Headline • हाथरस में प्राथमिक स्कूल की छत गिरी, तीन दर्जन बच्चे घायल, तीन की हालत गंभीर• मथुरा में सड़क पर बदमाशों का तांडव, स्कूली बस में चढ़कर छात्र को लाठी डंडों से पीटा• इंसान को जानवरों की तरह घसीटते रहे रेलवे पुलिसकर्मी, वीडियो बनाया तो दी बंद करने की धमकी• बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल और पी कश्यप दिसंबर में बंधेगे शादी के बंधन में• सपना चौधरी ने ऐसे सेलिब्रेट किया अपना बर्थडे, तस्वीरें और वीडियो वायरल• बकाया पैसा देने के बहाने युवती को घर बुलाया फिर 3 महीने तक करता रहा यौन शोषण, पुलिस नहीं कर रही मदद• पति पर दर्ज हुई सरकारी जमीन कब्जाने की रिपोर्ट तो सभासद ने दी आत्महत्या की धमकी • ‘बाजार’ का ट्रेलर रिलीज, दमदार लुक में नजर आएं सैफ अली खान • भारतीय मूल की मॉडल का खुलासा, 16 वर्ष की थी तो उसके दोस्त ने रेप की कोशिश की थी• सऊदी अरब में मालिक के अत्याचार से हरदोई के युवक की मौत, लाश लाने के लिए पत्नी ने लगाई गुहार• अखिलेश के साथ मंच क्या शेयर किया, शिवपाल  समर्थक हो गए मुलायम से नाराज, पोस्टरों से हटाई तस्वीर• शमशेर सिंह बिष्ट ने कभी भी सत्ता के साथ कोई समझौता नहीं किया, श्रद्धांजलि सभा में बोले लोग• कॉमेडी क्वीन भारती सिंह की सेहत में हुआ सुधार, अस्पताल से शेयर किया ये वीडियो• फिर विधायक सुरेंद्र सिंह के विवादित बोल, कहा-भारत में रहने वाले सारे मुसलमान परिवर्तित हिन्दू हैं• बरेली: विधायक पप्पू भरतौल ने सीएम से की एसएसपी की शिकायत, सच्चाई जानने बरेली पहुंच रहे हैं सुनील बंसल• औलख का करारा जवाब, कहा-एसआईटी रिपोर्ट आने की आहट से ही बौखला गए हैं आजम • आज हो सकती है पूर्व विधायक योगेश वर्मा की रिहाई, रासुका हटने के बाद रिहाई का रास्ता साफ• SC के फैसले का बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया स्वागत,जानें क्या कहा...• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला : बैंक अकाउंट और मोबाइल से आधार लिंक करना जरूरी नहीं• सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला,SC/ST को प्रमोशन में आरक्षण नहीं • मेरठ में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़,10 हजार का इनामी बदमाश घायल• नोएडा पुलिस की गाजियाबाद में रेड,कुख्यात बदमाश अमित भूरा चला रहा था अवैध शराब की फैक्ट्री• गाजियाबाद : युवती की हत्या कर शव को तेजाब से जलाया• पूर्व कांग्रेसी सांसद दिव्या ने पीएम मोदी पर किया आपत्तिजनक ट्वीट, FIR दर्ज • नोएडा : पीएनबी में दो गार्डों की हत्या कर लूट का प्रयास करने वाले बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़, तीन गिरफ्तार


नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर आरएसएस पर निशाना साधा है। और वह भी विदेशी धरती से। राहुल गांधी ने जर्मनी के बर्लिन में कहा कि बीजेपी आरएसएस हमारे देश को बांटने में लगे हैं, हमारे देश में नफरत फैलाते हैं।

राहुल गांधी ने कहा, ’आज हिंदुस्तान में जो सरकार है वो दूसरे तरीके से काम करती है। बीजेपी और आरएसएस के लोग हमारे देश को बांटने में लगे हुए हैं। ये लोग देश में नफरत फैलाते हैं। हमारा काम लोगों को एक साथ लाने का है और देश को आगे बढ़ाने का है। ये काम हमने करके दिखाया है।

राहुल गांधी ने कहा, ’भारत की असली ताकत हर एक व्यक्ति की आवाज सुनने की है। चाहे वो सबसे कमजोर हो या सबसे गरीब व्यक्ति हो। भारत के हर धर्म की यही सोच है कि पंक्ति के आखिरी व्यक्ति की बात सुननी है।’

वहीं बीजेपी ने राहुल के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि राहुल बीजेपी फोबिया से ग्रसित है। 

गौरव भाटिया ने कहा, ’’राहुल गांधी में वो परिपक्वता नहीं है जो एक नेता में होनी चाहिए। राहुल गांधी ने पहले भी विदेशी धरती से ऐसी बातें कही हैं। उन्होंने पहले भी कहा कि कुछ पार्टियां डराने का काम कर रही हैं, देश में अल्पसंख्यक खतरे में है. जबकि सच्चाई ये है कि सिर्फ कांग्रेस पार्टी का अस्तित्व खतरे में है।’

 

मुरादाबादः यहां युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। मृतक के परिजनों ने वन विभाग के दरोगा समेत 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। 

मुरादाबाद के भगतपुर थाना क्षेत्र में एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या के विरोध में मृतक के परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर विरोध प्रदर्शन किया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने परिजनों को हटाकर जाम खुलवाया। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हत्या के आरोप में एक वन दारोगा समेत पांच लोगों को नामजद किया गया है। 

सोनू नाम का युवक वन विभाग की स्थानीय चौकी में मजदूरी का काम कर रहा था। मंगलवार रात वन विभाग में तैनात एक दरोगा ने मृतक सोनू को विभागीय दस्तावेज लाने के लिए डूंगरपुर चौकी पर भेजा था। सोनू देर रात में ही दरोगा के आदेश पर दस्तावेज लेने के लिए निकला लेकिन रास्ते में घर होने की वजह से वह पहले घर चला गया।

परिजनों का कहना है कि उसी समय सोनू के मोबाइल पर डूंगरपुर चौकी से किसी ने फोन किया था। उसने सोनू को जल्द चौकी पर वापस आने को कहा। 

उसके बाद सोनू तुरंत अपनी बाइक लेकर चला गया और फिर पूरी रात वापस लौट कर नहीं आया। इसके बाद परिजनों को सुबह सोनू का शव सड़क किनारे होने की सूचना मिली।

हत्या की सूचना पर परिजनों में मातम पसर गया। हत्या के विरोध में परिजनों ने शव को चौकी के पास सड़क पर रख कर जाम लगा दिया। जिसे पुलिस ने किसी तरह आरोपियों को पकड़ने का आश्वासन देकर खुलवाया। वहीं परिजनों ने वन विभाग के अधिकारियों पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है। इस मामले में मुरादाबाद पुलिस का कहना है कि परिजनों की तहरीर पर वन विभाग के दरोगा समेत पांच लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है।

आजमगढ़ः  एक तरफ जहां देश दुनिया में बकरीद पूरे हर्षोल्लास से मनाई गई तो वहीं आजमगढ़ में इस त्यौहार पर सफाई अभियान और खुले में शौच को रोकने के लिए जागरूकता अभियान चलाया गया। 

खास तौर पर अल्पसंख्यक इलाकों में जिला प्रशासन की अनोखी स्कीम इज्जत घर यानी शौचालय को बढ़ावा देने के लिए मौलाना मौलवी और आम स्थानीय नागरिकों ने मुहिम चलाई। मुसलमानों ने खुले में शौच का विरोध करते हुए इज्जत घर यानी शौचालय को अपनाने के लिए अपील की। 

डीएम जब मुबारकपुर कस्बे में पहुंचे तो उन्होंने पाया कि यहां के मौलवी और मौलानाओं ने इज्जत घर को बढ़ावा देने के लिए मुहिम चला रखी है। 

उनकी पहल प्रदेश सरकार की स्कीम को चार चांद भी लगा रही है। डीएम ने मुबारकपुर कस्बे और आसपास के इलाकों में इज्जत घर यानी शौचालय के प्रति जागरूकता को देख कर लोगों को धन्यवाद दिया और पूरी तरह से खुले में शौच जाने की सामाजिक बुराई के प्रति प्रतिबद्धता का इजहार किया।

 

बरेलीः शहर के चर्चित अधिवक्ता पत्नी सीमा शर्मा हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया। इस सनसनीखेज मामले के खुलासे पर सभी की नजर लगी हुई थी।

मजे की बात है कि अधिवक्ता के हत्यारे के रूप में पुलिस ने एक अखबार के संपादक समेत दो सगे भाइयों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि अधिवक्ता की हत्या करने के बाद हत्यारे पुलिस को धोखा देने के उद्देश्य से कांवड़ लेने हरिद्वार निकल गए थे। वहां से गंगाजल लाकर यहां के मंदिर में चढ़ाया। 

क्राइम ब्रांच ने दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर उनके पास से हत्या में शामिल चाकू, 2 बाइक और सैंट्रो कार बरामद की है। 

पुलिस का कहना है कि पूरा मामला पैसों के लेनदेन का  है। अधिवक्ता ने रामपुर की 69 लाख की जमीन बेचकर हत्यारों को इन्वेस्टमेंट के लिए 69 लाख रुपए दिए थे। 

लेकिन जब इन्वेस्टमेंट नहीं किया तो अधिवक्ता रुपए मांगने लगी। जिस पर दोनों भाइयों ने सर धड़ से अलग कर हत्या कर दी थी। 57 साल की अधिवक्ता सीमा शर्मा की 17 अगस्त को निर्मम हत्या हुई थी। शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के सिविल लाइन्स इलाके का मामला था। 

युवक की हत्या में वन विभाग के दरोगा समेत 5 नामजद, सड़क किनारे मिली थी युवक की लाश

अमेठीः एक तरफ जहां पूरे देश में राम मंदिर बनाने को लेकर डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने अध्यादेश की बात कर रहे है वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के गढ़ अमेठी में भी राम मंदिर के लिए सुर उठने लगे हैं। इसे लेकर साधु संतों की भी नाराजगी बढ़ती जा रही है।

राम मंदिर न बनने से नाराज होकर सगरा पीठाधीश्वर और हिन्दू धर्म गुरु मौनी महाराज ने 72 घंटो के लिए समाधि ले ली है। बाबा की ये 53वीं समाधि है और इसके पहले बाबा 52 बार समाधि ले चुके हैं।

समाधि लेने के बाद आश्रम में बाबा के अनुयाइयों का जमावड़ा लगा हुआ है और बाबा के भक्त समाधि स्थल पर ढोल नगाड़ों के साथ बाबा के उपासना में लीन है। पूरे आश्रम में सुरक्षा के लिहाज से पहले दिन तो प्रशासन ने पुलिस फोर्स तैनात कर दी थी लेकिन सुबह होते ही सभी पुलिस कर्मी मौके से हट गए।

जिससे बाबा के आश्रम और उनके अनुयायियों पर सुरक्षा का खतरा मंडराने लगा है। फिलहाल बाबा आज पांच बजे समाधि से बाहर निकलेंगे जिसे लेकर उनके भक्त तैयारी में जुट गए हैं।

दरअसल अमेठी के बाबूगंज स्थित सगरा आश्रम में हिंदूवादी लोगों की आस्था है। इसी सगरा आश्रम के पीठाधीश्वर और हिन्दू धर्मगुरु मौनी महाराज ने बिना प्रसाशन की जानकारी के 20 अगस्त को शाम करीब पांच बजे समाधि ले ली।

बाबा के समाधि लेने की खबर जैसे ही प्रशासन को लगी देरशाम मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल लगा दिया गया लेकिन सुबह होते ही सभी पुलिसकर्मी मौके से फरार हो गए। इस आश्रम में प्रतिदिन बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का जमावड़ा लगता है लेकिन प्रशासन ने उनकी सुरक्षा का कोई खयाल नहीं रखा। 

एसपी अनुराग आर्य ने कुछ भी बोलने से मना कर दिया। वहीं बाबा के शिष्यों के कहना था कि बाबा हर वर्ष समाधि लेते हैं लेकिन इस बार उन्होंने राम मंदिर के लिए समाधि ली है। बाबा के अनुयायियों की मानें तो बाबा महाकाल के पुजारी है और देश कल्याण के लिए हर वर्ष समाधि लेते हैं लेकिन इस बार बाबा ने राम मंदिर निर्माण को लेकर समाधि ली है।

राम मंदिर का मामला कोर्ट में विचाराधीन है लेकिन लोगों की आस्था बन गई थी कि जब भाजपा की सरकार केंद्र में आएगी तो राम मंदिर का निर्माण होगा लेकिन पांच साल बीतने को है जिससे लोगो को निराशा हाथ लग रही है। 

भक्तो का आरोप है कि बाबा के ऊपर पहले भी जानलेवा हमला हो चुका है लेकिन प्रसाशन ने सुरक्षा के लिए कोई जरूरी कदम नहीं उठाया। 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: