Headline • अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट पर PM मोदी से की अपील दिल्ली को दे पूर्ण राज्य का दर्जा • भारत और सऊदी अरब ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की• जयपुर सेंट्रल जेल में मारा गया पाकिस्तानी कैदी• नवजोत सिंह सिद्धू के शो से बाहर होने पर कपिल शर्मा का बयान• तमिलनाडु में भाजपा संग एआईएडीएमके गठबंधन हुआ तय • इमरान खान की भारत को धमकी बिना साबुत किया हमला तो खुला जवाब देंगे• अलीगढ़ हिंदू छात्र वाहिनी कार्यकर्ताओं का धारा 370 को हटाने को लेकर प्रदर्शन• कुलभूषण जाधव मामले की सोमवार से सुनवाई शुरू• उत्तराखंड पुलिस की कश्मीरी छात्रों से सोशल मीडिया पर भड़काऊ बयान न देने की अपील • पुलवामा एनकाउंटर: मेजर समेत 4 जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर• राजस्‍थान का गुर्जर आंदोलन शनिवार को खत्म• पुलवामा आतंकी हमले पर सर्वदलीय बैठक शुरू• PM मोदी का ऐलान: आतंकियों की बहुत बड़ी गलती चुकानी होगी कीमत• गांधीजी के पुतले को गोली मारने वाली हिंदू महासभा सचिव पूजा पांडे को मिली जमानत• कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती विस्फोट 41 सीआरपीएफ जवानों की मौत• राजीव सक्सेना को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में 22 फरवरी तक मिली अंतरिम जमानत • सुप्रीम कोर्ट ने केजरीवाल और एलजी विवादों पर अपना फैसला सुनाया• केसरी: अक्षय कुमार अभिनीत ऐतिहासिक ड्रामा का पहला झलक वीडियो रिलीज़ • पीएम मोदी ने हरियाणा में की विकास परियोजनाओं की शुरुआत • राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मोदी सरकार पर जुबानी जंग • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में SC ने राव के माफ़ी नामे को किया अस्वीकार लगाया 1 लाख का जुर्माना• आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर आंदोलन उग्र • शराब पर राजनीति: त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री पद का इस्तीफा देने की मांग• आ रही हूँ यूपी लूटने- वाराणसी में प्रियंका वाड्रा के खिलाफ लगाए गए पोस्टर• PM मोदी ने 300 करोड़ के भोजन वितरण पर मथुरा वासियो को किया सम्बोधित


हाथरस : यूपी के हाथरस में व्यापरियों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का असर देखने को मिल रहा है। शुक्रवार सुबह से ही व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे हैं वहीं शहर के व्यापारी नेताओं ने बाजारों में घूमकर सभी व्यापारियों से बाजार बंदी की अपील की है और सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे है। 

-व्यापारियों की 11 सूत्री मांगे हैं और अपनी मांगों को लेकर जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि व्यापारी अपनी मर्जी से बाजार बंद नहीं करता है तो सरकार की एकेडमी के कारण व्यापारी को मजबूत करना पड़ता है।

-जहां एक तरफ देश में बंद है हाथरस में भारतबंदी से करोड़ा का लेनदेन प्रभावित होगा।

-बता दें कि हाथरस में प्रतिदिन व्यापारियों करोड़ों रुपए का लेन-देन और टर्नओवर होता है व्यापारियों द्वारा की गई बंदी से यह लेनदेन प्रभाबित होगा बही सरकार  को भी राजस्व की हानि होगी। 

 

शाहजहांपुर. बैंक लोन लेकर फरार हुए 'विजय माल्या' की तरह शाहजहांपुर में 14 हजार से ज्यादा छोटे 'विजय माल्या' मौजूद है जिन पर 220 करोड़ से ज्यादा का बैंक लोन बकाया है। यहां बैंक ने 14 हजार से ज्यादा बैंक कर्जदारों के खिलाफ रिकवरी की आरसी जारी की है। फिलहाल, एक साथ इतनी बड़ी कार्यवाही के बाद से बैंक कर्जदारों हडकंप मचा हुआ है। जिला प्रशासन ने भी दो सौ बीस करोड़ की रिकवरी के लिए राजस्व विभाग को कड़े निर्देश जारी किये है। 

-दरअसल, शाहजहांपुर में 30 अलग अलग बैंकों ने लोगों को सरकारी योजनाओं के नाम पर 220 करोड़ रुपया लोन पर दिया था। जिसमें सबसे ज्यादा लोन बैक ऑफ बड़ौदा ने बांटा है। लेकिन पूरे जनपद में 14 हजार से ज्यादा लोग बैंक द्वारा दिये गये कर्ज का पैसा दबाए बैंठै है। इनमें से कई ऐसे है जो जिला छोड़कर दूसरे राज्यों में नौकरी कर रहे है। तमाम को शिशों के बाद भी जब बैंक का कर्ज वापस नहीं मिला तो बैंक ने जिला प्रशासन के साथ खास बैठक करके पैसों की रिकवरी करने का फैसला किया है। 

-इसी के चलते लीड बैंक ने सभी तीस बैंकों का लगभग 220 करोड़ रुपयों की वसूली के लिए 14 हजार कर्जदारों के खिलाफ रिकवरी के लिए सभी पांचों तहसीलों के लिए आरसी जारी की है। 

-वहीं जिला प्रशासन भी बैंक के अरबों रुपए की रिकवरी के संबंधित तहसीलों को रिकवरी के आदेश दिये है। 

-जिला प्रशासन का कहना है कि रिकवरी में लावरवाही करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। 

-बैंकों का ये भी कहना है कि अगर व्यापारियों और उद्योगों पर बकाय का आंकलन किया जाये तो रिकवरी कई अरबों में हो सकती है। 

शाहजहांपुरः यहां वनविभाग ने हिन्दुतान बजाज एनर्जी के खिलाफ करोड़ों की आरसी जारी की है। वनविभाग ने यह आरसी बजाज एनर्जी की परिसंपत्ति मकसूदपुर चीनी मिल के खिलाफ जारी की है।

सरकारी पैसा न जमा करने पर राजस्व विभाग को बजाज की संम्पति जब्त करके बकाया जमा कराने के लिए डीएम से गुजारिश की गई है। फ़िलहाल शासन के निर्देश पर आरसी जारी होने के बाद चीनी मिल मे हडकम्प मचा हुआ है। 

मामला नोयडा की बजाज एनर्जी प्राईवेट लिमिटेड कंपनी का है। जहां बजाज कंपनी ने वनविभाग से अभिवहन पास प्राप्त कर 2011 से लेकर 2013 तक ट्रेन द्वारा रोजा रेक पॉइंट से 11 लाख 75 हजार 506 टन कोयला इकठ्ठा कर प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर ट्रकों द्वारा भेज कर निर्यात किया था।

वनविभाग द्वारा जारी किये गये अभिवहन पास का शुल्क 6 करोड़ 81 लाख 87  हजार रुपये बनता है जो बजाज एनर्जी की नोएडा कम्पनी द्वारा अभी तक नहीं जमा किया गया है जिसके लिये वन विभाग ने कई नोटिस जारी किये।

सरकारी पैसा न जमा करने पर शासन के निर्देश पर वनविभाग ने बजाज एनर्जी की संपत्ति थाना बंडा के मकसूदपुर चीनी मिल के खिलाफ आरसी जारी कर दी है।

अधिकारियों की माने तो पैसा न जमा करने पर चीनी मिल को सील करने की भी कार्रवाई की जाएगी । फ़िलहाल शासन के निर्देश पर वनविभाग द्वारा की गई कार्रवाई से चीनी मिल मे हड़कंप मचा हुआ है।

कासगंजः  पुलिस ने बीते 8 अगस्त को हुए चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। कासगंज पुलिस एवं स्वाट टीम ने इस मामले में 2 शूटरों व षड्यंत्र में शामिल 2 लोगों को गिरफ्तार किया है।

वहीं दूसरी ओर चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड में एक व्यापारी नेता की गिरफ्तारी हो जाने के बाद नगर के कुछ व्यापारियों व नेता के परिजनों ने शहर का मेन मार्केट बंद कर जाम लगा दिया। हालांकि कुछ देर बाद पुलिस ने परिजनों व व्यापारियों को समझाबुझाकर जाम खुलवाया।

आपको बताते चलें कि बीती 8 अगस्त की तारीख को  कासगंज के कपड़ा व्यापारी बॉबी जैन की रेलवे स्टेशन के निकट बाइक सवार दो लोगों ने गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी थी। दोनों शूटर मोटरसाइकिल से फरार हो गए थे।

इसके चलते कासगंज के व्यापारियों में काफी आक्रोश देखा जा रहा था और पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल भी उठ रहे थे। अभी कुछ दिन पहले कासगंज में नवागत कप्तान अशोक कुमार शुक्ल के सामने व्यापारियों ने बॉबी जैन हत्याकांड का जल्द खुलासा करने की मांग की थी।

इस हत्याकांड को चुनौती पूर्वक लेते हुए पुलिस कप्तान ने स्वाट टीम एवं सिविल पुलिस के कुछ तेजतर्रार अधिकारी लगाए। टीम ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलेंस के आधार पर कुल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उठाए गए शार्प शूटरो से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि उनकी बात जेल में बंद शार्प शूटर एवं क्रिमिनल हिस्ट्रीवाले पप्पू गाजी से हुई थी। पप्पू गाजी ने अपने भाई गुडडू गाजी ने मुलाकात कराई व शार्प शूटर को कासगंज में एक व्यापारी नेता गुंजन अग्रवाल के यहां भेजा था।

वहीं पर उसे 12 लाख में बॉबी जैन हत्याकांड की सुपारी दी गई थी। काफी दिन तक शार्प शूटर योगेश और बंटी ने बॉबी की रेकी की, उसके बाद उन्होंने रेलवे स्टेशन के निकट एक गली में जा रहे बॉबी जैन की गोली मारकर हत्या कर दी और वह फरार हो गए। 

चर्चित बॉबी जैन हत्याकांड का खुलासा जैसे ही पुलिस अधीक्षक कासगंज अशोक कुमार शुक्ला ने किया, उसके बाद व्यापार मंडल के नेताओं ने हत्याकांड में व्यापारी का नाम शामिल किए जाने के विरोध में व्यापारी के परिजनों के साथ मिलकर बाजार को बंद कर दिया। और घंटाघर पर जाम लगा दिया।

बाजार बंद करने की भनक जैसे कासगंज पुलिस को लगी तो किसी अनहोनी को घटना को लेकर बाजार में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया। बाद में पुलिस ने परिजनों व व्यापारियों को समझाबुझाकर जाम खुलवाया।

 

अलीगढः जिले में बुखार व डेंगू से एक दिन के अंदर आठ लोगों की मौत हो गई, जबकि खैर विधानसभा से सटे लोधा गांव में पांच लोगों की मौत से गांव में सन्नाटा पसर गया है। गांव के लोगों की माने तो गांव के अंदर एक स्वास्थ्य समुदाय केंद्र मौजूद है लेकिन उस पर एक भी डॉक्टर तैनात नही है।

गांव के अंदर लगभग सौ से ज्यादा लोग बुखार व डेंगू की चपेट में है। और उन्हें देखने वाला कोई नही है। अगर बात करें पिछले एक माह की तो लगभग गांव में 30 से 40 लोगों की बुखार से मौत हो चुकी है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग को इससे कोई लेना देना नही है।

लोधा ब्लॉक के गांव राइट में मोमिन खां मेहनत मजदूरी कर तीन बच्चों ( दो बेटे व एक बेटी) का पालन पोषण कर रहे थे। बीवी रिजवाना भी कुछ मदद कर देती थीं। बच्चों की उम्र आठ से 13 साल ही है। मोमिन ने बताया कि दो-तीन दिन पूर्व रिजवाना को बुखार आया। तबियत में सुधार न होने पर मंगलवार रात उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टर ने तीन डिप चढ़ाई। कहा, सुबह खून चढ़ाया जाएगा। सुबह पत्नी की मौत हो गई।

इसी तरह गांव के सद्दाम पुत्र भिक्की पखवाड़े भर से बुखार से पीड़ित थे। उचित उपचार के अभाव में उसे पीलिया हो गया। उसकी भी मौत हो गई। गांव के ही एक व्यक्ति ने पूर्व विधायक जमीरउल्लाह को पांच मौत की सूचना दी तो जमीरउल्लाह गांव पहुंच गए।

पूर्व विधायक जमीर उल्लाह ने ही सीएमओ को गांव रायट में उल्टी-दस्त व बुखार से हुई मौत की सूचना दी। सीएमओ ने खैर सीएचसी की 12 सदस्यीय टीम, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. राहुल कुलश्रेष्ठ के साथ खुद गांव पहुंच गए। यहां 80 मरीजों की जांच की। 

सीएमओ ने बताया कि पांच नहीं चार मौत हुई हैं जिनमे दो नेचुरल डेथ हुई है। दो की बुखार से मौत हुई है। हमने गांव में सभी इंतजाम कर दिए हैं। 

केंद्र व प्रदेश सरकारों द्वारा स्वास्थ्य विभाग पर करोड़ों और अरबों रुपये पानी की तरह बहाया जा रहा है। लेकिन सुविधाओं की बात करें तो वह पानी की तरह ही नजर आ रही हैं।

अलीगढ़ में बुखार व डेंगू की बीमारी ने लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है जिसके चलते अलीगढ़ जनपद में 1 दिन अंदर 8 लोगों की मौत हो गई जबकि खैर विधानसभा क्षेत्र के राइट गांव में 1 दिन में 5 लोगों की मौत हो गई। गांव में हुई 5 लोगों की मौत से सन्नाटा पसरा हुआ है। 

गांव के लोगों का चेकअप शुरु कर दिया,इस दौरान गांव के बुखार व डेंगू पीड़ित लगभग 50 लोगों चेकअप किया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लोगों के ब्लड सेम्पल के साथ गांव में कई जगह से डेंगू लारवा के सेम्पल भी लिए। 

परिजनों का साफ तौर पर कहना है कि गांव के अंदर एक दिन में पाँच लोगों की मौत हो गई,लेकिन न तो स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोई पूछने आया और न ही जिला प्रशासन की तरफ से कोई जानकारी लेने पहुंचा है। गांव में मरने वालों के नाम रिजवाना बेगम, मुख्तार अली, जनाब बेगम, सद्दाम, लियाकत अली शामिल है। 

 

:
:
: