Headline • गोरखपुर : बाइक को टक्कर मारने के बाद जीप पलटी, 3 की दर्दनाक मौत, 5 घायल• बीजेपी के कार्यक्रम में बार-बालाओं ने किया डांस,सांसद बाबू लाल के स्वागत में लगे ठुमके• आज से शुरू होगी आयुष्मान भारत योजना,पीएम मोदी झारखंड से करेंगे शुभारंभ• आगरा में दर्दनाक सड़क हादसा, चार लोगों की मौत• बलिया: बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह की दादागिरी, डीएम के सामने डीआईओएस से की हाथापाई• आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया• विवादों के बाद सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी रिलीज को तैयार, फर्स्ट लुक जारी• कातिल सौतन! पूर्व पति की शादी को नहीं कर पाई बर्दाश्त, कराया जानलेवा हमला, महिला की मौत• अपनी ही सरकार के खिलाफ बोलीं पूर्व मेयर, कहा-समय पर लिया होता फैसला तो नहीं देखने पड़ते ये दिन• तारीख से लौट रहे दामाद को अगवा कर ससुरालियों ने की जमकर पिटाई, पुलिस ने बचाई जान


 झांसीः योगी सरकार में पुलिस किस तरह मुठभेड़ कर रही है, इसका एक प्रमाण झांसी में आया है। यहां एन्काउंटर से पहले एक पूर्व ब्लॉक प्रमुख और पुलिस के बीच बातचीत का आॅडियो वायरल हुआ है। बातचीत में थाना प्रभारी को खुद को सबसे बड़ा गुंडा बताते हुए कहते सुना जा सकता है कि भाजपा जिलाध्यक्ष और बबीना विधायक राजीव पारीछा का समझ लो। 

यह बातचीत पूर्व ब्लाॅक प्रमुख लेखराज और झांसी के मऊरानीपुर थाना प्रभारी के बीच की है।

बता दें कि झांसी के मऊरानीपुर इलाके में भय व आतंक का पर्याय बने पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें दोनों ओर से लगभग आधा घंटे तक फायरिंग हुई। इसके बाद भी पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज अपने साथियों व बेटों के साथ मौके से भागने में सफल हो गया। फायरिंग के दौरान पुलिस की गाड़ी में एक गोली जा लगी। जिससे गाड़ी का कांच क्षतिग्रस्त हो गया। पुलिस टीम लगातार पूर्व ब्लॉक प्रमुख की तलाश में दबिश दे रही है। 

अब पूरे मामले में पूर्व ब्लाॅक प्रमुख लेखराज और थाना मऊरानीपुर के प्रभारी सुमित कुमार के बीच बातचीत का आॅडियो वायरल हुआ है। 

इस बातचीत में थाना प्रभारी सुमित कुमार खुद को सबसे बड़ा गुंडा बता रहे हैं। यह आॅडियो मुठभेड़ से पहले का है, जिसमें थाना प्रभारी सुमित कुमार एन्काउंटर की पूरी जानकारी बता रहे हैं। बातचीत में पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज मदद मांगते सुना जा सकता है। दरोगा कह रहा है कि एनकाउंटर का सीजन चल रहा है। शुक्रवार को पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज से हुई पुलिस की मुठभेड़ थी।

मुठभेड़ के दौरान अपने बेटों के साथ लेखराज भाग निकला था। इस एन्काउंटर पर अब सवाल उठने लगा है कि कहीं थाना प्रभारी ने ही तो लेखराज के भागने में मदद नहीं की। 

बातचीत का कुछ अंश देखिए

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः मदद करें यार

थाना प्रभारीः मेरी मजबूरी समझिए। संजय दूबे जिलाध्यक्ष और बबीना विधायक राजेश परीछा ये दो आदमी को मैनेज करिए

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः अरे तुम किसी से कम हो क्या

थाना प्रभारीः अरे नहीं... 

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः तो तुम्हे क्या डाकखाने भेज दे क्या

थाना प्रभारीः गाली.. हम लोग तो अपराधी रहे हैं शुरु से। जिंदगी भर अपराध किए। जाने कितनी हत्याएं की अपने हाथ से। सब निपट गया मातारानी की कृपा से।

इतिहास हमारा खराब है लेकिन भविष्य अच्छा है। 

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः हमारी मदद करो

थाना प्रभारीः पिछले 14 वर्षो में भाजपा समय के पहले   कितने एंकाउटर हुए है जिले प्रदेश भर में। नहीं हुए। बसपा आई सपा आई। सिस्टम चल रहा है यार आप समझ नहीं रहे हो कुछ चीज को.. हम जो बताना चाह रहें हैं आपको। दौर है अब दौर तो दौर ही होता है न फिर तो फिर तो। झोकों अब झोकों फिर झोकों। सिस्टम ऊपर से ही यहां ऐसा है नीचे ऊपर सब एसटीएफ भी है सब टीम है यहां लगे है बस अगला नम्बर आपका है। अब क्या बताएं आपको 

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः  अच्छा अच्छा 

थाना प्रभारीः  हां। बस आपकी लोकेशन ट्रेस आउट हो रही है। 10-20-50 आदमी अपने साथ लूंगा तब भी कोई बड़ी बात नहीं है।

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः सब मार दिए जाएंगे

थाना प्रभारीः आप देखो.. समय के साथ आदमी खुद को ढाल देते हैं

थाना प्रभारीः चीजों को आप समझिए

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः -चलो भाई मदद करो, हमारे नाती है। 

थाना प्रभारीः का बताएं, उन्होंने कहां कि मैनेज करिए। 

थाना प्रभारीः आप के उपर 60 मुकदमें है। आप पर एन्काउंटर फिट बैठेगा। अब देख लीजिए, आप को बता सकते है। 

पूर्व ब्लाॅक प्रमुखः मरना थोड़े ही है। 

थाना प्रभारीः जो भी मामला है, उसे देख दिखाकर मैनेज करवा लीजिए।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: