Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए


नई दिल्ली/उत्तर प्रदेश- अपनी बहादुरी से लोगों की जिंदगी बचाने वाले कुल 24 बच्चों को गणतंत्र दिवस से पहले वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। जिसमें चार बच्चें ऐसे है जिने मरणोपरांत वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। और इन्हीं चार में से एक है देवरिया जिले का 15 साल 7 माह का जाबांज गौरव कुमार भारती।

दिल्ली में देवरिया जिले के सपूत गौरव कुमार भारती को प्रधानमंत्री मरणोपरांत बहादुरी पुरस्कार से सम्मानित करेंगे। यह पुरस्कार स्वर्गीय गौरव के माता पिता प्राप्त करेंगे। 11 मार्च, 2014 की सुबह गौरव के मित्र विकास एवं देवा सरयू नदी में स्नान करने गए थे। अचानक विकास डूबने लगा। अपने दोस्त को डूबते देखकर गौरव ने बिना कुछ सोचे समझे 30 फूट गहरे पानी में छलांग लगा दी। अपनी बहादुरी और सूझ-बूझ का परिचय देते हुए गौरव ने विकास को नदी के किनारे तक पहुंचा दिया, लेकिन खुद को बचा नही सकता और शरीर अनियंत्रित होने से वह गहरे भंवर में फंस गया। गौरव के दोस्त देवा ने मदद के लिए एक नाविक को बुलाया लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।  हादसे में गौरव अपनी जान गंवा चुका था।
गौरव देवरिया जिले बरहज का रहने वाला था।

अपने बेटे के बहादुरी के जज़्बे को सलाम करते हुए उसके माता-पिता वीरता पुुुरस्कार लेने दिल्ली पहुंचे है।

 

मुज़फ्फरनगर में हुए दंगो के बाद दंगो की जांच के लिए सरकार द्वारा हाई कोर्ट के रिटार्ड जज न्यायमूर्ती बिष्णु सहाय के नेतृत्व में गठित एक सदसीय जांच आयोग एक बार फिर मुज़फ्फरनगर में पहुंचा।
जिसमे शनिवार को आयोग के समक्ष दंगो के दौरान मुज़फ्फरनगर और आस-पास के जनपदो मेरठ, सहारनपुर, बागपत, शामली में तैनात रहे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियो के बयान कलमबंद किये गए।
 
इस मामले में जांच आयोग ने पीडितों के द्वारा दिए गए शपथ पत्रो पर गवाहों की सुनवाई पहले ही शुरू कर दी थी।


आपको बता दें कि जनपद में हुए दंगो के बाद प्रदेश सरकार ने 1952 के अंतर्गत दंगो की जाँच के लिए 9 सितम्बर 2013 को न्यायिक आयोग का गठन किया था और जांच के लिए 2 महीने का समय दिया था। मगर बाद में आयोग ने 6 माह के समय की मांग की जिसके तहत सरकार ने 9 मई 2014 तक का समय बढ़ा दिया। बाद में नवम्बर में तीन माह का कार्यकाल फिर से बढ़ाया गया जो कि इस साल 8 फरवरी को समाप्त हो रहा है।
हालाकि जांच में अभी कितना समय लगेगा इसके लिए आयोग भी नही बता पा रहा है मगर इतना जरुर है कि आयोग के पास लगभग 700 शपथ पत्र आये है जिनकी जांच जारी है


इसी क्रम में शनिवार को मेरठ के तत्कालीन जिलाधिकारी नवदीप रिनवा, शामली तत्कालीन एसपी अब्दुल हमीद, सहारनपुर के एसएसपी दीपक कुमार, शामली के तत्कालीन एएसपी अतुल सक्सेना, मुज़फ़्फ़रनगर के तत्कालीन एसपी सिटी राजकमल यादव, ने अपने ब्यान दर्ज कराये गए।

भूटान के पीएम ने किया ‘काशी’ का दौरा

भूटान के पीएम शेरिंग तोबगे ने शुक्रवार को अपने 17 सदस्यीय टीम के साथ काशी का दौरा किया। काशी भ्रमण के दौरान तोबगे के साथ उनकी पत्नी भी थी। बनारस पधारे भूटान के पीएम शेरिंग तोबगे ने काशी को करीब से देखने की चाहत में बनारस की अद्भुत खूबसूरती का दीदार किया। अपनी दो दिवसीय काशी यात्रा के पहले दिन तोबगे ने मैक्सिमम टाइम भगवान बुद्ध की प्रथम उपदेश स्थली सारनाथ में ज्यादा से ज्यादा समय बिताया।

भूटान के पीएम के दौरे को लेकर शहर के चप्पे-चप्पे पर टाइट सिक्योरिटी का इंतजाम किया गया था।एयरपोर्ट से लेकर नदेसर, सारनाथ एरिया, विश्वनाथ मंदिर व गंगा घाटों तक एक्स्ट्रा फोर्स लगाई गई थी।

बता दें कि, खराब मौसम के कारण भूटान के पीएम अपने निर्धारित समय से दो घंटे देर से पहंुचे थे। पीएम तोबगे का बाबतपुर एयरपोर्ट पर अधीक्षण पुरातत्वविद् अजय श्रीवास्तव व नितेश सक्सेना ने बुके देकर किया।

भूटान के पीएम ने अपनी पत्नी के साथ भूटानी बौद्ध भिक्षुओं ने महायान बौद्ध परंपरा के अनुसार विश्व शांति के लिए पूजा कराई।
तोबगे शनिवार को बाबतपुर रवाना होंगे और वहां से शेरिंग तोबगे गया जाएंगे।

उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी का 6वां स्थापना दिवस

उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने आज अपना 6वां स्थापना दिवस मनाया। पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर परिवर्तन पार्टी ने अल्मोड़ा नगर में जूलूस निकालकर नारेबाजी कर माफियातंत्र के खिलाफ विरोध जताया। इस दौरान परिवर्तन पार्टी ने कांग्रेस और भाजपा दोनों ही राष्ट्रीय पार्टियों को माफियाओं को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए विकास विरोधी बताया। और लोगों से माफियातंत्र के खिलाफ खड़े होन के लिए उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी में शामिल होने की अपील की।

उत्तर प्रदेश: बरेली के फतेहगंज पश्चिमी में एक बार फिर दंगा भड़का है। पुलिस ने उग्र होती भीड़ को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे और हवाई फायरिंग भी की। उसके बाद पुलिस ने इलाके में धारा 144 लागू कर दी है। उपद्रविओं ने पुलिस और पीएसी की कई गाड़ियों को तोड़ डाला और पुलिसकर्मियों पर भी पथराव किया।

दो पक्षों के बीच कुछ कहासुनी के बाद कस्बे की मुख्य सड़क पर लोगों का हुजूम लग गया और दोनो पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव शुरु कर दिया। इसी के चलते घटनास्थल पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।
दंगाईयो से निपटने के लिए पुलिस घरों में घेराव किया और जमकर तोड़फोड़ भी की। महिलाओं, बच्चों और पुरुषो को लाठियो फांजी गई।
मौके पर पहुंचे बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार के प्रतिनिधि अजय जेटली को फोर्स ने जमकर पीटा. बीजेपी नेता ने भागकर अपनी जान बचाई.
और इस मामले में अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया है।


फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: