Headline • पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड


नई दिल्लीः इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज के अंतिम मैच को भी गंवाने की दहलीज तक पहुंच चुकी भारतीय टीम को हनुमा विहारी के रुप में एक ऑलराउंडर खिलाड़ी मिल गया। 

24 साल के हनुमा को इंग्लैंड की पहली पारी में सिर्फ एक ओवर फेंकने का मौका मिला, लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने अपनी उपयोगिता साबित कर दिखाई। उन्होंने दो लगातार गेंदों पर विकेट लेकर अपना नाम रिकॉर्ड बुक में दर्ज करा लिया।

अपने डेब्यू मैच में हनुमा 35 साल में पहली बार दो लगातार गेंदों पर विकेट हासिल करने वाले पहले भारतीय गेंदबाज बन गए। इससे पहले जनवरी 1983 में बलविंदर सिंह संधू ने पाकिस्तान के खिलाफ अपने डेब्यू टेस्ट में दो गेंदों में दो विकेट चटकाए थे। तब उन्होंने हैदराबाद (सिंध) टेस्ट में मोहसिन खान और हारून रशीद को पवेलियन की राह दिखाई थी।

दूसरी तरफ हनुमा अपनी डेब्यू पारी में अर्धशतक (56 रन) भी जमा चुके हैं। इसके साथ ही अपने पहले ही टेस्ट में फिफ्टी और दो लगातार गेंदों पर विकेट हासिल करने वाले वह एकमात्र भारतीय क्रिकेटर हैं।

भारत को लंबे इंतजार के बाद इंग्लैंड की दूसरी पारी में हनुमा विहारी (37 रन देकर तीन विकेट) ने सफलता दिलाई। जिन्हें विराट कोहली ने काफी देर बाद आक्रमण पर लगाया।

विहारी ने अपने 8वें ओवर की पहली दो गेंदों पर जो रूट और एलिस्टेयर कुक को आउट किया। रूट ने तेजी से रन बनाने के प्रयास में स्लॉग स्वीप खेला, लेकिन गेंद देर से बल्ले तक पहुंची और ऊपरी किनारा लेकर डीप मिडविकेट पर खड़े हार्दिक पंड्या के पास पहुंच गई, जो चोटिल ईशांत शर्मा की जगह क्षेत्ररक्षण कर रहे थे। विहारी का यह पहला टेस्ट विकेट था।

विहारी ने अगली गेंद पर कुक को विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच कराया और इसके साथ ही रिकॉड बनाया। 

 

बरेलीः रहस्यमयी बुखार का आतंक मचा हुआ है। शहर से लेकर देहात तक हजारों लोग बुखार की चपेट में आ गए हैं। वहीं 100 से अधिक लोग काल के गाल में समा गए है, पर स्वास्थ्य विभाग 19 की मौत की बात कर रहा है। 

बुखार की दहशत के बाद स्वास्थ्य विभाग गांव में कैम्प लगाकर बीमार लोगां को दवा दे रहा है पर वही बरेली के जिला अस्पताल में बुखार के मरीजों की भीड़ जमा है। हर वार्ड में अधिकतर बुखार के मरीज ही नजर आ रहे है। 

हालत ये है कि बुखार के मरीजो की बढ़ती संख्या को देखते हुए अतिरिक्त वार्ड बनाये गए हैं तो वहीं एक एक बेड पर दो दो मरीज भर्ती है। पिछले 24 घण्टे में 11 बुखार के मरीजों की  मौत हो गई है।

जबकि पिछले 10 दिनों में 100 से अधिक लोग काल के गाल में समा गए हैं। बुखार का सबसे ज्यादा असर बरेली के देहात क्षेत्र में देखने को मिल रहा है। हजारों लोग बुखार की चपेट में आने के बाद बीमार चल रहे हैं तो वही बरेली का 350 बेड वाला जिला अस्पताल बुखार के मरीजों से भरा हुआ है। 

बरेली में बरसात के बाद हजारों लोग वायरल फीवर, टायफाइड और मलेरिया से पीड़ित हैं। जिसके चलते पिछले दस दिनों में 100 लोगों से अधिक की मौत हो चुकी है। ग्रामीण इलाकों में रहस्यमयी बुखार से ग्रामीण परेशान है और स्वस्थ्य विभाग की भी कुम्भकर्ण नींद खुली।

बरेली में पिछले 24 घण्टे में 11 लोगों की बुखार से मौत हो गई है। सीएमओ की माने तो बरेली जिले में अबतक 36 मौते हुई है पर बुखार से अभी तक 19 मौत की बात कही । पिछले दस दिनों में 19 लोगो की ही बुखार से मौत बताई जा रही है। 

 

 नई दिल्लीः इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज को गंवाने के बाद अब टीम इंडिया बची खुची साख बचाने के लिए पांचवे टेस्ट में उतरेगी। लेकिन इससे पहले ही विवाद हो गया।

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने जब कहा कि उनकी टीम पिछले 15-20 सालों में विदेशों में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम है, तो लोगों को हैरानी व्यक्त की। शास्त्री ने अपने इस बयान पर तर्क भी दिया लेकिन कई लोगों को उनका दिया तर्क गले नहीं उतरा।

एक फैन ने जब इस बारे में कुछ ऐसे आंकड़े सोशल मीडिया पर दिए तो भारतीय टीम के पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह इसे रीट्वीट करने से खुद को रोक नहीं सके। हरभजन ने इस तरह शास्त्री के बयान से असहमति जताई।

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज हारने पर विराट कोहली की टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने पुरजोर बचाव किया था। शास्त्री ने कहा था कि मौजूदा खिलाड़ियों ने वो सब हासिल किया है जो कोई अन्य पहले नहीं कर सका।

उनका दावा था कि मौजूदा टीम पिछले 15-20 साल में विदेशों में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम है। भारतीय टीम चौथे टेस्ट में 60 रन से हार गई जिससे वह पांच मैचों की सीरीज में 1-3 से पिछड़ गई। सीरीज में अभी अंतिम मैच होना बाकी है जो शुक्रवार से लंदन के ओवल मैदान पर खेला जाएगा।

हरभजन ने जो ट्वीट किया है उसके मुताबिक टीम इंडिया के एक फैन ने सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और एमएस धोनी की कप्तानी के आंकड़े दिए हैं। इन आंकड़ों में बताया गया है कि इन कप्तानों ने भी कम समय में टीम इंडिया को विदेशी पिचों पर तीन से ज्यादा टेस्ट मैच जिताए हैं। 

वाराणसीः देश में पहली बार अंडर 23 कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन वाराणसी में होने जा हो रहा है। 8 सितंबर से होने वाले इस प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए देश के विभिन्न राज्यों से कुश्ती खिलाड़ी आने शुरु हो गए हैं।

वाराणसी के चिरईगावं ब्लॉक के गौराकलां गांव में आयोजित भारत का यह पहला अंडर-23 कुश्ती प्रतियोगिता हो रहा है। 

पहली बार कुश्ती संघ की तरफ से अंडर 23 पुरुष और महिला कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन कर रही है ।   

अंडर 23 कुश्ती चैंपियनशिप को लेकर आयोजकों ने बताया कि इस प्रतियोगिता में करीब 500 से ऊपर महिला और पुरुष खिलाड़ी शामिल हो रहे हैं। प्रतियोगिता में कई अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय खिलाड़ी अपनी दावेदारी पेश कर रहे हैं। 

यह प्रतियोगिता उत्तर प्रदेश के साथ-साथ पूर्वांचल के खिलाड़ियों के लिए एक बड़ा प्लेटफार्म साबित होने वाला है।

खिलाड़ियों की माने वह इस आयोजन से काफी कुछ सीख सकते हैं। प्रतियोगिता में आने वाले खिलाड़ियों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए आयोजकों ने काफी तैयारी की है । आयोजकों द्वारा प्रतियोगिता के लिए एक पंडाल तैयार किया गया है जिसमे मैट के दो अखाड़ा तैयार किया जा रहा है तो वहीं बरसात से बचने के लिए पंडाल को वाटरप्रूफ बनाया जा रहा है।

 

मेरठः एशियाड गेम्स में अपनी मेहनत का लोहा मनवा चुके सौरभ चौधरी ने एक बार फिर गोल्ड पर निशाना लगाया है। इससे पहले भी सौरभ एशिया के 10 मीटर एयर पिस्टल में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

उसके बाद लगातार खेलते हुए दूसरा 10 मीटर एयर पिस्टल मिश्रित टीम में कांस्य पदक जीता है। एशियन गेम्स में इतनी छोटी उम्र में बड़ा करनामा करने वाले वो पहले भारतीय निशानेबाज रहे हैं। 

आईएसएसएफ चैंपियनशिप में 16 साल के सौरभ चौधरी ने निशानेबाजी के दम पर दस मीटर एयर पिस्टल के जूनियर वर्ग में स्वर्ण पदक जीतकर देश प्रदेश और अपने परिवार का नाम रोशन किया है। इससे पहले भी मेरठ के गांव कलीना के रहने वाले सौरभ ने एशियाड गेम्स में भी गोल्ड पर निशाना लगाया था।

गुरुवार को फाइनल में सौरभ ने 245.5 अंक हासिल किए, जो जूनियर स्पर्धा में वर्ल्ड रिकॉर्ड है। उधर भारत के ही अर्जुन चीमा (218.0) ने तीसरे स्थान पर रहकर कांस्य पदक जीता। 

सौरभ ने विश्व स्तरीय निशानेबाजी चैंपियनशिप के पांचवें दिन भारत के खाते में गोल्ड मेडल डाला है। इससे पहले उन्होंने 10 मीटर एयर पिस्टल मिश्रित टीम कांस्य पदक जीता था।

 इस टूर्नामेंट में भारत अब तक चार स्वर्ण, तीन रजत और चार कांस्य पदक जीत चुका है। इस टूर्नामेंट के इतिहास में भारत का यह सबसे अच्छा प्रदर्शन रहा है। उधर जूनियर निशानेबाजों के अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए सीनियर्स खिलाड़ियों के प्रति निराशा देखने को मिली है।

:
:
: