Headline • कैग रिपोर्ट में फंसे अखिलेश ! 97 हजार करोड़ रुपए के सरकारी धन की बंदरबांट• किसने सबके सामने कहा-बहुत ही गंदा है आगरा शहर, यूपी सरकार से कोई प्रस्ताव ही नहीं मिला• बीमारी से हुई मौतों से परेशान ग्रामीणों ने सांसद से पूछा, अब यहां क्या करने आई है? जमकर निकाला गुस्सा• तोगड़िया का मोदी पर हमला, कहा- 2014 में मंदिर की बात करते थे अब मस्जिद से मोहब्बत करने लगे• अब ऑनलाइन मिलेंगे मोदी और योगी जैसे कुर्ते, दीनदयाल धाम ने किया कई कंपनियों से समझौता• किराए के मकान में चल रहे अस्पताल, हर महीने करोड़ों होता है खर्च लेकिन लोगों को नहीं मिल रहा लाभ• चालान काटने वालों के खुद कटे चालान, हरदोई के एसपी के फरमान से पुलिसवालों की बढ़ी परेशानी• नोएडा : PNB में लूट की कोशिश, बदमाशों ने की दो गार्डों की हत्या• अमरोहा :टायर फटने से यात्रियों से भरी बस पलटी, 5 की मौत, 40 से ज्यादा घायल• जेल से बरामद पिस्टल से नहीं मारी गई थी मुन्ना बजरंगी को गोली,फोरेंसिक जांच में हुआ खुलासा • गोरखपुर :साड़ी सेंटर में लगी आग, चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पाया काबू• अलीगढ़ : पुलिस ने मीडिया को बुलाकर किया LIVE एनकाउंटर !,परिजनों का आरोप- चार दिन पहले घर से उठाकर लाई थी पुलिस• हमीरपुर : घरों में अचानक आई दरार, प्रशासन ने खाली कराए मकान• अमेठी : लोगों से भरी नाव पलटी,8 निकाले गए,3 लापता, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी • मोहर्रम को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट,पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता को किया नजरबंद,छावनी में तब्दील हुआ कुंडा• जब अचानक बच्चों को स्कूल में पढ़ाने पहुंच गई डीएम, गंदगी देखकर टीचर्स को लगाई फटकार• पं. दीनदयाल उपाध्याय की हत्या के मामले में हो सकती है CBI जांच• ज्वैलरी शोरूम से 50 लाख के गहने लेकर फरार हुई महिलाएं, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात• गाजियाबाद की वसुंधरा कॉलोनी में नहीं रुक रही हैं चोरी की घटनाएं, लॉकर तोड़कर नगदी और लैपटॉप ले उडे़• स्वामी अग्निवेश ने दी आरएसएस प्रमुख को मॉब लिंचिंग पर खुली बहस की चुनौती• SC-ST एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 12 छात्रों के खिलाफ बीजेपी सांसद ने दर्ज कराई रिपोर्ट• लव, सेक्स एंड धोखा! दूसरे धर्म के युवक ने खुद को मराठी बताकर की शादी, न्याय के लड़की मुंबई से पहुंची मुरादाबाद• महिला के नहाते समय फोटो खींचने पर बवाल, दो पक्षों के बीच जमकर चले लाठी-डंडे, कई घायल• रानीखेत में भारत और अमेरिकी सैनिकों ने किया आतंकवादियों के खात्मे का संयुक्त अभ्यास• मायावती ने की घोषणा, छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी बसपा


जोहानिसबर्गः सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में मिली हार को साउथ अफ्रीका के खिलाड़ी पचा नहीं पा रहे हैं। तीसरे दिन बुमराह की एक गेंद पर चोट खाने के बाद भी संघर्षपूर्ण 86 रन बनाने वाले डीन एल्गर ने कहा कि मैच को चैथे दिन ही रद्द कर देना चाहिए था। 

तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीकी पारी के नौवें ओवर में गेंद एल्गर के हेलमेट पर लगी, जिसके बाद मैच अधिकारियों ने खेल को रोक दिया, हालांकि अगले दिन दोनों कप्तानों और मैच अधिकारियों के बीच विचार-विमर्श के बाद चैथे दिन फिर से खेल शुरू हुआ।

एल्गर ने कहा, ‘ मैं ऐसा सोचता हूं ( मैच को पहले ही रद्द कर दिया जाना चाहिये था। तीसरे दिन विकेट अच्छा नहीं था। बल्लेबाजों को कई बार चोट लगी। इसे जल्द ही रद्द किया जाना चाहिए था।’

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज फिल ह्यूज की नवंबर 2014 में गेंद सिर में लगने से हुई मौत की ओर इशारा करते हुए एल्गर ने कहा, ‘हमारे सामने ऐसा मामला है, जब गेंद सिर में लगी, यहां ऐसी घटना हो सकती थी जैसा कि ऑस्ट्रेलिया में हुआ। लोग टेस्ट क्रिकेट देखना चाहते हैं, लेकिन हम भी इंसान है।’

उन्होंने कहा, ‘हमें ये स्वीकार नहीं है कि हम चोटिल हों और वहां गेंद के सामने शरीर लाएं। इस स्थिति से जल्दी निपटा जा सकता था।’ एल्गर ने कहा कि उन्होंने कभी वांडरर्स में ऐसा असमान्य उछाल नहीं देखा था और अगर अंपायर इस मैच को जल्दी रद्द करने की घोषणा करते, तो मैं मैदान छोड़ने पर खुश होता।

उन्होंने कहा, ‘मैंने पहले भी कई तेज गेंदबाजों का सामना किया है और मुझे पता है कि वांडरर्स की विकेट पर उछाल होती है, लेकिन मैने कभी ऐसा अनुभव नहीं किया। 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: