Headline • राजस्‍थान का गुर्जर आंदोलन शनिवार को खत्म• पुलवामा आतंकी हमले पर सर्वदलीय बैठक शुरू• PM मोदी का ऐलान: आतंकियों की बहुत बड़ी गलती चुकानी होगी कीमत• गांधीजी के पुतले को गोली मारने वाली हिंदू महासभा सचिव पूजा पांडे को मिली जमानत• कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती विस्फोट 41 सीआरपीएफ जवानों की मौत• राजीव सक्सेना को अगस्ता वेस्टलैंड मामले में 22 फरवरी तक मिली अंतरिम जमानत • सुप्रीम कोर्ट ने केजरीवाल और एलजी विवादों पर अपना फैसला सुनाया• केसरी: अक्षय कुमार अभिनीत ऐतिहासिक ड्रामा का पहला झलक वीडियो रिलीज़ • पीएम मोदी ने हरियाणा में की विकास परियोजनाओं की शुरुआत • राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मोदी सरकार पर जुबानी जंग • मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में SC ने राव के माफ़ी नामे को किया अस्वीकार लगाया 1 लाख का जुर्माना• आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर आंदोलन उग्र • शराब पर राजनीति: त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री पद का इस्तीफा देने की मांग• आ रही हूँ यूपी लूटने- वाराणसी में प्रियंका वाड्रा के खिलाफ लगाए गए पोस्टर• PM मोदी ने 300 करोड़ के भोजन वितरण पर मथुरा वासियो को किया सम्बोधित • आंध्र प्रदेश में PM का विरोधी पोस्टरों से स्वागत, उपवास पर बैठे चंद्रबाबू नायडू • J&K: हिमस्‍खलन के बाद फसे पुलिसकर्मियों की तलाश जारी • SC ने तेजस्वी यादव को पटना में सरकारी बंगला खाली करने का दिया आदेश • इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश के राज्य कर्मचारियों की हड़ताल को अवैध ठहराया • राहुल गांधी ने राफेल डील को लेकर PM मोदी पर सादा निशाना • ममता के धरने में शामिल होने वाले अधिकारियों पर गिर सकती है गाज• मुजफ्फरपुर आश्रय गृह में यौन उत्पीड़न: सुप्रीम कोर्ट ने बिहार से दिल्ली ट्रांसपर किया मामला• शेर से भिड़ा युवक, आत्मरक्षा के लिए शेर को ही मार डाला• PM मोदी 15 फरवरी को पहली स्वदेशी इंजन रहित वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाएंगे हरी झंडी • मनी लॉन्ड्रिंग केस: रॉबर्ट वाड्रा आज फिर पहुंचे ED दफ्तर


बागपतः मुस्लिम महिलाओं के लिए तीन तलाक एक नासूर बन चुका है। मामूली बातों पर भी शौहर बेगम को तलाक दे रहे हैं। ताजा मामला बागपत में सामने आया है। जहां 6 माह पूर्व मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंर्तगत जिला प्रशासन द्वारा कराई गई शादी के बाद एक नवविवाहिता को महज इसलिए तलाक दे दिया गया कि उसने खाना बनाने से इंकार कर दिया।

इंकार करने की वजह थी कि नवविवाहिता तेज बुख़ार की बीमारी से पीड़ित थी। इतना ही नहीं आरोप है कि शादी से पहले उसके साथ ससुराल पक्ष के लोगों ने मारपीट तक की और घर से निकाल दिया।

शादी मुख्यमंत्री की योजना के अंर्तगत हुई इसलिए पीड़िता ने सीएम को पिता बताते हुए इंसाफ की मांग की है।

मामला कोतवाली बागपत क्षेत्र का जहां ईदगाह मौहल्ले के एक युवक और बिलौचपुरा गांव की एक युवती की शादी 6 महीने पहले मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत जिला प्रशासन ने कराई थी। जरूरत के अनुसार शादी में प्रशासन की तरफ से ही दान दहेज दिया गया था। लेकिन अब जिस युवती की शादी जिला प्रशासन ने कराई थी उसे अब उसके शौहर ने 6 महीने बाद 3 तलाक कहकर घर से निकाल दिया। 

नवविवाहिता को महज इसलिए तलाक दिया गया क्योकि उसके शौहर और ससुरालियों ने उसे खाना बनाने के लिए कहा लेकिन उसने बीमारी के कारण उस दिन खाना बनाने से इंकार कर दिया।

विवाहिता की हालत  बुखार के चलते खाना बनाने की नहीं थी। मना करने पर उसकी पिटाई की गई और घर से निकाल दिया गया।

पीड़िता की माने तो जिस वक्त उसे तलाक दिया गया उस वक्त समाज के कई प्रतिष्ठित लोग मौजूद थे और तलाक के होने के बाद सभी ने उसे घर से जाने के लिए कहा। पीड़िता के पिता ने सीएम योगी से  इंसाफ की मांग की जबकि तलाक़ पीड़िता ने सीएम को पिता बताया है कि जब शादी सीएम की योजना में हुई है तो वो भी उसके पिता है और उसने इंसाफ मांगा है।

 

मुरादाबादः जनपद के ठाकुरद्वारा क्षेत्र में तेंदुए के हमले की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है। इस बार आदमखोर तेंदुए ने 9 साल के बच्चे को अपना शिकार बनाया। जिससे परिवार के साथ पूरे गांव में कोहराम मच गया। बच्चा घर से बाहर दुकान से समान लेने जा रहा था तभी तेंदुए ने हमला कर दिया और उसे गन्ने के खेत मे खींचकर ले गया।

अब से पहले भी कई लोगों पर तेंदुआ हमला कर चुका है। लगातार बढ़ रहे हमलों से लोगों का वन विभाग के खिलाफ बेहद रोष है। 9 साल का मासूम शिवा अपनी नानी के यहां बालापुर में रह रहा था। मूल रूप से शिवा उत्तराखंड के जसपुर का रहने वाला था। बचपन में ही शिवा की मां का निधन हो गया था।

शिवा का लालन पालन ननिहाल वाले ही कर रहे थे। सोमवार सुबह शिवा गांव की ही एक दुकान से सामान लेने के लिए घर से बाहर निकला तभी पहले से ही घात लगाए बैठे तेंदुए ने शिवा पर हमला बोला दिया और खींच कर गन्ने के खेत में ले गया। गांववालों के शोर मचाने पर तेंदुआ शिवा के शव को छोड़ कर भाग गया। तबतक शिवा दम तोड़ चुका था।

शिवा के गले पर तेंदुए के दांतों के गहरे गहरे निशान है। अब से पहले भी तेंदुआ गांव के कई लोगां पर जानलेवा हमला कर चुका है। यह तेंदुआ ठाकुरद्वारा क्षेत्र के कई गांव में लोगों को अपना शिकार बना चुका है।

ठाकुरद्वारा की सीमा उत्तराखंड से सटी हुई है और जसपुर तक कार्बेट नेशनल पार्क का जंगल है। अक्सर जंगली जानवर खासकर तेंदुआ खाने की तलाश में जंगल से ग्रामीण क्षेत्रों में आ जाते हैं।

तेंदुआ कभी किसी जानवर को तो कभी इंसानों को अपना शिकार बना लेते हैं। वन विभाग की तरफ से तेंदुआ पकड़ने के लिए शिकायत मिलने पर पिंजरा लगा दिया जाता है लेकिन तेंदुआ तब तक उस गांव से दूसरे गांव में पहुंच जाता है। वन विभाग ने मृतक के परिजनों को पांच लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की तब जाकर ग्रामीण शांत हुए।

मेरठः यहां सड़कों पर जमकर आतंक काटने वाली फॉर्चूनर गाड़ी में चाइनीज लोग सवार थे जिन्होंने शराब पी रखी थी और शराब के नशे में ड्राइविंग करने के चलते चाइनीस मूल के लोगों ने कई गाड़ियों में टक्कर मार दी और कई लोगों को घायल भी कर दिया। मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने चाइनीज लोगों को हिरासत में ले लिया। फिलहाल पुलिस छानबीन कर रही है।

दरअसल मेरठ के थाना नौचंदी क्षेत्र के शास्त्री नगर रोड रंगोली मंडप के पास बीती शाम अचानक से तेज रफ्तार फोचूनर गाड़ी ने आतंक काटना शुरु कर दिया देखते ही देखते गाड़ी ने कई गाड़ियों में टक्कर मार दी।

कई लोग मामूली रूप से घायल भी हुए। स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना थाना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फॉर्च्यूनर गाड़ी और उसके अंदर बैठे लोगों को हिरासत में ले लिया।

छानबीन में पता चला है कि पकड़े गए लोग चाइनीज हैं जबकि उनके साथ एक गाइड भी मौजूद था। पुलिस ने दो चाइनीज सहित एक इंडियन को हिरासत में ले लिया है और पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।

बताया जा रहा है चाइनीज काफी समय से मेरठ में रह रहे हैं और वह बसपा नेता व मीट कारोबारी हाजी याकूब की मीट फैक्ट्री का सैंपल चेक करने के लिए आए हुए हैं।

फिलहाल पुलिस के साथ-साथ लोकल इंटेलिजेंस यूनिट भी चाइनीज लोगों के पासपोर्ट वीजा आदि चेक कर रहे हैं। अगर कागजों में किसी भी प्रकार की दिक्कत पाई जाती है तो चाइनीज मूल के लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

फिलहाल पुलिस शराब पीकर गाड़ी चलाने के जुर्म में चाइनीस लोगों को हिरासत में लिए हुए हैं लेकिन अब देखना यह होगा कि यह लोग हिंदुस्तान के अंदर लीगल तरीके से आए हुए हैं या इल्लीगल तरीके से। 

वाराणसीः पूरे देश में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन मनाया जा रहा है। मुख्य कार्यक्रम वाराणसी में होने वाला है, जहां पीएम मोदी बच्चों के संग जन्मदिन का केक काटने के बाद अपनी उपर बनी फिल्म भी देखेंगे। इस बीच कांग्रेस पार्टी ने अनोखे ढंग से पीएम मोदी का जन्मदिन मनाया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जन्मदिन के मौके पर पीएम को राफेल सौदे पर घेरा। शहर के भारत माता मंदिर पर कांग्रेस कमेटी ने राफेल डील पर प्रधानमंत्री को घेरते हुए प्रतीकात्मक रूप से प्रधानमंत्री द्वारा अनिल अम्बानी को केक खिलाते हुए दिखाया गया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि पीएम ने उद्योगपति मित्र के लिए देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है। राफेल सौदे में अनिल अंबानी को लाभ पहुंचाया गया है।

उन्होंने कहा कि अनिल अंबानी की कंपनी को इस क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है। फिर भी इस कंपनी को समझौते में हिस्सा बनाया गया है।

पीएम के काशी प्रवास के दौरान जिला-महानगर-व महानगर युवा कांग्रेस के संयुक्त तत्वावधान में भारत माता मंदिर में राफेल-विमान का प्रतीकात्मक मोदी का व अनिल अंबानी का मुखौटा रूपी आदमी से केक कटवाया गया। पीएम को उनके पुराने कसमें वादों को याद दिलाया गया।

 

आगराः यहां ताजमहल की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं। ताजमहल के तीनों रास्तों पर लगे कीमती लाइट सेट्स चोरी हो गए हैं। हाई सिक्योरिटी जोन होने के बावजूद चोरों ने महंगे लाइट सेट्स पर अपना हाथ साफ कर दिया और पुलिस को ख़बर तक नहीं हुई।

ताजमहल के रास्ते के दोनों ओर आकर्षक पिलर और उनमें विशेष लाइट लगाए गए थे। सिक्योरिटी जोन में लगे पिलर तोड़कर लोग महंगी लाइटें चुरा ले गए। अधिकांश पिलर तोड़कर उनकी लाइट चोरी होने के बाद अब यहां 70 फीसदी लाइटें रात में नहीं जलती हैं।

चप्पा-चप्पा पुलिस निगरानी में होने के बाद भी चोरी की इस घटना से सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं। अंधेरा होने की वजह से इन जगहों पर होटल में रुकने वाले पर्यटक बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। पर्यटकों को अंधेरे में किसी वारदात का शिकार होने का डर सताता है। पर्यटकों की सुरक्षा के लिए हाई सिक्योरिटी जोन का चप्पा-चप्पा पुलिस निगरानी में रहता है। यहां का हर हिस्सा सीसीटीवी कैमरों की नजर में रहता है। 

दो दिन पूर्व ताजमहल के पूर्वी गेट के पास दबंगों ने एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इतना सब होने के बावजूद ताज की सुरक्षा में तैनात पुलिस की कार्रवाई नगण्य दिखाई देती है। राष्ट्रीय स्मारक संरक्षण समिति के अध्यक्ष मुनव्वर अली का कहना है कि यह बहुत बड़ी चूक है कि इतनी सुरक्षित जगह से चोरी और अन्य अपराध हो रहे हैं।

ताजमहल के पूर्वी पश्चिमी और दक्षिणी गेटों पर लगाई गई लाइट चोरी होने के संम्बंध में सीओ ताज सुरक्षा से बात करने पर उनका कहना था कि अभी तक उनके पास ऐसी कोई सूचना नहीं आयी है और जैसे ही आएगी तो ताजगंज थाने में नियमानुसार मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

 

:
:
: