Headline • महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड• कर्नाटक संकट का असर राज्यसभा में• अहमदाबाद की अदालत  में राहुल गांधी• व्हाइट हाउस में भरा बारिश का पानी • क्या अनुपमा परमेसरन को डेट कर रहे जसप्रीत बुमराह• पाकिस्तान को आंख दिखाता नाग• यूएई और भारत के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर होगी बात• कर्नाटक में सियासी संकट• सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है: राहुल गांधी

लंदन: कैमरन ने कहा- दिन दूर नहीं जब ब्रिटेन में होगा भारतीय मूल का प्रधानमंत्री

लंदन- ब्रिटेन दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वेंबले स्टेडियम में आयोजित सभा में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कैमरन ने मोदी सरकार के कसीदे पढ़े। उन्होंने यहां तक कहा कि वह दिन दूर नहीं जब ब्रिटेन में कोई भारतीय मूल का प्रधानमंत्री होगा। वेंबले स्टेडियम में मोदी का भव्य स्वागत किया गया। कैमरन ने \'नमस्ते\', \'कैम छो\' और \'अच्छे दिन\' आदि हिंदी शब्दों का इस्तेमाल करते हुए स्टेडियम में मौजूद करीब 60 हजार भारतीयों का अभिवादन किया और पूरी तरह से भारतीय रंग में रंगे नजर आए। कैमरन ने कहा कि किसी को विश्वास नहीं था कि चाय बेचने वाला देश सही तरीके से चला पाएगा लेकिन मोदी ने सबको गलत साबित कर दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वेंबले में करीब 60 हजार भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया आज भारत के प्रति आशान्वित है। विश्व भारत को एक शक्ति के रूप में देख रहा है। मेरी भी कोशिश है कि दुनिया में भारत का स्थान बराबरी का होना चाहिए। मोदी ने कहा कि हम दुनिया से मेहरबानी नहीं चाहते। आज दुनिया के सभी देश भारत के साथ बराबरी से बात करते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि कबीर और रहीम हमारे लिए प्रेरणास्रोत हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि जिसने सूफी परंपरा को समझा होगा वह कभी बंदूक उठाने का काम नहीं करता। भारतीय जहां भी गए सबके साथ जीने की चाह लेकर गए। विदेशों में रहने वाले भारतीयों ने अपनी परंपराओं से दुनिया को अवगत कराया है। पीएम ने कहा कि पिछले 18 माह के अनुभव से मैं कह सकता हूं कि भारत को गरीब रहने का कोई कारण नहीं है। भारत जवानी और सकारात्मकता से लबालब भरा हुआ देश है।

वेंबले में पीएम मोदी की स्पीच की हाईलाइट्स.....

- PM मोदी ने वेंबली में कहा, देश के 18 हजार गांवों में बिजली का खंभा भी नहीं है।
- पहली बार लंदन स्टॉक एक्सचेंज में भारत की रेलवे रुपी बॉन्ड लेकर आई हैः वेंबली स्टेडियम में मोदी।
- मेरे लिए एफडीआई का मतलब फर्स्ट डिवेलप इंडिया भी हैः वेंबली स्टेडियम में मोदी।
- भारत नेतृत्व कर सकता है, मैं पैरिस में दुनिया के लोगों को बताऊंगाः वेंबली स्टेडियम में पीएम मोदी।
- भारत अब सूर्य शक्ति राष्ट्र बनने जा रहा हैः वेंबली स्टेडियम में मोदी।
- आप यह सोचने की गलती नहीं करें कि भारत वहीं तक सीमित है जो टीवी या न्यूजपेपर्स के हेडलाइंस में दिखता हैः वेंबली स्टेडियम में मोदी।
- अलवर के इमरान खान ने विद्यार्थियों को शिक्षा में मदद के लिए 50 ऐप बनाए और उन्हें मुफ्त में लॉन्च कर दिया। मेरा भारत उसी अलवर के इमरान खान में बसता हैः मोदी।
- 15 दिसंबर से लंदन-अहमदाबाद डायरेक्ट फ्लाइट सर्विस शुरू हो जाएगीः पीएम मोदी।
- भारत और इंग्लैंड के बीच का नाता इतना गहरा है कि दोनों देशों के लिए एक ही घड़ी काफी है। घड़ी को सीधा और उल्टा कर देने से दोनों देशों का समय देखा जा सकता हैः पीएम मोदी।
- आपके पासपोर्ट का रंग जो भी हो, मेरा और आपका नाता हमारे खून के रंग से जुड़ा हैः पीएम मोदी।
- वेंबली स्टेडियम में प्रधानमंत्री का संबोधन खत्म। लोगों का अभिवादन करते मोदी।
---------------------------------------------------------------------------------------------
पीएम मोदी के ब्रिटेन दौरे के दूसरे दिन यानि शुक्रवार को भारत और इंग्लैंड सीईओ फोरम की बैठक में छह सेक्टरों को आपसी सहयोग के लिए चुना गया। ये सेक्टर हैं स्मार्ट सिटी एवं डिजिटल इकोनॉमी, हेल्थकेयर, शिक्षा एवं कौशल, इंजीनियरिंग, रक्षा और वित्तीय एवं प्रोफेशनल सेवाएं। शुक्रवार को दोनों देशों की कंपनियों के बीच 92,000 करोड़ रुपए के 28 समझौतों पर दस्तखत हुए। सीईओ ने भारत से फैसले लेने की प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने की मांग की। इन्होंने सभी कंपनियों के साथ दुनियाभर में एक समान व्यवहार की भी वकालत की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन की मौजूदगी में दोनों देशों के सीईओ की बैठक में ये मुद्दे उठाए गए। मोदी ने ‘मेक इन इंडिया’ पर फोकस किया। उन्होंने भारत की अर्थव्यवस्था को विश्व के साथ जोड़ने की दिशा में लगातार काम करने की बात भी कही। बैठक में दोनों देशों के शीर्ष 20-20 सीईओ शामिल हुए थे। मोदी ने कहा कि हम रेलवे स्टेशनों को पीपीपी मॉडल पर विकसित करना चाहते हैं। इसमें प्राइवेट सेक्‍टर की भागीदारी महत्‍वपूर्ण होगी। उन्होंने रक्षा क्षेत्र में मैन्युफैक्चरिंग पर भी जोर दिया। इसे उन्‍होंने मेक इन इंडिया के लिए महत्‍वपूर्ण बताया। प्रधानमंत्री ने सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की भी जानकारी दी।

संबंधित समाचार

:
:
: