Headline • बीएचयू में देर रात हुए बवाल के बाद हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर,स्वास्थ्य सेवा चरमराई• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, दागी नेताओं के खिलाफ कानून बनाए सरकार • संभल: बाइक लूटकर भाग रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़,एक बदमाश को लगी गोली,दो पुलिसकर्मी भी घायल• ग्रेटर नोएडा :एलएलबी के छात्र को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में भर्ती• राहुल गांधी के अमेठी दौरे का आज दूसरा दिन, कार्यकर्ताओं से करेंगे मुलाकात• 2 घंटे तक आगरा में रहेंगे सीएम योगी आदित्यनाथ,ये है पूरा कार्यक्रम• इलाहाबाद : एनसीसी कैंप में खाना खाने से 30 से ज्यादा छात्र बीमार, अस्पताल में भर्ती• मेरठ : अलग-अलग मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी समेत तीन बदमाश घायल• बीएचयू में देर रात आगजनी और तोड़फोड़,भारी पुलिस बल तैनात• राफेल पर राहुल का पीएम मोदी पर वार, कहा- 'चौकीदार ने अनिल अंबानी से चोरी करवाई'• मैनपुरी : चाचा ने नाबालिग भतीजी के साथ किया दुष्कर्म• कच्ची शराब का विरोध करना पड़ा भारी,दबंगों ने तोड़ दिया महिला का पैर• शादी के 20 साल बाद पति ने खत भेजकर पत्नी को दिया तीन तलाक• गोरखपुर: धोखाधड़ी के मामले में भाई के साथ गिरफ्तार हुए डॉ. कफील खान• '67 साल में 65 एयरपोर्ट बने, हमने चार साल में 35 बनाए'• अमेठी : दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे राहुल गांधी, की शिव की पूजा, देखें वीडियो • 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तान' से सामने आया आमिर खान का लुक • पीएम मोदी ने किया सिक्किम के पहले हवाई अड्डे का उद्घाटन• अमेठी : दौरे से पहले लगे राहुल गांधी के 'शिव भक्त' वाले पोस्टर• मुरादाबाद में महिला की गोली मारकर हत्या, 4 पर मुकदमा दर्ज• गाजियाबाद : दबंगों ने किया दलित परिवार पर हमला, आरोप- झाड़ू-पोछा और गाड़ी साफ करने का दबाव बनाते हैं सोसाइटी के कुछ लोग• बुलंदशहर : खड़े ट्रक में घुसी रोडवेज बस, दो की दर्दनाक मौत, 2 दर्जन यात्री घायल• गोरखपुर : शोहदों और गुंडों का आतंक, स्कूल पर लगा ताला• अाज से दो दिवसीय अमेठी दौरे पर रहेंगे राहुल गांधी, जानिए मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम • अस्पतालों में बच्चों की मौत पर योगी के मंत्री का शर्मनाक बयान, कहा- मां-बाप है जिम्मेदार


वाराणसी: विश्व पटल पर भारत का मान बढ़ाने वाली काशी की गोल्डन गर्ल पूनम यादव के स्‍वागत में शुक्रवार को जहां वाराणसी की जनता ने पलक बिछा लिया था, वहीं शनिवार को काशी की इस बिटिया पर कुछ दबंगों ने हमला बोल देश को शर्मसार कर दिया।

दरअसल वाराणसी के रोहनिया थानाक्षेत्र स्‍थित अपनी बुआ से मिलने उनके घर पहुंचीं वेट लिफ्टर पूनम यादव के रिश्तेदारों पर कुछ लोगों ने हमला बोल दिया। हमले में उनके साथ मौजूद परिजन घायल हो गये हैं वहीं पूनम के साथ भी हाथापाई हुई ।

पूनम ने जब इसकी शिकायत डॉयल 100 पर की तो मौके पर दबंग पूनम से हाथापाई करने में जरा भी नहीं हिचकिचाए। मामला पुराने ज़मीनी विवाद का बताया जा रहा है। 

शुक्रवार को देश का मान बढाकर काशी पहुंची गोल्डन गर्ल को वाराणसी के रोहनिया थाने में अपनी सुरक्षा की गुहार लगानी पड़ी। आस्ट्रेलिया के गोलकोस्ट में 69 किलो भार वर्ग में भारत के लिए गोल्ड मैडल जीत पूनम यादव अपने घर वाराणसी पहुंची थीं। 

जीत का जश्न मनाने पूनम यादव और उसके परिवार के परिजन पूनम की बुआ के घर पहुंचे। बुआ के घर पर जीत का जश्न मानाने के मनाने के बाद पूनम और उसके परिवार के सदस्य जैसे ही निकले वैसे ही गावं के दबंगो ने पूनम के बुआ और परिजनों को मारने लगे। परिजनों को पीटता देख पूनम ने डॉयल 100 पर पुलिस को सूचना दिया, जिसके बाद दबंगों ने पूनम से हाथापाई करने लगे। 

इस सम्बन्ध में पूनम यादव के परिजनों ने बताया की कल जब पूनम शहर आयी तो उसकी रोहनिया थानांतर्गत मुंगवार की रहने वाली बुआ मंजू यादव मिलने नहीं आ पाई थीं। पूनम आज अपनी बुआ से मिलने मुंगवार गांव पहुंची थीं। उसी समय बुआ के पड़ोसियों ने उनके ऊपर हमला बोल दिया।

किसी तरह वो खुद को बचाकर रोहनिया थाने पहुंचीं। आरोप है कि थाने से पुलिस फ़ोर्स लेकर वापस जब पूनम मु्ंगवार गाँव आयीं, तो ग्राम प्रधान ने गोलबंदी करवाकर एक बार फिर हमला करवाया। जिसमें लोगों ने पूनम के साथ हाथापाई की गयी। इस दौरान पूनम के साथ मौजूद नेशनल स्तर के पहलवान राम आसरे का भी सिर फूटा है। इसके अलावा 4 अन्य लोग भी घायल हुए हैं। 

गोल्ड मैडल जितने वाली पूनम यादव इस घटना से सहमी हुई हैं।  पूनम यादव का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि उनके साथ ऐसा क्यों हुआ लेकिन जब मै अपनी बुआ के घर से निकलीं तब कुछ लोगो ने मेरे परिजनों पर हमला कर दिया। मौके पर ऐसा लग रहा था कि मुझे जान से मारने के लिए पूरा गांव ही टूट पड़ा हो ।  जैसे तैसे मैंने अपने बुआ के छोटे बच्चो को बचाया। 

प्रशासन की माने तो दोनों पक्षों में जमीन को लेकर विवाद हुआ था, जिसे लेकर आज दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ। क्षेत्राधिकारी अंकिता सिंह ने बताया कि पूनम की बुआ ने हाल ही में एक ज़मीन का बैनामा लुलुर यादव से करवाया था। उसपर जब बिजली का कनेक्शन लिया जाने लगा तो पता चला की अभी ज़मीन का बंटवारा नहीं हुआ है, तो उसपर बिजली का कनेक्शन नहीं हो पायेगा। इसके बाद पूनम की बुआ के परिवार और ज़मीन बेचने वाले परिवार में विवाद हुआ था।

अंकिता सिंह ने बताया कि इस पूरे मामले में पूनम यादव का कोई विवाद नहीं था मात्र वह उस दौरान अपनी बुआ के घर पहुंची थीं हलाकि इस पूरे विवाद में पूनम यादव को चोट नहीं आयी  है। 

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: