Headline • सोशल मिडिया पर नुसरत जहां की हुई बड़ी तारीफ• 2019 के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी ऑस्ट्रेलिया• चंद्रबाबू नायडू का आलीशान बंगला बना खँडहर • पीएम मोदी के बयान पर सदन में हंगामा   • मसूद अजहर मौत के दरवाजे पर • सुनैना रोशन के ब्वॉयफ्रेंड रुहेल ने रोशन परिवार पर लगाया आरोप • माइकल क्लार्क ने बुमराह और कोहली के बारे में कहा• हफ्ते भर की देरी के बाद मानसून अब  देगा दस्तक  •  राम रहीम ने की पैरोल मांग• रणबीर कपूर और आलिया के रिश्ते पर लग सकती है मुहर • रूस अमेरिका से रिश्ते मधुर करने में जुटा • यूपी के 15 शहरों के लिए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) की चेतावनी • मायावती का अखिलेश पर बड़ा आरोप, अखिलेश के कारण हुई हार• चेन्नई की प्यास बुझाने के लिए चलाई गई स्पेशल ट्रेन• भारत की निगाह बड़ी जीत पर, अफगानिस्तान के खिलाफ विश्व कप में पहली बार भारत• बिहार में मानसून पहुंचने से लोगो ने ली राहत की सांस • एक बार फिर सदन में तीन तलाक के मुद्दे पर तीखी बहस • विश्व कप में अंतिम चार के लिए अपनी दावेदारी मजबूत करने उतरेगा भारत • संकट में कुमारस्वामी की सरकार, एचडी देवगौड़ा ने मध्यावधि चुनाव की आशंका जताई• अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंन्द मोदी का दुनिया को सन्देश। • गौतम गंम्भीर ने साझा किए इमोशनल मैसेज • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी  रांची  में करेगें योग • भारत को आतंक का नया ठिकाना बनाने की फिराख में है ISIS के आतंकी• अमेरिका के इस कदम से, कामकाजी भारतीयों को होगी परेशानी• चुनाव के बाद तेजस्वी कहाँ गायब हो गये है।

 आदमखोर बाघ को पकड़ेगी 'चम्पाकली', ड्रोन भी नही बता सका लोकेशन

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में लगातार बाघों की दस्तक से ग्रमीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है। दरअसल टाइगर रिजर्व के महोफ रेंज से सटा हुआ गांव पिपरिया संतोष में सोमवार को खेत में गए किसान बाबूराम को बाघ ने अपना निवाला बना लिया। जिसके बाद दुधवा टाइगर रिज़र्व से दो प्रशिक्षित हथनियों को बाघ को ढूढंने के लिए पिपरिया संतोष गांव लाया गया।

इतना खुंखार है ये बाघ

-गांव पिपरिया संतोष का रहने वाले किसान बाबूराम को बाघ ने अपना निवाला बना लिया।
- बता दें कि जिस किसान को बाघ ने मार ड़ाला, उसकी उम्र महज 45 साल थी।
-सुबह लगभाग 6 बजे किसान अपने खेत की रखवाली कर रहा था उसी वक्त बाघ ने उस पर हमला कर दिया।
- बाघ उसे घसीटता हुआ गन्ने के खेत में ले गया। किसान की चीख-पुकार सुनकर जब तक लोग पहुंचते तब तक बाघ ने उसके आधे शरीर को खा लिया था।
- जिसके बाद घटना की सूचना ग्रामीणों ने वन विभाग को दी।
-टाइगर रिजर्व के डीएफओ कैलाश प्रकाश और एसडीओ डीके सिह ने फायरिंग और आगजनी करके किसान के शव को बाहर निकाला। हांलाकि बताया जा रहा हैं कि बाघ अभी भी खेत में ही मौजूद है।

जानें कौन है हीराकाली

-पीलीभीत में घुसे टाइगर की तलाश वन विभाग ने आज सुबह तड़के से ही शुरू कर दी ।
-जिसके बाद दुधवा टाइगर रिज़र्व से दो प्रशिक्षित हथनियों को टाइगर पकड़ने के लिए लाया गया।
- हथनियों के नाम हीराकाली और चम्पाकली हैं।
- वन विभाग के लोग दोनों हथनियो के साथ के टाइगर को पकड़ने के लिए गन्ने के खेत में सर्च अभियान चला रहा हैं।
-हांलाकि 3 घंटे की कॉम्बिंग के बाद भी वन विभाग टाइगर को पकड़ने में नाकाम रहा।
- मौके पर मौजूद पुलिस विभाग ड्रोन कैमेरे की मदद से टाइगर को ढूंढने में लगा हुआ है।
-

संबंधित समाचार

:
:
: