Headline • बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बने जे.पी. नड्डा • फिल्म आर्टिकल 15 को लेकर सुर्खियों में छाए रहे, आयुष्मान खुराना • लगातार दो शतक जड़ के शाकिब ने बांग्लादेश के लिए रचा इतिहास • एक बार फिर कथित लव-जिहाद का ममला सामने आया जाने पूरी खबर• बिहार में लू के कारण 246 मौतें, लगी धारा 144 • बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे को क्यो किडनैप करना चाहते थे शोएब अख्तर• सानिया मिर्जां के साथ पार्टी करना शोएब मलिक को पड़ा भारी।• केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन हुए परिजनों के गुस्से का शिकार • 17वी लोकसभा में प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष पर बोले • नाना पाटेकर को क्लिन चिट मिलने पर तनुश्री दत्ता ने कहा• बीजेपी, टीएमसी के बाद अब बंगाल में कांग्रेस का नाम भी आया राजनीतिक हिंसा में• आगामी भारत और पाकिस्तान के मैच में कैसा रहेगा, मैनचेस्टर में मौसम का मिजाज• मांगो को मानने के लिए ममता सरकार को 48 घंटे का डॉक्टरों ने दिया अल्टिमेटम• इतनी फिल्मे करने के बाद भी क्यों सलमान खान को लगता है समीक्षको से डर !• भारत और इंग्लैड के बीच होगा फाइनल मैच: गूगल सीईओ सुन्दर पिचाई• बीजेपी के सहयोगी नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू बजट सत्र में करेगी तीन तलाक का विरोध • 'टिकटॉक' विडियों बनाने के चक्‍कर में सलमान को लगी गोली, 2 युवक पहुंचे जेल • लोक सभा के बाद अमित शाह ने हरियाणा विजय की खास रणनीति बनाई• घट सकती है दिल्ली मेट्रों का किराया, 30 लाख से अधिक यात्रियों को फायदा• चक्रवाती तूफान 'वायु' ने अपना रास्ता बदला लेकिन एजेंसियां अलर्ट पर अभी खतरा बाकी है • महेंद्र सिंह धोनी के सेना के 'बलिदान बैज' वाले दस्तानों पर बहस तेज• अफगानिस्तान सेना के दस्ते ने आतंकी संगठन तालिबान की जेल से छुड़ाए 83 नागरिक• जगन मोहन रेड्डी ने पलटा चंद्रबाबू सरकार का फैसला, अब आंध्र प्रदेश में CBI कर सकेगी जांच• नमाज के दौरान बेकाबू कार ने भीड़ को मारी टक्‍कर हुआ हगामा • गृह मंत्रालय का प्रभार संभालते ही बीजेपी चीफ अमित शाह ऐक्शन में, जम्मू-कश्मीर में परिसीमन आयोग पर विचार

  दलित छात्रा डेल्टा मेघवाल की हत्या पर देश में उबाल, सीबीआई जांच की मांग

बीकानेर: राजस्थान के बीकानेर के जैन आर्दश कन्या शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान नोखा में दलित छात्रा डेल्टा मेघवाल के रेप और हत्या की गुत्थी अभी भी अनसुलझी है। विधानसभा में गूंजी डेल्टा प्रकरण की आवाज से पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई की बात कह रही है। पुलिस ने टीचर और वाॅर्डन को रिमांड पर ले लिया है।

29 मार्च 2016 को 17 साल की डेल्टा मेघवाल की लाश जैन आर्दश कन्या शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान नोखा के टैंक में मिली थी। डेल्टा इसी संस्थान में पढ़ती थी।

दलित छात्रा की रहस्यमयी मौत पर और फिर उसके शव के साथ किए गए बर्ताव पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है।




क्या है पूरा मामला

डेल्टा मेघवाल एक होनहार छात्रा थी, जिसे राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने उसकी राजस्थान थीम पर बनाई पेंटिंग पर प्रशंसा पर भेजा था।

होली की छुट्टियों के बाद 28 मार्च को डेल्टा अपने पिता के साथ नोखा स्थित स्कूल में लौटी। पिता डेल्टा को छोड़कर चले गए। 28 की रात को डेल्टा के साथ ऐसा क्या हुआ कि उसने पिता को आधी रात में फोन कर बताया कि उसकी जान को यहां खतरा है। उस रात हाॅस्टल में सिर्फ चार छात्राएं थी।

29 मार्च की सुबह जब डेल्टा के पिता स्कूल पहुंचे तो डेल्टा उन्हें वहां नहीं मिली। हाॅस्टल की वाॅर्डन प्रिया शुक्ला ने बताया कि डेल्टा अपने कमरे से गायब है। जिसके बाद दोपहर को डेल्टा की लाश जैन आर्दश कन्या शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान नोखा के टैंक में मिली।

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पशुओं को ढोने वाले ट्रैक्टर से अस्पताल ले गई।

इस घटना की एक नई कहानी वाॅर्डन प्रिया ने पुलिस को सुनाई। वाॅर्डन के मुताबिक, डेल्टा उस रात अपने कमरे में नहीं थी और बाद में वह पीटीआई के कमरे से मिलीं। दोनों ने आपसी सहमति से संबंध बनाए। वाॅर्डन ने कहा, इस बात पर आपत्ति जताने के बाद दोनों ने लिखित माफी भी मांगी थी और फिर अगले दिन डेल्टा का शव टैंक में मिला।

डेल्टा मेघवाल जैन आर्दश कन्या खजांची गुरुकुल कन्या छात्रावास में रहती थी। वह इस साल सेकंड इयर में थी।

डेल्टा की पोस्टमोर्टम रिपोर्ट में यह साफ हो चुका है कि डेल्टा ने आत्महत्या नहीं की, क्योंकि मृतका के फेफड़ों में पानी नहीं मिला जो यह साबित करता कि डेल्टा ने टंकी में कूदकर आत्महत्या की।


नोखा में दलित छात्रा डेल्टा मेघवाल हत्याकांड मामले में प्रदेशभर में विरोध देखा जा रहा है। लोग डेल्टा प्रकरण की निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए मामले की सीबीआई जांच करवाने की मांग कर रहे हैं। दूसरी तरफ डीडवाना में युवक कांग्रेस और छात्र संगठन एनएसयुआई की और से भी अम्बेडकर सर्किल से इकठा होकर कचहरी परिसर तक एक विरोध रैली निकाली गई और राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन देकर डेल्टा प्रकरण की सीबीआई जांच करवाने की मांग की गई।

इस दौरान उन्होंने वसुंधरा राजे सरकार पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कचहरी परिसर में वसुंधरा राजे सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा है की मामले में निष्पक्ष जांच नहीं होने पर आने वाले दिनों में उग्र आन्दोलन किया जाएगा।

संबंधित समाचार

:
:
: