Headline • पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड


 

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखकर ट्विटर पर उसे शेयर करते हुए जेटली ने लिखा है कि पिछले 18 महीने से मैं बीमार हूं । मेरी तबीयत खराब है, इसलिए मुझे मंत्री न बनाने पर विचार करें । बता दें, कल यानी 30 मई को पीएम मोदी और उनका मंत्रिमंडल शपथ ग्रहण करेगा ।

जेटली ने लिखा है कि आपकी अगुवाई में 5 साल काम करने का अनुभव बहुत ही अच्छा रहा । इससे पहले भी एनडीए सरकार में मुझे जिम्मेदारियां दी गईं थी । सरकार के अलावा संगठन और विपक्ष के नेता के रूप में मुझे अहम जिम्मेदारियों से नवाजा गया था । अब मुझे कुछ नहीं चाहिए ।

आपको बता दें कि पिछले साल मई में अरुण जेटली का किडनी प्रत्यारोपण हुआ था । इसके बाद जेटली के बायें पैर में सॉफ्ट टिशू कैंसर हो गया है । जिसकी सर्जरी के लिए वह इसी साल जनवरी में अमेरिका भी गए थे । इसके कारण जेटली बेहद कमजोर हो गए हैं । पिछले हफ्ते उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था जहां उनका इलाज चल रहा था ।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरी बार शपथ ग्रहण समारोह में लगभग 5000 से 6000 लोगों के उपस्थित रहने की उम्मीद लगाई जा रही है। इस समारोह में पीएम मोदी के साथ उनका मंत्रिमंडल भी शपथ ग्रहण करेगा । लेकिन इस समारोह को लेकर कहा जा रहा है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम मोदी की तरफ से निर्देश मिले हैं कि समारोह को साधारण और गंभीर रूप दिया जाए। इस समारोह का काम देख रहे एक अधिकारी का कहना हैं कि एक गंभीर अवसर को ध्यान में रखते हुए इसे सादगीपूर्ण और गरिमामय बनाने पर जोर दिया गया है।

शपथ ग्रहण समारोह राष्ट्रपति भवन के बाहरी प्रांगण में होगा। इस बार इस समारोह में 14 देशों के प्रमुख, कई देशों के राजदूत, बुद्धिजीवी, राजनीतिक एक्टिविस्ट्स, फिल्म स्टार और सिलेब्रिटी को बुलाया गया है। जानकारों की मानें तो इस कार्यक्रम में क्षेत्रीय और राष्ट्रीय पार्टियों के प्रमुखों के अलावा कई वरिष्ठ राजनेताओं को भी बुलाया गया है।

 

लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव हारने के बाद कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी अपना अध्यक्ष पद छोड़ने पर अड़ हूए हैं लेकिन वहीं पार्टी के नेता उनको मनाने में लगें हैं । मंगलवार सुबह भी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, नेता रणदीप सुरजेवाला उनसे मिलने पहुंचे । सूत्रों के अनुसार राहुल को कहा गया है कि आप पार्टी में जो मर्जी बदलाव करें, जैसे चाहे पार्टी चलाएं । जिसके बाद अब राहुल नरमी के संकेत दे सकते हैं । हालांकि वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, प्रियंका गांधी की कई दौरो की मीटिंग के बाद राहुल गांधी कार्यप्रणाली में कुछ शर्तों के साथ अध्यक्ष पद पर बने रहने की सहमति जताई है ।

बता दें कि लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद कांग्रेस की वर्किंग कमेटी की बैठक में राहुल ने इस्तीफे की पेशकश की थी, लेकिन पार्टी ने उसे नकार दिया था । हालांकि, उसके बाद राहुल अपने फैसले पर अड़े रहे ।

 

लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत से जीत हासिल कर नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण करेगें । लेकिन इस बार पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान को आमंत्रित नहीं किया गया है ।

पाक पीएम इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जीत के बाद फोन पर बधाई दी थी और दोनों देशों के लोगों की बेहतरी के लिए मिलकर काम करने की इच्छा व्यक्त की थी । इसके बावजूद पीएम मोदी ने इमरान खान को आमंत्रित नहीं किया । समारोह में बिमस्टेक देशों बांग्लादेश, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान को आमंत्रित कर पीएम मोदी ने पाकिस्तान को सख्त संदेश दे दिया है ।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक न्यूज चैनल से बातचीज में कहा, उनका पूरा चुनावी कैंपेन ही पाकिस्तान विरोध पर आधारित था । ऐसी उम्मीद करना बेवकूफी ही होगी ।

 

योग गुरू बाबा रामदेव ने रविवार को जनसंख्या वृद्धि को देश की खराब स्थिति के लिए जिम्मेदार बताया । उन्‍होंने कहा कि इसके नियंत्रण के लिए सरकार को कानून लाना चाहिए। परिवार के तीसरी बच्‍चें को वोट डालने के साथ दूसरे नागरिक अधिकार नहीं होने चाहिए।

उन्‍होंने कहा अगर हम 2050 तक जनसंख्या को काबू नहीं कर पाए तो देश में खाने-पीने एवं प्राकृतिक संसाधनों का आकाल पैदा हो जाएगा। इस स्थिति से बचने को दो से अधिक बच्चे पैदा करने की प्रवृति पर कानूनी रूप से रोक लगनी चाहिए। तीसरे बच्चे को सरकारी सुविधाओं से भी वंचित कर देना चाहिए। इस तरह का कानून देश भर में लागू किया जाना चाहिए।

:
:
: