Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए


कन्नौज. यूपी के कन्नौज जिले में घर से स्कूल जा रही छात्रा का युवक ने अपहरण कर रेप का मामला सामने आया है। आरोप है कि आरोपी ने छात्रा का अपहरण किया और खेत में जाकर उसके साथ रेप किया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। पुलिस ने छात्रा के परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

-जानकारी के मुताबिक, यह घटना थाना इंदरगढ़ क्षेत्र के खनियापुर गांव की है।

-यहां रहने वाली 13 साल की किशोरी इंटर कालेज की छात्रा है। सुबह 8 बजे छात्रा अपने स्कूल जा रही थी।

-खनियापुर-उटकपुरा गांव के बीच गांव के मोनू ने छात्रा का अपहरण कर लिया और मुंह बंद कर पास में बाजरा के खेत में उठा ले गया।

-वहां पर मोनू ने छात्रा से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।इसके बाद छात्रा बेहोश हो गई। यह देख आरोपी फरार हो गया।

-दोपहर करीब एक बजे छात्रा को होश आया और वह अपने घर पहुंची। छात्रा ने जानकारी परिजनों को दी।

पीड़ित छात्रा के पिता ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। छात्रा को इस घटना से गहरा सदमा भी लगा है। 

-पुलिस ने बताया कि मुकदमा दर्ज हो गया और जांच शुरू कर दी गई। छात्रा को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया गया। आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई और जल्द ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। 

फर्रुखाबाद : जब राजधानी लखनऊ एक सिपाही की करतूत से दहल रही  थी, उसी दरम्यान फर्रुखाबाद में एक बेलगाम सिपाही ने अपने ही भाई पर चाकुओं से हमला कर सनसनी मचा दी। भागने का कोई रास्ता न मिलने पर सिपाही ने खुद कमरे में बंद होकर गांव में मर्डर होने की सूचना पुलिस को दी। लेकिन पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्रा की तत्परता काम आई और सिपाही की मंशा पूरी नहीं हो सकी। गंभीर हालत में लोहिया अस्पताल पहुंचे सिपाही के भाई को होश आ गया और उसे बचा लिया गया। फिलहाल, हमलावर सिपाही को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी सिपाही कानपुर में ट्रैफिक पुलिस में तैनात है। 

-जानकारी के मुताबिक, थाना क्षेत्र के मुस्लिम बहुल गांव भडोसा में कानपुर में तैनात ट्रैफिक पुलिस के सिपाही वकील अहमद ने अपने ही सगे भाई शकील पर चाकुओं से जानलेवा  हमला कर दिया और स्थिति बिगड़ने पर खुद कमरे में बंद होकर गांव में मर्डर होने की सूचना पुलिस को दी। 

-घटना की सूचना के बाद पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र पूरी तरह से एलर्ट थे।

-उन्होंने मौके पर पहुंचकर जांच और पूछताछ से पहले बेसुध सिपाही के भाई शकील को मारुती वैन से लोहिया अस्पताल भिजवाया।

क्या बोले एसपी 

-एसपी संतोष कुमार मिश्र ने कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता शकील को अस्पताल पहुंचकर उसका इलाज शुरू कराने की थी. हमने ऐसा किया और शकील जिसे लोग मृत समझ रहे थे उसे बचा पाने में कामयाब हुए. ऐसी घटनाओं में हमें आगे भी पहले घायल को उपचार के लिए भेजने को प्राथमिकता देनी चाहिए। 

 

जमीन को लेकर चल रहा है विवाद 

-बताया जा रहा है कि तीन भाइयों में सबसे छोटे ट्रैफिक पुलिस के सिपाही वकील का भाई शकील से जमीन का विवाद चल रहा है।

-आरोप है कि शनिवार शाम वकील कार से चार-पांच साथियों को लेकर भाई शकील के घर पहुंचा और चाकू मार दिया। इस बीच शकील पर डंडे भी बरसाए। 

-शकील के चीखने पर जुटे आसपास के लोगों ने वकील को घेरकर पीटना शुरू कर दिया। उसके साथी कार से भाग निकले

-वकील ने भी ग्रामीणों की गिरफ्त से निकलकर एक और घर में पनाह लेने की कोशिश की। पीछा करते शकील के बेटे वहां पहुंच गए और पुलिस को सूचना दी।

-घटना की सूचना सिपाही के हाथों भाई की हत्या के रूप में प्रचारित होने से एसपी संतोष मिश्रा कुछ देरी में ही गांव पहुंच गए और आरोपी सिपाही को गिरफ्तार कर लिया. 

 

 

लखनऊ.  विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर पति की हत्या की घटना की सीबीआई जांच की मांग की है। उन्होंने विवेक तिवारी की हत्या के दोषियों को कड़ी सजा दिलाने के साथ ही एक करोड़ रुपए का मुआवजा और यूपी पुलिस में नौकरी की भी मांग की है। 

कल्पना ने कहा कि मेरे दो छोटे छोटे बच्चे हैं। उनके सिर से पिताजी का साया उठ गया है। अब वे किस तरह बच्चों की परवरिश करेंगी। 

उन्होंने घटना का जिक्र करते हुए कहा कि विवेक ने फोन पर बताया था कि वो सना को छोड़ने के बाद घर पहुंचेंगे। मैंने बाद में फोन किया तो एक आदमी ने उठाया जिसने कहा कि एक्सीडेंट हो गया है, लोहिया अस्पताल पहुंचें आप।

कल्पना ने कहा 'मैं लोहिया अस्पताल गई तो मुझे गोली की बात नहीं बताई गई, कहा गया कि छोटा सा एक्सीडेंट था। बाद में डॉक्टर ने कहा कि उनके सिर पर चोट लगी थी जिसके बाद ब्लीडिंग बहुत हुई और उन्हें बचाया नहीं जा सका।'

सीएम को लिखे पत्र में कल्पना ने कहा कि उन्होंने कहा कि परिवार में विवेक ही जीविका चलाने के लिए कमाते थे। बच्चों की परवरिश के लिए सरकार को उन्हें पुलिस विभाग में नौकरी देनी चाहिए। 

 

 

सहारनपुर : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को सहारनपुर के दौरे पर आएंगे। सीएम के कार्यक्रम को लेकर पुलिस और प्रशासन की ओर से पूरी तैयारियां कर ली है। सीएम इस दौरे के दौरान बिजनौर, सहारनपुर, मुजफरनगर और कैराना लोकसभा सीटों पर वर्ष 2019 के चुनाव को लेकर समीक्षा करेंगे।

-जानकारी के मुताबिक, सीएम 10.30 बजे सरसावां हवाई अड्डा पहुंचेंगे। यहां से होते हुए अंबाला रोड़ PNT शेंटर अपने कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे।

-करीब 11:00 बजे सीएम योगी का कार्यक्रम शुरू होगा। पीएनटी सेंटर के कार्यक्रम के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ जूरी रिशोर्ट में किसानों से मुलाकात करेंगे। 

-वहीँ दूसरी तरफ 2019 को देखते हुए कार्यकर्ताओं और संगठन के लोगो की नब्ज भी टटोलेंगे और उनसे रूबरू होंगे।

-ऐसे में देखना ये होगा की 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले योगी की ये पाठशाला बीजेपी कार्यकर्ताओं को कितना चुनावी ज्ञान देती है।

 

 

मुरादाबाद-गलशहीद थाना क्षेत्र के चड्ढा रोड पर शराब पीकर हंगामा कर रहे पार्षद के भतीजे को रोकना महंगा पड़ गया। शराब पीने से रोकने पर पार्षद के भतीजे ने सिपाही की पिटाई कर दी जिसमे सिपाही की वर्दी फट गई। पार्षद और भाजपा नेताओं ने भतीजे को छुड़ाने के लिए रोडवेज चौकी पर जमकर हंगामा किया। पार्षद के भतीजे को धारा 151 में चालान कर जेल भेज दिया।

गुरुवार रात करीब बारह बजे कोतवाली के खुशहाल नगर निवासी प्रतीक कात्याल रोडवेज बस स्टैंड के पास चड्ढा रोड पर खड़े ठेले वालों से अभद्रता कर रहा था। जिसकी सूचना पुलिस को दी गयी।

लैपर्ड पर तैनात सिपाही प्रद्युम्न शर्मा होमगार्ड के साथ मौके पर पहुंचा। उसने प्रतीक को रोकने की कोशिश की, लेकिन ठेले वालों को छोड़कर प्रतीक ने सिपाही से अभद्रता करनी शुरू कर दी। आरोप है कि प्रतीक सिपाही के साथ मारपीट करने लगा।

मारपीट में सिपाही की वर्दी फट गई। तत्काल ही मामले की जानकारी मिलने पर चौकी पर तैनात पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। पुलिस प्रतीक को हिरासत में लेकर थाने ले गई। प्रतीक के रिश्ते का चाचा देश रतन कात्याल भी मौके पर पहुंचा।

देश रतन वार्ड 60 से भाजपा पार्षद हैं। पुलिस जब प्रतीक कत्याल का मेडिकल कराने के लिए ले जाने लगी तो पार्षद ने चौकी में घुसकर भतीजे को मेडिकल करने जाने से रोकने की कोशिश की लेकिन जैसे ही सिपाही प्रद्युम्न शर्मा प्रतीक को बाहर लेकर आया एक बार फिर सिपाही से धक्का मुक्की करने लगा।

सिपाही प्रद्युम्न शर्मा ने बताया कि एक बार नाले पर भी यह आपस मे शराब पीकर लड़ रहे थे तब मैंने समझा कर घर जाने के लिए कहा लेकिन थोड़ी देर बाद ठेले वाले शिकायत लेकर आये जब में दुबारा गया तो पहले इसने मेरी ही वीडियो बनाने लगा बाद में मेरी वर्दी के बटन तोड़ दिए और नेम प्लेट तक तोड़ दी जिसको लेकर में चौकी आ गया अब इसका मेडिकल करा कर कार्यवाही की जाएगी।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: