Headline • पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी गिरफ्तार • 90 बीघे जमीन के लिए चली अंधाधुंध गोलियां, बिछ गई लाशें• धौनी के माता-पिता भी चाहते है कि वो अब क्रिकेट से संन्यास ले• चंद्रयान-2 की आयी डेट; 22 जुलाई को होगा लॅान्च • कुलभूषण जाधव केस : 1 रुपये वाले साल्वे ने पाकिस्तान के 20 करोडं रुपये वाले वकील को दी मात • कांग्रेस को नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष , किसी भी नाम को लेकर सहमति नहीं• पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर


मुजफ्फरनगरः एक महीने पहले गायब हुई युवती की बरामदगी की मांग को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने थाने में जमकर हंगामा किया।

साथ ही युवती की बरामदगी को लेकर इंस्पेक्टर को लापरवाही बरतने के लिए बर्खास्त करने की मांग की। जब इंस्पेक्टर ने उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया तो बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने थाने में हनुमान चालीसा का पाठ कर जय श्री राम के नारे भी लगाए। सीओ के आश्वासन पर बजरंग दल कार्यकर्ताओ के प्रदर्शन बंद किया।

तीस अगस्त को सिविल लाइंस थानाक्षेत्र के हरथला नई कालोनी आजाद नगर निवासी भूदेव की 18 वर्षीया पुत्री अनीता कहीं जाने के लिए कहकर घर से निकली थी। इसके बाद अनीता अपने घर नहीं पहुंची। परिजनों ने उसे हर संभावित स्थान पर तलाश किया मगर अनीता का कोई पता नहीं चला।

इस पर उन्होंने सिविल लाइंस थाने में युवती के अपहरण की आशंका जताते हुए तहरीर दी। मगर पुलिस ने अपहरण की रिपोर्ट दर्ज नहीं की बल्कि मामला गुमशुदगी में दर्ज कर लिया। इसके बाद धीरे-धीरे समय बीतता रहा मगर पुलिस युवती को बरामद नहीं कर सकी। इस दौरान युवती के परिजनों ने कई बार पुलिस से अपनी बेटी को बरामद करने की गुहार लगाई लेकिन पुलिस के कानों पर जूं नहीं रेंगी।

इस पर गुरुवार को युवती के परिजन बजरंग दल कार्यकर्ताओं से मिले और उन्हें सारी बात बताते हुए मदद की गुहार लगाई। इस पर परिजनों को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ता सिविल लाइंस थाने पहुंचे और गायब युवती को जल्द से जल्द बरामद करने, इंस्पेक्टर सिविल लाइंस सुधीरपाल धामा को तत्काल बर्खास्त करने की मांग करते हुए जमकर हंगामा किया।

बजरंग दल कार्यकर्ता सिविल लाइंस थाने में इंस्पेक्टर कक्ष के सामने धरने पर बैठ गए और जय श्री राम के नारे लगाने लगे। इस दौरान उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ भी किया। घंटों तक सिविल लाइंस थाने में बजरंदल कार्यकर्ताओं का कब्जा रहा।

वहीं बजरंगदल के महानगर के संयोजक वरुण शर्मा ने बताया कि हरथले की रहने वाली एक युवती का कुछ लोगो ने अपहरण कर लिया गया था हमने आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी सिविल लाइन इंस्पेक्टर को दिए लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

पंचायती राज्य मंत्री भूपेंद्र सिंह और जिला अध्यक्ष ने भी इंस्पेक्टर से मामले की जानकारी ली गयी लेकिन अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई। 

सीओ सिविल लाइन अपर्णा गुप्ता ने आकर हंगामा कर रहे लोगों से बात की और हंगामा शांत कराया। वहीं सीओ ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में है जल्द से जल्द युवती की बरामदगी कर ली जाएगी।

हाथरस : यूपी के हाथरस में व्यापरियों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का असर देखने को मिल रहा है। शुक्रवार सुबह से ही व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे हैं वहीं शहर के व्यापारी नेताओं ने बाजारों में घूमकर सभी व्यापारियों से बाजार बंदी की अपील की है और सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे है। 

-व्यापारियों की 11 सूत्री मांगे हैं और अपनी मांगों को लेकर जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि व्यापारी अपनी मर्जी से बाजार बंद नहीं करता है तो सरकार की एकेडमी के कारण व्यापारी को मजबूत करना पड़ता है।

-जहां एक तरफ देश में बंद है हाथरस में भारतबंदी से करोड़ा का लेनदेन प्रभावित होगा।

-बता दें कि हाथरस में प्रतिदिन व्यापारियों करोड़ों रुपए का लेन-देन और टर्नओवर होता है व्यापारियों द्वारा की गई बंदी से यह लेनदेन प्रभाबित होगा बही सरकार  को भी राजस्व की हानि होगी। 

 

कासगंजः  पुलिस ने बीते 8 अगस्त को हुए चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। कासगंज पुलिस एवं स्वाट टीम ने इस मामले में 2 शूटरों व षड्यंत्र में शामिल 2 लोगों को गिरफ्तार किया है।

वहीं दूसरी ओर चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड में एक व्यापारी नेता की गिरफ्तारी हो जाने के बाद नगर के कुछ व्यापारियों व नेता के परिजनों ने शहर का मेन मार्केट बंद कर जाम लगा दिया। हालांकि कुछ देर बाद पुलिस ने परिजनों व व्यापारियों को समझाबुझाकर जाम खुलवाया।

आपको बताते चलें कि बीती 8 अगस्त की तारीख को  कासगंज के कपड़ा व्यापारी बॉबी जैन की रेलवे स्टेशन के निकट बाइक सवार दो लोगों ने गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी थी। दोनों शूटर मोटरसाइकिल से फरार हो गए थे।

इसके चलते कासगंज के व्यापारियों में काफी आक्रोश देखा जा रहा था और पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल भी उठ रहे थे। अभी कुछ दिन पहले कासगंज में नवागत कप्तान अशोक कुमार शुक्ल के सामने व्यापारियों ने बॉबी जैन हत्याकांड का जल्द खुलासा करने की मांग की थी।

इस हत्याकांड को चुनौती पूर्वक लेते हुए पुलिस कप्तान ने स्वाट टीम एवं सिविल पुलिस के कुछ तेजतर्रार अधिकारी लगाए। टीम ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलेंस के आधार पर कुल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उठाए गए शार्प शूटरो से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि उनकी बात जेल में बंद शार्प शूटर एवं क्रिमिनल हिस्ट्रीवाले पप्पू गाजी से हुई थी। पप्पू गाजी ने अपने भाई गुडडू गाजी ने मुलाकात कराई व शार्प शूटर को कासगंज में एक व्यापारी नेता गुंजन अग्रवाल के यहां भेजा था।

वहीं पर उसे 12 लाख में बॉबी जैन हत्याकांड की सुपारी दी गई थी। काफी दिन तक शार्प शूटर योगेश और बंटी ने बॉबी की रेकी की, उसके बाद उन्होंने रेलवे स्टेशन के निकट एक गली में जा रहे बॉबी जैन की गोली मारकर हत्या कर दी और वह फरार हो गए। 

चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड का खुलासा जैसे ही पुलिस अधीक्षक कासगंज अशोक कुमार शुक्ला ने किया, उसके बाद व्यापार मंडल के नेताओं ने हत्याकांड में व्यापारी का नाम शामिल किए जाने के विरोध में व्यापारी के परिजनों के साथ मिलकर बाजार को बंद कर दिया। और घंटाघर पर जाम लगा दिया।

बाजार बंद करने की भनक जैसे कासगंज पुलिस को लगी तो किसी अनहोनी को घटना को लेकर बाजार में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया। बाद में पुलिस ने परिजनों व व्यापारियों को समझाबुझाकर जाम खुलवाया।

 

शाहजहांपुर. बैंक लोन लेकर फरार हुए 'विजय माल्या' की तरह शाहजहांपुर में 14 हजार से ज्यादा छोटे 'विजय माल्या' मौजूद है जिन पर 220 करोड़ से ज्यादा का बैंक लोन बकाया है। यहां बैंक ने 14 हजार से ज्यादा बैंक कर्जदारों के खिलाफ रिकवरी की आरसी जारी की है। फिलहाल, एक साथ इतनी बड़ी कार्यवाही के बाद से बैंक कर्जदारों हडकंप मचा हुआ है। जिला प्रशासन ने भी दो सौ बीस करोड़ की रिकवरी के लिए राजस्व विभाग को कड़े निर्देश जारी किये है। 

-दरअसल, शाहजहांपुर में 30 अलग अलग बैंकों ने लोगों को सरकारी योजनाओं के नाम पर 220 करोड़ रुपया लोन पर दिया था। जिसमें सबसे ज्यादा लोन बैक ऑफ बड़ौदा ने बांटा है। लेकिन पूरे जनपद में 14 हजार से ज्यादा लोग बैंक द्वारा दिये गये कर्ज का पैसा दबाए बैंठै है। इनमें से कई ऐसे है जो जिला छोड़कर दूसरे राज्यों में नौकरी कर रहे है। तमाम को शिशों के बाद भी जब बैंक का कर्ज वापस नहीं मिला तो बैंक ने जिला प्रशासन के साथ खास बैठक करके पैसों की रिकवरी करने का फैसला किया है। 

-इसी के चलते लीड बैंक ने सभी तीस बैंकों का लगभग 220 करोड़ रुपयों की वसूली के लिए 14 हजार कर्जदारों के खिलाफ रिकवरी के लिए सभी पांचों तहसीलों के लिए आरसी जारी की है। 

-वहीं जिला प्रशासन भी बैंक के अरबों रुपए की रिकवरी के संबंधित तहसीलों को रिकवरी के आदेश दिये है। 

-जिला प्रशासन का कहना है कि रिकवरी में लावरवाही करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। 

-बैंकों का ये भी कहना है कि अगर व्यापारियों और उद्योगों पर बकाय का आंकलन किया जाये तो रिकवरी कई अरबों में हो सकती है। 

शाहजहांपुरः यहां वनविभाग ने हिन्दुतान बजाज एनर्जी के खिलाफ करोड़ों की आरसी जारी की है। वनविभाग ने यह आरसी बजाज एनर्जी की परिसंपत्ति मकसूदपुर चीनी मिल के खिलाफ जारी की है।

सरकारी पैसा न जमा करने पर राजस्व विभाग को बजाज की संम्पति जब्त करके बकाया जमा कराने के लिए डीएम से गुजारिश की गई है। फ़िलहाल शासन के निर्देश पर आरसी जारी होने के बाद चीनी मिल मे हडकम्प मचा हुआ है। 

मामला नोयडा की बजाज एनर्जी प्राईवेट लिमिटेड कंपनी का है। जहां बजाज कंपनी ने वनविभाग से अभिवहन पास प्राप्त कर 2011 से लेकर 2013 तक ट्रेन द्वारा रोजा रेक पॉइंट से 11 लाख 75 हजार 506 टन कोयला इकठ्ठा कर प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर ट्रकों द्वारा भेज कर निर्यात किया था।

वनविभाग द्वारा जारी किये गये अभिवहन पास का शुल्क 6 करोड़ 81 लाख 87  हजार रुपये बनता है जो बजाज एनर्जी की नोएडा कम्पनी द्वारा अभी तक नहीं जमा किया गया है जिसके लिये वन विभाग ने कई नोटिस जारी किये।

सरकारी पैसा न जमा करने पर शासन के निर्देश पर वनविभाग ने बजाज एनर्जी की संपत्ति थाना बंडा के मकसूदपुर चीनी मिल के खिलाफ आरसी जारी कर दी है।

अधिकारियों की माने तो पैसा न जमा करने पर चीनी मिल को सील करने की भी कार्रवाई की जाएगी । फ़िलहाल शासन के निर्देश पर वनविभाग द्वारा की गई कार्रवाई से चीनी मिल मे हड़कंप मचा हुआ है।

:
:
: