Headline • प्रेम विवाह के तीन साल बाद ससुराल पहुंचा, शाम से कोई खोजखबर नहीं... दो दिन बाद मिली लाश•  फौजी के घर पर दबंगों ने किया कब्जा, शिकायत करने पहुंचा तो थानेदार ने थाने से भगाया• नई सरकार आने के बाद भी नहीं बदला पाक सेना का रवैया, बीएसएफ जवान के शव से की बर्बरता, आंख निकाली• मुलायम के पोते तेजप्रताप ने माना, शिवपाल के अलग होने से लोकसभा चुनाव की संभावना पर पड़ेगा प्रभाव• आयुष्मान की 'बधाई हो' का 'बधाईयां तैनू' रिलीज, हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप• शिक्षा विभाग को नहीं पता अटलजी का जन्म कब हुआ था, स्कूली किताब में गलत डेट डाली• कन्नौज : किशोरी की रेप के बाद हत्या, मनचले के डर से छोड़ दी थी पढ़ाई• रायबरेली के लाल ने किया कमाल, प्री रीजनल मैथमेटिक्स ओलंपियाड में हुआ चयन• अपने हक की लड़ाई से पीछे नहीं हटेंगी मुस्लिम महिलाएं, सायरा ने पीएम मोदी के प्रति जताया आभार• 'सड़क-2' का ट्रेलर रिलीज,फिर एक साथ दिखेंगे संजय दत्त और पूजा भट्ट• मौसा ने बनाया नाबालिग को अपनी हवस का शिकार, मौसी से मिलने आई थीं लड़की• पाकिस्तान पर भारत की शानदार जीत के बाद जश्न का माहौल, भुवी के घर पर जमकर हुआ नृत्य• कफन का तिरंगा ओढ़कर न्याय के लिए कलक्ट्रेट में धरने पर बैठीं शहीद की विधवा  • पुलिस ने निर्दोष युवक को किया गिरफ्तार,फिर जेल भेजने के लिए खुद तैयार की जहरीली शराब,वीडियो वायरल !• अलीगढ़ : पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराए 25-25 हजार के इनामी बदमाश,थानाध्यक्ष घायल• अब बरेली में सवर्णों ने लगाए पोस्टर, लिखा- 'नोटा ही हमारा हथियार है,वोट मांग कर शर्मिंदा न करें'• पाक के पीएम इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा खत, फिर से शांति वार्ता शुरू करवाने की अपील• मुंबई से जयपुर जा रही फ्लाइट में यात्रियों के नाक-कान से निकलने लगा खून• 'समाचार प्लस' के सवाल पर बोले RSS प्रमुख मोहन भागवत-आरक्षण समस्या नहीं,आरक्षण पर राजनीति समस्या है• गोंडा में दर्दनाक सड़क हादसा, 4 की मौत, 8 घायल• लखनऊ : मूर्ति विसर्जन के दौरान गोमती नदी में डूबे 6 युवक, एक मौत, दो लापता• उन्नाव में बुखार का कहर, 24 घंटे में सात की मौत, 200 से ज्यादा बीमार• बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा को बड़ी राहत,हाईकोर्ट ने हटाई रासुका,रिहा करने का आदेश• बरेली :मोहर्रम पर ताजियों को लेकर पुलिस की बड़ी कार्रवाई,ढाई हजार से ज्यादा लोगों को जारी किए रेड कार्ड• इलाहाबाद में बीजेपी जिलाध्यक्ष ने अपने नाते रिश्तेदारों को बांट दिए सारे पद, युवाओं में भारी गुस्सा


मेरठ: जिस मेरठ कॉलेज के छात्रों ने देश ही नहीं विदेशों में भी नाम जमाया है यहां के छात्र प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्य चुनाव आयुक्त, जैसे जिम्मेदार पदों पर रहे हैं, आज शिक्षा का माहौल को सुधरने की जरूरत पैदा हो गई है।

कालेज प्रशासन ने तय किया है कि अब कोई भी छात्रा कॉलेज में मुँह पर कपड़ा बांध कर नहीं आएगीे। केवल वहीं छात्र व छात्राएं आ सकेंगी जिनके पास परिचय पत्र होगा, इसके लिए अचानक चैकिंग की जा रही है इस कुछ छात्राओं ने समर्थन किया है तो कुछ की मिलीजुली राय है। 

मेरठ कॉलेज मेरठ का अपना एक गौरवशाली इतिहास रहा है। इस कॉलेज देश के प्रधानमत्री रहे चौधरी चरण सिंह, मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी, कई राज्यपाल और वर्त्तमान में बिहार के राजयपाल सत्यपाल मलिक ने यहाँ पर शिक्षा ली है। 

यहीं नहीं कुछ छात्रों में विदेशो में रहकर इस इस कालेज की शान में चार  चाँद लगाए हैं लेकिन अभी कुछ सालों से पढाई का स्तर नीचे आया है। 

इसी को ध्यान में रखते हुए कालेज प्रशासन में कड़े कदम उठाये हैं। अब कोई छात्रा मुँह पर कपड़ा बांधकर कालेज में नहीं आ सकेंगी। रही पहनावे की बात ये भी तय किया गया है कि शालीन कपडे पहनकर की आना होगा।

कॉलेज की प्रिन्सिपल और चीफ प्रॉक्टर का कहना है कि जिस छात्र या छात्रा पर कालेज का परिचय पत्र नहीं होगा उसको कालेज में प्रवेश नहीं करने दिया जायेगा। 

कॉलेज प्रशासन की इस फैसले से छात्राओं की मिली जुली राय सामने आई है। छात्राओं का कहना है कि यहाँ पर पढाई करने के लिए आते है ना कि घूमने के लिए। इसलिए कालेज प्रशासन का ये कदम सही है।  कुछ छात्राओं का मानना है कि सड़कों पर हर तरह  लोग रहते हैं। इस मुँह पर कपडे बंधे होने से बुरी नज़र से बचाव होता है लेकिन कॉलेज में कपड़ा नहीं होना चाहिए ।

 

संबंधित समाचार

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: