Headline • "कांग्रेस को चाहिए ' गांधी ' अध्यक्ष, वर्ना टूट जाएगी पार्टी"• यूपी बोर्ड के छात्रों को मिलेगा धीरूभाई अंबानी स्कॅालरशिप पाने का मौका • छपरा में मवेशी चोरी के आरोप में 3 लोगों की पिट-पिटकर हत्या • ट्रम्प का दावा - अमेरिकी युद्धपोत ने मार गिराया है होरमुज की खाड़ी में ईरानी ड्रोन• कर्नाटक : बीजेपी विधायकों के लिए सदन में ब्रेकफास्ट लेकर पहुंचे कर्नाटक के डेप्युटी सीएम• इमरान खान के अमेरिका दौरे से पहले पाक को झटका, नहीं मिलेगी अमेरिकी सहायता• पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी गिरफ्तार • 90 बीघे जमीन के लिए चली अंधाधुंध गोलियां, बिछ गई लाशें• धौनी के माता-पिता भी चाहते है कि वो अब क्रिकेट से संन्यास ले• चंद्रयान-2 की आयी डेट; 22 जुलाई को होगा लॅान्च • कुलभूषण जाधव केस : 1 रुपये वाले साल्वे ने पाकिस्तान के 20 करोडं रुपये वाले वकील को दी मात • कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष , किसी भी नाम को लेकर सहमति नहीं• पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत

यूपी में जेडीयू का पोस्टरवार, नीतीश को बनाया ‘अर्जुन’ और शरद यादव बनें ‘कृष्ण’

वाराणसी: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की 12 मई को पिंडरा में होने वाली रैली के पहले शहर में विवादित पोस्टर लगाये गये हैं। पोस्टर में कार्यकर्ताओं ने नीतीश कुमार को अर्जुन तो शरद यादव को श्रीकृष्ण के रुप में दिखाया गया है। पोस्टर में पीएम मोदी व सपा को कौरव बताया गया है।

पोस्टर में बिहार के सीएम नीतीश कुमार को अर्जुन की तरह रथ पर सवार दिखाया गया है। शहर यादव श्रीकृष्ण की भूमिका में रथ चला रहे है। पोस्टर में साफ लिखा है कि लोगों से झूठे वादे करने व देश में सम्प्रदायिकता फैलाकर देश का माहौल बिगाडऩे वाली मोदी सरकार व यूपी में भ्रष्टाचार व गुंडागर्दी के विरूद्ध नीतीश कुमार ने जंग का ऐलान किया है।

नीतीश कुमार 12 मई को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में आ रहे है । नीतीश कुमार पिंडरा स्थित नेशनल इंटर कालेज में कार्यकर्ता सम्मेलन करेंगे। नीतीश की आगवानी के पहले बिहार से भारी संख्या में समर्थक व नेता भी काशी में पहुंच चुके है जो सभा की तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटे हैं।

बता दें कि, इससे पहले भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या का विवादित पोस्टर लगाया गया थाए जिसमें उन्हें श्रीकृष्ण दिखाया गया था और सपाए बसपा व कांग्रेस को यूपी का चीरहरण करते दिखाया था।

  राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज पहुंचेंगे काशी, स्वतंत्रता भवन में देंगे शताब्‍दी व्‍याख्‍यान

 

वाराणसी: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी गुरूवार को वाराणसी आएंगे। राष्ट्रपति यहां स्वतंत्रता भवन में आयोजित शताब्दी व्याख्यान में शिरकत करेंगे। इस समारोह में राज्यपाल राम नाईक बतौर अतिथि शामिल होंगे।

इस दौरान महामहिम प्रणब मुखर्जी से भारत अध्ययन केंद्र का शिलान्यास भी करेंगे।

समारोह में 100 रूपए का स्मृति सिक्का और 10 रूपए का सिक्का जारी किया जाएगा।

इसी बीच राष्ट्रपति समारोह में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के 100 साल के विकास यात्रा से संबंधित प्रदर्शनी के साथ-साथ काशी पर आकर्षक चित्रकला गैलरी का भी अवलोकन भी करेंगे।

इसके अतिरिक्त शाम 6 बजे संगीत एवं मंच कला संकाय के पंडित ओमकारनाथ ठाकुर प्रेक्षागृह में प्रख्यात कथक नृत्यांगना शर्मिष्ठा मुखर्जी द्वारा प्रस्तुति दी जाएगी।

 सीएम अखिलेश पहुंचे वाराणसी, सपा के पूर्व सांसद की बेटी के विवाह समारोह में होंगे शामिल

वाराणसी: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज सपा के पूर्व सांसद तूफानी सरोज की बेटी की शादी में शामि‍ल होने के लि‍ए वाराणसी पहुंचे हैं। सीएम का काफिला बाबतपुर एयरपोर्ट से सीधे पूर्व सांसद के गांव कठेरवां के लिए रवाना हुआ।

बाबतपुर एयरपोर्ट पर सीएम अखिलेश के स्वागत के लिए प्रशासन के आला अधिकारियों सहित पार्टी के प्रमुख पदाधिकारी मौजूद रहे।

बताया जा रहा है कि, सीएम विवाह समारोह में एक घंटा रूकेंगे और इसके बाद वह लखनऊ के लिए रवाना हो जाएंगे।

सीएम की स्क्यिूरिटी को मद्देनजर रखते हुए कठेरवा गांव में सुरक्षा व्यवस्थाएं दुरूस्त कराई गई हैं। सीएम की सुरक्षा के लिए बाबतपुर एयरपोर्ट से लेकर विवाह समारोह 1200 से अधिक जवानों को तैनात किया गया है। इसके अलावा मुख्य मार्ग से कठेरवां जाने वाले मार्ग पर किनारे बैरिकेडिंग लगाई गई है। इस रूट के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की पैनी नजर है।

पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के नाविकों को ईको फ्रेंडली नाव का देंगे तोहफा

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 1 मई को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आएंगे। वाराणसी में डीरेका मैदान में प्रधानमंत्री मोदी एक हजार ई-रिक्शा और अस्सी घाट पर ईको फ्रेंडली नाव बाटेंगे।

प्रधानमंत्री के आगमन का आरंभिक प्रोटोकाल जिला प्रशासन को मिल गया है। पार्टी स्तर से पीएम के आगमन को लेकर तैयारियां जोरों पर चल रही हैं।

पीएम कार्यक्रम के मुताबिक वाराणसी में 3.30 बजे डीरेका मैदान में ई-रिक्शा एवं 4 बजे अस्सी घाट पर ई-बोट का वितरण करेंगे।

बता दें कि, पीएम एक मई को वाराणसी के अलावा बलिया भी जाएंगे और वहां उज्ज्वला योजना की राष्ट्रव्यापी शुरुआत करेंगे।

पीएम दिल्ली से भारतीय वायुसेना के विमान से बाबतपुर आएंगे और यहां से हेलीकाप्टर से बलिया जाएंगे। बलिया से लौटने के बाद पीएम यहां डीरेका मैदान में ई-रिक्शा और ई-बोट बांटने आएंगे। ई-रिक्शा उन्हीं लोगों को मिलेगा, जो पैडल रिक्शा खींच रहे हैं। जो अब तक किराए पर रिक्शा चला रहे थे अब उनका खुद का ई-रिक्शा होगा।

वाराणसी : कोर्ट परिसर में वकील के तख्त के नीचे मि‍ले 2 हैंड ग्रेनेड को पुलि‍स ने कि‍या डि‍फ्यूज

वाराणसी : पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी के जिला कचहरी के मनोरंजन कक्ष के पास 2 हैंड ग्रेनेड बम मिलने के बाद अफतफरी मच गई थी। कचहरी में मौजूद लोग वकील और वादकारी इधर उधर भागने लगे। बम की सूचना पर पुलिस महकमे में भी हड़कम्प मच गया था। जिसके बाद मौके पर पहुंची डाग स्कायड और बम नरोधक दस्ते ने बम को डिफ्यूज कर दिया। कोर्ट परिसर को खाली करा कर पूरे परिसर की जांच की जा रही है।

जिला एवं स्तर न्यायलय वाराणसी में सुबह मिले हैण्ड ग्रेनेड के बारे में जहाँ एसएसपी आकाश कुल्हारी ने कहा कि इसमें डेटोनेटर नहीं लगा था जिसकी वजह से यह फट नहीं सकता था।

वहीं इस घटना के बाद पूरे शहर में हाई अलर्ट घोषित किया है। जिसके बाद वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन पर सीओ जीआरपी के नेतृत्व में सघन तलाशी और चेकिंग अभियान चलाया गया।

बता दें कि, 23 नवंबर 2007 को सिविल और कलक्ट्रेट परिसर में दो स्थानों पर ब्लास्ट हुए थे। घटना से पूरी वाराणसी थर्रा उठी थी। नौ लोगों की मौत के बाद संवेदना जताने के लिए सोनिया गांधी जैसे दिग्गज नेता तक आए थे।

सात मार्च 2006 को संकठ मोचन व कैंट स्टेशन पर सीरियल बम ब्लास्ट हुआ था जिसमें तीस से ज्यादा लोग मारे गये थे।

:
:
: