Headline • मथुरा में सड़क पर बदमाशों का तांडव, स्कूली बस में चढ़कर छात्र को लाठी डंडों से पीटा• इंसान को जानवरों की तरह घसीटते रहे रेलवे पुलिसकर्मी, वीडियो बनाया तो दी बंद करने की धमकी• बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल और पी कश्यप दिसंबर में बंधेगे शादी के बंधन में• सपना चौधरी ने ऐसे सेलिब्रेट किया अपना बर्थडे, तस्वीरें और वीडियो वायरल• बकाया पैसा देने के बहाने युवती को घर बुलाया फिर 3 महीने तक करता रहा यौन शोषण, पुलिस नहीं कर रही मदद• पति पर दर्ज हुई सरकारी जमीन कब्जाने की रिपोर्ट तो सभासद ने दी आत्महत्या की धमकी • ‘बाजार’ का ट्रेलर रिलीज, दमदार लुक में नजर आएं सैफ अली खान • भारतीय मूल की मॉडल का खुलासा, 16 वर्ष की थी तो उसके दोस्त ने रेप की कोशिश की थी• सऊदी अरब में मालिक के अत्याचार से हरदोई के युवक की मौत, लाश लाने के लिए पत्नी ने लगाई गुहार• अखिलेश के साथ मंच क्या शेयर किया, शिवपाल  समर्थक हो गए मुलायम से नाराज, पोस्टरों से हटाई तस्वीर• शमशेर सिंह बिष्ट ने कभी भी सत्ता के साथ कोई समझौता नहीं किया, श्रद्धांजलि सभा में बोले लोग• कॉमेडी क्वीन भारती सिंह की सेहत में हुआ सुधार, अस्पताल से शेयर किया ये वीडियो• फिर विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, कहा-भारत में रहने वाले सारे मुसलमान परिवर्तित हिन्दू हैं• बरेली: विधायक पप्पू भरतौल ने सीएम से की एसएसपी की शिकायत, सच्चाई जानने बरेली पहुंच रहे हैं सुनील बंसल• औलख का करारा जवाब, कहा-एसआईटी रिपोर्ट आने की आहट से ही बौखला गए हैं आजम • आज हो सकती है पूर्व विधायक योगेश वर्मा की रिहाई, रासुका हटने के बाद रिहाई का रास्ता साफ• SC के फैसले का बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया स्वागत,जानें क्या कहा...• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला : बैंक अकाउंट और मोबाइल से आधार लिंक करना जरूरी नहीं• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला,SC/ST को प्रमोशन में आरक्षण नहीं • मेरठ में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़,10 हजार का इनामी बदमाश घायल• नोएडा पुलिस की गाजियाबाद में रेड,कुख्यात बदमाश अमित भूरा चला रहा था अवैध शराब की फैक्ट्री• गाजियाबाद : युवती की हत्या कर शव को तेजाब से जलाया• पूर्व कांग्रेसी सांसद दिव्या ने पीएम मोदी पर किया आपत्तिजनक ट्वीट, FIR दर्ज • नोएडा : पीएनबी में दो गार्डों की हत्या कर लूट का प्रयास करने वाले बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़, तीन गिरफ्तार• हमीरपुर : कंस वध जुलूस के दौरान दो समुदाय आपस में भिड़े, छावनी में तब्दील हुआ इलाका, 300 से ज्यादा पर FIR दर्ज

गुलाम अली के विरोध में सड़क पर शिवसैनिक

वाराणसी: विश्वप्रसिद्ध संकट मोचन संगीत समारोह में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित और कलाकार गुलाम अली को न्यौता देने के का मामला तूल पकड़ता ही जा रहा है। हिंदू युवा वाहिनी के बाद भाजपा और शिवसेना भी इस प्रकरण में कूद पड़ी है। गुलाम अली के विरोध में शिवसेना ने वाराणसी में जगह-जगह पोस्टर लगा दिए गए हैं जिसमें लिखा है कि काशी से गुलाम अली वापस जाओ।

संकट मोचन के महंत विश्वंभर नाथ मिश्र ने 26 अप्रैल से शुरू हो रहे संकट मोचन संगीत समारोह में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित और गायक गुलाम अली को न्यौता दिया है। गुलाम अली संगीत समारोह की पहली निशा में अपनी प्रस्तुति देंगे।

बता दें कि, इसी संकट मोचन मंदिर 7 मार्च, 2006 को आतंकियों ने विस्फोट किया था जिसमें कई बेगुनाह मारे गए थे। मंदिर में विस्फोट पाकिस्तान के इशारे पर भारत में मौजूद आतंकी संगठनों ने किया था।
 
शुक्रवार की सुबह शिव सेना कार्यकर्ताओं ने ग़ुलाम अली के विरोध की हुंकार भारी और जगह जगह पोस्टर चिपका के अपना विरोध प्रदर्शन कियाA बताते चले कि पिछेले साल भी गुलाम अली संकटमोचन समारोह में शिरकत किये थे। लेकिन समारोह में उनके द्वारा गए गए एक गाने "हंगामा है क्यों बरपा, थोड़ी सी जो पी ली है "को लेकर काफी विवाद हुआ था।

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: