Headline • तारीख से लौट रहे दामाद को अगवा कर ससुरालियों ने की जमकर पिटाई, पुलिस ने बचाई जान• 80 मौत के बाद जागीं मंत्री अनुपमा, अस्पताल का लिया जायजा, कैमरों के साथ पहुंचीं मृतकों के घर• भारत ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला, चोटिल पांड्या की जगह रविंद्र जाडेजा को मौका• बीच बचाव करने गए बुजुर्ग पर ही टूट पड़े, चौकी इंचार्ज ने जान पर खेलकर बचाई जान• कर्बला की ओर बढ़ते हर कदम के साथ हुसैन की कुर्बानी का दर्द और यजीद के खिलाफ गुस्सा दिखा • करीना कपूर ने फैमिली के साथ सेलिब्रेट किया अपना जन्मदिन, तस्वीरें आई सामने• चल-चल चल मेरे हाथी, ओ मेरे साथी, चल रे चल खटारा खींचके...पीएम के संसदीय क्षेत्र में अनोखा विरोध• बढ़ सकती है बसपा सुप्रीमो मायावती की परेशानी, हाईकोर्ट ने तलब की स्मारक घोटाले की स्टेटस रिपोर्ट• कैग रिपोर्ट में फंसे अखिलेश ! 97 हजार करोड़ रुपए के सरकारी धन की बंदरबांट• किसने सबके सामने कहा-बहुत ही गंदा है आगरा शहर, यूपी सरकार से कोई प्रस्ताव ही नहीं मिला• बीमारी से हुई मौतों से परेशान ग्रामीणों ने सांसद से पूछा, अब यहां क्या करने आई है? जमकर निकाला गुस्सा• तोगड़िया का मोदी पर हमला, कहा- 2014 में मंदिर की बात करते थे अब मस्जिद से मोहब्बत करने लगे• अब ऑनलाइन मिलेंगे मोदी और योगी जैसे कुर्ते, दीनदयाल धाम ने किया कई कंपनियों से समझौता• किराए के मकान में चल रहे अस्पताल, हर महीने करोड़ों होता है खर्च लेकिन लोगों को नहीं मिल रहा लाभ• चालान काटने वालों के खुद कटे चालान, हरदोई के एसपी के फरमान से पुलिसवालों की बढ़ी परेशानी• नोएडा : PNB में लूट की कोशिश, बदमाशों ने की दो गार्डों की हत्या• अमरोहा :टायर फटने से यात्रियों से भरी बस पलटी, 5 की मौत, 40 से ज्यादा घायल• जेल से बरामद पिस्टल से नहीं मारी गई थी मुन्ना बजरंगी को गोली,फोरेंसिक जांच में हुआ खुलासा • गोरखपुर :साड़ी सेंटर में लगी आग, चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पाया काबू• अलीगढ़ : पुलिस ने मीडिया को बुलाकर किया LIVE एनकाउंटर !,परिजनों का आरोप- चार दिन पहले घर से उठाकर लाई थी पुलिस• हमीरपुर : घरों में अचानक आई दरार, प्रशासन ने खाली कराए मकान• अमेठी : लोगों से भरी नाव पलटी,8 निकाले गए,3 लापता, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी • मोहर्रम को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट,पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता को किया नजरबंद,छावनी में तब्दील हुआ कुंडा• जब अचानक बच्चों को स्कूल में पढ़ाने पहुंच गई डीएम, गंदगी देखकर टीचर्स को लगाई फटकार• पं. दीनदयाल उपाध्याय की हत्या के मामले में हो सकती है CBI जांच


शामलीः यहां एनआरसी में भारत सरकार के गलत प्रयोग के विवादित पोस्टर चस्पा होने से हड़कंप मच गया। अब खुफिया विभाग इन विवादित पोस्टर लगाने वालों की तलाश कर रहा है। यह विवादित पोस्टर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के नाम से लगाए गए हैं। यह संगठन काफी विवादों में रहा है। 

यह मामला जनपद शामली के कैराना कोतवाली क्षेत्र का है। शामली का कैराना कस्बा एक बार फिर सुर्खियों में है। इस बार एक विवादित पोस्टर को लेकर।

कैराना कस्बे के करीब 3 मोहल्लों में असम में एनआरसी के गलत इस्तेमाल से जुड़े पोस्टर लगाए गए है। इन पोस्टरों में एक समुदाय विशेष के लिए अपील की गई है।

ये विवादित पोस्टर कई मोहल्लों में चस्पा किए गए हैं। पोस्टरों में असम में एनआरसी यानी विदेशी बांग्लादेशियों को देश से बाहर किए जाने का विरोध किया गया है।

इन पोस्टरों में एनआरसी का गलत प्रयोग किए जाने का आरोप लगाया गया है। ये पोस्टर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के नाम से चस्पा किए गए हैं।

पोस्टरों के चस्पा किए जाने से शामली के प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। एसपी शामली दिनेश कुमार ने इस मामले में खुफिया विभाग को अलर्ट कर पोस्टर लगाए जाने वालों की जांच करने और दोषियों को तुरंत गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं।

खुफिया विभाग का मानना है कि चुनाव से पहले शामली को फिर से सुलगाने की कोशिशें की जा रही है। 

रायबरेलीः  जिले के भदोखर थाना क्षेत्र में सोनिया गांधी के आवास भुएमऊ के पास में उस समय अफरातफरी मच गई जब खनन का काम कर रहे मजदूर की संदिग्ध परिस्थितियों में लाश मिली।

खून से लथपथ लाश खनन की जगह पर ही बरामद हुआ। शव की सूचना मिलते ही परिवारजनों के साथ साथ ग्रामीण मौके पर पहुंचे। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मौत के कारणों की पड़ताल में जुट गई है।

दरअसल मृतक रज्जन लाल जगदीशपुर का रहने वाला था और मिट्ठी ख़नन में लेबर का काम करता था।

लोगों का आरोप है कि खनन के दौरान या तो उस पर ट्रैक्टर चढ़ गया या फिर उससे गिरकर मृतक की मौत हो गई। फिलहाल घटना स्थल पर खनन करने वाले मौके से भाग निकले। जहां कुछ लोग इसे हादसा बता रहे हैं तो कोई हत्या। 

चंद पैसों के लिए मजदूर यहां बिना सुरक्षा के खनन करते है और अपनी जान को जोखिम में डाल देते हैं।  लोगों का कहना है कि इस तरह की घटनाएं रोजाना होती रहती हैं और जिला प्रशासन इस पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।

 

मेरठः बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा की पत्नी ने  राज्य सरकार और प्रशासन पर अपने पति की हत्या करने की साजिश का आरोप लगाया है। पूर्व विधायक योगेश वर्मा की पत्नी सुनीता वर्मा मेरठ की मेयर है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रशासन उनके पति की जान लेने पर उतारू है। बता दें कि पूर्व विधायक योगेश वर्मा इन दिनों बीमार है और उनका इलाज चल रहा है। 

मेरठ की मेयर बीवी सुनीता वर्मा ने बताया कि उनके पति का ऑपरेशन होना है। यह ऑपरेशन दिल्ली के एम्स में कराने के लिए प्रशासन से गुजारिश की गई थी लेकिन प्रशासन दिल्ली के बजाय लखनउ में ऑपरेशन कराने का दबाव बना रहा है। सुनीता वर्मा ने कहा कि प्रशासन जानबूझ कर उनके योगेश वर्मा का अच्छा इलाज नहीं कराना चाहता है। 

एक सप्ताह से मेरठ मेडिकल में उनका इलाज चल रहा है। फिलहाल पुलिस के सख्त पहरे में उनका इलाज चल रहा है। बताया जाता है कि योगेश वर्मा का पथरी का ऑपरेशन होना है। उनकी पत्नी सुनीता वर्मा ने बताया कि डाक्टरों ने ऑपरेशन करने की सलाह है। जबकि जेल प्रशासन लखनऊ में ऑपरेशन कराना चाह रहा है।  उन्होंने कहा कि हमने दिल्ली के एम्स में ऑपरेशन करने की मांग की थी लेकिन हमारी एक भी नहीं सुनी गई।

दो अप्रैल को एससी-एसटी एक्ट को लेकर दलितों के आन्दोलन के दौरान हुई हिंसा के आरोप में जेल भेजे गए बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा को शासन की अनुमति के बाद गुरुवार को लखनऊ ले जाया गया लेकिन बीच रास्त ही नाटकीय ढंग से योगेश वर्मा को फिर वापस मेडिकल ले आया गया। 

बताते चलें कि आरक्षण कानून को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा किए गए फेरबदल के विरोध में बीती दो अप्रैल को पूरे देश में अनुसूचित जाति के लोगों ने आन्दोलन किया था। इस दौरान मेरठ में हुई हिंसा के मामले में मेरठ प्रशासन ने बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा के खिलाफ एक दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज करते हुए उन्हें जेल भेजा था। बाद में उन पर रासुका पर तामील करा दी गई थी। योगेश को अब तक 12 से अधिक मामलों में जमानत मिल चुकी है।

उधर, पिछले कई दिनों से पथरी के दर्द के चलते योगेश वर्मा का मेडिकल में उपचार चल रहा था। गुरुवार को उनकी पत्नी मेयर सुनीता वर्मा भी मेडिकल में योगेश वर्मा से मिलने पहुंची। दरअसल, मेडिकल प्रशासन द्वारा पथरी के ऑपरेशन के लिए योगेश वर्मा को लखनऊ के पीजीआई अस्पताल में रेफर किया गया था। उनको लखनऊ भेज भी दिया गया। लेकिन उसके बाद देर रात उनको रास्ते से वापस मेरठ मेडिकल कालेज बुला लिया गया। इसको योगेश ने भाजपा सरकार की साजिश बताया है। पत्नी के सामने योगेश ने भाजपा सरकार पर अपनी हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया।

 

मऊः  जनपद के मोहम्मदाबाद कोतवाली थाना क्षेत्र के अतरारी मोहल्ले में कोर्ट के आदेश पर जमीन की पैमाइश के समय हुई मारपीट में दो लोग घायल हो गए है।

इनमें से एक की हालत गंभीर होने पर उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोहम्मदाबाद से मऊ जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है।

घायल व्यक्ति भारतीय जनता पार्टी का नेता है और वह ओबीसी मोर्चा का पूर्व जिलाध्यक्ष रहा है। भाजपा नेता की तरफ से तहरीर दी गई है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश में जुटी है। 

जनपद के मोहम्मदाबाद कोतवाली थाना क्षेत्र के अतरौली मोहल्ले के रहने वाले भाजपा ओबीसी मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष की जमीन की कोर्ट के आदेश पर पैमाइश होनी थी, हालांकि भाजपा नेता ने सुबह ही  पैमाइश के समय सुरक्षा की मांग की थी। बावजूद इसके मौके पर पुलिस मौजूद नहीं थी।

पैमाइश के दौरान विवाद होने पर मारपीट हो गई जिसमें दो लोग घायल हो गए। एक ही हालत गंभीर होने के कारण उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया है। 

वहीं पुलिस ने इस पूरे मामले पर बताया कि एक पक्ष से कई लोगों को चोटें आई हैं। थाने पर तहरीर दी गई है। पुलिस दोनों पक्षों से बातचीत कर कार्रवाई करेगी।

 

बलरामपुर: आए दिन शराब के नशे में मारपीट से तंग आकर एक पत्नी ने अपने पति की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी। इस सनसनीखेज मामले के प्रकाश में आने के बाद से ही गांव में सन्नाटा छा गया है। पुलिस ने शुरुआती छानबीन के बाद पत्नी को हिरासत में ले लिया है। महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।  

थाना रेहरा बाजार क्षेत्र के ग्राम सभा बैरिया सुरजनपुर के मजरा पोखरहवा में बीती रात एक महिला सरस्वती देवी ने अपने पति उदयभान चौहान की कुल्हाड़ी से निर्मम हत्या कर दी। घटना को छुपाने का भी प्रयास किया।

बता दें कि मृतक उदयभान अपनी पत्नी सरस्वती देवी व तीन बच्चों के साथ गांव के बाहर बने अपने मकान में रहता था।

स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के अनुसार उदयभान नियमित रूप से देसी शराब का नशा किया करता था और वह घर पर आने के बाद रात में पत्नी के साथ मारपीट भी करता था जिससे वह तंग आ चुकी थी।

हत्या का कारण घरेलू कलह तथा आपसी मारपीट से जोड़कर देखा जा रहा है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया हत्या घरेलू कलह का कारण माना जा रहा है । हत्या सरस्वती ने ही की है इसकी संभावना प्रबल है । लाश को पीएम के लिए भेज दिया गया है तथा मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी ।

 

 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: