Headline • धोनी ने आलोचकों को दिया बल्ले से जमकर जवाब • रूसी विमान युद्धाभ्यास के दौरान जापान सागर पर आपस में टकराए • कंगना करणी सेना से नाराज बोली मैं भी राजपूत हूं बर्बाद कर दुंगी तुम्‍हें• मिशन 2019: चुनाव आयोग मार्च में कर सकता है। लोकसभा चुनाव का एलान • ममता की महारैली में विपक्ष का जमावड़ा, पहुंचे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा• मेघालय, कोयला खदान से 35 दिनों के बाद 200 फीट की गहराई से निकला मजदूर का शव • भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को स्वाइन फ्लू, एम्स में चल रहा इलाज • रुपये में मजबूती शेयर बाजार 36 हजार के पार• World Bank के प्रमुख पद की दावेदार में इंद्रा नूई का नाम आगे • कर्नाटक में राजनीतिक उठा-पटक, कांग्रेस ने 18 को बुलाई विधायकों की बैठक• विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष राम जन्मभूमि मार्गदर्शक मंडल के सदस्य विष्णु हरि डालमिया का निधन• भदोही में एक निजी स्कूल वैन में लगी आग, 19 बच्चे झुलसे• मथुरा के यमुना एक्सप्रेस वे पर, रफ्तार का कहर 3 की मौत• जहरीली शराब कांड का इनामी बदमाश कानपुर पुलिस की गिरफ्त में• गाजियाबाद में स्वाइन फ्लू की दस्तक, स्वास्थ्य विभाग अलर्ट• प्रयागराज में हर्ष फायरिंग दौरान, एक को लगी गोली• पेट्रोल-डीजल के दामों ने फिर दिया झटका, क्या रहे आपके शहर के दाम• RRB ग्रुप डी आंसर की जारी 14 से 19 जनवरी तक दर्ज कराएं अपनी आपत्ति• सवर्णों को 10% आरक्षण बिल को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती• अयोध्या विवाद संवैधानिक बेंच से जस्टिस यूयू ललित हटे, 29 जनवरी को फिर से होगी सुनवाई• जम्मू-कश्मीर के आईएएस शाह फ़ैसल ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए इस्तीफ़ा देने का किया ऐलान I• हाई पावर कमेटी आलोक वर्मा पर आगे का फैसला लेगी। कमेटी में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़के व जस्टिस एके सीकरी उपस्थित रहेंगे।• सीएम योगी से मिलने के बाद बोलीं विवेक तिवारी की पत्नी- सरकार पर भरोसा और बढ़ गया• राजकपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर का 87 साल की उम्र में निधन• गाजियाबाद: आपसी झगड़े में BSF जवान ने दूसरे को मारी गोली, एक की मौत


शुक्रवार को जापान सागर के ऊपर रूस के दो सुखोई एसयू-34 बमवर्षक युद्धाभ्यास करते समय गलती से आपस में टकरा गए। देश के रक्षा मंत्रालय ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी तास ने बयान के हवाले से कहा है, "18 जनवरी को सुबह 8.07 बजे (मॉस्को समयानुसार), जापान सागर के ऊपर एक नियोजित प्रशिक्षण उड़ान का प्रदर्शन करते हुए, तट से 35 किलोमीटर दूर, सुदूर पूर्वी वायु रक्षा बलों के दो एसयू-34 विमान युद्धाभ्यास करते हुए आसमान में एक-दूसरे से टकरा गए." रूसी मंत्रालय के बयान के मुताबिक, विमानों ने बिना गोला-बारूद के उड़ानें भरी थी। चालक दल के सदस्य सुरक्षित रूप से बाहर निकलने में कामयाब रहे। खोज और बचाव बलों के एक एएन-12 और दो एमआई-8 हेलीकॉप्टर उस क्षेत्र के पायलटों की तलाश कर रहे थे, जहां से वे निकले थे।

मेघालय के ईस्ट जयंतिया हिल्स स्थित अवैध खदान से मजदूरों को निकालने के लिए लगातार ऑपरेशन जारी है। गुरुवार को 200 फीट नीचे से नेवी की टीम ने एक शव को बाहर निकाला। खदान में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए रोबोटिक तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है। खदान से अब तक एक करोड़ लीटर से ज्यादा पानी निकाला जा चुका है। प्लानिज टेक्नोलॉजी की वेबसाइट के मुताबिक, यह कंपनी आईआईटी मद्रास द्वारा पोषित कंपनी है। कंपनी नेवी के साथ रेस्क्यू में जुटी है। 13 दिसंबर को मजदूर खदान में थे। इसी दौरान पास में बहने वाली लैटीन नदी का पानी इसमें भर गया था, जिसके चलते मजदूर इसमें फंस गए थे।

नई दिल्लीः इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप में आए ताकतवर भूकंप और उसके बाद आई सुनामी से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। खबरों के अनुसार अबतक मृतकों की संख्या बढ़कर 832 हो गई है।

इंडोनेशिया की सरकारी मीडिया ने हालांकि मृतकों की संख्या 420 बताई है। सबसे ज्यादा प्रभावित पालू शहर में राहत और बचाव कर्मियों के पहुंचने का सिलसिला अभी भी जारी है।

 

इस आपदा में जिंदा बचे लोग मृतकों के शव बरामद करने में अधिकारियों की मदद कर रहे हैं।

सुलावेसी द्वीप पर घूमने आए कुछ विदेशी नागरिक लापता हैं। लापता विदेशी नागरिकों में एक फ्रेंच, एक साउथ कोरिया और कुछ दूसरे देशों के नागरिक हैं। लोगों को घरों से निकालने और राहत कार्य अंजाम देने में काफी मुश्किलें आ रही हैं। 

इससे पहले इंडोनेशिया की सरकारी न्यूज एजेंसी ’अंतारा’ ने राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रमुख के हवाले से पालू में मारे गए लोगों का ताजा आंकड़ा 420 बताया था।

अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि 7.5 तीव्रता के भूकंप और सुनामी में पांच-पांच फुट ऊंची उठी लहरों की चपेट में आए हताहतों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। सुदूर इलाकों से नुकसान की सूचनाएं मिल रही हैं।

सरकारी प्रेस एजेंसी ने बताया कि कम से कम 540 लोग बुरी तरह से घायल हुए हैं। अस्पतालों को बड़ी संख्या में भर्ती किए जा रहे घायलों के इलाज में काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने कहा कि क्षेत्र में सेना को बुलाया गया है ताकि वह पीड़ितों तक पहुंचने और शवों को तलाशने में खोज और बचाव टीमों की मदद कर सके।

 

वर्ल्‍ड बैंक के मुख्‍य दावेदारों में पेप्सिको की पूर्व सीईओ इंद्रा नूई का नाम भी शामिल है। वाइट हाउस प्रशासन के एक अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक ट्रेजरी डिपार्टमेंट के अधिकारी डेविड मालपास और ओवरसीज प्राइवेट इन्वेस्टमेंट कॉर्पोरेशन के सीईओ रे वॉशबर्न का नाम भी आगे है। कुछ लोगों के हवाले से रिपोर्ट में कहा गया है कि विश्वबैंक प्रमुख के चयन की प्रक्रिया अभी प्राथमिक चरण में है। कई बार ऐसा होता है कि ऐसे अहम पदों के लिए नामांकन पर अंतिम निर्णय होने तक शुरुआती दावेदार दौड़ से बाहर हो जाते हैं। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि ट्रंप प्रशासन द्वारा नामित किए जाने पर नूयी अपने नामांकन को स्वीकार करेंगी या नहीं।

बहराइचः  जिले के नवाबगंज इलाके में अपनी भांजी से मिलने गए मामा पर गंभीर आरोप लगा कर दोनों को पेड़ से बांध दिया। फिर उन दोनों की जमकर पिटाई की गई। इस तालिबानी सजा के बारे पूरे इलाके में लोग बोलने को तैयार नहीं है। 

सार्वजनिक रूप से महिला की इज्जत को तार तार करने वाले कोई और नहीं, बल्कि उसके अपनी ही ससुराल के पड़ोसी और ग्रामीण थे। साजिश के तहत मामा भांजी को कमरे में बंद कर पूरे मामले को तूल दिया गया।

शादी के बाद भांजी का हाल चाल लेने मामा उसकी ससुराल आया था। मामा और भांजी को दी गई तालिबानी सजा के मामले में इलाकाई पुलिस ने पीड़ित महिला के पति की तहरीर पर 4 लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। हालांकि पुलिस पूरे मामले को दबाने में जुटी है।

श्रावस्ती जिले के सिरसिया थाना क्षेत्र के बडरहवा निवासी युवक शादी के बाद नवाबगंज थाना क्षेत्र निवासी अपनी भांजी का हाल चाल लेने आया था।

मामा ने अपना मोबाइल को चार्जिंग के लिए भांजी के कमरे में  लगा दिया था। देर शाम सोने से पहले वह अपना मोबाइल लेने भांजी के कमरे में गया था।

इसी दौरान कुछ लोगों ने दरवाजा बंद कर बाहर से कुंडी लगा दी। और भीड़ इकट्ठा कर दोनों मामा भांजी पर घिनौने आरोप लगाए। बाद में दोनों को पेड़ से बांध दिया और इसके बाद दोनों की बुरी तरह पिटाई की गई।

पहले महिला व उसके मामा को बेइज्जत किया गया गया फिर दोनों की पिटाई की गई। घटना की जानकारी पीड़ित महिला के पति को लगी तो उसने इसकी शिकायत पुलिस से की इसके बाद सभी मौके से फरार हो गए। 

इस पूरी घटना को लड़की के चचिया ससुर ने अंजाम दिया। यह पूरी डर्टी हरकत इसी के इशारे पर हुई है। पेड़ से बांध रिश्तों को शर्मसार करने वाली इस दिल दहला देने की घटना से महिला को झकझोर दिया है।

वहीं रिश्तों की मर्यादा को समझ कर पति ने सच का साथ दिया और तालिबानी हरकत को अंजाम देने वालो के खिलाफ पुलिस को नामजद तहरीर दी है। पुलिस इस मामले में कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

:
:
: