Headline • अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन ने 2020 के राष्ट्रपति चुनाव लड़ने की घोषणा की • पीएम मोदी ने किया वाराणसी में होने वाले मेगा रोड शो की शुरूआत • महेंद्र सिंह धोनी ने कहा रिटायर होने तक नहीं बताउंगा अपना सक्सेस मंत्र• अक्षय कुमार ने लिया प्रधानमंत्री का इंटरव्यू, पीएम ने जीता यूजर्स का दिल • अफ्रीका में लॉन्‍च किया दुनिया का पहला मलेरिया का टीका• CJI के खिलाफ आरोप: CBI, IB और दिल्ली पुलिस के ऑफिसर तलब• श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट की जिम्मेदारी, आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली• सीएम सहित रेलवे स्टेशनो को मिली आतंकवाद की धमकी• धोनी की बैटिंग देख विराट बोले- धोनी ने तो हमें डरा ही दिया था• पीएम मोदी के अनुरोध पर शाहरुख खान ने एक मजेदार विडियो बना लोगों से की वोटिंग की अपील • श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट: श्रीलंका में अब तक बम धमाकों में मरने वालों की संख्‍या 290 पहुंची • राहुल गांधी का ऐलान सरकार बनी तो राष्ट्रीय बजट के साथ किसानों के लिए करेंगे दूसरा बजट पेश• चुनावी माहौल में ट्विंकल खन्ना ने ली अरविंद केजरीवाल पर चुटकी• बाटला हाउस का जिक्र कर पीएम मोदी ने सादा कांग्रेस पर निशाना • यूएई में आज पहले हिंदू मंदिर का शिलान्यास समारोह• रेल हादसा: कानपुर के पास पूर्वा एक्सप्रेस पटरी से उतरी 100 के करीब लोग घायल • लोकसभा चुनाव 2019: बसपा सुप्रीमो मायावती ने मुलायम के बाद अब आजम खां को दिया समर्थन • विराट सेना' का आज कोलकाता से 'करो या मरो' का मुकाबला• कलंक' स्टार वरुण धवन ने कहा, मुझे असफलता से डर नहीं लगता• सूडान में कैदियों की रिहाई और कर्फ्यू समाप्‍त होने पर अमेरिका ने कि प्रशंसा• 24 साल बाद एक मंच पर दिखें माया-मुलायम• रूस के वैज्ञानिकों का दावा 42 हजार साल पहले दफन घोड़े में मिला खून, अब बनाएंगे क्‍लोन • दिनोंदिन आलिया भट्ट और रणबीर कपूर का मजबूत होता रिश्‍ता रह सकते है लिव-इन पर • पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान बीजेपी-टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसा • लीबिया की राजधानी त्रिपोली में गृहयुद्ध की जंग में 205 की मौत, 913 के करीब घायल


मुरादाबादः तीन तलाक को लेकर पूरे देश में जहां जागरूकता का माहौल बन रहा है, वहीं तलाक पीड़िता महिलाएं भी अपने हक के लिए आवाज उठाने लगी हैं। ताजा मामला मुरादाबाद जनपद का है जहां एक महिला को दहेज में कार की मांग का विरोध करने पर उसके पति ने तलाक दे दिया।

तलाक देने के बाद महिला को घर में ही रखा गया और इद्दत के बाद दोबारा शादी करने का झांसा देकर ननदोई के साथ जबरदस्ती हलाला करवाया गया। महिला का आरोप है की हलाला करने के बाद उसके देवर ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया।

मुरादाबाद जनपद के भोजपुर थाना क्षेत्र में रहने वाली एक युवती की शादी दस महीने पहले मूंढापांडे थाना क्षेत्र के भरवाला खास गांव में रहने वाले वसीम के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही ससुराली महिला से दहेज में कार लाने की मांग करते रहे। विरोध करने पर उसको जान से मारने की धमकी देने लगे।

ससुरालियों की प्रताड़ना से तंग महिला का आरोप है कि एक रात घर में बज रहे म्यूजिक सिस्टम की आवाज तेज होने पर उसने म्यूजिक सिस्टम बन्द कर दिया था जिसको लेकर उसके पति ने उसको तीन तलाक दे दिया। तलाक देने के बाद महिला को वापस मायके भेजने के बजाय ससुरालियों ने उसको जबरन ससुराल में ही रोके रखा।

महिला के मुताबिक उसकी सास तांत्रिक क्रियाएं करती हैं और उसने धमकी दी थी की अगर उसने अपने मायके में शिकायत की तो उसके मायके वालों को मार दिया जाएगा। तलाक के बाद ससुरालियों ने पति से दोबारा शादी की बात कहकर महिला का उसके ननदोई से हलाला करवाया और इस दौरान कई दिन तक ननदोई उसके साथ दुष्कर्म करता रहा।

ननदोई के तलाक देने के बाद महिला के पति ने उससे दुबारा निकाह नहीं किया। महिला के मुताबिक इस दौरान उसके सगे देवर ने कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया और यह प्रताड़ना उसे कई दिनों तक झेलनी पड़ी।

ईद से पहले महिला के परिजन उसके ससुराल पहुंचे और महिला को मायके ले आएं। मायके आने के बाद महिला ने अपने परिजनों को अपने साथ हुई ज्यादतियों की जानकारी दी। महिला ने अपने साथ हुए जुल्म की शिकायत पुलिस से की। साथ ही दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

अलीगढ़ः प्रदेश में कानून व्यवस्था कितनी दुरुस्त है और बदमाशों में कानून का कितना खौफ है, इसकी बानगी आज अलीगढ में देखने को मिली। बदमाशों ने तीन हत्याकांड को अंजाम देकर सीधे सीधे पुलिस को चुनौती दी है।

अलीगढ के थाना हरदुआगंज क्षेत्र में दो घटनाओं में पति पत्नी सहित तीन की हत्याओं से इलाका दहल उठा। तीसरी हत्या एक साधू की हुई है।  तीनों की हत्या गोली मारे जाने से हुई है। तीन हत्याओं की सूचना से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया।  आनन् फानन में एसएसपी, एसपी सिटी सहित पूरा अमला घटना स्थल पर पहुंचा।

दोनों घटनाओं के बीच करीब 700 मीटर की दूरी है।  पुलिस ने मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं और मामले के जांच कर रही है। साथ ही पुलिस अभी घटना के कारणों का भी पता लगा रही है। 

शनिवार सुबह अलीगढ पुलिस को सूचना मिली कि थाना हरदुआगंज इलाके के सफ़ेदपुरा में गाँव के बाहर मंदिर पर रहने वाले साधु की गोली मार कर हत्या कर दी गई है।

उसके थोड़े ही देर बाद पुलिस को दुबारा सूचना मिली की वहां से करीब 700 मीटर की दूरी पर एक पति पत्नी की भी गोली मार कर हत्या कर दी गई है।  सूचना पर एसएसपी दूसरे अधिकारियों के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और घटना की जानकारी  ली।

पहली घटना साधु रूम सिंह की हत्या की है। वो गांव के बाहर एक मंदिर पर पूजा किया करते थे। आज सुबह जब गांव के लोग मंदिर पर पहुंचे तो रूम सिंह का शव मंदिर परिसर में देख कर लोगों ने पुलिस को सूचना दी।  रूम सिंह के चार अन्य भाई गांव में ही अपने अपने परिवारवालों के साथ रहते हैं। 

वहीं, दूसरी घटना में खेत की रखवाली करते हुए पति पत्नी की भी गोली मार कर हत्या कर दी गई। दोनों के शव खेत में पड़े मिले। पति योगेंद्र और पत्नी विमलेश की तीन संतान दो लड़के और एक लड़की है। गाँव वालों को सुबह पता चला की दोनों के शव खेत में पड़े हुए हैं। 

 

नई दिल्लीः स्वयंभू बाबा आशु भाई महाराज उर्फ आसिफ खान को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उसके आश्रम में एक महिला और उसकी नाबालिग बेटी का कथित तौर पर बलात्कार करने के आरोप में गुरुवार रात को गिरफ्तार कर लिया गया। 

बाबा आशु को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच गिरफ्तार किया। दिल्ली के आरके पुरम इलाके में क्राइम ब्रांच के दफ्तर में आशु भाई गुरुजी और उसके बेटे समर खान से घंटो पूछताछ की गई। दोनों बाप-बेटे को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की गई।

दरअसल, रेप और पोस्को जैसी संगीन धाराओं में आरोपी आशु भाई को शाहदरा जिला पुलिस ने गुरुवार सुबह गाज़ियाबाद के पास से हिरासत में लिया। जिसके बाद इसे क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया।

शाम करीब 6ः00 बजे क्राइम ब्रांच की टीम आशु भाई गुरुजी उर्फ आसिफ खान को लेकर क्राइम ब्रांच आफिस पहुंची। जहां आशु भाई के गुनाहों में बराबर का हिस्सेदार उसका बेटा समर खान पहले ही पुलिस कस्टडी में मौजूद था। क्राइम ब्रांच के आला अधिकारियों ने दोनों बाप-बेटे को आमने-सामने बैठाकर घंटो पूछताछ की।

पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपियों से इस मामले में कई घंटे तक पूछताछ हुई. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस को अपनी शिकायत में महिला ने आरोप लगाया कि 2008 और 2013 के बीच उस स्वयंभू बाबा, उसके दोस्तों और उसके बेटे ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

दिल्ली पुलिस का कहना है इस मामले में आशु भाई गुरूजी उर्फ आसिफ खान के खिलाफ क्राइम ब्रांच के पास पर्याप्त सबूत हैं। 

वाराणसीः प्रदेश में भले ही सत्ता परिवर्तन के बाद पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर कई दावे किए जा रहे है लेकिन पुलिस की मनमर्जी कम नहीं हो रही है। ताजा मामला वाराणसी का है, जहां मिर्जामुराद थाने के पुलिस कर्मियों की दबंगई सामने आई है।

वाराणसी के मिर्जामुराद थाने की पुलिस ने अवैध वसूली का विरोध करने वाले देश के दो जांबाज सेना के जवानों को जमकर पीटा था जिसका वीडियो सोशल मिडिया पर वायरल हो गया।

दरअसल, यह पूरा मामला रविवार का था जहां एक ट्रक के धक्के से घायल को सेना में दो जवान भाइयों ने अस्पताल पहुंचाया था लेकिन पुलिस ने ट्रक ड्राइवर को हिरासत में लेने के बजाए ट्रक सहित छोड़ दिया।

जब दोनों भाइयों ने इसका विरोध किया तो पुलिस ने उल्टा आईपीसी गंभीर धाराओं में करवाई करते हुए जवानों को जेल भेज दिया। पुलिस ने इन दोनों भाइयों पर पुलिसकर्मियों से मारपीट का आरोप लगाया हैं। 

पुलिस की कार्रवाई के विरोध में और सेना के दोनों जवानों की रिहाई की डिमांड को लेकर आज ग्रामीणों ने वाराणसी जिला मुख्यालय का घेराव किया। ग्रामीणों ने प्रशासन के माध्यम से सरकार को एक ज्ञापन भी दिया। 

सेना के जवानों के परिजन राजतालाब तहसील पर मिर्जामुराद थानेदार की करतूत को लेकर प्रदर्शन किया।  लेकिन अधिकारियों से आश्वासन मिलने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई। 

 

इलाहाबादः प्रयाग में जनवरी 2019 में लगने वाले कुम्भ मेले की तैयारियों को लेकर शहर में चौराहों का सौन्दर्यीकरण और सड़कों का चौड़ीकरण कराया जा रहा है।

इसी कड़ी में बालसन चौराहे के चौड़ीकरण की जद में आ रही देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की प्रतिमा को शिफ्ट करने का कांग्रेस और सपा के नेताओं ने जमकर विरोध किया।

कांग्रेस नेताओं ने वर्ष 1995 में बालसन चौराहे पर स्थापित देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की प्रतिमा को शिफ्ट किए जाने को लेकर जहां एक विचारधारा को चोट पहुंचाने का आरोप लगाया है।

वहीं इसे देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु का अपमान भी करार दिया है। कांग्रेस और सपा कार्यकर्ताओं का आरोप है कि चौराहे के नजदीक स्थित भाजपा सांसद श्यामाचरण गुप्ता के बंगले और बालसन चौराहे पर लगी पंडित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई।

जबकि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की प्रतिमा को हटाने का काम प्रशासन कर रहा है। वहीं क्रेन की मदद से प्रतिमा को शिफ्ट करने के दौरान समाजवादी छात्र सभा के कार्यकर्ताओं ने क्रेन रोककर सड़क पर धरने पर बैठ गए और जमकर नारेबाजी की।

सपा और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने चौराहे पर लगी अन्य महापुरुषों की प्रतिमाओं को भी शिफ्ट करने की मांग की है। 

 

:
:
: