहर • पीएम मोदी के बयान पर सदन में हंगामा   • मसूद अजहर मौत के दरवाजे पर • सुनैना रोशन के ब्वॉयफ्रेंड रुहेल ने रोशन परिवार पर लगाया आरोप • माइकल क्लार्क ने बुमराह और कोहली के बारे में कहा• हफ्ते भर की देरी के बाद मानसून अब  देगा दस्तक  •  राम रहीम ने की पैरोल मांग• रणबीर कपूर और आलिया के रिश्ते पर लग सकती है मुहर • रूस अमेरिका से रिश्ते मधुर करने में जुटा • यूपी के 15 शहरों के लिए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) की चेतावनी • मायावती का अखिलेश पर बड़ा आरोप, अखिलेश के कारण हुई हार• चेन्नई की प्यास बुझाने के लिए चलाई गई स्पेशल ट्रेन• भारत की निगाह बड़ी जीत पर, अफगानिस्तान के खिलाफ विश्व कप में पहली बार भारत• बिहार में मानसून पहुंचने से लोगो ने ली राहत की सांस • एक बार फिर सदन में तीन तलाक के मुद्दे पर तीखी बहस • विश्व कप में अंतिम चार के लिए अपनी दावेदारी मजबूत करने उतरेगा भारत • संकट में कुमारस्वामी की सरकार, एचडी देवगौड़ा ने मध्यावधि चुनाव की आशंका जताई• अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंन्द मोदी का दुनिया को सन्देश। • गौतम गंम्भीर ने साझा किए इमोशनल मैसेज • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी  रांची  में करेगें योग • भारत को आतंक का नया ठिकाना बनाने की फिराख में है ISIS के आतंकी• अमेरिका के इस कदम से, कामकाजी भारतीयों को होगी परेशानी• चुनाव के बाद तेजस्वी कहाँ गायब हो गये है।


गाजियाबाद. खोड़ा में बीजेपी नेता गजेंद्र भाटी उर्फ गज्जी हत्या के मामले में आरोपी अमरपाल शर्मा 4 अक्टूबर को कोर्ट में सरेंडर कर सकता है। अमरपाल शर्मा को सरेंडर कराने के लिए बुधवार को उसके कुछ करीबियों ने कचहरी में पहुंचकर कानून के जानकारों से सलाह ली है।  

-बता दें कि खोड़ा थाना क्षेत्र में 2 सितंबर को बीजेपी नेता गजेंद्र भाटी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 

-घटना के बाद पुलिस ने शूटर नरेंद्र उर्फ फौजी को गिरफ्तार कर लिया था।

- पूछताछ के दौरान फौजी ने कबूल किया था कि उसने गजेंद्र की हत्या अमरपाल शर्मा के कहने पर की थी। 

-इसके बाद पुलिस ने हत्याकांड के दूसरे आरोपी राजू पहलवान को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। 

-वहीं हत्याकांड में नाम आने पर गिरफ्तारी से बचने के लिए अमरपाल शर्मा हाई कोर्ट चला गया था।

- हाई कोर्ट ने अमरपाल शर्मा को 11 अक्टूबर को अवर न्यायालय में सरेंडर करने के आदेश दिए थे।

- बुधवार को अमरपाल के करीबी कचहरी परिसर स्थित वकीलों के पास सलाह मशविरा करने पहुंचे थे। 

-अमरपाल शर्मा की ओर से कोर्ट में सरेंडर किए जाने के संबंध में प्रार्थना दिया गया है। 

क्या है मामला 

-दरअसल, इंदिरा कॉलोनी में रहने वाले गजेंद्र भाटी (30 वर्ष) बीजेपी कार्यकर्ता थे और चेयरमैन पद की दावेदारी करने की तैयारी में लगे हुए थे। 

-चुनाव की तैयारियों के लिए उन्होंने इंदिरा कॉलोनी की गली नंबर-5 में कार्यालय बना रखा था। 2 सितंबर को  दोपहर करीब 12:45 बजे वह अपने कार्यालय में थे। 

-उस दौरान किसी ने फोन करके शनि बाजार के पास हंगामा होने की सूचना दी थी।

-गजेंद्र स्कॉर्पियो से मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराने लगे। इस बीच सुभाष पार्क निवासी बीजेपी के खोड़ा-मकनपुर मंडल अध्यक्ष बलवीर चौहान भी वहां पहुंच गए।

-लोगों के शांत होने के बाद गजेंद्र ने अपनी स्कार्पियो कार्यकर्ताओं के हवाले कर दी और बलवीर की बाइक से कार्यालय जाने लगे। 

-दोनों इंदिरा विहार कॉलोनी पहुंचे तो पीछे से आए बाइक सवार 2 युवकों ने नमस्ते करके उन्हें रोक लिया। इससे पहले दोनों कुछ समझ पाते, बाइक के पीछे बैठे बदमाश ने फायरिंग कर दी।

-इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी। 

संबंधित समाचार

:
:
: