Headline • राफेल पर राहुल का पीएम मोदी पर वार, कहा- 'चौकीदार ने अनिल अंबानी से चोरी करवाई'• मैनपुरी : चाचा ने नाबालिग भतीजी के साथ किया दुष्कर्म• कच्ची शराब का विरोध करना पड़ा भारी,दबंगों ने तोड़ दिया महिला का पैर• शादी के 20 साल बाद पति ने खत भेजकर पत्नी को दिया तीन तलाक• गोरखपुर: धोखाधड़ी के मामले में भाई के साथ गिरफ्तार हुए डॉ. कफील खान• '67 साल में 65 एयरपोर्ट बने, हमने चार साल में 35 बनाए'• अमेठी : दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी, की शिव की पूजा, देखें वीडियो • 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तान' से सामने आया आमिर खान का लुक • पीएम मोदी ने किया सिक्किम के पहले हवाई अड्डे का उद्घाटन• अमेठी : दौरे से पहले लगे राहुल गांधी के 'शिव भक्त' वाले पोस्टर• मुरादाबाद में महिला की गोली मारकर हत्या, 4 पर मुकदमा दर्ज• गाजियाबाद : दबंगों ने किया दलित परिवार पर हमला, आरोप- झाड़ू-पोछा और गाड़ी साफ करने का दबाव बनाते हैं सोसाइटी के कुछ लोग• बुलंदशहर : खड़े ट्रक में घुसी रोडवेज बस, दो की दर्दनाक मौत, 2 दर्जन यात्री घायल• गोरखपुर : शोहदों और गुंडों का आतंक, स्कूल पर लगा ताला• अाज से दो दिवसीय अमेठी दौरे पर रहेंगे राहुल गांधी, जानिए मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम • अस्पतालों में बच्चों की मौत पर योगी के मंत्री का शर्मनाक बयान, कहा- मां-बाप है जिम्मेदार• पत्रकार सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे 'समाचार प्लस' के CEO उमेश कुमार• पीएम मोदी ने किया दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत का शुभारंभ• सपा की साइकिल यात्रा के समापन पर एक साथ दिखे अखिलेश और मुलायम सिंह यादव • गोरखपुर : सीएम योगी ने किया 'आयुष्मान भारत योजना' का शुभारंभ • महंत नृत्य गोपालदास बोले- 'राम मंदिर का निर्माण नहीं कराया तो भाजपा और मोदी के लिए घातक होगा'• गोरखपुर : बाइक को टक्कर मारने के बाद जीप पलटी, 3 की दर्दनाक मौत, 5 घायल• बीजेपी के कार्यक्रम में बार-बालाओं ने किया डांस,सांसद बाबू लाल के स्वागत में लगे ठुमके• आज से शुरू होगी आयुष्मान भारत योजना,पीएम मोदी झारखंड से करेंगे शुभारंभ• आगरा में दर्दनाक सड़क हादसा, चार लोगों की मौत

पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के नाविकों को ईको फ्रेंडली नाव का देंगे तोहफा

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 1 मई को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आएंगे। वाराणसी में डीरेका मैदान में प्रधानमंत्री मोदी एक हजार ई-रिक्शा और अस्सी घाट पर ईको फ्रेंडली नाव बाटेंगे।

प्रधानमंत्री के आगमन का आरंभिक प्रोटोकाल जिला प्रशासन को मिल गया है। पार्टी स्तर से पीएम के आगमन को लेकर तैयारियां जोरों पर चल रही हैं।

पीएम कार्यक्रम के मुताबिक वाराणसी में 3.30 बजे डीरेका मैदान में ई-रिक्शा एवं 4 बजे अस्सी घाट पर ई-बोट का वितरण करेंगे।

बता दें कि, पीएम एक मई को वाराणसी के अलावा बलिया भी जाएंगे और वहां उज्ज्वला योजना की राष्ट्रव्यापी शुरुआत करेंगे।

पीएम दिल्ली से भारतीय वायुसेना के विमान से बाबतपुर आएंगे और यहां से हेलीकाप्टर से बलिया जाएंगे। बलिया से लौटने के बाद पीएम यहां डीरेका मैदान में ई-रिक्शा और ई-बोट बांटने आएंगे। ई-रिक्शा उन्हीं लोगों को मिलेगा, जो पैडल रिक्शा खींच रहे हैं। जो अब तक किराए पर रिक्शा चला रहे थे अब उनका खुद का ई-रिक्शा होगा।

 सीएम अखिलेश पहुंचे वाराणसी, सपा के पूर्व सांसद की बेटी के विवाह समारोह में होंगे शामिल

वाराणसी: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज सपा के पूर्व सांसद तूफानी सरोज की बेटी की शादी में शामि‍ल होने के लि‍ए वाराणसी पहुंचे हैं। सीएम का काफिला बाबतपुर एयरपोर्ट से सीधे पूर्व सांसद के गांव कठेरवां के लिए रवाना हुआ।

बाबतपुर एयरपोर्ट पर सीएम अखिलेश के स्वागत के लिए प्रशासन के आला अधिकारियों सहित पार्टी के प्रमुख पदाधिकारी मौजूद रहे।

बताया जा रहा है कि, सीएम विवाह समारोह में एक घंटा रूकेंगे और इसके बाद वह लखनऊ के लिए रवाना हो जाएंगे।

सीएम की स्क्यिूरिटी को मद्देनजर रखते हुए कठेरवा गांव में सुरक्षा व्यवस्थाएं दुरूस्त कराई गई हैं। सीएम की सुरक्षा के लिए बाबतपुर एयरपोर्ट से लेकर विवाह समारोह 1200 से अधिक जवानों को तैनात किया गया है। इसके अलावा मुख्य मार्ग से कठेरवां जाने वाले मार्ग पर किनारे बैरिकेडिंग लगाई गई है। इस रूट के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की पैनी नजर है।

गुलाम अली के विरोध में सड़क पर शिवसैनिक

वाराणसी: विश्वप्रसिद्ध संकट मोचन संगीत समारोह में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित और कलाकार गुलाम अली को न्यौता देने के का मामला तूल पकड़ता ही जा रहा है। हिंदू युवा वाहिनी के बाद भाजपा और शिवसेना भी इस प्रकरण में कूद पड़ी है। गुलाम अली के विरोध में शिवसेना ने वाराणसी में जगह-जगह पोस्टर लगा दिए गए हैं जिसमें लिखा है कि काशी से गुलाम अली वापस जाओ।

संकट मोचन के महंत विश्वंभर नाथ मिश्र ने 26 अप्रैल से शुरू हो रहे संकट मोचन संगीत समारोह में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित और गायक गुलाम अली को न्यौता दिया है। गुलाम अली संगीत समारोह की पहली निशा में अपनी प्रस्तुति देंगे।

बता दें कि, इसी संकट मोचन मंदिर 7 मार्च, 2006 को आतंकियों ने विस्फोट किया था जिसमें कई बेगुनाह मारे गए थे। मंदिर में विस्फोट पाकिस्तान के इशारे पर भारत में मौजूद आतंकी संगठनों ने किया था।
 
शुक्रवार की सुबह शिव सेना कार्यकर्ताओं ने ग़ुलाम अली के विरोध की हुंकार भारी और जगह जगह पोस्टर चिपका के अपना विरोध प्रदर्शन कियाA बताते चले कि पिछेले साल भी गुलाम अली संकटमोचन समारोह में शिरकत किये थे। लेकिन समारोह में उनके द्वारा गए गए एक गाने "हंगामा है क्यों बरपा, थोड़ी सी जो पी ली है "को लेकर काफी विवाद हुआ था।

वाराणसी : कोर्ट परिसर में वकील के तख्त के नीचे मि‍ले 2 हैंड ग्रेनेड को पुलि‍स ने कि‍या डि‍फ्यूज

वाराणसी : पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी के जिला कचहरी के मनोरंजन कक्ष के पास 2 हैंड ग्रेनेड बम मिलने के बाद अफतफरी मच गई थी। कचहरी में मौजूद लोग वकील और वादकारी इधर उधर भागने लगे। बम की सूचना पर पुलिस महकमे में भी हड़कम्प मच गया था। जिसके बाद मौके पर पहुंची डाग स्कायड और बम नरोधक दस्ते ने बम को डिफ्यूज कर दिया। कोर्ट परिसर को खाली करा कर पूरे परिसर की जांच की जा रही है।

जिला एवं स्तर न्यायलय वाराणसी में सुबह मिले हैण्ड ग्रेनेड के बारे में जहाँ एसएसपी आकाश कुल्हारी ने कहा कि इसमें डेटोनेटर नहीं लगा था जिसकी वजह से यह फट नहीं सकता था।

वहीं इस घटना के बाद पूरे शहर में हाई अलर्ट घोषित किया है। जिसके बाद वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन पर सीओ जीआरपी के नेतृत्व में सघन तलाशी और चेकिंग अभियान चलाया गया।

बता दें कि, 23 नवंबर 2007 को सिविल और कलक्ट्रेट परिसर में दो स्थानों पर ब्लास्ट हुए थे। घटना से पूरी वाराणसी थर्रा उठी थी। नौ लोगों की मौत के बाद संवेदना जताने के लिए सोनिया गांधी जैसे दिग्गज नेता तक आए थे।

सात मार्च 2006 को संकठ मोचन व कैंट स्टेशन पर सीरियल बम ब्लास्ट हुआ था जिसमें तीस से ज्यादा लोग मारे गये थे।

बीजेपी के विवादित पोस्टर पर मचा घमासान, केशव मौर्या को दिखाया ‘कृष्ण’

वाराणसी: वाराणसी में बीजेपी के एक पोस्टर को लेकर घमासान शुरू हो गया है। यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या का एक पोस्टर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो गया है। यह विवादित पोस्टर बीजेपी कार्यकर्ता रूपेश पांडेय द्वारा जारी किया गया है । पोस्टर में जहां प्रदेश अध्यक्ष को सुदर्शन चक्र देकर भगवान कृष्ण बनाया गया है। वहीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती, सीएम अखिलेश यादव, कैबिनेट मंत्री आज़म खान, असदुद्दीन ओवैसी और राहुल गांधी को यूपी का चीरहरण करते दिखाया गया है ।

पोस्टर के ठीक ऊपर पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी दिखाया गया है ।

बीजेपी के इस विवादित पोस्टर के खिलाफ सपा की पूर्व मंत्री रीबू श्रीवास्तव ने कड़ा एतराज जताया है । उनका कहना है सीएम को लेकर विवादित पोस्टर जारी करना उचित नहीं है । कार्यकर्ताओं से बात कर इसका विरोध किया जाएगा ।

पोस्टर जारी करने वाले रूपेश पाण्डेय ने बताया कि उन्होंने पोस्टर स्वेक्षा से जारी किया है । पार्टी से पोस्टर का लेना देना नहीं है । उन्होंने व्यक्तिगत तौर पोस्टर सोशल मीडिया में जारी कर बताया कि यूपी की हालत बहुत ख़राब है एइन लोगों ने चीरहरण कर दिया है । कृष्णावतार केशव प्रदेश को बचाएंगे ।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: