Headline • महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड• कर्नाटक संकट का असर राज्यसभा में• अहमदाबाद की अदालत  में राहुल गांधी• व्हाइट हाउस में भरा बारिश का पानी • क्या अनुपमा परमेसरन को डेट कर रहे जसप्रीत बुमराह• पाकिस्तान को आंख दिखाता नाग• यूएई और भारत के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर होगी बात• कर्नाटक में सियासी संकट• सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है: राहुल गांधी


मैनपुरी में कुसमरा से गाजियाबाद जा रही प्राइवेट बस डीसीएम से टकरा गई। टक्कर लगते हैं बस में सवार 2 दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए। बस की टक्कर से डीसीएम चालक की मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायलों को मैनपुरी और सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

कुसमरा कस्बा निवासी मनोज गुप्ता ने अपनी पुत्री लक्ष्मी की शादी गाजियाबाद में तय की थी। बुधवार की शाम को शादी होनी थी। शादी में शामिल होने के लिए मनोज अपने रिश्तेदारों परिचितों को लेकर प्राइवेट बस संख्या यूपी 75 एम 98 73 से सुबह कुसमरा से निकले। मैनपुरी करहल मार्ग पर ग्राम नगला बांक के निकट सड़क पर खड़ी डीसीएम से बस टकरा गई। घने कोहरे के चलते यह हादसा हुआ।

वहीं बस की टक्कर से डीसीएम चालक अलीगढ़ के अकबराबाद निवासी श्रवण कुमार पुत्र किशन लाल की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी पाकर सीओ सिटी राकेश पांडेय कई थानों की पुलिस लेकर मौके पर पहुंच गए। घायलों को ग्रामीणों की मदद से मैनपुरी जिला अस्पताल और सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

गाजियाबाद में ठंड बढ़ते ही स्वाइन फ्लू ने दस्तक दे दी है। स्वाइन फ्लू के मरीजों के चलते स्वास्थ विभाग भी अलर्ट हो गया। गाजियाबाद में 10 मरीजों का स्वाइन फ्लू टेस्ट कराया गया। इनमें से 4 की रिपोर्ट नॉर्मल रही। वहीं 2 मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है। बाकी 4 मरीजों की रिपोर्ट अभी आना बाकी है। स्वाइन फ्लू के मरीजों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग स्वाइन फ्लू से किसी की मौत होने की बात से साफ इनकार कर रहा है। सीएमओ डॉ. एन.के. गुप्ता ने शुक्रवार देर रात इस मामले में जनपद के सभी सरकारी अस्पतालों को निर्देश जारी किए हैं। जिले के एमएमजी और कंबाइंड अस्पताल में स्वाइन फ्लू के मरीजों के लिए 10 बेड एमएसजी अस्पताल में, 10 बेड जिला संयुक्त अस्पताल में और 5-5 बेड की सुविधा स्वास्थ केंद्रों में कराई गई है।

गाजियाबाद : हापुड़ के चर्चित मॉब लिंचिंग मामले के मुख्य वादी कासिम के भाई और उनके सुरक्षाकर्मी को गाड़ी से कुचलने की कोशिश की गई है। गाजियाबाद के मसूरी इलाके में वारदात को अंजाम देने की कोशिश की गई। जिसमें सुरक्षा गार्ड और वादी बाल-बाल बचे हैं। मसूरी थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

-जानकारी के मुताबिक, कासिम का भाई शुक्रवार की रात अपने गनर के साथ गाजियाबाद के मसूरी से होते हुए हापुड़ जा रहा था।

-उसी दौरान नेशनल हाईवे 24 पर एक गाड़ी से सुरक्षाकर्मी और कासिम के भाई को कुचलने की कोशिश की।

-इस मामले में थाना मसूरी में शिकायत दर्ज कराई गई है।

-SSP गाजियाबाद वैभव कृष्ण का कहना है कि मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। और आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

क्या है मामला 

-बीते जून महीने में हापुड़ से मॉब लिंचिंग की दिल दहला देने वाली खबर सामने आई थी। जिसमें एक वीडियो भी सामने आया था।

-वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता था की भीड़ ने प्रतिबंधित पशु की हत्या के आरोप में दो युवकों को जमकर पीटा था।

-मामले में कासिम नाम के युवक की मौत हो गई थी। जबकि दूसरा पीड़ित अस्पताल में एडमिट कराया गया था।

-कासिम का भाई इस मामले में मुख्य शिकायतकर्ता है।

गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद में चप्पल चोरी के आरोप में एक बच्चे को लोहे की जंजीर बांधने का मामला सामने आया है। आरोप है कि एक क्लिनिक के कंपाउडर ने चोरी का आरोप लगाकर एक 10 साल के बच्चे को जंजीरों में बांध लिया। आस-पास के लोगों ने हंगामा किया और पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और कंपाउडर को हिरासत में ले लिया है। 

-जानकारी के मुताबिक, यह मामला कविनगर थाना क्षेत्र के काजनगर की है। 

 -बताया जा रहा है कि यहां एक क्लिनिक के बाहर 10 साल का बच्चा घूम रहा था।

-इस दौरान कंपाउंडर ने चप्पल नहीं मिलने पर उसे पकड़ लिया।

-आरोप है कि उसने पहले बच्चे की पिटाई और उसे जंजीर से बांध दिया। बच्चे के शोर मचाने पर आसपास के लोग इकठ्ठा हुए और  बच्चे को छुड़या।

-मौके पर पहुंची पुलिस ने कंपाउंडर को हिरासत में ले लिया है। 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

गाजियाबाद. सिहानी गेट थाने में जीडी गोयनका स्कूल की प्रिंसिपल और एडमिन इंचार्ज के खिलाफ 'जे जे एक्ट' और अन्य धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। राजनगर एक्सटेंशन स्थित जी डी गोयनका स्कूल की प्रिंसिपल और एडमिन इंचार्ज के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मामले की विवेचना चौकी प्रभारी मोरटा को सौंपी गई है। 

 

क्या है मामला

-बता दें कि करीब एक सप्ताह पहले राजनगर एक्सटेंशन स्थित जी डी गोयनका स्कूल में दो बच्चों को बंधक बनाने का मामला सामने आया था।

-जहां बच्चियों के परिजनों ने थाना सिहानी गेट में शिकायत दर्ज कराई थी। फीस वृद्धि को लेकर बच्चियों का उत्पीड़न और बंधक बनाने का आरोप अभिभावकों द्वारा स्कूल प्रशासन पर लगाया गया है। जिसके बाद एफआईआर दर्ज की गई है।

 

:
:
: