Headline • नाना पाटेकर को क्लिन चिट मिलने पर तनुश्री दत्ता ने कहा• बीजेपी, टीएमसी के बाद अब बंगाल में कांग्रेस का नाम भी आया राजनीतिक हिंसा में• आगामी भारत और पाकिस्तान के मैच में कैसा रहेगा, मैनचेस्टर में मौसम का मिजाज• मांगो को मानने के लिए ममता सरकार को 48 घंटे का डॉक्टरों ने दिया अल्टिमेटम• इतनी फिल्मे करने के बाद भी क्यों सलमान खान को लगता है समीक्षको से डर !• भारत और इंग्लैड के बीच होगा फाइनल मैच: गूगल सीईओ सुन्दर पिचाई• बीजेपी के सहयोगी नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू बजट सत्र में करेगी तीन तलाक का विरोध • 'टिकटॉक' विडियों बनाने के चक्‍कर में सलमान को लगी गोली, 2 युवक पहुंचे जेल • लोक सभा के बाद अमित शाह ने हरियाणा विजय की खास रणनीति बनाई• घट सकती है दिल्ली मेट्रों का किराया, 30 लाख से अधिक यात्रियों को फायदा• चक्रवाती तूफान 'वायु' ने अपना रास्ता बदला लेकिन एजेंसियां अलर्ट पर अभी खतरा बाकी है • महेंद्र सिंह धोनी के सेना के 'बलिदान बैज' वाले दस्तानों पर बहस तेज• अफगानिस्तान सेना के दस्ते ने आतंकी संगठन तालिबान की जेल से छुड़ाए 83 नागरिक• जगन मोहन रेड्डी ने पलटा चंद्रबाबू सरकार का फैसला, अब आंध्र प्रदेश में CBI कर सकेगी जांच• नमाज के दौरान बेकाबू कार ने भीड़ को मारी टक्‍कर हुआ हगामा • गृह मंत्रालय का प्रभार संभालते ही बीजेपी चीफ अमित शाह ऐक्शन में, जम्मू-कश्मीर में परिसीमन आयोग पर विचार• मायावती की सपा-बसपा प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के बाद अब अखिलेश ने तोड़ी चुप्पी, 'सभी सीटों पर अकेले लड़ेंगे उपचुनाव'• लोकसभा चुनाव प्रदर्शन से नाखुश बसपा बसपा सुप्रीमो मायावती का बड़ा फैसला, अब लड़ेगी सभी उपचुनाव • अमेरिका को चीन की युद्ध की धमकी से पड़ोसी देश चिंतित • भारतीय वायुसेना का एएन-32 विमान लापता, वायुसेना का सर्च ऑपरेशन जारी • अमेरिका ने भारत को GSP दर्जे से किया बाहर • देश में भीषण गर्मी का कहर, दिल्‍ली मे रेड अलर्ट जारी • इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय के बाद अब लखनऊ विश्‍वविद्यालय में पढ़ाया जाएगा अनुच्‍छेद 370• जम्‍मू-कश्‍मीर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर• मोदी सरकार में अमित शाह गृहमंत्री, राजनाथ होंगे रक्षा मंत्री, निर्मला सीतारमन बनीं वित्‍त मंत्री


भारतीय स्टेट बैंक ने अपने ग्राहकों के लिए बैलेंस जाने की प्रक्रिया को ओर आसान बना दिया है। एसबीआई ने अपने ग्राहकों के लिए मिसकॉल करने पर बैलेंस जानने की सुविधा शुरू की है।


बैंक की अध्यक्ष अरुंधति भट्टाचार्य ने एसबीआईक्विक नाम की एक सुविधा की शुरूआत की है। इसके तहत बैलेंस जानने के लिए या पिछले पाँच लेनदेन की जानकारी की सुविधा मिसकॉल और एसएमएस के जरिये दी गयी है, जबकि कार्ड ब्लॉक करने, होम लोन, कार लोन और एसबीआई क्विक के बारे में जानकारी पाने के लिए एसएमएस भेजना होगा।


एसबीआई क्विक के इस्तेमाल से पहले बैंक खाते के साथ दिये गये अपने मोबाइल नंबर से एक एसएमएस भेजकर उस नंबर को इस सुविधा के लिए पंजीकृत करना होगा। पंजीकरण के लिए आरईजी लिखकर एक स्पेस देकर अपना एकाउंट नंबर 9223488888 पर भेजना होगा। पंजीकरण की पुष्टि वाला एसएमएस तुरंत उपभोक्ता के नंबर पर आ जायेगा।  बैलेंस जानने के लिए बीएएल लिखकर 9223866666 परएसएमएस भेजा जा सकता है या मिसकॉल दिया जा सकता है। पिछले पाँच लेनदेन की जानकारी के लिए 9223866666 पर एमएसटीएमटी लिखकर एसएमएस भेजा जा सकता है, या मिसकॉल दिया जा सकता है।


बैंक के मुताबिक, कार्ड ब्लॉक कराने के लिए अंग्रेजी के बड़ेअक्षरों में ब्लॉक लिखकर स्पेस देकर कार्ड नंबर के अंतिम चार अंक 567676 पर एसएमएस करना होगा। वहीं होम लोन. कार लोन और एसबीआई क्विक के लिए अंग्रेजी के कैपिटल लेटर में क्रमशरू होम. कार या हेल्प लिखकर 9223588888 पर एसएमएस करना होगा। इसके बाद उन्हें एसएमएस से जानकारी दी जायेगी और संबंधित विभाग की टीम फोन पर कॉल भी करेगी।

संबंधित समाचार

:
:
: