Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए


संतकबीरनगरः जिले की खलीलाबाद सीट से बीजेपी विधायक जय चौबे ने जब अपने क्षेत्र में गंदगी देखी तो उनका गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया। गंदगी देख इतन गुस्साए कि मौके पर ही नगरपालिका कर्मचारी को मुकदमा दर्ज कर जेल भेजने की चेतावनी दे दी।  वहीं ईओ को उनके प्रोटोकोल की याद दिलाते हुए जमकर फटकार लगाई।

दरअसल पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी के के मौके पर खलीलाबाद नगर पालिका क्षेत्र के मड़या वार्ड में विधायक दिग्विजय नारायण जय चौबे ने स्वच्छता अभियान कार्यक्रम रखा था। लेकिन जब विधायक मौके पर पहुंचे तो वहां पर गंदगी देखकर उनका पारा चढ़ गया।

मौके पर उन्होंने नगर पालिका के एक कर्मचारी को जमकर फटकार लगाई इतना ही नहीं चेतावनी भी दी कि अभी सुधर जाओ नहीं तो 1 घंटे लगेंगे मुकदमा दर्ज करवाकर सीधा जेल भिजवा देंगे। बस समय का अभाव है। 

वहीं नगरपालिका कर्मचारी से निपटने के बाद विधायक  खलीलाबाद नगर पालिका की ईओ बीना सिंह पर भी भड़क गए। कार्यक्रम में ईओ बीना सिंह नहीं पहुंची थीं। जिसके बाद जब यह सूचना ईओ को मिली तो ईओ बीना सिंह आनन-फानन में मौके पर पहुंची, जहां विधायक जय चौबे ने ईओ बिना सिंह को भी जमकर फटकार लगाई और उन्हें प्रोटोकाल की याद दिलाई। 

विधायक ने सवाल किया कि जानकारी होने के बाद भी आखिर कार्यक्रम में क्यों नहीं पहुंची, जबकि मोबाइल पर भी कार्यक्रम का मैसेज दिया गया था। इस पर  ईओ सफाई देती नजर आईं। उनका कहना है कि उनको कोई मैसेज़ नही मिला।

फिलहाल विधायक जय चौबे ने साफ लहज़े में कहा कि अब वह हर हफ्ते वार्डों का निरीक्षण करेंगे और अगर कहीं भी गंदगी दिखी तो सीधा कर्मचारी पर मुकदमा दर्ज होगा और जेल जाएंगे। सफाई कर्मचारियों को सरकार वेतन देती है जबकि वार्डों की नालियां जाम पड़ी हैं और हर तरफ गंदगी का अंबार है।

वाराणसी : बीती रात काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के सर सुंदरलाल चिकित्सालय में जूनियर डॉक्टरों और तीमारदारों के बीच हुए हाथापाई हंगामे और फिर बवाल के बाद नाराज जूनियर डॉक्टर सुबह सवेरे बिना किसी नोटिस के हड़ताल पर चले गए। 

-BHU के सर सुन्दरलाल चिकित्यालय में अचानक हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टरों के बाद अस्पताल की चिकित्सीय व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गयी। 

-मरीज के साथ उनके परिजन भी इलाज के लिए अस्पताल में भटकते दिखे।

-बता दें कि लॉ फैकल्टी का एक पूर्व छात्र जो अपने रिश्तेदार का इलाज कराने सरसुंदर लाल चिकित्सालय पहुंचा था, उसकी जूनियर डॉक्टरों से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई. बात इतनी बढ़ गई कि दोनों में हाथापाई शुरू हो गई।

-इसके बाद पूर्व छात्र के समर्थन में बिड़ला छात्रावास के छात्र इस मामले में कूद पड़े हैंऔर बवाल बढ़ गया। 

-वहीं सुबह होते ही जूनियर डॉक्टर बिना किसी सूचना के हड़ताल पर चले गए लेकिन इस बात को लेकर बीएचयू के एम एस इंकार कर रहे है और मीडिया के कैमरे पर हड़ताल को लेकर कुछ भी नहीं कह रहे। 

 

गाजियाबाद : दिल्ली से सटे गाजियाबाद में एक दलित परिवार के घर पर दबंगों ने हमला कर दिया और जमकर तोड़फोड़ की। पीड़िता ने इसकी शिकायत पुलिस को दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।  आरोप है कि रविवार की शाम कुछ अज्ञात लोग सोसायटी के दबंगों के साथ आए और खुद को आवास विकास का कर्मचारी बताने लगे । इसके बाद दलित की झुग्गी और ठीये को अवैध बता कर तोड़ दिया। दलित का सामान भी तोड़ दिया गया और वहां मौजूद रुपए भी लूट लिए गए।

-दरअसल, यह मामला  मामला गाजियाबाद के पॉश इलाके वसुंधरा का है।

-आरोप है कि यहां पर रहने वाले एक दलित परिवार पर सोसायटी के कुछ दबंग लोगों ने अज्ञात लोगों के साथ मिलकर हमला कर दिया।

-पीड़ित का आरोप है कि सोसाइटी में पिछले 17 सालों से कपड़े प्रेस करने का काम करता है। जिस जगह पर वह, यह काम करता है ,वह उसे सोसाइटी से ही मिली है और मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

-आरोप है कि आरडब्लूए से जुड़े हुए कुछ दबंग लोग उस पर घरों में झाड़ू पोछा और गाड़ियां साफ करने का दबाव बनाते हैं। इसके एवज में वह उसे कुछ भी नहीं देते हैं । यही नहीं दलित को सोसाइटी में रहने के एवज में उससे एक लाख रुपये की मांग दबंगो की तरफ से की जाती है।

-जब पीड़ित ने यह सब कुछ करने से इंकार कर दिया, तो दबंगों का कहर उस पर फूट पड़ा।

-आरोप है कि कुछ लोग रविवार की शाम को आए, और पुलिस की मौजूदगी में ही दलित के घर में तोड़फोड़ शुरू कर दी। और पूरे सामान भी नष्ट कर दिया। घर में रखे हुए रुपए भी दबंग लूट कर ले गए।

-पीड़ित ने पूरे मामले में पुलिस को शिकायत दी गई है और पुलिस आरोपों की जांच की बात कह रही है।

-एनसीआर में आवास विकास कि दर्जनों ऐसी इमारतें हैं, जो अवैध रूप से बनी हुई है। लेकिन अब तक उन पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। मगर एक दलित की झुग्गी झोपड़ी तोड़ने के लिए आवास विकास की कथित टीम रविवार को भी काम करने पर लग गई।

इससे कहीं ना कहीं भ्रष्टाचार की बू आती है। बहराल पूरा मामला जांच का विषय है और इस बात की भी जांच की जाएगी कि जो लोग मकान तोड़ने के लिए आए थे, वह वाकई आवास विकास से थे भी या नहीं ।लेकिन उनके साथ मौजूद दबंगों ने जो मारपीट दलित परिवार के साथ की है, और उसका घर  तोड़ा है। उस पर कब तक कार्यवाही होगी। यह भी बड़ा सवाल है।

मुरादाबाद. यूपी के मुरादाबाद में महिला की गोली मारकर हत्या कर दी गयी।महिला की हत्या का आरोप उसके ससुरालियों पर लगा है। सूचना पर पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है साथ ही चार ससुरालियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

-जानकारी के मुताबिक, यह मामला मूंढापांडे थाना क्षेत्र के नाजरपुर गांव का है। 

-यहां सुनीता नाम की महिला अपने पति की मौत के बाद चार बच्चियों संग ससुराल में रह रहीं थी।

-बताया जा रहा है कि पिछले कुछ समय से जमीन और पैसों के बंटवारे को लेकर सुनीता का अपने ससुराल वालों से झगड़ा चल रहा था और ससुराली सुनीता को ससुराल छोड़कर मायके में रहने की धमकी दे रहें थे।

-आज सुबह जब सुनीता अपनी बच्चियों संग कमरे में थी उसी वक्त उसकी गोली मार कर हत्या कर दी गयी।

-हत्या की जानकारी मायके वालों को सुनीता की बड़ी बेटी ने फोन कर दी। जिसके बाद सुनीता के मायके वाले मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी गयी।

-मौके पर पहुंची पुलिस ने सुनीता के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही घटनास्थल का मुआयना कर साक्ष्य संकलन भी किया।

 -सुनीता के परिजनों का आरोप है की सुनीता की हत्या उसकी सास,ससुर और देवर ने मिलकर की है और हत्या करने के बाद सभी ससुराली घर छोड़कर फरार हो गए है।

-सुनीता के परिजनों के मुताबिक सुनीता के पति की मौत के बाद उसके ससुराली लगातार सुनीता को ससुराल छोड़ने और जमीन जायजाद में बंटवारा ना देने की धमकी देते थे जिसका सुनीता लगातार विरोध कर रहीं थी।

 -फिलहाल, पुलिस ने सुनिता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस तीन ससुरालियों समेत चार लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है साथ ही आरोपियों की तलाश में लगातार दबिश दी जा रहीं है।

-सीओ हाइवे राजेश कुमार के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है और आरोपियों के संभावित ठिकाने पर पुलिस टीमें भेजी गई है। सुनीता की मौत के बाद उसके परिजन चारों बच्चियों को अपने साथ घर ले गए है।

 

गोरखपुर. यूपी के गोरखपुर जिले में छेड़छाड़ से परेशान होकर प्रबंधन ने स्कूल पर ताला लगा दिया है। आरोप है कि शोहदे स्कूल की छात्राओं से छेड़छाड़ करते हैं और विरोध करने पर टीचर्स के साथ मारपीट करते है। पुलिस ने जब कोई कार्रवाई नहीं की तो एक दिन के लिए स्कूल बंद करने का फैसला किया गया। सोमवार को स्कूल खोल दिया गया है। 

-दरअसल, यह मामला सहजनवा क्षेत्र के पंडित जवाहरलाल नेहरु इंटर कालेज तिलौरा का है। 

-आरोप है कि यहां छात्राओं के साथ आये दिन कुछ शोहदों द्वारा छेड़छाड़ करते थे। परेशान स्कूल प्रबंधन ने विद्यालय को बंद करा दिया।

-बताते चले कि विद्यालय में कुल नामांकित छात्रों की संख्या 2000 है।जिसमें छात्राओं की संख्या अधिक है।

-स्कूल प्रवंधन ने बताया कि छात्राओं के आते और जाते वक्त कुछ मनचले उनपर फब्तियां कसते और छेड़छाड़ करते है इससे परेशान छात्राओ ने इसकी शिकायत स्कूल के प्रधानाचार्य से किया।

-शिकायत को देखते हुए प्रधानाचार्य और शिक्षकों ने उसे बुलाकर समझाने की कोशिश की पर वह मारपीट पर उतारू हो गया। 

-इसकी लिखित शिकायत प्रधानाचार्य कैलाश चौबे ने पिछले 7 सितंबर को नीरज यादव पुत्र पांचू यादव ग्राम भिटहा के खिलाफ सहजनवा थाने पर की थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

-इससे मनचलो का मन और बढ़ गया और उन्होंने शुक्रवार को विद्यालय पर तैनात मानदेय लिपिक अमित कुमार दुबे को रास्ते मे रोकर मारपीट की।

-वहीं शिक्षक बृजेन्द्र कुमार मिश्र और रामअशीष चौरसिया विद्यालय से छुट्टी के बाद घर जा रहे थे तो घघसरा बाजार में नीरज और उनके साथियों ने उन्हें रोकर गली गलौज की साथ ही धमकी भी दी।

-प्रधानाचार्य ने इसकी लिखित शिकायत सहजनवा थाने के साथ साथ जिलाधिकारी, एसएसपी, जिला विद्यालय निरीक्षक से की और इस पर तत्काल  कार्रवाई की मांग की।

-शोहदों से परेशान स्कूल के प्रधानाचार्य ने गेट पर एक चस्पा लगा दिया है जिसपर लिखा गया है कि शोहदों एवं गुंडो के कारण विद्यालय बंद.

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: