Headline • सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत• लखनऊ शूटआउट : विवेक तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से की मुलाकात• लखनऊ : कारोबारी के घर लाखों की डकैती, वारदात के बाद दंपती को बाथरूम में बंद कर फरार हुए नकाबपोश बदमाश • मुजफ्फरनगर : युवती का अपहरण कर रेप, जंगल में फेंककर हुए फरार• विवेक तिवारी हत्याकांड पर बीजेपी विधायक ने उठाए सवाल, सीएम योगी को लिखा पत्र• विवेक तिवारी हत्याकांड:CM योगी ने पीड़ित परिवार से फोन पर की बात,हर संभव मदद करने का दिया भरोसा• बस्ती : खराब बस को धक्का लगा रहे यात्रियों को ट्रक ने कुचला, 6 की दर्दनाक मौत• विवेक तिवारी हत्याकांड :'पुलिस अंकल, आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे... Please गोली मत मारियेगा'• लखीमपुर खीरी के यतीश ने तोड़ा लगातार पढ़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, 123 घंटे पढ़कर बनाया कीर्तिमान• रुद्रप्रयाग : अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरी कार • फाइनल में सेंचुरी बनाने वाले लिटन दास को क्यों कहना पड़ा, मैं बांग्लादेशी हूं और धर्म हमें बांट नहीं सकता• ललितपुर : SDM ने होमगार्ड की राइफल से गोली मारकर की आत्महत्या• टेनिस की इस खिलाड़ी ने किया टॉपलेस वीडियो, कारण जानकार आप भी करने लगेंगे तारीफ• इंडोनेशिया में भूकंप से मरने वालों की संख्या 800 पार पहुंची, अभी भी कई इलाकों में नहीं पहुंचा राहत दल• मेरठ : हिस्ट्रीशीटर की चाकुओं से गोदकर हत्या• एशिया कप के साथ फोटो शेयर कर इशारों इशारों में  बुमराह ने राजस्थान पुलिस को मारा ताना• तनुश्री के सपोर्ट में आईं कई हिरोईन तो नाना के समर्थन में आईं राखी सावंत, कहा, मरते दम तक साथ दूंगी• SHO और मुंशी के टॉर्चर से परेशान होकर महिला सिपाही ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा• मामा-भांजी को पेड़ से बांधकर की पिटाई, चचिया ससुर ने बदला लेने के  लिए किया ऐसा घिनौना काम• बदनामी के बीच आई यूपी पुलिस की एक ईमानदार छवि, केस से नाम हटाने को 4 लाख देने वाले को जेल भेजा• इस दिन रिलीज हो रहा है कंगना की मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' का टीजर• पुलिस के आतंक से पुरुषों ने गांव छोड़ा, दो पक्षों के झगड़े में सिपाही के घायल होने पर गांव में पुलिस का तांडव• स्वामी प्रसाद का सपा पर हमला, कहा-अखिलेश ने गरीब के पैसे और साइकिल कार्यकर्ताओं में बांट दिए


शाहजहांपुर. बैंक लोन लेकर फरार हुए 'विजय माल्या' की तरह शाहजहांपुर में 14 हजार से ज्यादा छोटे 'विजय माल्या' मौजूद है जिन पर 220 करोड़ से ज्यादा का बैंक लोन बकाया है। यहां बैंक ने 14 हजार से ज्यादा बैंक कर्जदारों के खिलाफ रिकवरी की आरसी जारी की है। फिलहाल, एक साथ इतनी बड़ी कार्यवाही के बाद से बैंक कर्जदारों हडकंप मचा हुआ है। जिला प्रशासन ने भी दो सौ बीस करोड़ की रिकवरी के लिए राजस्व विभाग को कड़े निर्देश जारी किये है। 

-दरअसल, शाहजहांपुर में 30 अलग अलग बैंकों ने लोगों को सरकारी योजनाओं के नाम पर 220 करोड़ रुपया लोन पर दिया था। जिसमें सबसे ज्यादा लोन बैक ऑफ बड़ौदा ने बांटा है। लेकिन पूरे जनपद में 14 हजार से ज्यादा लोग बैंक द्वारा दिये गये कर्ज का पैसा दबाए बैंठै है। इनमें से कई ऐसे है जो जिला छोड़कर दूसरे राज्यों में नौकरी कर रहे है। तमाम को शिशों के बाद भी जब बैंक का कर्ज वापस नहीं मिला तो बैंक ने जिला प्रशासन के साथ खास बैठक करके पैसों की रिकवरी करने का फैसला किया है। 

-इसी के चलते लीड बैंक ने सभी तीस बैंकों का लगभग 220 करोड़ रुपयों की वसूली के लिए 14 हजार कर्जदारों के खिलाफ रिकवरी के लिए सभी पांचों तहसीलों के लिए आरसी जारी की है। 

-वहीं जिला प्रशासन भी बैंक के अरबों रुपए की रिकवरी के संबंधित तहसीलों को रिकवरी के आदेश दिये है। 

-जिला प्रशासन का कहना है कि रिकवरी में लावरवाही करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। 

-बैंकों का ये भी कहना है कि अगर व्यापारियों और उद्योगों पर बकाय का आंकलन किया जाये तो रिकवरी कई अरबों में हो सकती है। 

कासगंजः  पुलिस ने बीते 8 अगस्त को हुए चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। कासगंज पुलिस एवं स्वाट टीम ने इस मामले में 2 शूटरों व षड्यंत्र में शामिल 2 लोगों को गिरफ्तार किया है।

वहीं दूसरी ओर चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड में एक व्यापारी नेता की गिरफ्तारी हो जाने के बाद नगर के कुछ व्यापारियों व नेता के परिजनों ने शहर का मेन मार्केट बंद कर जाम लगा दिया। हालांकि कुछ देर बाद पुलिस ने परिजनों व व्यापारियों को समझाबुझाकर जाम खुलवाया।

आपको बताते चलें कि बीती 8 अगस्त की तारीख को  कासगंज के कपड़ा व्यापारी बॉबी जैन की रेलवे स्टेशन के निकट बाइक सवार दो लोगों ने गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी थी। दोनों शूटर मोटरसाइकिल से फरार हो गए थे।

इसके चलते कासगंज के व्यापारियों में काफी आक्रोश देखा जा रहा था और पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल भी उठ रहे थे। अभी कुछ दिन पहले कासगंज में नवागत कप्तान अशोक कुमार शुक्ल के सामने व्यापारियों ने बॉबी जैन हत्याकांड का जल्द खुलासा करने की मांग की थी।

इस हत्याकांड को चुनौती पूर्वक लेते हुए पुलिस कप्तान ने स्वाट टीम एवं सिविल पुलिस के कुछ तेजतर्रार अधिकारी लगाए। टीम ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलेंस के आधार पर कुल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उठाए गए शार्प शूटरो से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि उनकी बात जेल में बंद शार्प शूटर एवं क्रिमिनल हिस्ट्रीवाले पप्पू गाजी से हुई थी। पप्पू गाजी ने अपने भाई गुडडू गाजी ने मुलाकात कराई व शार्प शूटर को कासगंज में एक व्यापारी नेता गुंजन अग्रवाल के यहां भेजा था।

वहीं पर उसे 12 लाख में बॉबी जैन हत्याकांड की सुपारी दी गई थी। काफी दिन तक शार्प शूटर योगेश और बंटी ने बॉबी की रेकी की, उसके बाद उन्होंने रेलवे स्टेशन के निकट एक गली में जा रहे बॉबी जैन की गोली मारकर हत्या कर दी और वह फरार हो गए। 

चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड का खुलासा जैसे ही पुलिस अधीक्षक कासगंज अशोक कुमार शुक्ला ने किया, उसके बाद व्यापार मंडल के नेताओं ने हत्याकांड में व्यापारी का नाम शामिल किए जाने के विरोध में व्यापारी के परिजनों के साथ मिलकर बाजार को बंद कर दिया। और घंटाघर पर जाम लगा दिया।

बाजार बंद करने की भनक जैसे कासगंज पुलिस को लगी तो किसी अनहोनी को घटना को लेकर बाजार में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया। बाद में पुलिस ने परिजनों व व्यापारियों को समझाबुझाकर जाम खुलवाया।

 

अलीगढः जिले में बुखार व डेंगू से एक दिन के अंदर आठ लोगों की मौत हो गई, जबकि खैर विधानसभा से सटे लोधा गांव में पांच लोगों की मौत से गांव में सन्नाटा पसर गया है। गांव के लोगों की माने तो गांव के अंदर एक स्वास्थ्य समुदाय केंद्र मौजूद है लेकिन उस पर एक भी डॉक्टर तैनात नही है।

गांव के अंदर लगभग सौ से ज्यादा लोग बुखार व डेंगू की चपेट में है। और उन्हें देखने वाला कोई नही है। अगर बात करें पिछले एक माह की तो लगभग गांव में 30 से 40 लोगों की बुखार से मौत हो चुकी है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग को इससे कोई लेना देना नही है।

लोधा ब्लॉक के गांव राइट में मोमिन खां मेहनत मजदूरी कर तीन बच्चों ( दो बेटे व एक बेटी) का पालन पोषण कर रहे थे। बीवी रिजवाना भी कुछ मदद कर देती थीं। बच्चों की उम्र आठ से 13 साल ही है। मोमिन ने बताया कि दो-तीन दिन पूर्व रिजवाना को बुखार आया। तबियत में सुधार न होने पर मंगलवार रात उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टर ने तीन डिप चढ़ाई। कहा, सुबह खून चढ़ाया जाएगा। सुबह पत्नी की मौत हो गई।

इसी तरह गांव के सद्दाम पुत्र भिक्की पखवाड़े भर से बुखार से पीड़ित थे। उचित उपचार के अभाव में उसे पीलिया हो गया। उसकी भी मौत हो गई। गांव के ही एक व्यक्ति ने पूर्व विधायक जमीरउल्लाह को पांच मौत की सूचना दी तो जमीरउल्लाह गांव पहुंच गए।

पूर्व विधायक जमीर उल्लाह ने ही सीएमओ को गांव रायट में उल्टी-दस्त व बुखार से हुई मौत की सूचना दी। सीएमओ ने खैर सीएचसी की 12 सदस्यीय टीम, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. राहुल कुलश्रेष्ठ के साथ खुद गांव पहुंच गए। यहां 80 मरीजों की जांच की। 

सीएमओ ने बताया कि पांच नहीं चार मौत हुई हैं जिनमे दो नेचुरल डेथ हुई है। दो की बुखार से मौत हुई है। हमने गांव में सभी इंतजाम कर दिए हैं। 

केंद्र व प्रदेश सरकारों द्वारा स्वास्थ्य विभाग पर करोड़ों और अरबों रुपये पानी की तरह बहाया जा रहा है। लेकिन सुविधाओं की बात करें तो वह पानी की तरह ही नजर आ रही हैं।

अलीगढ़ में बुखार व डेंगू की बीमारी ने लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है जिसके चलते अलीगढ़ जनपद में 1 दिन अंदर 8 लोगों की मौत हो गई जबकि खैर विधानसभा क्षेत्र के राइट गांव में 1 दिन में 5 लोगों की मौत हो गई। गांव में हुई 5 लोगों की मौत से सन्नाटा पसरा हुआ है। 

गांव के लोगों का चेकअप शुरु कर दिया,इस दौरान गांव के बुखार व डेंगू पीड़ित लगभग 50 लोगों चेकअप किया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लोगों के ब्लड सेम्पल के साथ गांव में कई जगह से डेंगू लारवा के सेम्पल भी लिए। 

परिजनों का साफ तौर पर कहना है कि गांव के अंदर एक दिन में पाँच लोगों की मौत हो गई,लेकिन न तो स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोई पूछने आया और न ही जिला प्रशासन की तरफ से कोई जानकारी लेने पहुंचा है। गांव में मरने वालों के नाम रिजवाना बेगम, मुख्तार अली, जनाब बेगम, सद्दाम, लियाकत अली शामिल है। 

 

शाहजहांपुरः यहां वनविभाग ने हिन्दुतान बजाज एनर्जी के खिलाफ करोड़ों की आरसी जारी की है। वनविभाग ने यह आरसी बजाज एनर्जी की परिसंपत्ति मकसूदपुर चीनी मिल के खिलाफ जारी की है।

सरकारी पैसा न जमा करने पर राजस्व विभाग को बजाज की संम्पति जब्त करके बकाया जमा कराने के लिए डीएम से गुजारिश की गई है। फ़िलहाल शासन के निर्देश पर आरसी जारी होने के बाद चीनी मिल मे हडकम्प मचा हुआ है। 

मामला नोयडा की बजाज एनर्जी प्राईवेट लिमिटेड कंपनी का है। जहां बजाज कंपनी ने वनविभाग से अभिवहन पास प्राप्त कर 2011 से लेकर 2013 तक ट्रेन द्वारा रोजा रेक पॉइंट से 11 लाख 75 हजार 506 टन कोयला इकठ्ठा कर प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर ट्रकों द्वारा भेज कर निर्यात किया था।

वनविभाग द्वारा जारी किये गये अभिवहन पास का शुल्क 6 करोड़ 81 लाख 87  हजार रुपये बनता है जो बजाज एनर्जी की नोएडा कम्पनी द्वारा अभी तक नहीं जमा किया गया है जिसके लिये वन विभाग ने कई नोटिस जारी किये।

सरकारी पैसा न जमा करने पर शासन के निर्देश पर वनविभाग ने बजाज एनर्जी की संपत्ति थाना बंडा के मकसूदपुर चीनी मिल के खिलाफ आरसी जारी कर दी है।

अधिकारियों की माने तो पैसा न जमा करने पर चीनी मिल को सील करने की भी कार्रवाई की जाएगी । फ़िलहाल शासन के निर्देश पर वनविभाग द्वारा की गई कार्रवाई से चीनी मिल मे हड़कंप मचा हुआ है।

मऊ. उत्तर प्रदेश के मऊ में स्कूली बच्चे से भरी टेम्पो में बस ने टक्कर मार दी। इससे आधा दर्जन बच्चे घायल हो गए है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां तीन की हालत गंभीर बनी हुई है। 

-जानकारी के मुताबिक, यह घटना लधरपुर थाना क्षेत्र के महुआ मोड़ की है। 

-डीडी पब्लिक स्कूल के छात्रों से भरी टेम्पो को प्राइवेट बस ने टक्कर मार दी।

- हादसे में आधा छात्र घायल हुए हैं। जिनमें तीन छात्रों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिनकी हालत गम्भीर बनी हुई है. घटना के बच्चों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: