Headline • चीन के लिए जासूसी कर रहें पूर्व सीआइए अफसर को अमेरिका ने को सुनाई 20 साल की सजा• PM पद के लिए राहुल गांधी का मिला जेडीएस प्रमुख देवगौड़ा का समर्थन• लोकसभा चुनाव 2019: पीएम मोदी और अमित शाह की पहली संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस • समलैंगिक विवाह को ताइवान ने दिया वैधानिक दर्जा • साध्‍वी प्रज्ञा पर बोले पीएम मोदी ''मैं उन्‍हें कभी माफ नही कर पाऊंगा''• ऑस्ट्रिया सरकार ने प्राथमिक स्कूलों की लड़कियों के हिजाब पर प्रतिबंध लगाने का कानून पारित किया• लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग पर बरसीं ममता बनर्जी, चुनाव आयोग को BJP का भाई बताया • राहुल का पीएम मोदी पर हमला पीएम सोचते हैं एक व्यक्ति देश चला सकता है• बंगाल में अमित शाह की रैली के दौरान हिंसा के विरोध में जंतर-मंतर पर भाजपा का प्रदर्शन• बंगाल में रोड शो से पहले मोदी-शाह के पोस्टर उतरे • मैं कभी PM के परिवार का नहीं करूंगा अपमान: राहुल गांधी• भारत को ही क्‍यों बेच रहा एफ-21 लड़ाकू विमान अमेरिका • बिहार में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने विपक्षी दलों पर सादा निशाना• PM मोदी पर मायावती के विवादित बयान पर जेटली का हमला किसी पद के लायक नहीं बसपा सुप्रीमो• विकीलीक्‍स संस्‍थापक जुलियन असांजे के खिलाफ स्‍वीडन में दोबारा खुल सकता है यौन उत्‍पीड़न मामला• ममता के घर में अमित शाह की दहाड़ हिम्मत है तो करो मुझे गिरफ्तार• ट्विटर ने हटाए कई पाकिस्‍तानी अकाउंट, पाक सरकार ने लगाए थे देश नियमों के उल्‍लंघन का आरोप• कोई भी देश कमजोर सरकारों के होते शक्तिशाली नहीं बन सकता: PM मोदी• भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी मालवाहक विमान को वायुसेना ने जयपुर एयरपोर्ट पर उतरवाया• फ्रांस के स्‍कूल में भेड़ों का दाखिला • सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या भूमि विवाद की मध्यस्थता प्रक्रिया के लिए 15 अगस्त तक का समय बढ़ाया • दक्षिण चीन सागर में अमेरिका, भारत, जापान और फिलीपींस ने मिलकर किया सैन्य अभ्यास• प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान AAP उम्मीदवार आतिशी ने लगाए गौतम गंभीर पर आरोप• पीएम मोदी द्धारा पूर्व पीएम राजीव गांधी पर दिये गये बयान के बचाव में उतरी कांग्रेस• आईपीएल 2019: मुंबई के खिलाफ हार के बाद भड़के धोनी


 

कुंभ के दूसरे शाही स्नान महापर्व मौनी अमावस्या के संगम पर जन सैलाब उमड़ पड़ा है। दोपहर बाद भी स्नान घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ दिख रही है। कुंभ मेला प्रशासन ने दावा किया कि दोपहर तीन बजे तक 3 करोड़ 25 लाख श्रद्धालुओं ने संगम में डुबकी लगाई।

विश्व के सबसे बड़े आध्यात्मिक और धार्मिक प्रयागराज कुंभ में मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए श्रद्धालुओं में जबरदस्त जोश देखने को मिल रहा है। सुबह से ही घाटों पर स्नान के लिए लोगों की भिड़ शुरू हो गयी थी। यह सिलसिला शाम तक चलता रहा। भीड़ को देखते हुए सरकार की तरफ से भी विशेष इंतजाम किये गए हैं।

इस दूसरे शाही स्नान पर विदेशी श्रद्धालु भी उत्साह के साथ भाग ले रहे हैं। इस दौरान प्रशासन की तरफ से हेलिकॉप्टर से पुष्प वर्षा भी की जा रही है।

प्रतापगढ़ रेलवे स्टेशन पर श्रद्धालुओं का जमकर हंगामा। मेला स्पेशल ट्रेन का गेट ना खोलने को लेकर नाराज यात्रियो ने ट्रेन के दर्जनों खिड़कियों के काँच तोड डाले। घंटो तक स्टेशन पर जमकर हंगामा होता रहा। वही गंगा स्नान को जाने वाले श्रद्धालुओ ने भी ट्रेन पर पत्थराव किया। जिसमे दो यात्री घायल हो गए। एक यात्री का सर फट गया। जिसके बाद जीआरपी पुलिस मौके पर पहुंची और घंटो की कड़ी मेहनत के बाद विवाद शांत हुआ। तब जाकर कही रेलवे प्रशासन ने राहत की सांस ली।

अक्टूबर माह में प्रदेश की त्रिवेन्द्र सिंह रावत सरकार ने प्रदेश में निवेश के लिए बड़ा जलसा किया था। देश भर के बडे उधोगपतियों को बुलाने का दावा किया गया था। हालांंकि बड़ी कंपनियों के प्रतिनिधि तो पहुंंचे लेकिन अंबानी ,अडाणी समेत बड़ी संख्या में बडे उधोगपति पीएम मोदी के आने के बावजूद अपनी उपस्थिति दर्ज कराने भी नहीं पहुंंचे।

सरकार का दावा था, की प्रदेश के विभिन्न सेक्टरों में सरकार को लगभग 1 लाख 25 हजार करोड़़ के निवेश के प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं। जिसे सरकार ने अपनी बडी उपलब्धी बताया था। सरकार ने दावा तो बड़े निवेश का कर दिया लेकिन आंकडों की माने तो कुल प्रस्तावों का 8 से 10 प्रतिशत भी नहीं आया है। सरकार दावा कर रही है की लगभग 10 हजार करोड़ के प्रस्तावों को मंजूरी दे दी गई है। हालांकि सरकार के पास लैंड बैंक की कमी है और उधोग के लिए सरकार प्रदेश के विभिन्न इलाकों में लैंडबैंक बनाने की कोशिशों में जुटी हैंं। सरकार अब निजी भूमि स्वामियों से भी भूमि खरीदने की बात कर रही है। ताकि उधोगों की जमीन की जरूरत को पूरा किया जा सके।

हालांंकि प्रदेश के मुख्यमंत्री इसी बात को लेकर अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। की पिछले 18 सालों में प्रदेश में 40 हजार करोड़ का निवेश आया और हमारी सरकार ने 4 महिने में ही 12 हजार करोड़ का निवेश प्रदेश में ला दिया है। हालांंकि उनके अनुसार आगे भीी निवेश आता रहेंंगा ।

 

एक महीने के लंबे इंतजार के बाद नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (NMRC) की महत्वाकांक्षी एक्वा लाइन मेट्रो परियोजना आखिरकार दिन की रोशनी देख रही है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा कल मेट्रो लाइन का उद्घाटन किया गया।

मेट्रो लाइन के उद्घाटन में अभी एक महीने की देरी हुई है। प्रारंभ में, मेट्रो लाइन का उद्घाटन 25 दिसंबर को प्रधान मंत्री मोदी और सीएम आदित्यनाथ द्वारा संयुक्त रूप से किया जाना था। लेकिन कुछ मुद्दों के कारण यह योजना सफल नहीं हो सकी।

23.9 किलोमीटर लंबी सौर ऊर्जा से चलने वाली मेट्रो परियोजना नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन का स्वतंत्र प्रयास है। यह मेट्रो परियोजना नोएडा के अंदरूनी हिस्सों और ग्रेटर नोएडा क्षेत्र को जोड़ती है। इसका उद्देश्य प्रतिदिन आने वाले यात्रियों को राहत प्रदान करना है।

:
:
: