Headline • ज्वैलरी शोरूम से 50 लाख के गहने लेकर फरार हुई महिलाएं, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात• गाजियाबाद की वसुंधरा कॉलोनी में नहीं रुक रही हैं चोरी की घटनाएं, लॉकर तोड़कर नगदी और लैपटॉप ले उडे़• स्वामी अग्निवेश ने दी आरएसएस प्रमुख को मॉब लिंचिंग पर खुली बहस की चुनौती• SC-ST एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 12 छात्रों के खिलाफ बीजेपी सांसद ने दर्ज कराई रिपोर्ट• लव, सेक्स एंड धोखा! दूसरे धर्म के युवक ने खुद को मराठी बताकर की शादी, न्याय के लड़की मुंबई से पहुंची मुरादाबाद• महिला के नहाते समय फोटो खींचने पर बवाल, दो पक्षों के बीच जमकर चले लाठी-डंडे, कई घायल• रानीखेत में भारत और अमेरिकी सैनिकों ने किया आतंकवादियों के खात्मे का संयुक्त अभ्यास• मायावती ने की घोषणा, छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी बसपा• मैच के बाद पाक कप्तान ने कहा, हम भुवनेश्वर की गेंदों को समझ नहीं पाए• 13 वर्षीय लड़की की जघन्य हत्या के बाद बनारस के एक इलाके में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त रोष• बिग बॉसः जसलिन ने सिंगल बेड लिया तो बगल वाला बेड लेने पहुंच गए अनूप जलोटा• प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार• 'सड़क-2' का ट्रेलर रिलीज,फिर एक साथ दिखेंगे संजय दत्त और पूजा भट्ट• मौसा ने बनाया नाबालिग को अपनी हवस का शिकार, मौसी से मिलने आई थीं लड़की• पाकिस्तान पर भारत की शानदार जीत के बाद जश्न का माहौल, भुवी के घर पर जमकर हुआ नृत्य• कफन का तिरंगा ओढ़कर न्याय के लिए कलक्ट्रेट में धरने पर बैठीं शहीद की विधवा  • पुलिस ने निर्दोष युवक को किया गिरफ्तार,फिर जेल भेजने के लिए खुद तैयार की जहरीली शराब,वीडियो वायरल !

माघ मेले के लिए 300 बसों की सौगात

गोरखपुर- इलाहाबाद में लगने वाले माघ मेले में जाने वाले यात्रियो की सुविधा के लिए परिवहन निगम पूरी तरह सतर्क है। परिवहन निगम ने माघ मेले के लिए गोरखपुर जिले से 300 बसों को लगाया है। यह बसें गोरखपुर बस स्टैण्ड के अलावा ग्रामीण क्षेत्रो में बने 22 केंद्रों से भी चलाई जा रही है यह सभी बसें 17 जनवरी से शुरू हो गयी है। यदि कोई इन बसों को बुक करा कर भी लेजाना चाहता है हो यह सुविधा भी परिवहन निगम प्रदान कर रही है। इलाहाबाद के भी झूसी में भी निगम द्वारा वह से आने की भी व्यवस्था की गयी है। इलाहाबाद जाने वाले यात्री परिवहन निगम की इस सुविधा से काफी खुश है क्योकि हर समय बसें उपलब्ध है।

महामना के परिवार में ‘भारत रत्न’ लेने पर विवाद!

इलाहाबाद- पंडित मदन मोहन मालवीय को ‘भारत रत्न’ मिलने की घोषणा होने के बाद अब उनके परिवार में ही विवाद खड़ा होता नजर आ रहा है। परिवार में विवाद इस बात को लेकर हो रहा है कि, भारत रत्न किसे दिया जाना चाहिए।

खबर है कि, पं मदन मोहन मालवीय के परिवार में सबसे बड़ी पौत्रवधू सरस्वती मालवीय जिनकी उम्र 92 वर्ष है।इनका मानना है कि, ‘उनके परिवार में सबसे बड़े सदस्य को यह सम्मान मिलना चाहिए। सरस्वती मालवीय का मानना है कि मोदी जी अगर यह सम्मान उन्हें देते हैं, तो यह खुशी की बात होगी। उन्होंने ने कहा कि,
महामना की उपाधि पहले भी पा चुके थे, लेकिन इस सम्मान को लेने की मैं हकदार हूं। मैं उनके साथ 6 साल तक थी। मैं मोदी जी से अनुरोध कर रही हूं कि भारत रत्न का सम्मान मुझे ग्रहण करने दिया जाए।’

नहीं बनेगी पश्चिमी यूपी में हाईकोर्ट बेंच

इलाहाबाद- इलाहाबाद हाईकोर्ट की प्रशासनिक कमिटी ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट की बेंच की संभावनाओं पर विराम लगता दिख रहा है। क्योंकि हाईकोर्ट बेंच के पांच जजों की कमिटी को भंग कर दिया गया है। इस कमिटी का गठन पूर्व विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद के पत्र पर किया गया था। प्रशासनिक कमिटी ने राज्य सरकार की ओर से बेंच गठन के संबंध में कोई प्रस्ताव न होने के आधार पर विधि मंत्रालय के प्रस्ताव को भी खारिज कर दिया है। कमिटी के इस निर्णय के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट के वकीलों की 28 दिनों से चल रही हड़ताल खत्म होने की संभावना दिखने लगी है।
बता दें कि, 25 अगस्त, 2014 के पूर्व विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद के पत्र पर विचार किया गया। इस पत्र के बाद चीफ जस्टिस ने जस्टिस विनीत शरन की अध्यक्षता में जजों की एक कमिटी बनाई थी। लेकिन कमिटी की एक भी बैठक अब तक नहीं हो पाई और न ही कमिटी ने बेंच के मुद्दे पर कोई रिपोर्ट चीफ जस्टिस को सौंपी गई।
खबरों के मुताबिक बैठक में राज्य सरकार की ओर से बेंच गठन से संबंधित कोई प्रस्ताव न होने के कारण विधि मंत्री के प्रस्ताव को खारिज करते हुए इस संबंध में बनी कमिटी को भी भंग कर दिया गया है।

चर्चा में प्रियंका वाड्रा के होर्डिंग

प्रियंका वाड्रा को पार्टी अध्यक्ष बनाने की मांग लगातार जारी है। इलाहाबाद में युवा कांग्रेसियों के द्वारा प्रियंका के होर्डिंग लगाए गए हैं। प्रियंका की होर्डिंग एक बार फिर चर्चाओं में आ गई है। और इस बार निशाने पर हैं राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह। सिविल लाइंस में लगाई गई होर्डिंग में स्लोगन के माध्यम से युवा कांग्रेसियों ने प्रियंका को पार्टी अध्यक्ष बनाने की गुहार लगाई है। यही नहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर अपनी बात रखने का प्रयास भी किया है।


आज प्रियंका वाड्रा का जन्मदिन है। इसके एक दिन पहले रविवार को प्रियका की होर्डिंग लगाई गई। इस होर्डिंग का स्लोगन ‘मइया बहना को दो जन्मदिन का पुरस्कार, अध्यक्ष बने प्रियंका तो आए कांग्रेस में निखार, दिग्विजय नहीं कार्यकर्ताओं की सुनो पुकार’ के माध्यम से सोनिया गांधी से प्रियंका को पार्टी का अध्यक्ष बनाने की मांग की है। युवा नेताओं ने इस संबंध में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र भी लिखा है।


यह कोई पहली बार नहीं हुआ है, जब इस तरह की होर्डिं लगाई गई हों, इससे पहले भी कई बार पोस्टर के माध्यम से कार्यकर्ता अपनी मंशा का इजहार कर चुके हैं। इन नेताओं का कहना है कि बीते डेढ़ वर्ष से प्रियंका सक्रिय राजनीति कर रही हैं, इसलिए उन्हें अध्यक्ष बनाना पार्टी हित में होगा।

इलाहाबाद- इलाहाबाद में आज यीशु दरबार की आड़ में कथित धर्मांतरण का विरोध कर रहे एबीवीपी कार्यकर्ताओं की जमकर पिटाई की गई। यीशु दरबार के संचालकों और वहां के सिक्योरिटी गार्ड्स ने प्रदर्शन कर रहे एबीवीपी कार्यकर्ताओं को घेरकर लाठी- डंडों के जमकर पीटा। इस हमले में एबीवीपी के आधा दर्जन कार्यकर्ता गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं। बता दें कि एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने सिक्योरिटी गार्ड्स पर फायरिंग करने का आरोप लगाया है। वहीं एबीवीपी कार्यकर्ताओं पर हुए इस हमले के बाद बीजेपी के साथ ही हिन्दू संगठनों के लोग लामबंद होकर डीम्ड यूनिवर्सिटी की आड़ में चलाए जा रहे यीशु दरबार को घेरने की तैयारी में जुट गए हैं। 

इलाहाबाद के नैनी इलाके में शियाट्स (सैम हिंगिनबाटम इंस्टीट्यूट आफ एग्रीकल्चर, टेक्नॉलाजी एंड साइंसेज) डीम्ड यूनिवर्सिटी के वीसी राजेन्द्र बी लाल पिछले करीब दस सालों से यूनिवर्सिटी कैम्पस में ही यीशु दरबार का आयोजन करते हैं। वीसी राजेन्द्र बी लाल को दो साल पहले बिशप की पदवी भी दी गई थी।

बता दें कि, हर रविवार और कुछ खास मौकों पर लगने वाले इस यीशु दरबार में चंगाई के जरिये बीमार लोगों को ठीक करने व हरेक के दुख दर्द दूर किये जाने के दावे किये जाते हैं। यहाँ हर आयोजन में हजारों की भीड़ जुटती है और यहाँ आने वालों को आने जाने के खर्च के साथ ही खाना व पैसों की मदद भी दी जाती है। इसके बावजूद भी शुरू से ही यह आरोप लगता रहता है कि यीशु दरबार की आड़ में डीम्ड यूनिवर्सिटी कैम्पस में उसके वीसी द्वारा लोगों को ईसाई बनाया जाता है या फिर धर्मांतरण के लिए प्रेरित किया जाता है। यहाँ हिन्दू संगठनों द्वारा पहले भी कई बार विरोध प्रदर्शन व हंगामा किया जा चुका है।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: