Headline • पहले वाशिंगटन अपनी स्थिति बदले, फिर होगी परमाणु वार्ता: उत्तर कोरिया• करारी हार के बाद कांग्रेस में इस्तीफों की लगी कतार• लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राहुल गांधी दे सकते हैं इस्तीफा• पीएम मोदी का लोकसभा चुनाव के शानदार प्रदर्शन पर ट्वीट साथ+सबका विकास+सबका विश्वास=विजयी भारत। • लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: अमेठी में राहुल और स्मृति के बीच कड़ी टक्कर• लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: राजनीति में गंभीर की शानदार पारी, बड़ी जीत की ओर • लोकसभा चुनाव परिणाम 2019: PM मोदी की सुनामी लहर में ढहा UPA• फ्रांस में भारतीय वायु सेना के राफेल कार्यालय पर कुछ अज्ञात लोगों द्वारा की गई तोड़फोड़ • चुनाव आयोग ने वीवीपीएटी की पर्चियों के ईवीएम से मिलान को लेकर विपक्षी दलों की मांग को किया खारिज • लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का पार्टी कार्यकर्ताओं को संदेश फर्जी एग्जिट पोल से न हों निराश• ब्राजील के बार में हमलावरों ने की अंधाधुंध फायरिंग, 11 लोगों की हुई • कांग्रेस ने नकारा एग्जिट पोल कहा इसके विपरीत होगा चुनाव परिणाम • एग्जिट पोल में एक बार फिर मोदी सरकार, चुनाव आयोग से किया आग्रह • चीन के लिए जासूसी कर रहें पूर्व सीआइए अफसर को अमेरिका ने को सुनाई 20 साल की सजा• PM पद के लिए राहुल गांधी को मिला जेडीएस प्रमुख देवगौड़ा का समर्थन• लोकसभा चुनाव 2019: पीएम मोदी और अमित शाह की पहली संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस • समलैंगिक विवाह को ताइवान ने दिया वैधानिक दर्जा • साध्‍वी प्रज्ञा पर बोले पीएम मोदी ''मैं उन्‍हें कभी माफ नही कर पाऊंगा''• ऑस्ट्रिया सरकार ने प्राथमिक स्कूलों की लड़कियों के हिजाब पर प्रतिबंध लगाने का कानून पारित किया• लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग पर बरसीं ममता बनर्जी, चुनाव आयोग को BJP का भाई बताया • राहुल का पीएम मोदी पर हमला पीएम सोचते हैं एक व्यक्ति देश चला सकता है• बंगाल में अमित शाह की रैली के दौरान हिंसा के विरोध में जंतर-मंतर पर भाजपा का प्रदर्शन• बंगाल में रोड शो से पहले मोदी-शाह के पोस्टर उतरे • मैं कभी PM के परिवार का नहीं करूंगा अपमान: राहुल गांधी• भारत को ही क्‍यों बेच रहा एफ-21 लड़ाकू विमान अमेरिका

सपा का सियासी संकट शांत, अंदरूनी कलह जारी !

समाजवादी पार्टी की अंदरूनी कलह मतभेतों से आगे निकलकर कड़वाहट तक जा पहुंची है।

मुलायम सिंह यादव ने भले ही सियासी संकट थाम लिया हो मगर नेताओं के अंदरखाने सुलह रहा लावा खुलकर सामने आ रहा है।

एटा सदर के सपा विधायक आशीष यादव ने मुलायम सिंह यादव के चचेरे भाई राम गोपाल यादव के खिलाफ जमकर आग उगली। आशीष यादव ने बकायदा प्रेस रिलीज जारी करके खुल्लम खुल्ला कहा है कि रामगोपाल यादव के लोगों के काले कारनामे पार्टी सरकार की फजीहत करा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि रामगोपाल यादव के गुर्गे भू माफिया और अवैध शराबखोरी में लगे हैं।

जिससे सपा सरकार की बदनामी हो रही है। आशीष यादव ने रामगोपाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि रामगोपाल ने एटा, इटावा, मैनपुरी,फरुखाबाद, फीरोजाबाद,आगरा,अलीगढ,कासगंज,मेरठ,गाजियाबाद और नोएडा में मनमाने अधिकारियो की पोस्टिंग कराई।

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि रामगोपाल नेताजी को गुमराम कर रहे हैं। ताकि उनके गुर्गे अवैध कार्य और कीमती जमीनों पर कब्ज़ा कर माफिया गीरी और शराब की तस्करी कर सके।

आरोप लगाते हुए उन्होंने ये भी कहा कि रामगोपाल के गुर्गो की हैसियत पिछले चार सालो में अरबों की हो गयी है। एटा सदर से पार्टी विधायक आशीष यादव ने ये भी साफ कर दिया कि उन्हें नेताजी (मुलायम सिंह) के नेतृत्व में पूरा भरोसा है।

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि वो मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव का पूरा समर्थन करते हैं। 

जहां एक ओर एटा सदर से सपा विधायक आशीष यादव दिनभर सपा महासचिव रामगोपाल यादव पर गंभीर आरोपों की बौछार करते रहे।

वहीं शाम होते होते उन्होंने अपना एक कदम और आगे बढ़कर रामगोपाल को सपा से निकालने की भी मांग कर दी। आशीष यादव का कहना है कि वो नेताजी से रामगोपाल यादव के निष्कासन की मांग करेंगे।

विधायक ने कहा कि अगर मेरी ओर से भी पार्टी को कोई नुकसान हो रहा हो तो मुझे भी पार्टी से निकालने के लिए पार्टी को पूरी छूट है।

आशीष यादव ने रामगोपाल यादव पर एक बार फिर निशाना साधते हुए कहा कि गुंडों, माफियाओं और शराब बेचने वालों को संरक्षण देने वाले लोगों को निकाल देना चाहिए।

संबंधित समाचार

:
:
: