Headline • अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट पर PM मोदी से की अपील दिल्ली को दे पूर्ण राज्य का दर्जा • भारत और सऊदी अरब ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की• जयपुर सेंट्रल जेल में मारा गया पाकिस्तानी कैदी• नवजोत सिंह सिद्धू के शो से बाहर होने पर कपिल शर्मा का बयान• तमिलनाडु में भाजपा संग एआईएडीएमके गठबंधन हुआ तय • इमरान खान की भारत को धमकी बिना साबुत किया हमला तो खुला जवाब देंगे• अलीगढ़ हिंदू छात्र वाहिनी कार्यकर्ताओं का धारा 370 को हटाने को लेकर प्रदर्शन• कुलभूषण जाधव मामले की सोमवार से सुनवाई शुरू• उत्तराखंड पुलिस की कश्मीरी छात्रों से सोशल मीडिया पर भड़काऊ बयान न देने की अपील • पुलवामा एनकाउंटर: मेजर समेत 4 जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर• राजस्‍थान का गुर्जर आंदोलन शनिवार को खत्म• पुलवामा आतंकी हमले पर सर्वदलीय बैठक शुरू• PM मोदी का ऐलान: आतंकियों की बहुत बड़ी गलती चुकानी होगी कीमत• गांधीजी के पुतले को गोली मारने वाली हिंदू महासभा सचिव पूजा पांडे को मिली जमानत• कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती विस्फोट 41 सीआरपीएफ जवानों की मौत• राजीव सक्सेना को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में 22 फरवरी तक मिली अंतरिम जमानत • सुप्रीम कोर्ट ने केजरीवाल और एलजी विवादों पर अपना फैसला सुनाया• केसरी: अक्षय कुमार अभिनीत ऐतिहासिक ड्रामा का पहला झलक वीडियो रिलीज़ • पीएम मोदी ने हरियाणा में की विकास परियोजनाओं की शुरुआत • राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मोदी सरकार पर जुबानी जंग • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में SC ने राव के माफ़ी नामे को किया अस्वीकार लगाया 1 लाख का जुर्माना• आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर आंदोलन उग्र • शराब पर राजनीति: त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री पद का इस्तीफा देने की मांग• आ रही हूँ यूपी लूटने- वाराणसी में प्रियंका वाड्रा के खिलाफ लगाए गए पोस्टर• PM मोदी ने 300 करोड़ के भोजन वितरण पर मथुरा वासियो को किया सम्बोधित


ऊधम सिंह नगरः यहां हुए एनएच-74 घोटाले में निलंबित पीसीएस अफसर तीरथपाल ने सोमवार को एसआईटी के सामने समर्पण कर दिया। एसआईटी ने निलंबित एडीएम तीरथपाल को गिरफ्तार कर लिया है।

उसे न्यायालय में पेश करने की तैयारी की जा रही है। तीरथपाल पर बाजपुर में एसडीएम रहते हुए किसान से सांठगांठ करके कई गुना अधिक मुआवजा दिलाने के उद्देश्य से बैक डेट में जमीन की 143 करने का आरोप है। 

गौरतलब है कि एफएसएल रिपोर्ट से बैकडेट में कृषि वाली जमीन की प्रकृति के बदलने की पुष्टि होने के बाद एसआईटी की टीम ने निलंबित पीसीएस अधिकारी तीरथपाल के आवास पर दबिश दी थी, मगर वह फरार मिले थे।

तब से लेकर एसआईटी पीसीएस अफसर की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही थी आज तीरथपाल ने एसआईटी के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। बताया जा रहा है कि आत्म समर्पण से पहले तीरथपाल ने अधिकारियों के समक्ष मीडिया से दूरी बनाने की शर्त रखी थी जिसके बाद गुपचुप तरीके से पहले तो आरोपी का मेडिकल कराया गया। बाद में पीसीएस अधिकारी को नैनीताल कोर्ट में पेश किया गया। 

यहां बता दें कि इससे पहले चार पीसीएस अफसर गिरफ्तार हो चुके हैं। यहां बता दें एनएच घोटाले की जांच कर रहे तत्कालीन मंडलायुक्त डी सेंथिल पांडियन ने अनुपूरक जांच रिपोर्ट में बाजपुर के तत्कालीन एसडीएम तीरथपाल के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति की थी, मगर आयुक्त की अनुपूरक रिपोर्ट लंबे समय तक शासन में दबी रही।

इस बीच तीरथपाल को प्रमोशन मिल गया और वह अपर जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग के पद पर तैनात हो गए। कई महीनों बाद उन्हें निलंबित किया गया था। 

संबंधित समाचार

:
:
: