Headline • गौतम गंम्भीर ने साझा किए इमोशनल मैसेज • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी  रांची  में करेगें योग • भारत को आतंक का नया ठिकाना बनाने की फिराख में है ISIS के आतंकी• अमेरिका के इस कदम से, कामकाजी भारतीयों को होगी परेशानी• चुनाव के बाद तेजस्वी कहाँ गायब हो गये है।• 14 साल बाद आया अय़ोध्या आतंकियों पर अदालत का फैसला • फिल्म ‘आर्टिकल 15’ विवादों में घिरती नजर आ रही है • अमरीका और ईरान का खाड़ी में तनाव गहराया • 'एक देश एक चुनाव' से विपक्ष क्यों नाराज• बिहार में बच्चों के मरने का कारण सरकार लिची को क्यों बता रही • बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बने जे.पी. नड्डा • फिल्म आर्टिकल 15 को लेकर सुर्खियों में छाए रहे, आयुष्मान खुराना • लगातार दो शतक जड़ के शाकिब ने बांग्लादेश के लिए रचा इतिहास • एक बार फिर कथित लव-जिहाद का ममला सामने आया जाने पूरी खबर• बिहार में लू के कारण 246 मौतें, लगी धारा 144 • बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे को क्यो किडनैप करना चाहते थे शोएब अख्तर• सानिया मिर्जां के साथ पार्टी करना शोएब मलिक को पड़ा भारी।• केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन हुए परिजनों के गुस्से का शिकार • 17वी लोकसभा में प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष पर बोले • नाना पाटेकर को क्लिन चिट मिलने पर तनुश्री दत्ता ने कहा• बीजेपी, टीएमसी के बाद अब बंगाल में कांग्रेस का नाम भी आया राजनीतिक हिंसा में• आगामी भारत और पाकिस्तान के मैच में कैसा रहेगा, मैनचेस्टर में मौसम का मिजाज• मांगो को मानने के लिए ममता सरकार को 48 घंटे का डॉक्टरों ने दिया अल्टिमेटम• इतनी फिल्मे करने के बाद भी क्यों सलमान खान को लगता है समीक्षको से डर !• भारत और इंग्लैड के बीच होगा फाइनल मैच: गूगल सीईओ सुन्दर पिचाई


बागपतः अपने इस दीवाने को बचा लीजिये योगी जी...नहीं तो यह आपके दर्शन की आस में तपस्या करते करते अपने प्राण त्याग देगा। इस शख्स ने पिछले पांच दिनों से अन्न नहीं ग्रहण नहीं किया है। पिछले 21 दिनों से आपसे मुलाक़ात की उम्मीद लिए खड़ी तपस्या कर रहा है। 

यह योगी को अपना ईस्ट देवता मान चुका है। उसका कहना है कि जिस तरह से प्राचीन काल में भक्तों की प्रार्थना और तपस्या से खुश होकर भगवान उन्हें दर्शन देते थे...उसी तरह उसके भगवान सीएम योगी भी उसकी तपस्या खत्म करवाने के लिए उसके घर पर दर्शन देंगे। 

योगी से मिलने की उम्मीद में इसने अन्न,जल,और बोलना तक त्याग दिया है।

जिस शख्स के बारे में बताया गया उसका नाम नरेंद्र है। जो पेशे से शिक्षक है। ये अब ना तो ये किसी से बोलते ना कुछ खाते हैं। बागपत जनपद के खेकड़ा तहसील क्षेत्र के सकरौंद गांव का रहने वाला है।

पिछले पांच दिनों से खड़ी तपस्या कर रहा है ...इसकी ये दीवानगी है उत्तरप्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को लेकर ...क्योंकि इसका मनाना है कि सीएम योगी इसके इष्ट देव है।

और उनका दर्शन करना चाहते हैं। वह 22 दिनों से इस तपस्या पर है। इनकी जिद है कि ये तब तक तपस्या नहीं तोड़ेंगे जबतक सीएम इनसे नहीं मिल लेते। 

नरेंद्र के पिता अपने बेटे के लिए लखनऊ गए थे। और सीएम से मुलाकात का आग्रह किया। बुजर्ग बाप का कहना है कि अगर योगी जी उसके बेटे को दर्शन देंगे तो उसके बेटे की तपस्या पूरी हो जाएगी। 

 

संबंधित समाचार

:
:
: