Headline • भाजपा सरकार ने EPF ब्याज दरों में कि बढ़ोतरी • अर्जुन कपूर और अभिषेक बच्चन ने अक्षय कुमार की फिलम केसरी के ट्रेलर की प्रशंसा की • पूर्व पाक अध्यक्ष आसिफ अली जरदारी के पास इमरान खान के लिए सावधानी बरतने की सलाह • जम्मू-कश्मीर में सरकार ने अर्धसैनिकों के लिए दी हवाई यात्रा को मंजूरी• अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट पर PM मोदी से की अपील दिल्ली को दे पूर्ण राज्य का दर्जा • भारत और सऊदी अरब ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की• जयपुर सेंट्रल जेल में मारा गया पाकिस्तानी कैदी• नवजोत सिंह सिद्धू के शो से बाहर होने पर कपिल शर्मा का बयान• तमिलनाडु में भाजपा संग एआईएडीएमके गठबंधन हुआ तय • इमरान खान की भारत को धमकी बिना साबुत किया हमला तो खुला जवाब देंगे• अलीगढ़ हिंदू छात्र वाहिनी कार्यकर्ताओं का धारा 370 को हटाने को लेकर प्रदर्शन• कुलभूषण जाधव मामले की सोमवार से सुनवाई शुरू• उत्तराखंड पुलिस की कश्मीरी छात्रों से सोशल मीडिया पर भड़काऊ बयान न देने की अपील • पुलवामा एनकाउंटर: मेजर समेत 4 जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर• राजस्‍थान का गुर्जर आंदोलन शनिवार को खत्म• पुलवामा आतंकी हमले पर सर्वदलीय बैठक शुरू• PM मोदी का ऐलान: आतंकियों की बहुत बड़ी गलती चुकानी होगी कीमत• गांधीजी के पुतले को गोली मारने वाली हिंदू महासभा सचिव पूजा पांडे को मिली जमानत• कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती विस्फोट 41 सीआरपीएफ जवानों की मौत• राजीव सक्सेना को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में 22 फरवरी तक मिली अंतरिम जमानत • सुप्रीम कोर्ट ने केजरीवाल और एलजी विवादों पर अपना फैसला सुनाया• केसरी: अक्षय कुमार अभिनीत ऐतिहासिक ड्रामा का पहला झलक वीडियो रिलीज़ • पीएम मोदी ने हरियाणा में की विकास परियोजनाओं की शुरुआत • राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मोदी सरकार पर जुबानी जंग • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में SC ने राव के माफ़ी नामे को किया अस्वीकार लगाया 1 लाख का जुर्माना

वाराणसी मूर्ति विसर्जन और बवाल: पुलिस से भिड़े संत समर्थक, चार थाना क्षेत्रों में लगा कर्फ्यू हटा

वाराणसी- साधु-संतों ने 22 सितंबर को हुए बर्बर लाठीचार्ज के विरोध में सोमवार को अन्याय प्रतिकार यात्रा निकाली, लेकिन इस दौरान यहां पुलिस और प्रर्दशनकारियों के बीच जमकर हिंसक झड़प हुई। जिसके बाद चार पुलिस स्टेशनों में कर्फ्यू का एलान कर दिया गया। करीब 2 घंटे बाद हालात सामान्य होने पर कर्फ्यू हटा लिया गया। लेकिन तनाव को देखते हुए शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है। गोदौलिया, गिरजाघर, चौक, दशाश्‍वमेधघाट मार्ग, मदनपुर और बांस फाटक जैसे इलाके जहां कर्फ्यू लगाया था, वहां बैरिकेडिंग कर लोगों को जाने से रोका गया। पुलिस ने मामले में करीब 29 लोगों को हिरासत में लिया है। उधर, बताया जा रहा है कि केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने खुद वाराणसी के एसएसपी आकाश कुलहरी को फोन कर शहर में शांति-व्‍यवस्‍था बनाए रखने को कहा है।

दरअसल, 22 सितंबर को गंगा में ही गणेश प्रतिमा विसर्जन पर अड़े लोगों पर हुए पुलिस ने देर रात लाठीचार्ज कर दिया था। जिसके खिलाफ स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने 5 अक्तूबर यानि सोमवार को मैदागिन के टाउनहाल से दशाश्वमेध तक अन्याय प्रतिकार यात्रा निकालने का फैसला किया था। तय कार्यक्रम के अनुसार दोपहर साढ़े बारह बजे स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद केदारघाट स्थित अपने आश्रम से टाउनहाल के लिए पैदल ही निकले। यात्रा में हजारों लोग शामिल हुए। जुलूस के गोदौलिया पहुंचते ही कुछ अराजक तत्‍वों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। पुलिस की जीप समेत कई बाइकों में आग लगा दी गई। मामला बढ़ता देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इस दौरान भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस लगातार आंसू गैस के गोले और रबर बुलेट से फायरिंग करती रही।

इस दौरान साधु-संतों के साथ-साथ आधा दर्जन से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए। कवरेज के दौरान कुछ पत्रकारों को भी चोटें आई हैं। डीएम राजमणि यादव ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि मंगलवार को शहर के सभी स्‍कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। इसमें माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड सहित सीबीएसई और आईसीएसई के सभी स्‍कूल शामिल हैं।

कमिश्नर नितिन रमेश गोकर्ण ने बताया कि यात्रा के दौरान कुछ असामाजिक तत्वों ने शांति और कानून-व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश की। उन्‍होंने नगरवासियों से किसी भी प्रकार की अफवाहों में न आने की अपील की है। फिलहाल, स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। इसके अलावा प्रशासन की तरफ से सोशल मीडिया, वेबसाइट, व्‍हॉट्सएप और फेसबुक पर पैनी नजर रखी जा रही है। यदि इन माध्यमों से किसी भी प्रकार की कोई गलत सूचना या अफवाह फैलाई जाती है तो ऐसे लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

प्रतिकार यात्रा में देशभर के साधु-संतों के साथ ही साध्वी प्राची और चक्रपाणि महाराज भी शामिल थे। इस दौरान साध्वी प्राची ने कहा समाचार प्लस से फोन पर बात की और बताया कि प्रशासन ने मूर्ति विसर्जन को लेकर रास्ता नहीं निकाला। साथ ही उन्‍होंने कहा कि जब तक सीएम अखिलेश खुद साधु-संतों पर हुए लाठीचार्ज के लिए माफी नहीं मांगते तब तक आंदोलन चलता रहेगा।

उन्होने आगे कहा, "भीड़ अभी पूरी तरह से आक्रोशित है, बनारस में कुछ भी हो सकता है। प्रशासन चाहता क्या हैं। हिंसा में हमारे कई समर्थकों को चोटें आईं है, हम शांति से जा रहे थे, लेकिन इस तरह निहत्थे लोगों पर बर्बरकता पूर्वक लाठीचार्ज करना कहां कि इंसानियत हैं।"

बवाल के कारण बीच रास्ते में फंसे स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द से अधिकारियों ने मठ चले जाने का आग्रह किया। स्वामी जी ने शांतिपूर्ण तरीके से दशाश्वमेध घाट तक जाकर यात्रा पूरी करने की बात कही। इसके बाद स्वामी जी के नेतृत्व में कुछ लोग दशाश्वमेध पहुंचे। यहां से स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द और बालकदास शिवजी की पालकी लेकर नाव से विद्यामठ रवाना हो गए। उनके साथ रहे विधायक अजय राय व अन्य लोग दूसरे रास्तों से लौट गए।

राहुल की शक्ति छिन्न हो गई, वो पुनः रजार्च के लिए विदेश गए हैं: लक्ष्मीकांत वाजपेयी

वाराणसी: बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी शनिवार को बरेली एक्सप्रेस से काशी पहुंचे । इस दौरान मिडिया से बातचीत में उन्होंने काशी में संतों पर हुए लाठीचार्ज पर बोलते हुए कहा, ये पूरे हिन्दू समाज पर लाठियां बरसी हैं । इसको लेकर महत्वपूर्ण बैठकें होंगी । वही लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि, राहुल गांधी काम करने की वजह से शक्ति छिन्न हो गयी है वो पुनः जीवीकरण (रिजार्च) को विदेश गए है।

लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने राजस्थान में वसुंधरा राजे सिंधिया पर 45 हजार करोड़ के खनन घोटाले के आरोप पर बोलते हुए कहा सीबीसी और लोकायुक्त के पास कांग्रेस जाए । सड़क पर चिल्लाने के आलावा कोई दूसरा काम उनके पास नहीं बचा है ।

वहीं मक्का में हुए हादसे पर उन्होंने कहा कि मक्का में हो रही लगातार ऐसी घटनाएं क्यों हो रही है । इसका पूरा परिक्षण कराना चाहिए और सके तो प्रतिबंधित कर देना चाहिए ।

हाफ़िज़ सईद के बकरीद पर चंदा इकठ्ठा किये जाने के सवाल पर उन्होंने कहा वो करते रहे भारत डरने वाला नहीं है । उनके मनसूबे कभी कामयाब नहीं हो पाएंगे ।

बता दें कि , लक्ष्मीकांत बाचपेयी पंचायत चुनाव को लेकर बैठक करेंगे और दोपहर बाद नरेंद्र मोदी के जनसम्पर्क कार्यालय में लोगों की समस्याएं सुनेंगे ।

18 सितम्बर को वाराणसी आएंगे पीएम मोदी

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगामी 18 सितम्बर को वाराणसी के दौरे पर आ सकते हैं। पीएम दोपहर 2:35 बजे वाराणसी आएंगे और करीब 5 घंटे वहां रहेंगे। इस दौरान पीएम अपने संसदीय क्षेत्र में बीएचयू में ट्रॉमा सेंटर का उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही रिंग रोड परियोजना का शिलान्यास भी करेंगे। एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान मोदी डीरेका में प्रमुख लोगों से मुलाकात करेंगे और इसके बाद जनसभा को संबोधित करेंगे।

अतिरिक्त जिलाधिकारी (प्रोटोकॉल) ओम प्रकाश चौबे ने शनिवार को पीएम मोदी के वाराणसी दौरे की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि 18 सितंबर को प्रधानमंत्री की प्रस्तावित यात्रा के संबंध में प्राथमिकी सूचना प्राप्त हो गयी है।

बीजेपी के पूर्वांचल क्षेत्र और वाराणसी संसदीय क्षेत्र के प्रभारी संजय भारद्वाज ने कहा कि प्रधानमंत्री यहां एक सड़क को चार लेन करने की परियोजना की शुरूआत करेंगे और एक जनसभा को संबोधित करेंगे।

जिला प्रशासन ने पीएम मोदी के वाराणसी आगमन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है।

बता दें कि, इससे पहले पीएम मोदी को विभिन्न कारणों से तीन बार वाराणसी दौरा रद्द हो चुका है।

पीएम नरेंद्र मोदी आज वाराणसी दौरे पर, BHU में ट्रॉमा सेंटर का करेंगे उद्घाटन

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगामी शुक्रवार को वाराणसी के एक दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं। पीएम अपने संसदीय क्षेत्र में बीएचयू में ट्रॉमा सेंटर का उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही रिंग रोड परियोजना का शिलान्यास भी करेंगे। एक दिवसीय वाराणसी दौरे के दौरान मोदी डीरेका में प्रमुख लोगों से मुलाकात करेंगे और इसके बाद जनसभा को संबोधित करेंगे।

इसके अलावा पीएम ऊर्जा और सड़क क्षेत्रों में योजनाओं का उद्घाटन करेंगे और उत्तर प्रदेश के आंदोलनकारी शिक्षामित्रों से भी मुलाकात करेंगे।

पीएम आज अपनी वाराणसी की दिनभर की यात्रा के दौरान ‘जन धन योजना’ के 600 से अधिक लोगों को साइकिल रिक्शा, ई-रिक्शा और सोलर लालटेन भी वितरित करेंगे।

जिला प्रशासन ने पीएम मोदी के वाराणसी आगमन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है।

बता दें कि, इससे पहले भारी बारिश के कारण पीएम मोदी का दो बार वाराणसी दौरा रद्द हो चुका है। हांलाकि आज भी पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में बादल छाए हुए हैं।

प्रधानमंत्री के वाराणसी दौरे के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। चप्पे-चप्पे पर पुलिसबलों की तैनाती की गई है।

वाराणसी के लक्सा इलाके में हैंडलूम शोरूम में भीषण आग, लाखों का नुकसान

वाराणसीः वाराणसी के लक्सा थाना क्षेत्र के मिश्र पोखरा इलाके में स्थित आठ मंजिला ईश्वर टावर में सुबह एक हैंडलूम शो रूम में शार्ट शर्किट से भीषण आग लग जाने से पुरे इलाके में अफ़रा तफरी मच गयी । इस आठ मंज़िला बिल्डिंग में कई बड़े बैंको के साथ बड़े.बड़े ऑफिस है । बिल्डिंग में चार मंजिल तक ऑफिस होने के साथ- साथ ऊपरी चार मंजिलो के फ़्लैट में परिवार रहता है ।

आग की सूचना पर तत्काल कई फायर स्टेशनों से सात दमकल की गाड़िया मौके पर पहुंची । करीब दो घंटे की कड़ी मशक्क़त के बाद फायर ब्रिगेड कर्मियों ने आग पर काबू पाया ।

वाराणसी के अतिव्यस्त इलाके में मौजूद इस बहुमंज़िला बिल्डिंग में आग के बाद कई थानों की पुलिस ने भी मौके पर पहुंच कर यातायात की व्यवस्था को संभाला । आग तीसरी मंजिल पर स्थित हैण्डलूम के शो रूम में लगी थी।

बताया जा रहा है कि इस आग से लाखों का नुकसान हुआ है। इस बिल्डिंग की तीसरी और चौथी मंजिल आग की चपेट में रही। आग की लपटों में फंसे परिवारों को पुलिसए फ़ायर ब्रिगेड के कर्मचारियों ने क्षेत्रीय नागरिकों की मदद से बाहर निकाला गया। यह आग ईश्वर टावर में सुबह करीब पांच बजे के आसपास आग लगी । आग लगने के कारणों का स्पष्ट रूप पता नहीं लग पाया है लेकिन शार्ट सर्किट से आग लगने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

ईश्वर टावर कामर्शियल और रिहायसी दोनों है। नीचे के मंजिलों पर दुकाने और साड़ी की गद्दी,  बैंक और बड़े-बड़े शोरूम और ऑफिस है। उपर के चार मंजिल में लगभग चालीस फ़्लैट में परिवार रहते है। जिस समय आग लगी,उस वक्त सभी सो रहे हैं। इसलिए जब आग लगी तो लोगों को पता नहीं चला। जब धुआं फैलने लगा और जब लोगों का दम घुटने लगा तब सब भागने लगे।

:
:
: