Headline • आगरा को हॉकी के विश्व पटल पर मिलेगी नई पहचान:  चेतन चौहान• योगी पहुंचे गोरखपुर, कई योजनाओं को किया लोकार्पण व शिलान्यास, बांटे प्रमाण पत्र• चुड़ैल समझ कर महिला की हत्या कर दी, अपराध छुपाने के लिए लाश को जंगलों में फेंका• फर्रुखाबाद: सड़क दुर्घटना नहीं हत्या कर लाश फेंकी गई थी, पत्नी ने प्रेमी संग दी पति और भतीजे की हत्या की सुपारी• कायमगंज में अंबेडकर प्रतिमा का हाथ तोड़कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश, बसपा नेता ने स्थिति संभाली• नवरात्र पर प्रशासन चलाएगा शौचालय की पूजा का कार्यक्रम, कई संगठनों ने किया विरोध का ऐलान• मोहर्रम बवाल पर बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल समेत 150 पर केस, 750 ताजिएदारों पर भी केस• अध्यादेश के बाद राजधानी में आया तीन तलाक का मामला, दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दिया तलाक• राजधानी में बदमाशों के हौसले बुलंदी पर, अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य रुमाना सिद्दीकी के बेटे को बुरी तरह पीटा• 'थोड़ी सी महंगाई बढ़ने पर सुषमा स्वराज बाल खोलकर सड़क पर उतर जाती थी, अब क्यों चुप है'• ओलांद के बयान के बाद राहुल गांधी का वार, बंद दरवाजे निजी तौर पर मोदी ने डील करवाई है• दो दिवसीय दौरे पर अगले हफ्ते फिर अमेठी आ रहे हैं राहुल गांधी, योजनाओं के लेकर मंत्रियों को लिखा खत• अवैध शराब बनाते बसपा के पूर्व विधायक गिरफ्तार, बंद पड़े स्कूल में चला रहे थे कारोबार• हापुड़ में गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान युवक नहर में डूबा, गोताखोर तलाश करने में जुटे• नील नितिन मुकेश के घर आई एक नन्ही परी• जानें राजनीति में आने के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने क्या जवाब दिया• विवादों के बाद सन्नी देओल की फिल्म मोहल्ला अस्सी रिलीज को तैयार, फर्स्ट लुक जारी• कातिल सौतन! पूर्व पति की शादी को नहीं कर पाई बर्दाश्त, कराया जानलेवा हमला, महिला की मौत• अपनी ही सरकार के खिलाफ बोलीं पूर्व मेयर, कहा-समय पर लिया होता फैसला तो नहीं देखने पड़ते ये दिन• तारीख से लौट रहे दामाद को अगवा कर ससुरालियों ने की जमकर पिटाई, पुलिस ने बचाई जान• 80 मौत के बाद जागीं मंत्री अनुपमा, अस्पताल का लिया जायजा, कैमरों के साथ पहुंचीं मृतकों के घर• भारत ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला, चोटिल पांड्या की जगह रविंद्र जाडेजा को मौका• बीच बचाव करने गए बुजुर्ग पर ही टूट पड़े, चौकी इंचार्ज ने जान पर खेलकर बचाई जान• कर्बला की ओर बढ़ते हर कदम के साथ हुसैन की कुर्बानी का दर्द और यजीद के खिलाफ गुस्सा दिखा • करीना कपूर ने फैमिली के साथ सेलिब्रेट किया अपना जन्मदिन, तस्वीरें आई सामने


कोलकाताः शहर माझेरहाट इलाके में 40 साल पुराना पुल ढहने से 1 की मौत हो गई तो तकरीबन 21 लोग अस्पताल में हैं। उधर, राज्य की ममता बनर्जी सरकार ने पुल ढहने की जांच के लिए चीफ सेक्रेटरी के नेतृत्व में एक कमेटी का गठन किया है। यह कमेटी दस दिनों के भीतर सरकार को अपनी रिपोर्ट देगी। उधर, सरकार ने शहर के दूसरे पुलों की जांच कराने के भी निर्देश दिए हैं।

बताया जा रहा है कि अभी भी कई लोग अभी पुल के मलबे में दबे हुए हैं। इन्हें निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। साथ ही सफाई का काम भी जारी है।

बता दें कि पिछले 6 साल में कोलकाता में करीब तीन पुल गिर चुके हैं। इससे पहले 2016 में कोलकाता के बड़ा बाजार इलाके में पुल गिरा था जिसमें 26 लोगों की मौत हो गई थी। 

मंगलवार को कोलकाता में हुए भीषण पुल हादसे में बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने पहले ही पीडब्ल्यूडी को पुल की स्थिति के बारे में आगाह कर दिया था लेकिन समय रहते पुल की मरम्मत करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया।

उधर, इस मुद्दे पर अब राजनीति शुरू हो गई है। बीजेपी ने राज्य की ममता सरकार पर निशाना साधा है और इस्तीफे की मांग की है। उधर, त्रृणमूल कांग्रेस ने बीजेपी पर पुल हादसे को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया है। 

मंगलवार शाम पुल गिरने की इस घटना के बाद मौके पर एनडीआरएफ, सेना, पुलिस और अन्य विभागों की टीमें राहत कार्य में जुटी हुई हैं।

घटना के बाद अब तक कई घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही कई लोगों के मलबे में होने की आशंका जताई जा रही है।

इसके रख रखाव की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी और रेलवे प्रशासन की थी। इस हादसे में मरने वाले शख्स की पहचान बाइक चालक सोमेन बाग के रूप में हुई है जो उस वक्त पुल पार कर रहे थे। जैसे ही पुल का एक हिस्सा टूटकर दो में बंटा वह सिर के बल उसी जगह पर गिर गए। उनके अलावा तीन बाइक, एक मिनीबस और पांच कारें भी वहां फंस गई। 

 

इलाहाबादः कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा पर सवाल उठाए जाने पर कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी पर पलटवार किया। कांग्रेस प्रवक्ता ने बीजेपी के नेताओं को ढोंगी हिन्दू करार दिया है।

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी का कहना है कि राहुल गांधी की लोकप्रियता से बीजेपी के लोग बरगला-बौखला और खिसिया गए हैं, इसलिये वह कभी राहुल गांधी पर कैलाश मानसरोवर यात्रा के दौरान होटल में नॉनवेज खाने का आरोप लगाते हैं तो कभी चीनी नेताओं से बात करने का बहाना खोजने का। 

प्रियंका चतुर्वेदी के मुताबिक़ हिंदुत्व का नारा देकर लोगों की भावनाओं से खेलने वाले बीजेपी के लोग ढोंगी हिन्दू हैं। वह न तो भक्ति में विश्वास रखते हैं और न ही उन्हें राम मंदिर में विश्वास है।

उन्होंने बीजेपी नेताओं को नसीहत देते हुए कहा है कि उन्हें शर्म आनी चाहिए और ढोंगी हिंदुत्व छोड़ देना चाहिए। प्रियंका चतुर्वेदी ने राहुल गांधी के जीजा राबर्ट वाड्रा के खिलाफ एफआईआर को बदले की भावना से प्रेरित बताया है और कहा है कि बिजनेस करना कतई गलत नहीं है।   

 

नैनीतालः हल्द्वानी के पूनम पाण्डे हत्याकांड के मामले को नैनीताल हाईकोर्ट की खंडपीठ ने स्वतः संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार को आदेश जारी किए है। आदेश में कहा गया है कि मामले की जांच एसआईटी से करा कर उसकी रिपोर्ट 2 सप्ताह के भीतर कोर्ट में पेश करें। 

साथ ही हाईकोर्ट ने लगतार बढ़ रहे आपराधिक मामलों पर नाराजगी भी व्यक्त की। वहीं कोर्ट ने एसएसपी को आदेश दिए कि बढ़ रहे अपराधों को रोकने के लिए अधिक चेकपोस्ट बनाए और सही तरह से पुलिस गस्त करें।

आपको बात दें कि बीते 27 अगस्त को हल्द्वानी में बदमाशों ने घर में घुसकर लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया था।

इस दौरान बदमाशों ने पूनम पांडे और उनकी बेटी अर्शी पांडे को गोली मार दी थी, जिसकी वजह से पूनम की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं उनकी बेटी गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। जिसका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। 

हाईकोर्ट की खंडपीठ ने स्वतः संज्ञान लेते हुए मामले की एसआईटी जांच के आदेश दिए हैं। 

शामलीः पश्चिमी यूपी में बारिश जमकर अपना कहर बरपा रही है। सबसे ज्यादा मुसीबत बारिश के कारण हो रहे जलभराव से हो रही है। रेलवे अंडरपास अब दरिया बने हुए हैं। इस कारण शामली मुख्यालय का सम्पर्क कई गाँवों से टूट गया है।

रेलवे अंडरपास में भरे पानी मे फंसे वाहनों के रेस्क्यू की अलग अलग क्षेत्रों की 4 तस्वीरें सामने आई हैं। एक बारात की बस व स्कूल बस और एक बोलेरो कार को रेस्क्यू किया गया जबकि कई वाहन घटों तक पानी मे फंसे रहे।

इस रेस्क्यू में वाहनों को निकालने के लिए क्रेन की मदद लेनी पड़ी। पहली तस्वीर में आप देख सकते है कि ट्रैक्टर पर बैठे लोग पानी मे फंसे हुए हैं। और इन्हें निकालने वाला यहां कोई नही है। काफा देर तक यह ट्रैक्टर यूंही फंसा रहा जिसके बाद बड़ी मुश्किल से इस ट्रैक्टर को निकाल गया।

 

वहीं दूसरी तस्वीर में एक बारात की बस पानी में फंसी हुई है। पानी इतना भरा है कि बस हिल तक नहीं सकती। बस में बैठे लोगों की भी जान आफत में फंसी है। जब बस नहीं निकली तो क्रेन का सहारा लेना पड़ा।

कुछ ऐसा ही हाल एक स्कूल बस का है, जहां स्कूल बस भी पानी में इस कदर फंसी कि छात्रों को पानी के बीच से निकाला गया। छोटी गाड़ियां जैसे बुलेरो भी पानी में बुरी तरह फंसी रही। 

ये अंडरपास लोगों की सुविधाओं के लिए बनाए गए थे , लेकिन ये लोगों के लिए मुसीबत बने हुए हैं। दिल्ली सहारनपुर रेलवे लाइन से सटे गांवो का लिंक शहर से पूरी तरह से टूट गया है। 

फर्रुखाबादः सरकार वन डिस्ट्रीक्ट वन टूरिज्म योजना लागू कर हर जिले में पर्यटन को बढ़ावा देना चाहती है, पर बौद्ध सर्किट के प्रमुख तीर्थ स्थल संकिसा में जो वाकया सामने आया है वह निहायत दुखद और शर्मनाक है। एक विदेशी पर्यटक की मौत पर प्रशासन उसके शव को सील करने के लिए महिला सिपाहियों तक की व्यवस्था नहीं कर पाया। पुरुष सिपाही ने हाथ से फ्राक खींचकर जिस तरह श्रीलंकाई बुद्ध उपासिका के शव को निर्वस्त्र किया उससे न केवल एक भक्त के शव की बेअदबी हुई है बल्कि प्रशासन की सतर्कता पर एक बड़ा सवालिया निशान लगा है।

अस्पताल के पास सरकार द्वारा संचालित शव वाहन हैं लेकिन श्रीलंका के इस दुखी परिवार को महंगे रेट पर प्राइवेट एम्बुलेंस से शव को पोस्टमार्टम हाउस और बाद में दिल्ली ले जाना पड़ा। 

श्रीलंका के रांडी रिचमंडवथू दुआटेंपल कलूतारा साउथ निवासी एलएल रांदिमा समेत 83 बौद्ध श्रद्धालुओं का दल 12 अगस्त को भारत में चेन्नई पहुंचा था। यह दल देश भर में स्थित बौद्ध स्थलों के दर्शन कर रहा है।  

श्रद्धालुओं को लेकर टूरिस्ट बस श्रावस्ती से संकिसा पहुंची। यहां बस से उतरते ही युवती की हालत बिगड़ने पर उन्हें पहले पीएचसी ले जाया गया। हालत गंभीर होने पर यहां से लोहिया अस्पताल रेफर कर दिया गया। लोहिया अस्पताल में युवती को मृत घोषित कर दिया गया।

श्रीलंकाई तीर्थयात्री के शव के पंचनामा की कार्रवाई हो रही थी उस दौरान पुरुष सिपाही ने तो हद कर दी। महिला सिपाही दूर हाथ बांधे खड़ी रही और सिपाही ने महिला के शव को फ्राक पकड़कर लटकाया ।

जिससे शव निर्वस्त्र होते होते बचा। एक महिला सिपाही मौजूद तो थी पर उसने शव में हाथ तक नहीं लगाया।  बौद्ध श्रद्धालुओं के दल के गाइड शिशिर कुमार ने बताया कि अचानक तबियत बिगड़ने से मौत हो गई है।

श्रीलंकाई तीर्थ यात्री के शव को पोस्टमार्टम हाउस तक ले जाने के लिए शव वाहन उपलब्ध नहीं कराया गया। तहसीलदार प्रदीप कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद नियमानुसार सुविधाएं उपलब्ध कराई जायेंगी। जानकारी के अनुसार शव वाहन न मिलने पर मृतका के परिजनों ने प्राइवेट अस्पताल की एम्बुलेंस को दिल्ली तक ले जाने के लिए बुक किया है।

 

फ़टाफ़ट खबरे

 

live-tv-uttrakhand

live-tv-rajasthan

ब्लॉग

लीडर

  • उमेश कुमार

    एडिटर-इन-चीफ,समाचार प्लस

    उमेश कुमार समाचार प्लस के एडिटर इन चीफ हैं।

  • प्रवीण साहनी

    एक्जक्यूटिव एडिटर

    प्रवीण साहनी पत्रकारिता जगत का जाना-माना नाम और चेहर...

आपका शहर आपकी खबर

वीडियो

हमारे एंकर्स

शो

:
:
: