Headline • सपा की साइकिल यात्रा के समापन पर एक साथ दिखे अखिलेश और मुलायम सिंह यादव • गोरखपुर : सीएम योगी ने किया 'आयुष्मान भारत योजना' का शुभारंभ • महंत नृत्य गोपालदास बोले- 'राम मंदिर का निर्माण नहीं कराया तो भाजपा और मोदी के लिए घातक होगा'• गोरखपुर : बाइक को टक्कर मारने के बाद जीप पलटी, 3 की दर्दनाक मौत, 5 घायल• बीजेपी के कार्यक्रम में बार-बालाओं ने किया डांस,सांसद बाबू लाल के स्वागत में लगे ठुमके• आज से शुरू होगी आयुष्मान भारत योजना,पीएम मोदी झारखंड से करेंगे शुभारंभ• आगरा में दर्दनाक सड़क हादसा, चार लोगों की मौत• बलिया: बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह की दादागिरी, डीएम के सामने डीआईओएस से की हाथापाई• आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया• विवादों के बाद सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी रिलीज को तैयार, फर्स्ट लुक जारी


फर्रुखाबादः बात- बात में रिवाल्वर निकालकर लोगों को धमकाना ही बीजेपी नेता और व्यापारी राजू पांडेय की हत्या का कारण बना। बेटी के सगाई समारोह से लौटते वक्त कार का पहिया चढ़ने पर स्कूटी सवार से विवाद हुआ तो  राजू पांडेय ने लाइसेंसी रिवाल्वर की बट से चिकित्सक को पीट दिया था। इसी पर चिकित्सक ने लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर राजू की हत्या कर दी। पुलिस ने घटना में प्रयोग पिस्टल व स्कूटी बरामद कर चिकित्सक व उसके साथी युवक को गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया। चिकित्सक बीएसएफ के सहायक कमांडेंट पद से रिटायर्ड है और उसने कमांडो ट्रेनिंग भी की हुई है. 

शहर कोतवाली के मोहल्ला खड़ियाई निवासी बीजेपी नेता राजू पांडेय की विगत 10 अगस्त को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित, शहर कोतवाल राजेश पाठक और सर्विलांस प्रभारी निरीक्षक विनय प्रकाश राय व सिपाही सतेंद्र, अनुराग ने शहर के मोहल्ला बूरावाली गली निवासी जनपद मैनपुरी के बेवर सीएचसी में कार्यरत चिकित्सक आशुतोष मिश्र व उनके साथी जनपद मथुरा थाना कोसीकलां क्षेत्र के बुखरारी निवासी भरत लाल को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने बताया कि आशुतोष बीएसएफ में सहायक कमांडेंट रह चुके हैं। वह दोस्त भरत का विवाद निपटाने उसके साथ एक चिकित्सक की स्कूटी से मोहल्ला खड़ियाई से होकर जा रहे थे। वहां पर कार का पहिया आशुतोष पर चढ़ गया।

जिस पर कार चला रहे रितिक से हाथापाई हो गई। इसी बीच पहुंचे रितिक के पिता राजू ने रिवाल्वर की बट से चिकित्सक पर हमला कर दिया। जान का खतरा देख चिकित्सक ने लाइसेंसी पिस्टल से गोली चला दी। गोली सीधे राजू को लगी जिससे उसकी मौत हो गई। 

आशुतोष ने बताया कि जब राजू पांडेय ने उस पर रिवाल्वर से हमला शुरु कर दिया तो उसने अपने बचाव में राजू पांडेय पर गोली चलाई।  मौके से भरत भागा तो वह रास्ता भटक गया। इस पर वह सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। आशुतोष रोडवेज बस स्टैंड पहुंचा। जानकारी के अनुसार पुलिस चिकित्सक को बेवर व भरत को मथुरा से पकड़ लाई।

एसपी ने बताया कि डा.आशुतोष इस समय मैनपुरी में सीएचसी पर कार्यरत हैं। वह एनसीथिसिया देता हैं। साहबगंज में उनका क्लीनिक भी है। डा. आशुतोष ने एसपी को बताया कि उसने एक साथ तीन गोली इसलिए चलाईं क्योंकि यह उनकी ट्रेनिंग का पार्ट रहा है। डा. आशुतोष कमांडो ट्रेनिंग कर चुका है।

नगर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी ने बताया कि एसपी अतुल शर्मा ने राजू पांडेय की हत्या को एक चुनौती के रूप में लिया और बहुत ही कम समय में मामले का खुलासा कर दिया।

आरोपी डा. आशुतोश ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया जबकि भरत चंद्र ने पुलिस की कहानी ही दोहरा दी। भरत चंद्र ने बताया कि वह ऋतिक पांडेय और उनके परिवार को इससे पहले नहीं जानता था।

 

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: