Headline • सोशल मिडिया पर नुसरत जहां की हुई बड़ी तारीफ• 2019 के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी ऑस्ट्रेलिया• चंद्रबाबू नायडू का आलीशान बंगला बना खँडहर • पीएम मोदी के बयान पर सदन में हंगामा   • मसूद अजहर मौत के दरवाजे पर • सुनैना रोशन के ब्वॉयफ्रेंड रुहेल ने रोशन परिवार पर लगाया आरोप • माइकल क्लार्क ने बुमराह और कोहली के बारे में कहा• हफ्ते भर की देरी के बाद मानसून अब  देगा दस्तक  •  राम रहीम ने की पैरोल मांग• रणबीर कपूर और आलिया के रिश्ते पर लग सकती है मुहर • रूस अमेरिका से रिश्ते मधुर करने में जुटा • यूपी के 15 शहरों के लिए राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) की चेतावनी • मायावती का अखिलेश पर बड़ा आरोप, अखिलेश के कारण हुई हार• चेन्नई की प्यास बुझाने के लिए चलाई गई स्पेशल ट्रेन• भारत की निगाह बड़ी जीत पर, अफगानिस्तान के खिलाफ विश्व कप में पहली बार भारत• बिहार में मानसून पहुंचने से लोगो ने ली राहत की सांस • एक बार फिर सदन में तीन तलाक के मुद्दे पर तीखी बहस • विश्व कप में अंतिम चार के लिए अपनी दावेदारी मजबूत करने उतरेगा भारत • संकट में कुमारस्वामी की सरकार, एचडी देवगौड़ा ने मध्यावधि चुनाव की आशंका जताई• अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंन्द मोदी का दुनिया को सन्देश। • गौतम गंम्भीर ने साझा किए इमोशनल मैसेज • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी  रांची  में करेगें योग • भारत को आतंक का नया ठिकाना बनाने की फिराख में है ISIS के आतंकी• अमेरिका के इस कदम से, कामकाजी भारतीयों को होगी परेशानी• चुनाव के बाद तेजस्वी कहाँ गायब हो गये है।


लखनऊ. पूर्व सीएम व समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी शिलान्यासों से अपनी खोई लोकप्रियता और विश्वसनीयता को बचाना चाहते है।

भाजपा सरकार की तमाम योजनाओं की घोषणाएं हवाई हैं क्योंकि अभी तक उनका काम जमीन पर कहीं दिखाई नहीं दिया है। किसान परेशान है, नौजवान बेरोजगारी से त्रस्त है, जनसामान्य महंगाई की मार झेल रहा है और महिलाएं तथा बच्चियां तक दुष्कर्म की शिकार हो रही है। 

अखिलेश ने कहा कि प्रधानमंत्री की तमाम घोषणाएं और उनका प्रायोजित भव्य स्वागत मुख्यमंत्री इसलिए करा रहे हैं क्योंकि वे सपा सरकार की योजनाओं के मुकाबले की एक भी योजना अब तक लागू नहीं कर पाए हैं। उनके भाषणों में सपा पर इसलिए हमले होते हैं क्योंकि भाजपा की नफरत और समाज को तोडऩे वाली सांप्रदायिक रीति-नीति का वही मुकाबला करने में सक्षम है।

कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सैफ अली नकवी ने कहा कि एक महीने में 6 बार प्रधानमंत्री का यूपी आना चुनावी हड़बड़ाहट और सीएम योगी की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करता है। जुमलों की बारिश फिर शुरू हो गयी और झूठ बोलने की प्रतिस्पर्धा योगी और मोदी सरकार के बीच हो रही है।

हैरत तब होती है जब स्मार्ट सिटी में यूपी का कोई शहर नहीं पुरस्कृत होता। कनार्टक में देवगिरि, पुणे, जयपुर और बनारस में स्मार्ट सिटी के नाम पर 600 मंदिर तोड़े गये जिससे लोगों की आस्था पर ठेस पहुंची है।

दरअसल इंवेस्टर्स समिट अपने सूट-बूट वाले दोस्तों को भूमि अधिग्रहण कानून के तहत मुफ्त में जमीनें देने की एक सुनियोजित साजिश है। शिलान्यास और लेकार्पण सिर्फ  चुनाव में जनता की आंखों में धूल झोंकने के लिए है।

संबंधित समाचार

:
:
: