Headline • हमीरपुर : घरों में अचानक आई दरार, प्रशासन ने खाली कराए मकान• अमेठी : लोगों से भरी नाव पलटी,8 निकाले गए,3 लापता, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी • मोहर्रम को लेकर पुलिस-प्रशासन अलर्ट,पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता को किया नजरबंद,छावनी में तब्दील हुआ कुंडा• जब अचानक बच्चों को स्कूल में पढ़ाने पहुंच गई डीएम, गंदगी देखकर टीचर्स को लगाई फटकार• पं. दीनदयाल उपाध्याय की हत्या के मामले में हो सकती है CBI जांच• ज्वैलरी शोरूम से 50 लाख के गहने लेकर फरार हुई महिलाएं, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात• गाजियाबाद की वसुंधरा कॉलोनी में नहीं रुक रही हैं चोरी की घटनाएं, लॉकर तोड़कर नगदी और लैपटॉप ले उडे़• स्वामी अग्निवेश ने दी आरएसएस प्रमुख को मॉब लिंचिंग पर खुली बहस की चुनौती• SC-ST एक्ट के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 12 छात्रों के खिलाफ बीजेपी सांसद ने दर्ज कराई रिपोर्ट• लव, सेक्स एंड धोखा! दूसरे धर्म के युवक ने खुद को मराठी बताकर की शादी, न्याय के लड़की मुंबई से पहुंची मुरादाबाद• महिला के नहाते समय फोटो खींचने पर बवाल, दो पक्षों के बीच जमकर चले लाठी-डंडे, कई घायल• रानीखेत में भारत और अमेरिकी सैनिकों ने किया आतंकवादियों के खात्मे का संयुक्त अभ्यास• मायावती ने की घोषणा, छत्तीसगढ़ में अजीत जोगी की पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ेगी बसपा• मैच के बाद पाक कप्तान ने कहा, हम भुवनेश्वर की गेंदों को समझ नहीं पाए• 13 वर्षीय लड़की की जघन्य हत्या के बाद बनारस के एक इलाके में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त रोष• बिग बॉसः जसलिन ने सिंगल बेड लिया तो बगल वाला बेड लेने पहुंच गए अनूप जलोटा• प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार


हल्द्वानी. बीते सोमवार को गोरापडाव मे हुई महिला पूनम पांडे की हत्या के मामले को पुलिस मुख्यालय ने भी बडी चुनौती के रूप मे लिया है, बावजूद इसके पुलिस के हाथ अब तक खाली है, जिसके चलते आईजी लॉ एण्ड आर्डर दीपम सेठ और एसएसपी एसटीएफ रिद्धिम अग्रवाल दो दिन से हल्द्वानी में ही डेरा डाले हुए है और घटना के जल्द खुलासे को लेकर देर रात तक आईजी कुमाऊं, एसएसपी सहित पुलिस टीम के साथ मामले के पल पल की अपडेट ले रहे है।

-आईजी लॉ एण्ड आर्डर दीपम सेठ का कहना है कि पुलिस टीम द्वारा अब तक करी गई जांच लोकल लोगों के शामिल होने की तरफ इशारा कर रही है, एसओजी और एसटीएफ द्वारा एक लाख से अधिक मोबाईल फोन की कॉल डिटेल खंगाली गई है। जिसके बाद सैकड़ों लोगों से अब तक पूछताछ हो चुकी है, जिसमें पुलिस को कुछ अहम सुराग हाथ लगे है।

-वहीं मृतका के घर से चोरी हुई 64 हजार नकदी, ज्वैलरी घर से मिली है, वहीं घर से गायब स्कूटी को भी पुलिस ने जंगल से बरामद कर लिया है, सबसे अहम बात ये है की मृतका की बेटी की वीडियो जो की सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। उसकी भी एसटीएफ द्वारा गहनता से जांच की जा रही है और वीडियो वायरल करने वालों से पूछताछ कर उस स्थान को भी देखा जायेगा। जहां उस वीडियो को बनाया गया, उन्होंने जल्द घटना के खुलासे का भी दावा किया, हम आपको बता दें की घटना में 2 से 3 लोगों के होने की बात सामने आ रही है।

मेरठ. यूपी के मेरठ में जुए में रुपयों को लेकर विवाद में दो संप्रदाय के लोग आपस में लड़ गए। दोनों पक्षों में जमकर खूनी संघर्ष हुआ ।जिसमें आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। इतना ही नहीं बेखौफ लोग थाने पर ही भिड़ गए। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर लाठीचार्ज कर दिया और भीड़ को दौड़ा दिया।

-दरअसल, यह घटना मेरठ के थाना देहली गेट क्षेत्र के पत्ता मोहल्ला की है।

-जहां पर कुछ दिन पहले भी इन्हीं लोगों में जुए को लेकर विवाद हुआ था। जब एक पक्ष ने दूसरे पक्ष के पिटाई कर दी थी। उसी मामले में रंजिश को लेकर आज फिर दोनों पक्ष आपस में भिड़ गए ।दोनों तरफ से लाठी डंडे चले ।दोनों की तरफ से करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए ।जिसके बाद कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। लोगों ने कार्रवाई की मांग को लेकर थाने में ही हंगामा शुरू कर दिया। जिसके बाद इस मामले में सांप्रदायिक रंग ले लिया और फिर दोनों संप्रदाय के लोग थाने पर ही भिड़ गए। कुछ देर तक पुलिस तमाशबीनों की तरह दोनों पक्षों की झड़प देखती रही। लेकिन बाद में पुलिस ने लाठीचार्ज करके भीड़ को दौड़ा दिया। थाने पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया।

-वहीं दूसरे समुदाय के लोग भी कार्रवाई की मांग को लेकर अड़े रहे।

-हालांकि बड़ा सवाल यह है कि इलाके में जुए सट्टे को लेकर आए दिन बवाल रहता है। लेकिन उसके बावजूद भी पुलिस ऐसे मामलों पर लगाम कसने को तैयार नहीं है ।

हमीरपुरः यहां के भाजपा विधायक अशोक सिंह चंदेल की हत्या की साजिश को नाकाम कर दिया गया है। एसटीएफ ने हत्या की साजिश में शामिल 50 हज़ार के इनामी शूटर चंदन सोनकर और उसके 3  साथियों को बनारस से गिरफ्तार कर लिया है।

गिरफ्तार बदमाशों से पूछताछ के बाद पुलिस ने विधायक की हत्या की सुपारी देने वाले हमीरपुर के भाजपा नेता राजीव शुक्ला के घर दबिश देकर उनके साथी अजय उर्फ हड्डी को गिरफ्तार कर लिया। भाजपा नेता राजीव शुक्ला के घर दो स्वाचालित हथियार भी बरामद किये गए। हत्या की सुपारी देने वाला भाजपा नेता राजीव शुक्ला फरार होने में कामयाब रहा है।

एक दर्जन गाड़ियों में भर कर आये पुलिस वालों ने बीजेपी नेता राजीव शुक्ता के घर पर छापा मारा। कई घंटों तक चली इस पुलिस रेड में एक स्वचालित कार्बाइन और एक अन्य स्वचालित हथियार बरामद हुआ है। पुलिस ने भाजपा नेता के साथी अजय उर्फ हड्डी दादा को एक तमंचे और कारतूस के साथ गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि अजय उर्फ हड्डी किसी संगीन वारदात को अंजाम देने वाला था। 

हमीरपुर सदर विधान सभा से भाजपा विधायक अशोक सिंह चंदेल तीसरी बार विधायक बने है। इससे पहले वो हमीरपुर, महोबा सीट से बसपा के सांसद भी रह चुके हैं। विधायक अशोक चंदेल और भाजपा नेता राजीव शुक्ला में पुरानी दुश्मनी है। इसमें राजीव शुक्ला परिवार के 5 लोगो की हत्याएं भी हो चुकी हैं। इन मामलों में अशोक चंदेल बाइज्जत बरी हो चुके है, पर दोनों में दुश्मनी अभी भी कायम है। 

इसी दुश्मनी के चलते भाजपा नेता राजीव शुक्ला ने अपने साथी अजय उर्फ हड्डी के साथ मिल कर पूर्वांचल के शूटर चंदन सोनकर को अशोक चंदेल की सुपारी दी थी। 

फर्रुखाबादः जब दूसरे शहरों में दिन में जिला आपूर्ति कार्यालय खुलता है तो यहां यह दफ्तर रात में खुलता है। पिछले तीन सालों से यूनिटों की कटिंग और आधार कार्डों के आनलाइन के नाम पर गरीब- गुरबों और विधवाओं को परेशान करने वाला जिला पूर्ति अधिकारी का दफ्तर राशन कार्डों का साफ सुथरा हिसाब नहीं बना पाया है।

ऐसे में सवाल उठता है कि ऐसा कौन सा काम है जो रात के अंधेरे में निपटाया जाता है। कलक्ट्रेट से दफ्तर के पोस्टमार्टम हाउस परिसर शिफ्ट होने के बाद पूरी तरह से आज़ाद हो चुके जिला पूर्ति अधिकारी पर किसी की नकेल नहीं है।

रात 11 बजे जिला पूर्ति अधिकारी का कार्यालय खुला मिला है। बाहर अवैध असलहों से लैस युवक पहरा दे रहे थे और अन्दर गोरख धंधा जारी था।

पोस्ट मार्टम हाउस के परिसर में चलने वाला यह फर्रुखाबाद जिला पूर्ति अधिकारी का दफ्तर है जिस पर रात में तो दूर दिन में किसी की नजर नहीं रहती। केवल यूनिट कटिंग और आधार कार्ड फीडिंग के नाम पर परेशान की जा रही महिलाएं ढूंढ़ते- ढूंढ़ते यहां आती हैं और कई दिन दौड़ कर फिर किसी क्लिक का झंझट न झेलने के लिए भगवान से प्रार्थना करती हैं।

यही दफ्तर बीती रात फिर खुला मिला है। ऐसा भी नहीं  था कि घंटे- दो घंटे का काम पिछड़ जाने पर अतिरिक्त काम करने के लिए दफ्तर खोल लिया गया हो, ऐसा भी नहीं था कि पीएम- सीएम के दौरे को लेकर कोई फाइलें सुसज्जित की जा रही हों। स्टाफ को रात के लिए रोका गया था, उससे काम भी नहीं लिया जा रहा था।

उसमें से आधा दर्जन युवा कर्मचारी अवैध असलहों से लैस होकर दफ्तर के बाहर पहरा दे रहे थे। दफ्तर से सभी से परिचित होने के बावजूद अंदर जाना खतरे से खाली नहीं था। अब देखने वाली बात यही होगी कि पिछले दिनों घोटाले की सैकड़ों फाइलों को आग के हवाले किये जाने के बाद भी चेहरा चिकना किये घूम रहे जिला पूर्ति अधिकारी पर क्या प्रशासन कोई कार्रवाई करता है या फिर यहां मनमानी करने देने के लिए आँखें घुमा लेता है।

शाहजहांपुरः प्रदेश में भले ही योगी सरकार महिलाओं पर लगातार हो रहे अपराधों पर लगाम लगाने में जुटी हो लेकिन यूपी के शाहजहांपुर में अधिकारियों से  गुहार लगाकर थक चुकी रेप पीड़ित महिला को इंसाफ के लिये धरने पर बैठना पड़ रहा है। 

यहां एक महीने पहले दबंगों ने महिला के साथ  रेप की घटना को अंजाम दिया था लेकिन पुलिस एक महीने बाद भी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी। दबंग आरोपी जबरन समझौता न करने पर पीड़िता और उसके पति को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। 

फ़िलहाल कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठी महिला से  अधिकारी आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की बात कर रहे है। फ़िलहाल एक के बाद एक मामले ने कानून व्यवस्था पर सवालिया निसान खड़े कर दिये हैं। 

मामला थाना सेहरामऊ दक्षिणी क्षेत्र के गांव का है जहा महिला का आरोप है कि डेढ़ महीने पहले गांव के दो दबंगों ने रेप की घटना को अंजाम दिया था।

जिसके बाद पुलिस ने दबंगों के खिलाफ रिपोर्ट तो दर्ज कर ली लेकिन अभी तक किसी दबंग की गिरफ्तारी नहीं की। रिपोर्ट वापस लेने और समझौता न करने पर दबंग  लगातार घर में घुसकर उसको व उसके पति को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: