Headline • महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड• कर्नाटक संकट का असर राज्यसभा में• अहमदाबाद की अदालत  में राहुल गांधी• व्हाइट हाउस में भरा बारिश का पानी • क्या अनुपमा परमेसरन को डेट कर रहे जसप्रीत बुमराह• पाकिस्तान को आंख दिखाता नाग• यूएई और भारत के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर होगी बात• कर्नाटक में सियासी संकट• सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है: राहुल गांधी

'उलेमा सम्मेलन' में आरएसएस का नारा 'दहशत, दंगा, नफरत, हिंसा... भारत छोड़ो भारत छोड़ो'

लखनऊ- आरएसएस के मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के बैनर तले शनिवार को लखनऊ में 'कुल हिन्द उलेमा इजलास' का आयोजन किया गया। जिसमें अल हिंद उलेमा कॉन्फ्रेंस में देशभर के 1500 से ज्यादा उलेमाओं ने शिरकत की।

रिपोर्ट के मुताबिक, पहली बार आरएसएस और मुसलमानों के बीच आपसी समझ बढ़ाने के लिए ये खास पहल की जा रही है। इसमें कश्मीर, पंजाब, असम, बिहार और उत्तर प्रदेश समेत देश के कोने-कोने के उलेमा शामिल हुए हैं। उलेमा कॉन्फ्रेंस का स्लोगन है- 'दहशत, दंगा, नफरत, हिंसा... भारत छोड़ो भारत छोड़ो।' इसीलिए भारत छोड़ो आंदोलन के तारीख पर इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के तहत दंगाइयों और दहशतगर्दों को मिटाने की मुहिम चलाई जाएगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता आरएसएस के इंद्रेश कुमार ने की।

आपको बता दें कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच आरएसएस की सहयोगी शाखा है। इसने कुछ दिनों पहले ही रमज़ान के दौरान मुस्लिमों के लिए कई इफ्तार पार्टियों का भी आयोजन किया था। इन इफ्तार पार्टियों में बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने हिस्सा लिया था।

संबंधित समाचार

:
:
: