Headline • सोशल मिडिया पर नुसरत जहां की हुई बड़ी तारीफ• 2019 के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी ऑस्ट्रेलिया• चंद्रबाबू नायडू का आलीशान बंगला बना खँडहर • पीएम मोदी के बयान पर सदन में हंगामा   • मसूद अजहर मौत के दरवाजे पर • सुनैना रोशन के ब्वॉयफ्रेंड रुहेल ने रोशन परिवार पर लगाया आरोप • माइकल क्लार्क ने बुमराह और कोहली के बारे में कहा• हफ्ते भर की देरी के बाद मानसून अब  देगा दस्तक  •  राम रहीम ने की पैरोल मांग• रणबीर कपूर और आलिया के रिश्ते पर लग सकती है मुहर • रूस अमेरिका से रिश्ते मधुर करने में जुटा • यूपी के 15 शहरों के लिए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) की चेतावनी • मायावती का अखिलेश पर बड़ा आरोप, अखिलेश के कारण हुई हार• चेन्नई की प्यास बुझाने के लिए चलाई गई स्पेशल ट्रेन• भारत की निगाह बड़ी जीत पर, अफगानिस्तान के खिलाफ विश्व कप में पहली बार भारत• बिहार में मानसून पहुंचने से लोगो ने ली राहत की सांस • एक बार फिर सदन में तीन तलाक के मुद्दे पर तीखी बहस • विश्व कप में अंतिम चार के लिए अपनी दावेदारी मजबूत करने उतरेगा भारत • संकट में कुमारस्वामी की सरकार, एचडी देवगौड़ा ने मध्यावधि चुनाव की आशंका जताई• अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंन्द मोदी का दुनिया को सन्देश। • गौतम गंम्भीर ने साझा किए इमोशनल मैसेज • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी  रांची  में करेगें योग • भारत को आतंक का नया ठिकाना बनाने की फिराख में है ISIS के आतंकी• अमेरिका के इस कदम से, कामकाजी भारतीयों को होगी परेशानी• चुनाव के बाद तेजस्वी कहाँ गायब हो गये है।

2022 के भारत के लिए हर नागरिक ले संकल्प, आजादी के दिवानों का पूरा करे सपना- मोदी

इलाहाबाद. पीएम मोदी ने इलाहबाद होईकोर्ट की 150 वीं सालगिरह पर लोगों से 2022 के लिए एक संकल्प लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि 2022 में आजादी मिले हुए 75 साल पूरे हो जाएंगे। 75 वें स्वतंत्रता दिवस के लिए हर नागरिक को संकल्प लेना चाहिए। आजादी के लिए लड़ने वाले लोगों के सपनों को पूरा करने के लिए सभी देशवासियों को कुछ करना चाहिए। जो जिस क्षेत्र में है। जिस काम से जुड़ा है। उसी में 2022 तक कुछ विशेष करने का प्रण लेना चाहिए।

 

पीएम मोदी ने और क्या कहा?

- प्रोग्राम के दौरान पीएम ने कहा कि देश के अधिकतर स्वतंत्रता सेनानी का बैकग्राउंड कोर्ट ही रहा है।

- राष्ट्रपिता का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि महात्मा गांधी ने पूरे देश में लोगों के दिलों में आजादी के लिए जज्बा पैदा कर दिया था।

- गांधी कहते थे कि अगर सरकार को कोई निर्णय लेने में दिक्कत हो रही तो अंतिम शख्स के बारे में सोचना चाहिए।

- पीएम ने बताया कि आजादी के दिवानों का सपना पूरा करने का काम देशवासियों का है।

- आजादी के 75 साल पूरे होने पर देश को एक नए मुकाम पर ले जाना है। इसके लिए हर किसी को संकल्प लेना होगा।

- पीएम ने पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राधाकृष्णण का भी जिक्र किया।

- उन्होंने कहा कि आज से 50 साल पहले राधाकृष्णण यहां आए थे। कानून को लेकर उन्होंने अहम बातें कही थी।

- पूर्व राष्ट्रपति ने कहा था कि कानून लोगों के स्वभाव के अनुरूप होना चाहिए। कानून का लक्ष्य सभी का कल्याण का होना चाहिए।

 

मन से सुनी चीफ जस्टिस की बात

- पीएम ने कहा कि चीफ जस्टिस खेहर ने दिल से बात कही है। उनकी बातों को मैंने मन से सुनी है।

- मोदी ने बताया कि चीफ जस्टिस की बातों में काफी दर्द झलका था।

- उन्होंने कहा कि पीएम बनने से पहले कहा था कि नए कानून बनान से पहले पूराने कई कानून खत्म करूंगा।

- मोदी के मुताबिक अब तक 1200 कानून खत्म कर दिए गए हैं। 

 

न्यायपालिका की भूमिका अहम

- योगी ने कहा, "कानून शासकों का भी शासक होता है। उससे ऊपर कोई नहीं है।

- न्यायपालिका की भूमिका अहम है। न्यायपालिका और कार्यपालिका के बीच शक्तियों का अलग होना जरूरी है।

-  न्याय प्रक्रिया पर विद्वानों का चिंतन हमारा मार्गदर्शन करने में सक्षम है। हमेशा से न्यायपालिका, विधायिका एक-दूसरे के पूरक रहे हैं।

- ये गौरव का विषय है कि मनीषियों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट ने हमेशा मार्गदर्शन किया है।

- माननीय न्यायपालिका ने ऐसे ऐतिहासिक फैसले लिए जिन्होंने देश की दिशा बदली।

- इलाहाबाद हाईकोर्ट में 9 लाख मामले हैं। जब कोर्ट की स्थापना हुई थी तो 6 जज थे। अब यहां 160 जज हैं।   

संबंधित समाचार

:
:
: