Headline • गोरखपुर : बाइक को टक्कर मारने के बाद जीप पलटी, 3 की दर्दनाक मौत, 5 घायल• बीजेपी के कार्यक्रम में बार-बालाओं ने किया डांस,सांसद बाबू लाल के स्वागत में लगे ठुमके• आज से शुरू होगी आयुष्मान भारत योजना,पीएम मोदी झारखंड से करेंगे शुभारंभ• आगरा में दर्दनाक सड़क हादसा, चार लोगों की मौत• बलिया: बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह की दादागिरी, डीएम के सामने डीआईओएस से की हाथापाई• आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया• विवादों के बाद सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी रिलीज को तैयार, फर्स्ट लुक जारी• कातिल सौतन! पूर्व पति की शादी को नहीं कर पाई बर्दाश्त, कराया जानलेवा हमला, महिला की मौत• अपनी ही सरकार के खिलाफ बोलीं पूर्व मेयर, कहा-समय पर लिया होता फैसला तो नहीं देखने पड़ते ये दिन• तारीख से लौट रहे दामाद को अगवा कर ससुरालियों ने की जमकर पिटाई, पुलिस ने बचाई जान


गोरखपुरः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गोरखपुर जिले में दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद उन्होंने 87 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली  कई योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। 

आसरा योजना के अंतर्गत 100 लोगों को आवास की चाबियां सौंपीं। 51 लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना की चाबी सौंपी गई उसके बाद 7 लोगों को बीपीएल और  गृहस्थी पात्र का राशन कार्ड दिया। प्रशासन की ओर से 200 लोगों को राशन कार्ड वितरित किया गया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अक्टूबर माह में पूरे देश में एक साथ प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत गृह प्रवेश का कार्यक्रम रखा गया है।

 

साथ ही साथ उन्होंने मंच से भी पिछली सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा 2014 से 2017 तक केंद्र सरकार की योजनाओं को जन जन तक नहीं पहुंचाया गया।

 

जब गोरखपुर का खाद कारखाना बंद हुआ तो गोरखपुर के बाजारों में उसका असर देखने को मिला था लेकिन जब से एम्स का कार्य शुभारंभ हो गया है और फर्टिलाइजर का काम बहुत तेजी से हो रहा है आने वाले दिनों में पूर्वांचल के युवाओं के लिए बहुत लाभकारी साबित होगा।

उन्होंने कहा कि इस साल के अंत तक रामगढ़ ताल और गोरखपुर का चिड़ियाघर बनकर तैयार हो जाएगा।  कल होने वाली आयुष्मान योजना से पूरे देश की जनता को लाभ मिलेगा। 

 

अलीगढ़ः यहां ’नवरात्र की पूजा शौचालय संघ’ कार्यक्रम का अखिल भारत हिंदू महासभा ने विरोध जताया है। इस पूजा को लेकर जिले के करीब एक हजार से अधिक गांवों में नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।

हालांकि जिला प्रशासन की अनोखी पहल बताई जा रही है और स्वच्छ भारत मिशन अभियान को लेकर नवरात्र के पहले दिन हर गांव में शौचालयों की पूजा कराने की योजना है।

इसके तहत नियुक्त नोडल अधिकारी गांव में जाकर सबसे अच्छे शौचालय बनवाने वाले लाभार्थी संग शौचालय की पूजा करेंगे और लाभार्थी को भेंट स्वरूप 101 रुपए दिए जाने का कार्यक्रम भी है।

दो अक्टूबर तक सभी जिलों को ओडीएफ घोषित करने का लक्ष्य तय किया गया है और इस बार नवरात्र को खास बनाए जाने का कार्यक्रम रखा गया है। हर गांव में शौचालय की पूजा होगी।

इससे लोगों में शौचालय के प्रति घृणा खत्म होगी और जागरूकता भी बढ़ेगी। इस कार्यक्रम को लेकर अखिल भारत हिंदू महासभा समेत कई संगठनों ने विरोध जताया है। हिंदू संगठनों ने डीएम चंद्र भूषण को ज्ञापन सौंपा है।

अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रवक्ता अशोक कुमार ने बताया कि जिला प्रशासन ने शौचालय पूजन की योजना चलाई है, इसका विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंदू धार्मिक भावना को आहत करने की योजना को तत्काल वापस लिया जाएं।

 वहीं डीएम चंद्र भूषण सिंह ने कहा कि नवरात्रि के दिन शौचालय की पूजा होगी। उन्होंने कहा कि इस समय ’स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़ा चल रहा है।  उन्होंने कहा कि नवरात्र के दिन अगर पूजन करेगें तो लोग ज्यादा जागरूक होंगे और लोगों की आदतों में परिवर्तन आएगा।

मथुराः जब से मोदी सरकार ने डिजिटल इंडिया का ऐलान किया है, तभी से देश भर मे भर लोग अपना सामान ऑन लाइन ही बेचने और खरीद रहे हैं।

एक ओर जहां ऑन लाइन बिक्री करने और खरीदने का चलन बढ़ रहा है, वहीं अब मथुरा के पंडित दीनदयाल धाम में बनाय जा रहे मोदी और योगी के भगवा कुर्ते भी ऑनलाइन मिल रहे हैं।

यहां से बनाई जा रही आयुर्वेदिक दवाएं और गाय के मूत्र के साथ गोबर से बनी वस्तुएं भी ऑनलाइन मिलेंगी। इसके लिए दीनदयाल धाम ने कई ऑनलाइन ट्रेडिंग कंपनियों से गठजोड़ किया है। 

दीनदयाल धाम के अधिकारियों ने बताया है कि जिस तरह आज हर जगह ऑन लाइन बिक्री और खरीददारी के चलन बड़ा है, कम कीमत में अच्छी वस्तुएं लोगों को मिल रही है, उसी तरह से योगी मोदी के भगवा कुर्ते को भी ऑन लाइन बेचा जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि  हमने भी अपने सभी सामान को अमेजॉन पर ऑन लोने बेचने की शुरुआत कर दी है ताकि अब हमारे ये सामान कोई भी कहीं से भी घर बैठे ही मंगा सकता है।

पहले हम लोग सिर्फ संघ और संघ से जुड़े लोगों तक स्टॉल लगाकर ही बेच पाते थे। उम्मीद है कि अमेजॉन पर आने के बाद इन कुर्तों की बिक्री में इजाफा होगा। 

 

आगराः दो दिन के दौरे पर केंद्रीय पर्यटन मंत्री आगरा पहुंचे। यहां उन्होंने फतेहपुर सीकरी में हजरत शेख सलीम चिश्ती की दरगाह पर चादरपोशी की और मन्नत का धागा भी बांधा। पत्रकारों से बात करते हुए पर्यटन मंत्री के जे अल्फोंस ने आगरा को बहुत गंदे शहर का खि़ताब दिया।

साथ में यह भी कहा की यहां शॉपिंग मॉल अच्छे मार्केट अच्छे रोड नहीं है और उद्योग की दृष्टि से आगरा काफी पिछड़ा हुआ है। जब उनसे पूछा गया कि आखिर अब तक यहां विकास क्यों नहीं हुआ तो उन्होंने साफ़ कह दिया कि उनके पास उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए किसी भी तरह का कोई प्रस्ताव नहीं आया है।

अगर भविष्य में उत्तर प्रदेश सरकार उनसे गुजारिश करती है तो उनका मंत्रालय स्वीकृति देने में देर नहीं करेगा। साथ ही स्वच्छ भारत अभियान पर बोलते हुए उन्होंने कहा की अकेले मोदी जी कहां कहां सफाई करेंगे यहां की सरकार और अधिकारियों को चाहिए कि वो इसका ध्यान रखें।

भारत सरकार के पर्यटन मंत्री के जे अल्फोंस ने दो दिन के आगरा दौरे में हुई परेशानी सबके सामने रखी और खुलकर सबसे बात की।

साथ ही आगरा के दुर्भाग्य और अफसर शाही पर अफ़सोस भी जताया। सवाल ये है कि जब आगरा की दुर्दशा वाकई इतनी ख़राब है तो उत्तर प्रदेश सरकार अपनी आंखों पर क्यों पट्टी बान्धे हुए है।

 

हरदोईः आए दिन सड़क पर चालान की कार्रवाई करने वाली यातायात पुलिस ने गुरुवार को एसपी कार्यालय के सामने ही अभियान चलाया। आम आदमियों के साथ ही उन्होंने पुलिसकर्मियों के चालान काटे। इस अभियान का  मकसद भी यही था कि पुलिसवालों में यातायात नियमों के प्रति जागरुकता पैदा की जाए।

पुलिसकर्मियों को हेलमेट पहनना अनिवार्य किया जाए। एसपी कार्यालय के सामने हो रही कार्रवाई को देखकर कोई पुलिसकर्मी चालान कटवाने से मना भी नहीं कर सके। एक के बाद एक यातायात पुलिस ने 14 पुलिसकर्मियों के चालान काट दिए। इनमें दरोगा से लेकर सिपाही तक शामिल थे। हालांकि जो अधिकारी बड़े वाहनों से आए, उन पर भी नजर रखी जा रही थी लेकिन उन्होंने नियमों का उल्लंघन नहीं किया। 

एसपी आलोक प्रियदर्शी ने पुलिसकर्मियों को हेलमेट पहनकर और बड़े वाहनों में सीट बेल्ट लगाकर वाहन चलाने के निर्देश दिए। लेकिन उन पर अमल कितना हो रहा है, यह देखने के लिए एसपी ने यातायात पुलिस को निर्देशित किया कि वे एसपी कार्यालय में आने वाले सभी पुलिसकर्मियों को चेक करें। जो नियम तोड़कर वाहन चला रहे हैं, उन पर चालान की कार्रवाई करें।

यहीं कारण है कि यातायात टीआई विनोद कुमार अनुरागी की पूरी टीम एसपी कार्यालय के गेट पर ही जम गई और उन्होंने वहां आने वाले हर वाहन की चेकिंग की। इस दौरान 14 पुलिसकर्मी के चालान काटे। जबकि मिलाकर 31 लोगों को भी इस कार्रवाई का शिकार होना पड़ा।

एसपी कार्यालय में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी पहुंचे थे लेकिन हेलमेट कुछ के पास ही थे। अभियान का असर था कि कार्रवाई से बचने के लिए एक-एक करके हेलमेट पहनकर निकल रहे थे और उसी हेलमेट को परिसर में से जाकर वापस एसपी कार्यालय में मौजूद पुलिसकर्मियों को दीवार के ऊपर से वहीं हेलमेट पकड़ा रहे थे।

यातायात पुलिस की कार्रवाई देख पुलिस के ऐसे अधिकारी या जवान जिनके पास हेलमेट नहीं थे, वे कार्रवाई के दौरान एसपी कार्यालय में ही रूके रहे। जब तक कार्रवाई हुई तब तक वे नहीं निकले और जैसे ही यातायात पुलिस का वाहन गया। एक साथ कई पुलिसकर्मी बगैर हेलमेट के वाहन चलाते हुए निकले।

 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: