Headline • महेंद्र सिंह धोनी ने कहा रिटायर होने तक नहीं बताउंगा अपना सक्सेस मंत्र• अक्षय कुमार ने लिया प्रधानमंत्री का इंटरव्यू, पीएम ने जीता यूजर्स का दिल • अफ्रीका में लॉन्‍च किया दुनिया का पहला मलेरिया का टीका• CJI के खिलाफ आरोप: CBI, IB और दिल्ली पुलिस के ऑफिसर तलब• श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट की जिम्मेदारी, आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली• सीएम सहित रेलवे स्टेशनो को मिली आतंकवाद की धमकी• धोनी की बैटिंग देख विराट बोले- धोनी ने तो हमें डरा ही दिया था• पीएम मोदी के अनुरोध पर शाहरुख खान ने एक मजेदार विडियो बना लोगों से की वोटिंग की अपील • श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट: श्रीलंका में अब तक बम धमाकों में मरने वालों की संख्‍या 290 पहुंची • राहुल गांधी का ऐलान सरकार बनी तो राष्ट्रीय बजट के साथ किसानों के लिए करेंगे दूसरा बजट पेश• चुनावी माहौल में ट्विंकल खन्ना ने ली अरविंद केजरीवाल पर चुटकी• बाटला हाउस का जिक्र कर पीएम मोदी ने सादा कांग्रेस पर निशाना • यूएई में आज पहले हिंदू मंदिर का शिलान्यास समारोह• रेल हादसा: कानपुर के पास पूर्वा एक्सप्रेस पटरी से उतरी 100 के करीब लोग घायल • लोकसभा चुनाव 2019: बसपा सुप्रीमो मायावती ने मुलायम के बाद अब आजम खां को दिया समर्थन • विराट सेना' का आज कोलकाता से 'करो या मरो' का मुकाबला• कलंक' स्टार वरुण धवन ने कहा, मुझे असफलता से डर नहीं लगता• सूडान में कैदियों की रिहाई और कर्फ्यू समाप्‍त होने पर अमेरिका ने कि प्रशंसा• 24 साल बाद एक मंच पर दिखें माया-मुलायम• रूस के वैज्ञानिकों का दावा 42 हजार साल पहले दफन घोड़े में मिला खून, अब बनाएंगे क्‍लोन • दिनोंदिन आलिया भट्ट और रणबीर कपूर का मजबूत होता रिश्‍ता रह सकते है लिव-इन पर • पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान बीजेपी-टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसा • लीबिया की राजधानी त्रिपोली में गृहयुद्ध की जंग में 205 की मौत, 913 के करीब घायल • लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण की 95 सीटों पर वोटिंग जारी• PM मोदी की फिल्‍म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का ट्रेलर यूट्यूब से हटा


 

अफ्रीकी में दुनिया का पहला मलेरिया का टीका (MALARIA VACCINE) लॉन्‍च कर दिया गया है । तकरीबन पिछले 30 वर्षों से इस टीके को लाने के प्रयास चल रहा था । दुनिया भर में हर साल लाखों को मौत के मुंह में ले जाने वाली इस जानलेवा बीमारी से बच्‍चों को बचाने के लिए उम्‍मीद लगाई जा रही है । यह टीका पांच महीने से दो साल तक के बच्चों के लिए विकसित किया गया है ।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मलावी सरकार के इस ऐतिहासिक कार्यक्रम का स्वागत किया है । विश्व स्वास्थ्य संगठन ने काफी पहले अफ्रीकी महाद्वीप में दो साल से कम उम्र के बच्चों के लिए इस टीके को लाने की घोषणा की थी । डब्‍ल्‍यूएचओ ने कहा था कि विश्व मलेरिया दिवस के मौके पर इसे लाया जाएगा । विश्व मलेरिया दिवस हर साल 25 अप्रैल को मनाया जाता है।

 

रविवार को श्रीलंका के गिरजाघरों और महंगी होटलों में हुए विस्फोटों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली है। वहीं श्रीलंका के बम विस्फोटों में अब तक मरने वालों की संख्या 290 से बढ़कर 321 हो गई है जिनमें 38 विदेशी भी शामिल हैं। श्रीलंका में हुए सबसे घातक हमले में 10 भारतीय भी मारे गये हैं। 

ये विस्फोट रविवार 21 अप्रैल को सुबह साढ़े आठ बजे ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान कोलंबो के सेंट एंथनी चर्च, पश्चिमी तटीय शहर नेगोम्बो के सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टिकलोवा के एक चर्च में हुए थे । वहीं अन्य तीन विस्फोट पांच सितारा होटलों - शंगरीला, द सिनामोन ग्रांड और द किंग्सबरी में हुए थें ।

 

यूएई में आज पहले हिंदू मंदिर के शिलान्यास विधी का आयोजन किया जा रहा है । इस समारोह में स्वामीनारायण संस्था के आध्यात्मिक नेता महंत स्वामी महाराज के साथ साथ मंदिर का निर्माण करने वाला धार्मिक और सामाजिक संगठन भी मौजुद है । शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान, विदेश मामलों के मंत्री और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और शेख नाहन मुबारक अल नाहयान, सहिष्णुता मंत्री, दुनिया भर के सामाजिक और आध्यात्मिक नेताओं के साथ इस अवसर पर शिरकत करेंगे ।

आपकों बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी 2018 में अपने दौरे के वक्त इस मंदिर की आधारशिला रखी थी । गौरतलब है कि ये अभी तक साफ नहीं है मंदिर का काम कब पूरा होगा, लेकिन अभी इसमें कुछ साल ओर लगेंगे ।

 

श्रीलंका में अब तक बम धमाकों में मरने वालों की संख्‍या 290 पहुंच चुकी है । इस बीच वहा के राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेना ने घोषणा की है कि आज रात से श्रीलंका में आपातकाल घोषित कर दिया जाएगा । रविवार को लगातार 8 धमाकों के बाद अभी भी हालात सामान्य होने का नाम नहीं ले रहें हैं ।

वही देर रात फिर कोलंबो में बम की सूचना से हड़कंप मच गया । ये बम कोलंबो एयरपोर्ट के बाहर रखा गया । मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने बम को डिफ्यूज किया । पुलिस सूत्रों के अनुसार होममेड पाइप बम मुख्य टर्मिनल की ओर जाने वाली सड़क पर रखा गया था ।

 

अमेरिका ने सूडान के नए सैन्‍य नेता द्वारा राजनीतिक कैदियों की रिहाई और देश में कर्फ्यू समाप्‍त करने के आदेश की प्रशंसा की है । अमेरिका ने कहा है कि सैन्‍य प्रशासन के इस कदम से सुडान में लोकतंत्र की बहाली में मदद मिलेगी । अमेरिका ने इसे सूडानी लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत कहा है ।

अमेरिका विदेश विभाग के प्रवक्‍ता मॉर्गन ऑर्टगस ने कहा कि सूडान में घटित हो रही घटनाओं के लिहाज से ही अमेरिकी नीति तय होगी । इस मौके पर उन्‍होंने साफ किया कि अमेरिका आतंकवाद प्रयोजक सूची में शामिल सूडान पर इस मामले में कोई वार्ता नहीं करेगा । उन्‍होंने जोर देकर कहा अमेरिका सूडान में नागरिकों के मानवाधिकार एवं कानून के शासन के लिए सूडानी नागरिकों के साथ खड़ी है ।

:
:
: