Headline • चीन के लिए जासूसी कर रहें पूर्व सीआइए अफसर को अमेरिका ने को सुनाई 20 साल की सजा• PM पद के लिए राहुल गांधी का मिला जेडीएस प्रमुख देवगौड़ा का समर्थन• लोकसभा चुनाव 2019: पीएम मोदी और अमित शाह की पहली संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस • समलैंगिक विवाह को ताइवान ने दिया वैधानिक दर्जा • साध्‍वी प्रज्ञा पर बोले पीएम मोदी ''मैं उन्‍हें कभी माफ नही कर पाऊंगा''• ऑस्ट्रिया सरकार ने प्राथमिक स्कूलों की लड़कियों के हिजाब पर प्रतिबंध लगाने का कानून पारित किया• लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग पर बरसीं ममता बनर्जी, चुनाव आयोग को BJP का भाई बताया • राहुल का पीएम मोदी पर हमला पीएम सोचते हैं एक व्यक्ति देश चला सकता है• बंगाल में अमित शाह की रैली के दौरान हिंसा के विरोध में जंतर-मंतर पर भाजपा का प्रदर्शन• बंगाल में रोड शो से पहले मोदी-शाह के पोस्टर उतरे • मैं कभी PM के परिवार का नहीं करूंगा अपमान: राहुल गांधी• भारत को ही क्‍यों बेच रहा एफ-21 लड़ाकू विमान अमेरिका • बिहार में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने विपक्षी दलों पर सादा निशाना• PM मोदी पर मायावती के विवादित बयान पर जेटली का हमला किसी पद के लायक नहीं बसपा सुप्रीमो• विकीलीक्‍स संस्‍थापक जुलियन असांजे के खिलाफ स्‍वीडन में दोबारा खुल सकता है यौन उत्‍पीड़न मामला• ममता के घर में अमित शाह की दहाड़ हिम्मत है तो करो मुझे गिरफ्तार• ट्विटर ने हटाए कई पाकिस्‍तानी अकाउंट, पाक सरकार ने लगाए थे देश नियमों के उल्‍लंघन का आरोप• कोई भी देश कमजोर सरकारों के होते शक्तिशाली नहीं बन सकता: PM मोदी• भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी मालवाहक विमान को वायुसेना ने जयपुर एयरपोर्ट पर उतरवाया• फ्रांस के स्‍कूल में भेड़ों का दाखिला • सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या भूमि विवाद की मध्यस्थता प्रक्रिया के लिए 15 अगस्त तक का समय बढ़ाया • दक्षिण चीन सागर में अमेरिका, भारत, जापान और फिलीपींस ने मिलकर किया सैन्य अभ्यास• प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान AAP उम्मीदवार आतिशी ने लगाए गौतम गंभीर पर आरोप• पीएम मोदी द्धारा पूर्व पीएम राजीव गांधी पर दिये गये बयान के बचाव में उतरी कांग्रेस• आईपीएल 2019: मुंबई के खिलाफ हार के बाद भड़के धोनी


गाजीपुरः यहां एक ऐसा गांव जहां विकास कोसों दूर है। इस गांव में किसी घटना को लेकर ग्रामीण डायल 100 को फोन करें या एम्बुलेंस 108, 102 को ये सब गांव में पहुंच नहीं पाती है।

यहां तक कि लड़को के लिए न तो तिलक लेकर पहुंचते हैं और न ही लड़कियों की शादी के लिए इस गांव में कोई बारात लेकर आना चाहता है। ऐसे में अब ग्रामीण समाजसेवियों का सहारा लेकर आंदोलन करने को तैयार है।

ग्रामीणों ने तो आने वाले चुनाव का बहिष्कार करने की घोषणा भी कर रहे है। ग्रामीण ऐसा क्यों कर रहे हैं वजह जानकर आप भी हैरान हो जायेगे। देश के नेताओं द्वारा हमेशा कहा जाता है कि भारत गांव में बसता है। 

आजादी के बाद से जंगीपुर विधानसभा मे पड़ने वाला तरछा ग्रामसभा के अम्माटारी गांव में आजादी के बाद से ही सड़क नहीं है। गांव को मुख्य मार्ग से जोड़ने के लिए सड़क नहीं है। जिसको लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश भी है।

ग्रामीणों ने सड़क की मांग को लेकर सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ प्रतीकात्मक विरोध प्रदर्शन भी किया। बता दें कि मौजूदा समय मे बीजेपी से सांसद व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा और सपा विधायक वीरेंद्र यादव का क्षेत्र है। 

गाजीपुर के जंगीपुर विधानसभा के ग्राम तरछा के राजस्व गांव अम्माटारी में आजादी के 70 साल बाद भी आने जाने का कोई रास्ता नहीं है, न तो प्राथमिक स्कूल में बच्चे जा पाते हैं और ना ही 108, 102 एंबुलेंस के अलावा डायल 100 भी पहुच पाती । यदि कभी संबंधित थाने को जाना हुआ तो उन्हें एक किलोमीटर पैदल चलकर जाना पड़ेगा।

ग्रामीणों ने लगातार लिखा-पढ़ी के साथ शासन प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों का ध्यानाकर्षण किया। जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो लोगों ने सामाजिक कार्यकर्ता ब्रजभूषण दूबे से संपर्क किया जिसके क्रम में ब्रजभूषण दूबे के साथ गांव के पुरुष एवं महिलाओं ने बच्चों को लेकर चारपाई का एक खटोला बनाया और गांव के ही एक बीमार बुजुर्ग व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया।  

सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय कैलाश यादव ने जहां क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। वहीं वर्तमान में समाजवादी पार्टी के विधायक डॉक्टर वीरेंद्र यादव एवं सांसद के रूप में दो- दो केंद्रीय मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाल रहे मनोज सिन्हा जी है। गांव के लोगों ने अनेकों बार गुहार लगाया किंतु ना तो उस गांव में कोई जनप्रतिनिधि जाता है और ना ही अधिकारी। गांव में राजभर और चौहान बिरादरी के लोग रहते हैं । 

 

संबंधित समाचार

:
:
: