Headline • इसरो ने रचा इतिहास, मून मिशन चंद्रयान-2 लॅान्च• हिमा दास ने 20 दिन में 5वां गोल्ड जीता, जाबिर ने भी लगायी सुनहरी दौड़• अमेरिका में फिर हुई इमरान खान की फजीयत, भाषण के दौरान इमरान का विरोध • राहुल गाँधी के इस्तीफे के बाद पुणे के इंजीनियर की नजर कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर • यूपी - गरीब छात्रों को नए मेडिकल कालेजों में भी मिलेगा मौका• कर्नाटक : सरकार बचाने के लिए ज्योतिषियों और टोटकों की शरण में JDS नेता • पीसीबी पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता इंजमाम पर करता रहा पैसों की बारिश, पर नहीं सुधरी टीम की हालत• अमेरिका ने हाफिज की पिछली गिरफ्तारियों को बताया 'दिखावा', कहा उसकी आतंकी गतिविधियों पर कोई फर्क नहीं पड़ा• CM कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने सिद्धू का इस्‍तीफा मंजूर किया• "कांग्रेस को चाहिए ' गांधी ' अध्यक्ष, वर्ना टूट जाएगी पार्टी"• यूपी बोर्ड के छात्रों को मिलेगा धीरूभाई अंबानी स्कॅालरशिप पाने का मौका • छपरा में मवेशी चोरी के आरोप में 3 लोगों की पिट-पिटकर हत्या • ट्रम्प का दावा - अमेरिकी युद्धपोत ने मार गिराया है होरमुज की खाड़ी में ईरानी ड्रोन• कर्नाटक : बीजेपी विधायकों के लिए सदन में ब्रेकफास्ट लेकर पहुंचे कर्नाटक के डेप्युटी सीएम• इमरान खान के अमेरिका दौरे से पहले पाक को झटका, नहीं मिलेगी अमेरिकी सहायता• पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी गिरफ्तार • 90 बीघे जमीन के लिए चली अंधाधुंध गोलियां, बिछ गई लाशें• धौनी के माता-पिता भी चाहते है कि वो अब क्रिकेट से संन्यास ले• चंद्रयान-2 की आयी डेट; 22 जुलाई को होगा लॅान्च • कुलभूषण जाधव केस : 1 रुपये वाले साल्वे ने पाकिस्तान के 20 करोडं रुपये वाले वकील को दी मात • कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष , किसी भी नाम को लेकर सहमति नहीं• पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी


शाहजहांपुर. यूपी के शाहजहांपुर में पोल्ट्री फार्म मालिक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है और शव को कब्जे में लेकर जांच में जुट गई है। यह घटना थाना कांठ मुरैना की है। बताया जा रहा है कि अज्ञात बदमाशों ने पोल्ट्री फार्म मालिक की गोली मारकर हत्या की है। खबर लिखे जाने तक ज्यादा जानकारी नहीं मिल सकी है। विस्तृत खबर की प्रतीक्षा करें। 

 

फर्रूखाबाद : बेसिक शिक्षा की देश में सबसे बड़ी संस्था उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद की पुस्तकों पर एक बार फिर अंगुली उठी है । कक्षा 6 में  पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई की गलत जन्मतिथि पढ़ाई जा रही थी तो अब गोस्वामी तुलसीदास का जन्मस्थान भी दो जगहों पर होना बताया जा रहा है। कक्षा पांच की किताब कलरव में तुलसीदास का जन्मस्थल बांदा का राजापुर गांव तो कक्षा सात की पाठ्य पुस्तक मंजरी में जनपद कासगंज का सोरों अंकित किया गया है। 

-बेसिक शिक्षा परिषद की हिंदी  की कक्षा पांच की पाठ्य पुस्तक कलरव के पेज नंबर 80 पर पाठ संख्या 14 भक्ति-नीति माधुरी में तुलसीदास का जन्म 1532 में बांदा जिले के गांव राजापुर में होना दर्शाया गया है।मृत्यु 1632 में दिखाई गई।

-वहीं कक्षा सात की हिंदी  पाठ्य पुस्तक मंजरी में पेज नंबर 39 में उनकी रचना के नीचे जीवन परिचय भी दिया गया है। जिसमें गोस्वामी तुलसीदास (1511-1623) जन्मस्थान सोरों कासगंज (एटा) अंकित है। जन्मतिथि को लेकर भी भ्रम की स्थिति है। जिले के कई स्थानों पर एक ही परिसर में प्राथमिक व जूनियर स्कूल हैं। इन स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को  तुलसीदास के जन्मस्थान व जन्म तिथि को की अलग- अलग जानकारी पढाई जा रही है ।

 क्या बोले प्रधानाध्यापक

-प्रधानाध्यापक नानक चंद्र ने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद् की पुस्तकों में एक जैसी जानकारी होनी चाहिए। इस बारे में बेसिक शिक्षा अधिकारी को अवगत कराया जाएगा। 

 क्या बोले बेसिक शिक्षा अधिकारी

-बेसिक शिक्षा अधिकारी राम सिंह अपने स्तर से कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है. उन्होंने बताया कि इस बारे में बेसिक शिक्षा निदेशक को अवगत कराया जाएगा और उनके निर्देश पर ही कोई कदम उठाया जाएगा। 

क्या बोले कवि 

देश के जाने- माने कवि और मानस मर्मज्ञ डा. शिव ओम अम्बर ने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद् की इन पुस्तकों के संपादक मंडल के विद्वानों ने गंभीरता से अपने दायित्व का निर्वाह नहीं किया। उन्हें गोस्वामी तुलसी दास की जन्म स्थली के बारे में अलग- अलग जानकारी देने के लिए क्षमा याचना करनी चाहिए और सरकार को ऐसे संपादकों को ब्लैक लिस्टेड करना चाहिए। इन संपादकों ने अपने कार्य को ईमानदारी से नहीं किया इसलिए वे आगे से इस जिम्मेदारी को निभाने के पात्र नहीं हैं।

-उन्होंने बताया कि महान उपन्यासकार अमृत लाल नगर ने तुलसी दास के जीवन पर आधारित पुस्तक मानस का हंस में लिखा है कि तुलसी दास का जन्म बांदा के राजा का राम पुर में हुआ और जन्म के बाद ही संत नरहरिदास जी उन्हें सूकर क्षेत्र ले गए जहाँ उनकी प्राम्भिक शिक्षा हुई. अधिकांश विद्वान तुलसी दास का जन्म स्थान बांदा के राजा का रामपुर में ही मानते हैं। 

 

देवबन्दः गांव रणखंडी में गुरुवार सुबह ग्रामीणों ने क्षेत्रिय विधायक कुंवर बृजेश सिंह का पुतला बनाकर जूतों की माला पहनाकर आग के हवाले किया।

ग्रामीणों का कहना है कि विधायक कुंवर बृजेश के यहां पूजा में शामिल होने के लिए गये थे, वहां ग्रामीणों को नहीं बैठाया गया। जब ग्रामीण खुद ही चादर बिछाकर बैठ गए तो उनके साथ क्षेत्रीय विधायक ने अपशब्द कहे। और वहां से चले जाने के लिए कहा। 

ग्रामीण अपने गांव की समस्या भी लेकर गये थे। मगर विधायक ने उनकी समस्या नहीं सुनी। जिसके चलते ग्रामीणों में विधायक के प्रति रोष व्याप्त है।

क्षेत्रीय विधायक का पुतला पहली बार नहीं फूंका गया इससे पहले भी गांव जखवाला में क्षेत्रीय विधायक की कार्यशैली से नाखुश होने के कारण ग्रामीणों ने पुतला फूंका था।

बीजेपी जहां 2019 के चुनाव की तैयारी के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही है, वहीं भाजपा विधायक पार्टी की मेहनत पर पानी फेरने पर लगे हुए हैं। जनपद सहारनपुर में बीजेपी को 2019 में भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है क्योंकि विधायक के व्यवहार से क्षेत्रीय लोग खुश नहीं है।

बरेली . यूपी के बरेली में एक दलित युवक को प्यार करना भारी पड़ गया। जब वह अपनी प्रेमिका से शादी करने जा रहा था तो गांव वालों ने उसे पकड़ लिया और फिर दीवार से बांधकर बेरहमी से पीटा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवक को बचाया और इसके अस्पताल में उसे भर्ती कराया। जहां उसका इलाज चल रहा है। वहीं युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।  

-जानकारी के मुताबिक, यह मामला बरेली के मीरगंज का है। 

-यहां युवक को तालिबानी सजा का वीडियो शोसल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है।

-वीडियो में देखा जा सकता है कि गांव वाले एक युवक को दीवार से बांधा हुआ और फिर उस पर लाठी-डंडे बरसा रहे है। 

-युवक ग्रामीणों से रहम की भीख मांगता है लेकिन किसी को भी उस पर दया नहीं आती।

-इसी बीच किसी ने 100 नंबर पर फोन करके पुलिस को मामले की सुचना दे दी।

-जिसके बाद समय रहते पुलिस मौके पर पहुंच गई जिस वजह से युवक की जान बच सकी।

-युवक को पुलिस ने जिला अस्पताल में भर्ती करवाया है। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। युवक की प्रेमिका भी अस्पताल में उसके साथ मौजूद है।

दोनों भागकर करना चाहते थे शादी 

-प्रेमिका का कहना है कि वो दोनों एक दूसरे से बेपनाह मोहब्बत करते है और एक दूसरे के बिना नहीं रह सकते। बीती रात दोनों भागकर शादी करना चाहते थे लेकिन उससे पहले ही ग्रामीणों ने दोनों को एक साथ देख लिया। जिसके बाद दोनों को पहले पीटा और बाद में युवक को दीवार से बांधकर तालिबानी सजा दी गई। 

 

क्या कहा पीड़ित की मां ने

 -प्रेमी की मां का कहना है कि वो इस शादी के लिए राजी है लेकिन लड़की के घर वाले शादी नहीं करना चाहते है।

-उन्होंने बताया की हम लोग जाटव है दलित समाज से है जबकि लड़की मौर्या बिरादरी की है। जिस वजह से लड़की पक्ष शादी का विरोध कर रहा है।

 

क्या बोले एसपी सिटी 

-वहीं इस मामले में एसपी सिटी अभिनंदन सिंह का कहना है कि इस मामले अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली है। परिजनों की तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की जाएगी . 

शामलीः यहां गुरुवार सुबह दो गौवंशों की मौत के बाद बजरंग दल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। कार्यकर्ताओं ने दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर रोड जाम किया।

हंगामे की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों गौवंशों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। 

मामला शामली के आदर्श मंडी थाना क्षेत्र के माजरा रोड का है, जहां गुरुवार सुबह के समय बीच सड़क में 2 गौवंश के शव पड़े दिखाई दिए।

शवों को देख लोगों की भीड़ जुटती गई। सूचना पर बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के सैकड़ों कार्यकर्ता पहुंच गए और उन्होंने कई बार पशु चिकित्सा अधिकारी को फोन कर मौके पर बुलाने की बात कही, लेकिन घंटों तक भी पशु चिकित्सा अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि इन दोनों गौवंश को जहर देकर मारा गया है।

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने गौवंशों की मौत को लेकर जमकर हंगामा प्रदर्शन करते हुए रोड जाम कर दिया।

सूचना पर घटनास्थल पर पहुंची खान आदर्श मंडी पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को किसी तरह समझा बुझाकर शांत किया। जिसके बाद सड़क पर पड़े दोनों गोवंश के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और इस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

 

:
:
: