Headline • भाजपा सरकार ने EPF ब्याज दरों में कि बढ़ोतरी • अर्जुन कपूर और अभिषेक बच्चन ने अक्षय कुमार की फिलम केसरी के ट्रेलर की प्रशंसा की • पूर्व पाक अध्यक्ष आसिफ अली जरदारी के पास इमरान खान के लिए सावधानी बरतने की सलाह • जम्मू-कश्मीर में सरकार ने अर्धसैनिकों के लिए दी हवाई यात्रा को मंजूरी• अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट पर PM मोदी से की अपील दिल्ली को दे पूर्ण राज्य का दर्जा • भारत और सऊदी अरब ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की• जयपुर सेंट्रल जेल में मारा गया पाकिस्तानी कैदी• नवजोत सिंह सिद्धू के शो से बाहर होने पर कपिल शर्मा का बयान• तमिलनाडु में भाजपा संग एआईएडीएमके गठबंधन हुआ तय • इमरान खान की भारत को धमकी बिना साबुत किया हमला तो खुला जवाब देंगे• अलीगढ़ हिंदू छात्र वाहिनी कार्यकर्ताओं का धारा 370 को हटाने को लेकर प्रदर्शन• कुलभूषण जाधव मामले की सोमवार से सुनवाई शुरू• उत्तराखंड पुलिस की कश्मीरी छात्रों से सोशल मीडिया पर भड़काऊ बयान न देने की अपील • पुलवामा एनकाउंटर: मेजर समेत 4 जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर• राजस्‍थान का गुर्जर आंदोलन शनिवार को खत्म• पुलवामा आतंकी हमले पर सर्वदलीय बैठक शुरू• PM मोदी का ऐलान: आतंकियों की बहुत बड़ी गलती चुकानी होगी कीमत• गांधीजी के पुतले को गोली मारने वाली हिंदू महासभा सचिव पूजा पांडे को मिली जमानत• कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती विस्फोट 41 सीआरपीएफ जवानों की मौत• राजीव सक्सेना को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में 22 फरवरी तक मिली अंतरिम जमानत • सुप्रीम कोर्ट ने केजरीवाल और एलजी विवादों पर अपना फैसला सुनाया• केसरी: अक्षय कुमार अभिनीत ऐतिहासिक ड्रामा का पहला झलक वीडियो रिलीज़ • पीएम मोदी ने हरियाणा में की विकास परियोजनाओं की शुरुआत • राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मोदी सरकार पर जुबानी जंग • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में SC ने राव के माफ़ी नामे को किया अस्वीकार लगाया 1 लाख का जुर्माना


अलीगढ़ः यहां ’नवरात्र की पूजा शौचालय संघ’ कार्यक्रम का अखिल भारत हिंदू महासभा ने विरोध जताया है। इस पूजा को लेकर जिले के करीब एक हजार से अधिक गांवों में नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।

हालांकि जिला प्रशासन की अनोखी पहल बताई जा रही है और स्वच्छ भारत मिशन अभियान को लेकर नवरात्र के पहले दिन हर गांव में शौचालयों की पूजा कराने की योजना है।

इसके तहत नियुक्त नोडल अधिकारी गांव में जाकर सबसे अच्छे शौचालय बनवाने वाले लाभार्थी संग शौचालय की पूजा करेंगे और लाभार्थी को भेंट स्वरूप 101 रुपए दिए जाने का कार्यक्रम भी है।

दो अक्टूबर तक सभी जिलों को ओडीएफ घोषित करने का लक्ष्य तय किया गया है और इस बार नवरात्र को खास बनाए जाने का कार्यक्रम रखा गया है। हर गांव में शौचालय की पूजा होगी।

इससे लोगों में शौचालय के प्रति घृणा खत्म होगी और जागरूकता भी बढ़ेगी। इस कार्यक्रम को लेकर अखिल भारत हिंदू महासभा समेत कई संगठनों ने विरोध जताया है। हिंदू संगठनों ने डीएम चंद्र भूषण को ज्ञापन सौंपा है।

अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रवक्ता अशोक कुमार ने बताया कि जिला प्रशासन ने शौचालय पूजन की योजना चलाई है, इसका विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंदू धार्मिक भावना को आहत करने की योजना को तत्काल वापस लिया जाएं।

 वहीं डीएम चंद्र भूषण सिंह ने कहा कि नवरात्रि के दिन शौचालय की पूजा होगी। उन्होंने कहा कि इस समय ’स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़ा चल रहा है।  उन्होंने कहा कि नवरात्र के दिन अगर पूजन करेगें तो लोग ज्यादा जागरूक होंगे और लोगों की आदतों में परिवर्तन आएगा।

आगराः दो दिन के दौरे पर केंद्रीय पर्यटन मंत्री आगरा पहुंचे। यहां उन्होंने फतेहपुर सीकरी में हजरत शेख सलीम चिश्ती की दरगाह पर चादरपोशी की और मन्नत का धागा भी बांधा। पत्रकारों से बात करते हुए पर्यटन मंत्री के जे अल्फोंस ने आगरा को बहुत गंदे शहर का खि़ताब दिया।

साथ में यह भी कहा की यहां शॉपिंग मॉल अच्छे मार्केट अच्छे रोड नहीं है और उद्योग की दृष्टि से आगरा काफी पिछड़ा हुआ है। जब उनसे पूछा गया कि आखिर अब तक यहां विकास क्यों नहीं हुआ तो उन्होंने साफ़ कह दिया कि उनके पास उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए किसी भी तरह का कोई प्रस्ताव नहीं आया है।

अगर भविष्य में उत्तर प्रदेश सरकार उनसे गुजारिश करती है तो उनका मंत्रालय स्वीकृति देने में देर नहीं करेगा। साथ ही स्वच्छ भारत अभियान पर बोलते हुए उन्होंने कहा की अकेले मोदी जी कहां कहां सफाई करेंगे यहां की सरकार और अधिकारियों को चाहिए कि वो इसका ध्यान रखें।

भारत सरकार के पर्यटन मंत्री के जे अल्फोंस ने दो दिन के आगरा दौरे में हुई परेशानी सबके सामने रखी और खुलकर सबसे बात की।

साथ ही आगरा के दुर्भाग्य और अफसर शाही पर अफ़सोस भी जताया। सवाल ये है कि जब आगरा की दुर्दशा वाकई इतनी ख़राब है तो उत्तर प्रदेश सरकार अपनी आंखों पर क्यों पट्टी बान्धे हुए है।

 

हरदोईः आए दिन सड़क पर चालान की कार्रवाई करने वाली यातायात पुलिस ने गुरुवार को एसपी कार्यालय के सामने ही अभियान चलाया। आम आदमियों के साथ ही उन्होंने पुलिसकर्मियों के चालान काटे। इस अभियान का  मकसद भी यही था कि पुलिसवालों में यातायात नियमों के प्रति जागरुकता पैदा की जाए।

पुलिसकर्मियों को हेलमेट पहनना अनिवार्य किया जाए। एसपी कार्यालय के सामने हो रही कार्रवाई को देखकर कोई पुलिसकर्मी चालान कटवाने से मना भी नहीं कर सके। एक के बाद एक यातायात पुलिस ने 14 पुलिसकर्मियों के चालान काट दिए। इनमें दरोगा से लेकर सिपाही तक शामिल थे। हालांकि जो अधिकारी बड़े वाहनों से आए, उन पर भी नजर रखी जा रही थी लेकिन उन्होंने नियमों का उल्लंघन नहीं किया। 

एसपी आलोक प्रियदर्शी ने पुलिसकर्मियों को हेलमेट पहनकर और बड़े वाहनों में सीट बेल्ट लगाकर वाहन चलाने के निर्देश दिए। लेकिन उन पर अमल कितना हो रहा है, यह देखने के लिए एसपी ने यातायात पुलिस को निर्देशित किया कि वे एसपी कार्यालय में आने वाले सभी पुलिसकर्मियों को चेक करें। जो नियम तोड़कर वाहन चला रहे हैं, उन पर चालान की कार्रवाई करें।

यहीं कारण है कि यातायात टीआई विनोद कुमार अनुरागी की पूरी टीम एसपी कार्यालय के गेट पर ही जम गई और उन्होंने वहां आने वाले हर वाहन की चेकिंग की। इस दौरान 14 पुलिसकर्मी के चालान काटे। जबकि मिलाकर 31 लोगों को भी इस कार्रवाई का शिकार होना पड़ा।

एसपी कार्यालय में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी पहुंचे थे लेकिन हेलमेट कुछ के पास ही थे। अभियान का असर था कि कार्रवाई से बचने के लिए एक-एक करके हेलमेट पहनकर निकल रहे थे और उसी हेलमेट को परिसर में से जाकर वापस एसपी कार्यालय में मौजूद पुलिसकर्मियों को दीवार के ऊपर से वहीं हेलमेट पकड़ा रहे थे।

यातायात पुलिस की कार्रवाई देख पुलिस के ऐसे अधिकारी या जवान जिनके पास हेलमेट नहीं थे, वे कार्रवाई के दौरान एसपी कार्यालय में ही रूके रहे। जब तक कार्रवाई हुई तब तक वे नहीं निकले और जैसे ही यातायात पुलिस का वाहन गया। एक साथ कई पुलिसकर्मी बगैर हेलमेट के वाहन चलाते हुए निकले।

 

मथुराः जब से मोदी सरकार ने डिजिटल इंडिया का ऐलान किया है, तभी से देश भर मे भर लोग अपना सामान ऑन लाइन ही बेचने और खरीद रहे हैं।

एक ओर जहां ऑन लाइन बिक्री करने और खरीदने का चलन बढ़ रहा है, वहीं अब मथुरा के पंडित दीनदयाल धाम में बनाय जा रहे मोदी और योगी के भगवा कुर्ते भी ऑनलाइन मिल रहे हैं।

यहां से बनाई जा रही आयुर्वेदिक दवाएं और गाय के मूत्र के साथ गोबर से बनी वस्तुएं भी ऑनलाइन मिलेंगी। इसके लिए दीनदयाल धाम ने कई ऑनलाइन ट्रेडिंग कंपनियों से गठजोड़ किया है। 

दीनदयाल धाम के अधिकारियों ने बताया है कि जिस तरह आज हर जगह ऑन लाइन बिक्री और खरीददारी के चलन बड़ा है, कम कीमत में अच्छी वस्तुएं लोगों को मिल रही है, उसी तरह से योगी मोदी के भगवा कुर्ते को भी ऑन लाइन बेचा जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि  हमने भी अपने सभी सामान को अमेजॉन पर ऑन लोने बेचने की शुरुआत कर दी है ताकि अब हमारे ये सामान कोई भी कहीं से भी घर बैठे ही मंगा सकता है।

पहले हम लोग सिर्फ संघ और संघ से जुड़े लोगों तक स्टॉल लगाकर ही बेच पाते थे। उम्मीद है कि अमेजॉन पर आने के बाद इन कुर्तों की बिक्री में इजाफा होगा। 

 

गोरखपुर. यूपी के गोरखपुर जिले गीता प्रेस के पास साड़ी सेंटर में शुक्रवार सुबह अचानक आग लग गई। आग लगते ही हड़कंप मच गया। आस-पास के लोगों ने मामले की जानकारी दमकल विभाग को दी गई। सूचना मिलते ही दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची और चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। 

-जानकारी के मुताबिक, यह घटना राजघाट थाना क्षेत्र की है। यहां  साड़ी सेंटर में सुबह करीब छह बजे आग लग गई। आग लगने के बाद पूरे इलाके में अफरा-तफरी मच गई।

सूचना मिलते ही दमकल विभाग की टीम पर मौके पर पहुंची और 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। 

-बताया जा रहा है कि यह आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी है। गोरखपुर जिला प्रशासन मुस्तैद नजर आया और गोरखपुर में बड़ी घटना होने से बाल-बाल बच गई।

-आग लगने की सूचना मिलने के बाद गोरखपुर जिले के अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे।

 

:
:
: