Headline • पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी गिरफ्तार • 90 बीघे जमीन के लिए चली अंधाधुंध गोलियां, बिछ गई लाशें• धौनी के माता-पिता भी चाहते है कि वो अब क्रिकेट से संन्यास ले• चंद्रयान-2 की आयी डेट; 22 जुलाई को होगा लॅान्च • कुलभूषण जाधव केस : 1 रुपये वाले साल्वे ने पाकिस्तान के 20 करोडं रुपये वाले वकील को दी मात • कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष , किसी भी नाम को लेकर सहमति नहीं• पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर


 

रुड़की के खानपुर से भाजपा विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन को विवादों में रहने की आदत सी हो गयी है। चैम्पियन की दबंगई एक बार फिर सामने आई है। भाजपा के पूर्व महामंत्री मनोज त्यागी ने चैम्पियन और उनके सैंकड़ो समर्थकों पर मामूली कहासुनी को लेकर मारपीट फायरिंग और अपहरण का गंभीर आरोप लगाया है। ईंट भटटा व्यवसाई और भाजपा के पूर्व महामंत्री मनोज त्यागी ने अपने समर्थकों के साथ सिविल लाइन कोतवाली पहुंचकर चैम्पियन के खिलाफ रिपाेेर्ट दर्ज करवाई है। उधर पूरा मामला भाजपा हाईकमान तक पहुंच चुका है।

वहीं दूसरी ओर चैम्पियन के सरकारी गनर ने भी कोतवाली पहुंचकर मनोज त्यागी के खिलाफ मारपीट गाली गलौच और जान से मारने की धमकी के मामले में पुलिस को रिपाेेर्ट की है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है। वहीं लोकसभा के चुनावी मतदान से ठीक एक दिन पहले चैम्पियन ने भाजपा नेताओं के सामने मुश्किल खड़ी कर दी है।

 

 

बाराबंकी में बीजेपी की लेडी सिंघम सांसद प्रियंका सिंह रावत का टिकट कटने से आक्रोशित उनके हज़ारो समर्थको का गुस्सा शांत होने का नाम नही ले रहा। वही प्रियंका नही तो वोट नही" के नारे के साथ उनके हज़ारो समर्थको ने रैली निकाल कर एक बार फिर बीजेपी आलाकमान के फैसले पर नाराजगी जताई। वही उनके समर्थको ने प्रियंका रावत को प्रत्याशी बनाने की मांग को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन पर भी बैठ गए।

इस मौके पर सांसद प्रियंका सिंह रावत ने भी रामनगर से बीजेपी विधायक शरद अवस्थी और बीजेपी जिलाध्यक्ष अवधेश श्रीवास्तव पर करारा हमला बोलते हुए दोनों पर सरकारी योजनाओ में कमीशनखोरी करने के साथ ही, दलाली, गोकशी और जमीनों पर अवैध कब्जों में जुटे होने का आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी की छवि खराब होती देख जब मैंने इनके गोरखधंधों का विरोध किया तो दोनों ने मेरे खिलाफ साजिश रच कर मेरा टिकट कटवा दिया।

 

सुल्तानपुर लोकसभा सीट से भाजपा से टिकट मिलने के बाद से केंद्रीय मंत्री मेनका गाँधी आज 6 दिनों से सुल्तानपुर में चुनाव प्रचार में लगी हैं। जनता को अपनी और करने के लिए अपनी चुनावी सभा मे राहुल प्रियंका,और बसपा सुप्रीमो को आड़े हाथ लिया। उन्होंने मीडिया के सवाल पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि राहुल गांधी तो चुनाव ही नही जीत रहे हैं, तो वो प्रधानमंत्री कहाँ से बनेंगे।

केंद्रीय मंत्री के इस बयान से जिले में हलचल मच गई है। कांग्रेस ने मेनका के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कांग्रेस के जिला अध्यक्ष कृष्ण कुमार ने मेनका के इस बयान को बौखलाहट का प्रतीक बताया और कहा कि मेनका कौन होती हैं फैसला करने वाली फैसला तो जनता जनार्दन करेगी। जनता तो राहुल गांधी को अपना प्रतिनिधि मानने को तैयार है। लोकतंत्र में जनता फैसला करती है। मेनका का इस प्रकार का बयान हतासा और निराशा का प्रतीक है।

 

 

उत्तराखंड की पांचों सीटों पर लोकसभा के चुनावो का फैसला आने वाले गुुुुरूवार को होगा। जहा मंगलवार की शाम से चुनाव प्रचार समाप्त हो चुुकाा हैं। अब तैयारी मतदान की है। जिसकों लेकर ना केवल चुनाव आयोग बल्कि राजनैतिक दल भी पूरी तरह से तैयार दिख रहें हैं। राज्य की सभी पांचों सीटों पौडी गढवाल ,टिहरी ,हरिद्वार ,अल्मोडा और नैनीताल पर पहले चरण में आगामी 11 अप्रैल को मतदान होगा। सभी सीटों पर भाजपा और कांग्रेस के बीच ही मुख्य मुकाबले की संभावना है हालाकि हरिद्वार व नैनीताल सीटों पर बसपा मुकाबले का तीसरा कोण बनने की कोशिश कर रही है।

इस चुनाव में प्रदेश के 78 लाख 56 हजार 268 मतदाता पांच सीटों पर 52 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे। निर्वाचन आयोग ने सत्रहवी लोकसभा के लिए प्रदेश में 11 अप्रैल को होने वाले मतदान की पूरी तैयारी कर ली है। राज्य में प्रचार का शोर थम गया है। ऐसे में निर्वान आयोग ने प्रदेश की पांचों सीटों पर 1 लाख 12 हजार 380 सरकारी कर्मचारी , पुलिस, सुरक्षाबल और होमगार्डस तैनात किए गए हैं। प्रदेश के 11229 मतदान केन्द्रों के लिए 1766 पोलिंग पार्टियां रवाना हो चुकी है। शेष 9463 मतदान केन्द्रों के लिए बुधवार को भी पोलिंग पार्टियां रवाना हुई है प्रदेश की नेपाल से 10 जगहों पर लगी अंतराष्ट्रीय और उत्तरप्रदेश व हिमाचल से 85 जगहों पर लगी अंतरराज्यीय सीमा को सील कर दिया गया है। पुलिस और अर्धसैनिक बल इन सीमाओं पर जांच अभियान चला रहे हैं। वही दो हैलीकॉप्टर भी वैकल्पिक व्यावस्था के तौर पर रखे गए हैं।

 

लोकसभा चुनाव को लेकर पूर्वी यूपी की कमान जब से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाधी को सौंपी गई है। तब से वह लगातार रैलियों और रोड शो के जरिए कांग्रेस में जान फूंकने में जुटी हुई हैं। आज फतेहपुर में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने प्रत्याशी के पक्ष में वोट मांगने के लिए औंग कस्बे में महिला संवाद के जरिए अपने अभियान की शुरुआत की।

प्रियंका ने औंग के एक गेस्ट हाऊस में महिलाओं से मुलाकत करते हुए कांग्रेस से जुड़ने की अपील की वही प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि सरकार लोकतंत्र को खत्म करना चाहती है। मोदी सरकार चंद उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का काम कर रही है। यूपी में किसान आवारा पशुओं की समस्या से जूझ रहा है। पांच साल पहले मोदी सरकार ने जो भी वादे किए कोई भी पूरा नहीं किया। प्रियंका गाधी ने कहा कि अगर केंद्र में हमारी सरकार आएगी तो हम हर किसान को न्यूनतम आय योजना के तहत साल में 72 हजार रुपये दने का काम करेंगे।

:
:
: